home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

गूगल प्ले स्टोर पर ट्रेंड कर रहा उत्तर प्रदेश का 'आयुष कवच एप', दूसरे राज्यों में भी हो रहा लोकप्रिय

गूगल प्ले स्टोर पर ट्रेंड कर रहा उत्तर प्रदेश का 'आयुष कवच एप', दूसरे राज्यों में भी हो रहा लोकप्रिय

उत्तर प्रदेश के आयुष विभाग ने कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए आयुष कवच एप बनाई है, जिसकी चर्चा हर तरफ हो रही है। इस बात का अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि एप के लॉन्च के पांच दिन के अंदर इसे 25 लाख से ज्यादा लोगों ने डाउनलोड किया है। सिर्फ उत्तर प्रदेश में ही नहीं बल्कि दूसरे राज्यों में यह एप काफी लोकप्रिय हो रही है। गूगल प्ले स्टोर पर यह एप तीसरे नंबर पर ट्रेंड कर रही है। कोरोना वायरस से बचाव के लिए उत्तर प्रदेश के साथ-साथ बिहार, मध्य प्रदेश, राजस्थान और हरियाणा के लोग भी इस ऐप को जमकर डाउनलोड कर रहे हैं।

आयुष कवच एप: आयुष विभाग के विषेषज्ञ चिकित्सक से लें मशवरा

पिछले दिनों मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आयुष कवच एप को लॉन्च किया था। इस एप में देशी नुस्खों से प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने, योगासन, आयुष विभाग के विषेषज्ञ चिकित्सक के पैनल से स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं पर मशवरे पाने की सुविधा दी गई है।

और पढ़ेंः मास्क पर एक हफ्ते से ज्यादा एक्टिव रह सकता है कोरोना वायरस, रिसर्च में हुआ चौंकाने वाला खुलासा

गूगल प्ले पर ट्रेंड कर रहा है आयुष कवच एप

आयुष कवच एप का आइडिया देने वाले राज्य आयुष मिशन के निदेशक एवं विशेष सचिव आयुष राजकमल यादव ने बताया कि 5 दिनों में अब तक 2़5 लाख से ज्यादा लोग इसे डाउनलोड कर चुके हैं। गूगल प्ले के ट्रेंड्स में यह देश का तीसरा नंबर का ऐप बना हुआ है। इसे लोग काफी पसंद भी कर रहे हैं। आयुष कवच शब्द भी गूगल पर काफी सर्च किया जा रहा है।

आयुष राजकमल यादव ने बताया कि बिहार, राजस्थान, मध्य प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा में भी 50 हजार से ज्यादा लोग अब तक इस ऐप को डाउनलोड कर चुके हैं। ऐप की सबसे खास बात जो इसे औरों से अलग करती है वह है इसके घरेलू नुस्खों की सीरीज। इस सीरीज में यूपी के अलग-अलग हिस्सों पूवार्ंचल, बुंदेलखंड, पश्चिमांचल व मध्य यूपी के लिहाज से घर में ही मौजूद मसालों और प्राकृतिक तत्वों से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के नुस्खे दिए गए हैं। इसके साथ ही आप अपनी स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं पर सवाल भी पूछ सकते हैं। जिसका जवाब आयुष विभाग के एक्सपर्ट चिकित्सकों का पैनल देता है।

और पढ़ेंः कोरोना के दौरान डेटिंग पैटर्न में बदलाव, इस तरह पार्टनर तलाश रहे युवा

आयुष राजकमल यादव ने आगे बताया, अब तक 1000 के करीब सवालों के जवाब इस ऐप के माध्यम से दिए जा चुके हैं। लाइव योग सेशन भी काफी महत्वपूर्ण है जहां प्रतिदिन सुबह 8 बजे योगासन सिखाये जाते हैं। वहीं वीडियो गैलरी में भी बहुत से योगासन करने के तरीके बताए गए हैं।

अपडेट में जुड़ेंगे यूनानी व होम्योपैथी नुस्खे

राजकमल यादव ने बताया कि हम एप को जरूरतों के हिसाब से अपडेट भी कर रहे हैं। जल्द ही आयुष कवच एप का आईओएस वर्जन भी आएगा। साथ ही एप में यूनानी व होम्योपैथी सुझाव, उपचार व नुस्खों के बारे में भी अपडेट जोड़ा जाएग

और पढ़ेंः कोरोना के दौरान कैंसर मरीजों की देखभाल में रहना होगा अधिक सतर्क, हो सकता है खतरा

यूपी में कोरोना वायरस से संक्रमित मामले

यूपी में कोरोना वायरस का कहर दिन पर दिन बढ़ता जा रहा है। दूसरे शहरों से आ रहे प्रदेश में लोगों से संक्रमण के फैलने का संकट गहराने लगा है। उत्तर प्रदेश के 74 जिलों तक कोरोना वायरस फैल चुका है। प्रदेश में अब तक 3600 मरीज इस खतरनाक वायरस की चपेट में आ चुके हैं। सोमवार को यूपी में कोरोना वायरस से संक्रमित 115 नए मामले सामने आए हैं।

