home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

जन्मजात हृदय दोष होने पर दी जाती हैं ये दवाएं, जानिए बीटा ब्लॉकर्स के बारे में

जन्मजात हृदय दोष होने पर दी जाती हैं ये दवाएं, जानिए बीटा ब्लॉकर्स के बारे में

कॉन्जेनिटल हार्ट डिजीज (Congenital heart disease) जन्म से ही बच्चों में होने वाली हार्ट की बीमारी को कहते हैं। ये एक प्रकार का का बर्थ डिफेक्ट है, जिसके कारण हार्ट सामान्य तरीके से काम नहीं कर पाता है। कॉन्जेनिटल का मतलब जन्म से होने वाली बीमारी से है। कॉन्जेनिटल हार्ट डिजीज बर्थ डिफेक्ट का मोस्ट कॉमन टाइप है। ये करीब हजार बच्चों में से आठ बच्चों को प्रभावित करता है। कॉन्जेनिटल हार्ट डिजीज में बीटा ब्लॉकर्स (Beta blockers in congenital heart disease) दवाओं का उपयोग प्रभावी है। ये दवाएं कैसे काम करती हैं? इनका उपयोग कैसे करें? इससे संबंधित जानकारी इस लेख में दी जा रही है।

कॉन्जेनिटल हार्ट डिजीज (Congenital heart disease) क्यों होती है, इसका कोई कारण नहीं है, लेकिन कुछ बीमारियों जैसे कि डाउन सिंड्रोम, प्रेग्नेंसी में मां को रुबेला (Rubella) होने पर, मां का प्रेग्नेंसी के दौरान शराब का सेवन या फिर स्मोकिंग करना, मां को टाइप 1 या फिर टाइप 2 डायबिटीज (Type 1 or 2 Diabetes) की समस्या आदि के कारण इस बीमारी का रिस्क बढ़ता जा रहा है। इस बर्थ डिफेक्ट के कारण हार्ट ठीक तरह से काम नहीं कर पाता है। प्रेग्नेंसी के करीब छठे सप्ताह के दौरान बच्चे का हार्ट प्रभावित होता है।

और पढ़ें: हार्ट फेलियर से बचने के लिए किन आयनोट्रोप्स का किया जाता है इस्तेमाल?

कॉन्जेनिटल हार्ट डिजीज में बीटा ब्लॉकर्स (Beta blockers for congenital heart disease)

बीटा ब्लॉकर्स (Beta blockers) एक प्रकार की दवा है जिसका उपयोग हाय ब्लड प्रेशर (High blood pressure) के इलाज के लिए किया जाता है, लेकिन इनका इस्तेमाल अनियमित हार्ट बीट के ट्रीटमेंट के लिए भी किया जाता है, जो बच्चे ये दवाएं लेते हैं उनकी हार्ट बीट धीमी हो सकती है। जानिए कॉन्जेनिटल हार्ट डिजीज ( congenital heart disease) में बीटा ब्लॉकर्स (Beta blockers for congenital heart disease) के कुछ ब्रांड के बारे में।

कॉन्जेनिटल हार्ट डिजीज में बीटा ब्लॉकर्स: टेनोर्मिन 50 टैबलेट (Tenormin 50 Tablet)

कॉन्जेनिटल हार्ट डिजीज में बीटा ब्लॉकर्स (Beta blockers in congenital heart disease) टेनोर्मिन 50 टैबलेट का उपयोग किया जाता है। ये दवाएं हाय ब्लड प्रेशर को कंट्रोल (Hypertension) करने के साथ ही हार्ट रिलेटेड चेस्ट पेन (Angina) को ठीक करने के लिए भी इस्तेमाल की जाती हैं। इस दवा को अन्य दवाओं के साथ दिया जाता है। दवाओं का सेवन डॉक्टर से सलाह लेने के बाद करना चाहिए। टेनोर्मिन में एक्टिव इंग्रीडिएंट के रूप में टेनोलोल (Tenolol) मौजूद होता है। इस दवा का सेवन करने से साइड इफेक्ट के रूप में थकान का एहसास, स्लो हार्ट रेट, सांस लेने में समस्या या फिर डायरिया की समस्या हो सकती है। इस दवा का इस्तेमाल हार्ट अटैक से बचाव में भी किया जाता है। इसकी एक स्ट्रिप की कीमत 23 रु है। आप इसे ऑनलाइन खरीद सकते हैं।

