बच्चों की रूखी त्वचा से निजात दिला सकता है ‘ओटमील बाथ’

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जनवरी 7, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

बच्चों की त्वचा को साफ और मॉइस्चराइज रखना बेहद जरूरी होता है। कुछ बच्चे रूखी त्वचा होने की वजह से बहुत चिड़चिड़े हो जाते हैं। वहीं अगर आपके बच्चे की रूखी त्वचा है और आप चाहते हैं कि आपका बच्चा खुश रहे, तो आपको कुछ टिप्स को फॉलो करने होंगे। बच्चों की रूखी स्किन होने पर उन्हें दिन में एक बार नहलाने और दो से चार  बार मॉइस्चराइजिंग क्रीम का इस्तेमाल करने से काफी मदद मिलेगी। खासकर अगर आपके बच्चे की त्वचा बहुत सॉफ्ट और सेंसिटिव है, तो उसे सही देखभाल की जरुरत है। चिलचिलाती धूप, तेज हवा, खारा पानी और क्लोरिनेटेड वॉटर ये सभी आपके बच्चे की रूखी त्वचा का कारण हो सकते हैं। ऐसे में इनका खास ख्याल रखें।

बच्चों की रूखी त्वचा के लक्षण

यह सलाह दी जाती है कि अपने बच्चों में रूखी त्वचा को अनदेखा न करें क्योंकि इससे एलर्जी हो सकती है। हम आपको कुछ टिप्स बताएंगे, जो आपके बच्चों में शुष्क त्वचा से निपटने में मदद कर सकते हैं।

अगर आपके बच्चे की ड्राई स्किन है, तो आपको सूखे पैच दिखाई देंगे। ये पैच न केवल सर्दियों में बल्कि गर्मियों में भी दिखाई देते हैं। रूखी त्वचा के लिए निम्न लक्षणों को पहचाने:

कुछ बच्चों के केवल हाथ पैर रूखे होते हैं। बच्चों की रूखी त्वचा होने की वजह से स्किन पर लालिमा और खुरदरापन देखा जा सकता है।

