home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Quit Smoking: इन आसान टिप्स से धूम्रपान छोड़ने के बाद नुकसान को बदलें फायदे में

Quit Smoking: इन आसान टिप्स से धूम्रपान छोड़ने के बाद नुकसान को बदलें फायदे में

हम सब लोग धूम्रपान के नुकसान और इससे होने वाली स्वास्थ्य समस्याओं के बारे में अच्छे से जानते हैं। लेकिन, यह आदत एक बार जब लग जाती है, तो उसे छोड़ना आसान नहीं होता। चाहे आप कम उम्र के किशोर हैं या लंबे समय से धूम्रपान करने वाले चेन स्मोकर। दोनों ही सूरतों में धूम्रपान को छोड़ना बहुत मुश्किल है। तंबाकू के साथ धूम्रपान करना एक शारीरिक और मनोवैज्ञानिक आदत है। निकोटिन का सेवन करने से दिमाग को अच्छा महसूस होता है और इसे लेने से ऐसा लगता है जैसे उस व्यक्ति का हर दुख कम हो गया है। ऐसे में, अगर आप धूम्रपान करना छोड़ देते हैं तो यह आपके लिए एक बहुत बड़ी जीत है। लेकिन, यह जानना भी बहुत जरूरी है कि धूम्रपान छोड़ने के बाद ऐसा क्या न करें जिससे आपको फिर से धूम्रपान के नुकसान प्राप्त हों और आपका मन फिर से उसी आदत को अपनाने का करें।

धूम्रपान छोड़ना हो आसान

कुछ लोग तनाव, चिंता या अकेलेपन को दूर करने के लिए भी धूम्रपान करते हैं। ऐसे में स्मोकिंग छोड़ने का मतलब है, आपको इसके बाद इन स्थितियों से अलग और स्वस्थ तरीके से गुजरना है। तंबाकू में मौजूद निकोटीन नशे की लत लगाने का काम करता है। ऐसे में जब आप धूम्रपान करना छोड़ते हैं तो रोजाना निकोटिन की मात्रा को कम करने से शरीर में इसकी लत और आदत कम होती जाती है। धूम्रपान को छोड़ना एक लंबी और मुश्किल प्रक्रिया हो सकती है। लेकिन तंबाकू का सेवन न करना या छोड़ना इसका सबसे लंबा और सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है। इसके लिए आपको हर दिन यह निर्णय लेना होगा कि आपको आज धूम्रपान नहीं करना है। हर दिन जब आप धूम्रपान नहीं करते हैं तो यह आपके लिए एक बहुत बड़ी बात होगी।

और पढ़ें :No Smoking Day: क्या फ्लेवर्ड सिगरेट हेल्थ के लिए कम नुकसानदायक होती है? जानें क्या है सच

स्मोकिंग छोड़ने पर होने वाली समस्याएं

जब कोई धूम्रपान करना छोड़ता है, तो उसे खुद में कई बदलाव या अन्य लक्षण देखने को मिलते हैं। क्योंकि, उनके शरीर को निकोटिन की आदत होती है। निकोटिन के कम होने के यह लक्षण हर व्यक्ति के लिए अलग होते हैं और कई दिनों से लेकर कई हफ्तों तक रहते हैं। हालांकि यह लक्षण इस बात का प्रतीक हैं कि आपके शरीर में धूम्रपान का नुकसान कम हो रहा है। सामान्य निकोटिन के शरीर में कम होने से जो लक्षण नजर आते हैं, वो इस प्रकार हैं:

  • सिगरेट पीने की बार-बार इच्छा होना
  • चिड़चिड़ापन, निराशा या गुस्सा
  • चिंता या घबराहट
  • एकाग्रता में कमी
  • बेचैनी
  • भूख में वृद्धि
  • सिर दर्द
  • अनिद्रा
  • खांसी का बढ़ना
  • थकावट
  • कब्ज और पेट में गड़बड़
  • डिप्रेशन
  • हार्ट रेट में कमी

और पढ़ें:धूम्रपान (Smoking) ना कर दे दांतों को धुआं-धुआं

धूम्रपान छोड़ने के बाद नुकसान को बदलें फायदे में

धूम्रपान करना छोड़ने के बाद आपको कुछ खास चीजें नहीं करनी चाहिए, ताकि आप जल्दी इस आदत को छोड़ सके जानिए कौन सी हैं वो चीजे:

अपने आप को नजरअंदाज न करें

धूम्रपान छोड़ने के बाद खुद को नजरअंदाज न करें, बल्कि इतनी बड़ी जीत का जश्न मनाएं। इसे छोड़ने के बाद आप धूम्रपान के नुकसान से पूरी तरह से सुरक्षित हैं। ऐसे में आप खुद का ख्याल रखना बहुत आवश्यक है। खुद इस तरह से अपने आप अपना ख्याल रख सकते हैं।