कोरोना वायरस: गौतमबुद्ध नगर में 6 नए मामले आए सामने

उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर का हाल अब बेहतर है। जिले में सोमवार को 6 कोरोना संक्रमित मरीज पाए गए। जिले में राहत की बात यह है कि आधे से ज्यादा करोना संक्रमित मरीज स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं। डिस्ट्रिक्ट सर्विलांस ऑफिसर सुनील दोहरे ने बताया, “22 रिपोर्ट की जांच की गई थी। जिसमे से 16 नेगेटिव आई है वहीं 6 कोरोना संक्रमित नए मामले सामने आए है। जिले में जो नए मामले सामने आए हैं उनमें दो पुरुष जिनकी उम्र 27 वर्ष और 29 वर्ष दोनों ही सेक्टर 66 नोएडा के निवासी हैं वही एक 40 वर्षीय महिला भी सेक्टर 66 की निवासी है।” उन्होंने बताया, “एक 22 वर्षीय लड़का सेक्टर 8 नोएडा का निवासी है। साथ ही 2 मरीज सेक्टर 12 नोएडा के रहने वाले हैं जिनमें एक 48 वर्षीय महिला और 53 वर्षीय पुरुष कोरोना संक्रमित है।”

और पढ़ेंः लोगों में हो रही हैं लॉकडाउन के कारण मानसिक बीमारियां, जानें इनसे बचने का तरीका

आपको बता दें की अब गौतमबुद्धनगर में कुल 224 कोरोना से संक्रमित मामले सामने आ चुके हैं, जिसमें से 2 मरीजों की मृत्यु हो चुकी है, साथ ही 135 मरीज स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं और अब कुल 87 कोरोना संक्रमित मरीजों का जिले के अस्पतालों में इलाज चल रहा है।

कोरोना वायरस: मेरठ में 15 नए मामले आए सामने

मेरठ में भी कोरोना वायरस का संक्रमण कंट्रोल में नहीं आ पा रहा है। सोमवार को इस खतरनाक वायरस से संक्रमित के 15 नए मामले सामने आए हैं। इसमें एक सिपाही, मेडिकल स्टोर संचालक और एक फल विक्रेता शामिल हैं। मेरठ में अब तक कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की कुल संख्या 260 हो चुकी है। इनमें से 66 लोग ठीक हो चुके हैं और 14 लोगों की मौत हो चुकी है।

यूपी के गांवों में भी तेजी से पैर पसार रहा यह वायरस

कोरोना वायरस अब उत्तर प्रदेश के गांवों में भी पैर पसारने लगा है। सोमवार को सीतापुर, अंबेडकर नगर और गोण्डा में 17 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनमें एक डेढ़ साल की बच्ची और दो महिलाएं भी शामिल हैं। ग्रामीण इलाकों से सामने आए इन मामलों से सरकार के लिए यह चिंता का विषय बन गया है।

और पढ़ेंः लोगों में हो रही हैं लॉकडाउन के कारण मानसिक बीमारियां, जानें इनसे बचने का तरीका

उत्तर प्रदेश: कोरोना की चपेट में आए लोगों में 48 फीसदी लोग 30 से 40 साल की उम्र के हैं

ताजा रिपोर्ट के अनुसार प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों में 48.7 प्रतिशत लोग 30 से 40 उम्र के हैं। इसे लेकर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य प्रमुख सचिव अमित मोहन प्रसाद ने सोमवार को संवददाताओं को संबोधित किया। उन्होंने कहा- “इस जानलेवा वायरस से 60 साल से ऊपर के लोगों को सबसे ज्यादा बचाना है। कोरोना वायरस से संक्रमित मामलों में 8.1 प्रतिशत लोग इस आयुवर्ग से हैं। वहीं 22.5 प्रतिशत लोग 40 से 50 वर्ष के हैं। सबसे ज्यादा 48.7 प्रतिशत 30 से 40 आयुवर्ग से है। इसके अलावा इन आंकडों के अनुसार 78.5 प्रतिशत पुरुष और 21.5 प्रतिशत महिलाए कोविड-19 से संक्रमित हैं।”

(न्यूज एजेंसी आईएएनएस से इनपुट)

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Ayush Kavach App: http://newsonair.nic.in/News?title=UP%3A-More-than-1-lakh-download-Ayush-Kavach-COVID-App-within-2-days-of-launch&id=388337 – Accessed on 12/05/2020

Coronavirus – https://www.who.int/health-topics/coronavirus – Accessed on 12/05/2020

Coronavirus (COVID-19) – https://www.cdc.gov/coronavirus/2019-ncov/index.html – Accessed on 12/05/2020

Coronavirus (COVID-19) – https://www.nhs.uk/conditions/coronavirus-covid-19/ – Accessed on 12/05/2020

Coronavirus disease 2019 (COVID-19) – Situation Report – 85 – https://www.who.int/docs/default-source/coronaviruse/situation-reports/20200414-sitrep-85-covid-19.pdf?sfvrsn=7b8629bb_4 – Accessed on 12/05/2020

लेखक की तस्वीर badge
Mona narang द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 05/08/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x