ये भी पढ़ेंः बच्चों की नींद के पैटर्न को अपने शेड्यूल के हिसाब से बदलें

बच्चों की रूखी त्वचा से निपटने के प्राकृतिक तरीकेः

बच्चों की रूखी त्वचा की समस्या को दूर करने के लिए नीचे बताए गए टिप्स फॉलो करें-

  • शॉर्ट बाथ देंः  जिन बच्चों की रूखी त्वचा होती है, उनको ज्यादा देर तक नहलाना उनकी स्किन के लिए अच्छा नहीं होता। बच्चों को नहाने में  जितना मजा आता है उतना ही नुकसानदायक ज्यादा देर तक नहाना हो सकता है। रूखी त्वचा वाले बच्चों को हफ्ते में दो से तीन बार नहलाएं।
  • गुनगुने पानी का इस्तेमाल करेंः यह बच्चे की रूखी त्वचा को और रूखा होने से बचाता है।
  • साबुन से दूर रहेंः  बेबी केयर प्रोडक्ट्स खरीदते समय बच्चों के लिए बने हुए साबुन खरीदें। दूसरे साबुन के बजाए एक सौम्य, खूशबु रहित हाइपोएलर्जेनिक क्लीन्जर चुनें। बच्चे को बबल बाथ भी कम दें क्योंकि वे सूखी त्वचा का कारण बन सकते हैं।
  • बच्चे को तौलिएं से न पोछेंः बच्चे की रूखी त्वचा को तौलिए से रगड़ने के बजाय उसको डैब करें। सुनिश्चित करें कि आप उसकी त्वचा की अतिरिक्त नमी को तौलिये से थपथपाकर कम करें। धीरे-धीरे डैब करने से उसकी स्किन ड्राई नहीं होगी।
  • तेल मालिश : नवजात शिशु की तेल मालिश के लिए जैतून का तेल या बेबी ऑयल का इस्तेमाल करना चाहिए। इस तेल का उपयोग सूखे पर सूखे धब्बे पर जरूर लगाएं। यह प्रभावी रूप से बच्चे की रूखी त्वचा को नमि प्रदान करता है। यह रूखी त्वचा को शुष्क होने से बचाने में सहायक हो सकता है।
  • घर का टेम्परेचर ज्यादा गर्म न रखें: गर्म हवा बच्चों की त्वचा से नमी को खिंच लेती है इसलिए अपने घर के अंदर का तापमान मेंटेन रखें।
  • ठंड के मौसम में अपने बच्चे को कवर करेंः मिट्टेेंस और टोपी बच्चे की त्वचा को हवा लगने से बचाते हैं। पेट्रोलियम जेली या इमोलिएंट क्रीम की एक हल्की परत आपके बच्चे के चेहरे को ठंडे दिनों में ड्राईनेस से बचाती है।
  • माइल्ड डिर्टजेंट का इस्तेमाल करेंः बच्चे के कपड़े धोने के लिए माइल्ड डिर्टजेंट का इस्तेमाल करें।  इन बातों का ध्यान रखें यह पहले साल और उसके बाद बच्चों की रूखी त्वचा को बेहतर बनाएगा।
  • अपने बच्चे को बार-बार न नहलाएं: एक छोटे बच्चे को सप्ताह में तीन बार से ज्यादा स्नान की आवश्यकता नहीं होती है। इसके अलावा बच्चा पानी में कितना समय बिताता है यह भी सीमित करना चाहिए।
  • बच्चे को ढककर रखें : बच्चे की त्वचा में नमी देर तक बरकरार रहे इसके लिए बच्चे को उचित कपड़े पहनाकर रखें। खासतौर पर बच्चे को बाहर ले जा रही हैं, तो विशेष ध्यान दें।

ये भी पढ़ेंः सर्दियों में बच्चों की स्कीन केयर है जरूरी, शुष्क मौसम छीन लेता है त्वचा की नमी

बच्चों की त्वचा रूखी होने से ऐसे बचाएं

बच्चों को ड्राई स्किन की समस्या से बचाने के लिए ये कुछ उपाय किए जा सकते हैं। जैसे-

  • मॉइस्चराइज करेंः हर बार नहलाने के बाद अपने बच्चे की नम त्वचा पर एक सौम्य, हाइपोएलर्जेनिक लोशन या तेल लगाएं।
  • बच्चे का हाइड्रेटेड रखेंः इसका मतलब है कि अपने बच्चे को ज्यादा से ज्यादा लिक्विड दें। अगर आप उन्हे ड्रिंक्स नहीं दे सकते हैं, तो बार-बार स्तनपान कराएं या अपने बच्चे फॉर्मूला मिल्क दें। हो सकता है आपको अधिक गीले डायपर बदलना पड़ें लेकिन अपनी बच्चे को हाइड्रेटेड रखना उसकी त्वचा के लिए बहुत जरूरी है।
  • ओटमिल बाथ देंः अगर बच्चे को नहलाते हुए उसके पानी में ओटमील ऑयल की एक बूंद डालते हैं, तो यह उनके स्किन के लिए अच्छा होगा। आप एक साफ वॉशक्लॉथ में एक कप दलिया भी लपेट सकते हैं। इसे बांध कर भिगो सकते हैं और फिर इसे बच्चे की रुखी त्वचा पर लगाकर नहला सकते हैं।

उम्मीद है ऊपर बताए गए बच्चों की रूखी त्वचा से निपटने के उपाय आपके लिए मददगार साबित होंगे। इसके साथ ही नवजात शिशु की त्वचा की देखभाल के लिए किसी भी नए प्रोडक्ट का उपयोग करने से पहले हमेशा डॉक्टर से परामर्श करें। फिर भी अगर अगर बच्चे की रूखी त्वचा पर सूखे पैच और दरारे फैलती हैं या आपके बच्चे को ज्यादा परेशानी लगती हो, तो अपने बाल रोग विशेषज्ञ से बात करें, जो गंभीर रूप से शुष्क त्वचा के लिए कुछ विशेष उपचार विकल्प बता सकते हैं।

और पढ़ेंः

बच्चों के काटने की आदत से हैं परेशान, ऐसे में डांटें या समझाएं?