  • धूम्रपान की इच्छा को कम करने के लिए अधिक से अधिक पानी और स्वस्थ पेय पदार्थों का सेवन करें।
  • धूमपान की आदत छोड़ने के तुरंत बाद, जो सबसे बड़ी चुनौती होती है वो है नियमित क्रेविंग होना। कुछ क्रेविंग्स इसलिए होती हैं क्योंकि आपके शरीर को अभी भी निकोटिन के सेवन की इच्छा होती है। ऐसे में अपनी रूटीन और खानपान को बदलकर आप इस क्रेविंग को कम कर सकते हैं।
  • कुछ एक्टिविटीज के अन्य आइडिया भी हैं। जब आपका मन सिगरेट पीने का करें तो आप इन्हें आजमा सकते हैं और धूम्रपान के नुकसान को कम कर सकते हैं।अपनी रोजाना की रूटीन को ऐसे बनाएं :

1) सुबह उठ कर सबसे पहले शावर लें

2) सुबह जिस समय जब आप स्मोकिंग करते थे। उस समय चाय या कॉफी लें। लेकिन, उस समय लोग, जगह अलग होने चाहिए। अपने ध्यान को स्मोकिंग से हटाने के लिए आप न्यूज पेपर या मोबाइल का प्रयोग कर सकते हैं

3) अपने काम के बाद सैर पर अवश्य जाए, व्यायाम और ध्यान करें।

4) फलों और सब्जियों का भरपूर सेवन करें।

अपने आप को खुश रखें और ध्यान हटाने के लिए आप, इन उपायों को अपनाएं:

1) एक गिलास पानी को धीरे -धीरे पीएं।

2) अपने पालतू जानवर के साथ खेले।

3) दोस्त को फोन करें

4) कोई गेम खेले।

5) अपने दोस्त या पार्टनर को शोल्डर या हेड मसाज करने को कहें।

6) पेड़ पौधों या प्रकृति के साथ कुछ समय बिताएं।

7) जिस भी चीज में आपको खुशी मिलती है वो करें।

बीमारियों के उपचार के रूप में योगा के बारे में जानिए विस्तार से इस वीडियो के माध्यम से

अल्कोहल का सेवन न करें

धूम्रपान छोड़ने के बाद आपमें कई शारीरिक और मानसिक बदलाव आ सकते हैं। यह भी हो सकता है कि धूम्रपान छोड़ने के बाद आपका मन अल्कोहल यानी शराब पीने का करें। लेकिन भूल कर भी ऐसा न करें। जब भी आपका ध्यान इस तरफ जाए आप धूम्रपान के नुकसान के बारे में सोचे। इसकी जगह आप शुगर फ्री सोडा-वाटर, एप्पल साइडर आदि का सेवन करें। इससे ना केवल आपकी सिगरेट पीने की इच्छा कम होगी, बल्कि आप अपना कुछ वजन भी कम कर सकते हैं।

जंक फूड न खाएं

सिगरेट छोड़ने के बाद आपको अपने खाने पीने का भी ध्यान रखना होगा। इसलिए अधिक मसाले, नमक या चीनी युक्त आहार के सेवन से बचे। कम कैलोरी वाला आहार जैसे गाजर, सेब या अन्य हेल्दी चीजों का सेवन करें। इन चीजों से न केवल स्वस्थ रहेंगे बल्कि फिट भी दिखेंगे

अकेला न रहें

धूम्रपान छोड़ना आपको बैचैन, परेशान और हताश कर सकता है। ऐसे में अपने मन में निराशा और हताशा की भावना न आने दें। खुद को व्यस्त रखें। अपने प्रियजनों, दोस्तों और रिश्तेदारों की मदद लें। खुद को पार्टी, घूमने फिरने आदि में व्यस्त कर लें और भूल जाएं कि आपने कभी धूम्रपान भी किया था। अच्छे-अच्छे पकवान खाने और लोगों से मिलने से आप धूम्रपान को भूल जाएंगे। अपने दिमाग को इतना व्यस्त कर लें कि उसमें सिगरेट का ख्याल भी न आए।

और पढ़ें: स्मोकिंग (Smoking) छोड़ने के बाद शरीर में होते हैं 9 चमत्कारी बदलाव

तनाव न लें

सिगरेट पीने के बाद होने वाले तनाव, चिंता और बैचेनी से बचे। क्योंकि, इन स्थितियों में आपको सिगरेट की इच्छा हो सकती है। अगर आपको कभी लगे कि आप खुद पर नियंत्रण खोने वाले हों। तो थोड़ी देर रुके और फिर से विचार करें या किसी व्यक्ति से इस बारे में बात करें। आपको नई दिनचर्या में ढलने में कुछ समय लग सकता है। ऐसे में ऐसे नए तरीको को खोजें। जिससे आप स्ट्रेस को कम कर सकते है और इसमें स्मोकिंग कोई विकल्प न हों। स्ट्रेस के कम होने पर आप यह पाएंगे कि सिगरेट की यह लत अस्थायी है। यह किसी समस्या है हल नहीं बल्कि आपके ध्यान को भटकाने का तरीका है। इसके साथ ही धूम्रपान के नुकसानों के बारे में भी सोचे, इसके बाद आप इसे करने से बचेंगे। एक रिसर्च के अनुसार धूम्रपान करने वालों में अन्य लोगों के मुकाबले स्ट्रेस लेवल अधिक होता है। लेकिन धूम्रपान छोड़ने के 6 महीने के बाद वो अपने स्ट्रेस लेवल को कम पाते है।

नकारात्मक न सोचें

धूम्रपान छोड़ना मुश्किल है। पूरी तरह सिगरेट छोड़ने में आपको एक दिन या एक साल भी लग सकता है। ऐसे में आप ऐसा न सोचें कि आप धूम्रपान हमेशा के लिए छोड़ रहें हैं बल्कि आज पर ध्यान दें। इससे आपको सकारात्मक रहने में मदद मिलेगी। केवल यही बात महत्व रखती है कि आपने धूम्रपान करना छोड़ दिया है और अब आप धूम्रपान नहीं करते हैं। यह अपने आप में बहुत बड़ी बात और आपकी बहुत बड़ी जीत है। अपने दिमाग में इस विचार को न ले कर आएं कि आप यह काम नहीं कर सकते।

और पढ़ें: केस स्टडी: कैसे शुरू होती है स्मोकिंग (Smoking) की आदत!

धूम्रपान छोड़ने से होने वाले फायदे

स्मोकिंग छोड़ना आपके स्वास्थ्य और जीवन का सबसे बेहतरीन चीज है। इसे आपका पूरा जीवन ही बदल सकता है। इससे धूम्रपान के नुकसान कम होंगे और आपको और आपके परिवार को कई लाभ होंगे, जैसे:

  • आपके टेस्ट करने और सूंघने की क्षमता सुधरेगी। जिससे आप अपने भोजन का अधिक मजा ले पाएंगे।
  • अपने फिटनेस को बढ़ाने के लिए एक्सरसाइज करना अधिक आसान हो जायेगा।
  • आप स्मोकिंग की सभी बाधाओं से मुक्त हो जाएंगे, जैसे धुएं की बदबू या हमेशा इस बाद का ध्यान रखना कि आपके पास पर्याप्त सिगरेट हैं या नहीं।
  • इससे फर्टिलिटी का स्तर भी सुधरेगा। अगर आप महिला हैं तो आपके गर्भवती होने की संभावना भी बढ़ सकती है
  • आप हर साल हजारों रुपए बचा सकते हैं। जिन्हें आप अन्य चीजों पर खर्च कर सकते हैं।
  • इसका लाभ आपके परिवार और दोस्तों को भी होगा क्योंकि:
  • उन्हें अब सेकंड हैंड स्मोकिंग का नुकसान नहीं उठाना पड़ेगा।
  • आपके बच्चों को अस्थमा, निमोनिया, कान में इंफेक्शन का खतरा कम होगा

कुछ लोग तनाव, चिंता या अकेलेपन को दूर करने के लिए भी धूम्रपान करते हैं। ऐसे में धूम्रपान छोड़ने का मतलब है आपको इन स्थितियों से अलग और स्वस्थ तरीके से गुजरना। तंबाकू में मौजूद निकोटीन नशे की लत लगाने का काम करता है। ऐसे में जब आप धूम्रपान करना छोड़ते हैं तो रोजाना निकोटिन की मात्रा को कम करने से शरीर में इसकी लत और आदत कम होती जाती है। धूम्रपान को छोड़ना एक लंबी और मुश्किल प्रक्रिया हो सकती है। लेकिन तंबाकू का सेवन न करना या छोड़ना इसका सबसे लंबा और सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है। इसके लिए आपको हर दिन यह निर्णय लेना होगा कि आपको आज धूम्रपान नहीं करना है। हर दिन जब आप धूम्रपान नहीं करते हैं तो यह आपके लिए एक जीत की तरह है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

How to Quit Smoking.https://www.helpguide.org/articles/addictions/how-to-quit-smoking.htm.Accessed on 08-07-20

Steps to Manage Quit Day.https://smokefree.gov/quit-smoking/getting-started/steps-to-manage-quit-day.Accessed on 08-07-20

What to expect when you quit smoking.https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/healthyliving/What-to-expect-when-you-quit-smoking.Accessed on 08-07-20

5 things that happen to your body when you quit smoking.https://www.geisinger.org/health-and-wellness/wellness-articles/2020/03/30/13/45/5-things-that-happen-when-you-quit-smoking.Accessed on 08-07-20

Quitting Smoking: Help for Cravings and Tough Situations.https://www.cancer.org/healthy/stay-away-from-tobacco/guide-quitting-smoking/quitting-smoking-help-for-cravings-and-tough-situations.html.Accessed on 08-07-20

How Can I Quit Smoking?,https://kidshealth.org/en/teens/quit-smoking.html.Accessed on 08-07-20

लेखक की तस्वीर
Dr. Pranali Patil के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Anu sharma द्वारा लिखित
अपडेटेड 07/08/2020
x