बच्चों के इशारे कैसे समझें, होती है उनकी अपनी अलग भाषा

बच्चों का पहला दांत निकलने पर कैसे रखना है उनका ख्याल, सोचा है?

बच्चों का लार गिराना है जरूरी, लेकिन एक उम्र तक ही ठीक

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

संबंधित लेख:

    शायद आपको यह भी अच्छा लगे

    रखें इन जरूरी बातों का ध्यान तो कम हो जाएंगी स्किन प्रॉब्लम्स

    स्किन प्रॉब्लम्स से खुद की त्वचा को बचाए रखने के लिए आपको हेल्दी डायट के साथ-साथ हेल्दी और हाइजिनिक लाइफ स्टाइल का भी ध्यान रखना चाहिए।

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
    ब्यूटी/ ग्रूमिंग, स्वस्थ जीवन मई 19, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें

    क्या परफ्यूम आपकी सेहत के लिए हानिकारक है?

    परफ्यूम के नुकसान की बात करें तो इसमें इतने कैमिकल्स होते हैं कि उससे शारीरिक परेशानी हो सकती है, वहीं कंपनियां तमाम कैमिकल्स की जानकारी भी नहीं देती। इस आर्टिकल में जानिए परफ्यूम के नुकसान।

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Satish singh
    ब्यूटी/ ग्रूमिंग, स्वस्थ जीवन अप्रैल 24, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

    जानें बर्न फर्स्ट ऐड क्या है? आ सकता है आपके बहुत काम

    बर्न फर्स्ट एड की जानकारी in hindi. बर्न फर्स्ट एड देने से जले हुए व्यक्ति को बहुत राहत महसूस होती है। जले हुए व्यक्ति को बर्न फर्स्ट एड देने के दौरान घरेलू मरहम उपयोग न करें। Burns first aid

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
    के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi

    आपकी खूबसूरती को बिगाड़ सकते हैं स्ट्रॉबेरी लेग्स, जानें इसे दूर करने के घरेलू उपाय

    जानिए स्ट्रॉबेरी लेग्स क्या है? स्ट्रॉबेरी लेग्स के घरेलू उपाय क्या हैं, strawberry legs ko kaise thik karein, strawberry legs ke gharelu ilaaj, केराटोसिस पिलैरिस का इलाज क्या है।

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Surender Aggarwal
    ब्यूटी/ ग्रूमिंग, स्वस्थ जीवन अप्रैल 16, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

    Recommended for you

    स्किन लाइनिंग क्रीम

    Emolene Cream : एमोलीन क्रीम क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
    प्रकाशित हुआ अगस्त 21, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
    विटिलिगो के घरेलू उपाय

    क्या सफेद दाग का इलाज संभव है, जानें विटिलिगो के घरेलू उपाय

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Satish singh
    प्रकाशित हुआ अगस्त 12, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
    पिगमेंटेशन (झाइयां) के घरेलू उपाय

    अगर चाहिए पिगमेंटेशन (झाइयां) से मुक्त त्वचा, तो अपनाएं ये घरेलू उपाय

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Anu sharma
    प्रकाशित हुआ अगस्त 5, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
    रूखी त्वचा के लिए/ diet for dry skin

    ड्राई स्किन से हैं परेशान? तुरंत फॉलो करें रूखी त्वचा के लिए ये डायट

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया shalu
    प्रकाशित हुआ जुलाई 22, 2020 . 9 मिनट में पढ़ें