और पढ़ें: औरतों में हार्ट डिजीज के ये संकेत पड़ सकते हैं भारी, न करें अनदेखा

बाइसलेक्ट (Biselect)

कॉन्जेनिटल हार्ट डिजीज में बीटा ब्लॉकर्स (Beta blockers in congenital heart disease) का उपयोग के लिए बाइसलेक्ट टैबलेट का सहारा लिया जा सकता है। इस दवा का इस्तेमाल हाय ब्लड प्रेशर के साथ ही हार्ट बीट की अनियमितता को सुधारने के लिए किया जाता है। ये दवा भविष्य में होने वाले हार्ट अटैक से बचाने का काम भी करती है और साथ ही कुछ रोगियों में इस दवा का इस्तेमाल माइग्रेन की बीमारी को ठीक करने के लिए भी किया जाता है। बिना डॉक्टर से सलाह कि इस दवा का सेवन नहीं करना चाहिए। इस दवा में बिसोप्रोलोल एक्टिव इंग्रीडिएंट के रूप में मौजूद होता है। इस मेडिसिन की एक स्ट्रिप की कीमत 33 रु है। आप कॉन्जेनिटल हार्ट डिजीज में बीटा ब्लॉकर्स (Beta blockers for congenital heart disease) के संबंध में अधिक जानकारी चाहिए, तो डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

प्रोलोमेट एक्सएल 50 टैबलेट (Prolomet XL 50 Tablet)

कॉन्जेनिटल हार्ट डिजीज में बीटा ब्लॉकर्स (Beta blockers in congenital heart disease) की लिस्ट में प्रोलोमेट एक्सएल 50 टैबलेट भी शामिल हो सकती है। इसमें एक्टिव इंग्रीडिएंट के रूप में मेटोप्रोलोल सक्सिनेट (Metoprolol Succinate) होता है। प्रोलोमेट एक्सएल को बीटा-ब्लॉकर्स मेडिसिन भी कहते हैं। इस दवा का इस्तेमाल हायपरटेंशन (Hypertension) के साथ ही हार्ट अटैक की संभावना को कम करने के लिए भी किया जाता है। इस दवा को लेने का सुझाव डॉक्टर देते हैं और इसके साथ अन्य दवाओं को लेने की सलाह भी दी जा सकती है। इस दवा का सेवन करने से हार्ट रेट स्लो हो सकता है। इस दवा की एक स्ट्रिप की कीमत 54 रु है। आप दवाओं की कीमत ऑनलाइन चेक कर सकते हैं।

और पढ़ें: दिल के साथ-साथ हार्ट वॉल्व्स का इस तरह से रखें ख्याल!

कॉन्जेनिटल हार्ट डिजीज में बीटा ब्लॉकर्स: कॉर्गार्ड नाडोलोल टैबलेट (Corgard Nadolol Tablet)

नाडोलोल बीटा-ब्लॉकर है, जो हार्ट संबंधि समस्याओं ( ब्लड की सप्लाई को रूट्स और वेंस में करना) को दूर करने का काम करते हैं। ये हायपरटेंशन और छाती में हार्ट बीट की अनियमितता के कारण उठे दर्द को दूर करने में मदद करता है। कॉर्गार्ड ब्रांड की दवाएं आप ऑनलाइन खरीद सकते हैं। वहीं नाडोलोल जेनेरिक नेम है। ब्रांड की दवाओं की कीमत जेनेरिक मिलने वाली दवाओं से अधिक होती है। जेनेरिक दवाएं कई बार आसानी से नहीं मिल पाती हैं, इसलिए ब्रांड की दवाओं को लिया जा सकता है। इस दवा का सेवन करने से सिरदर्द, स्किन इचिंग, हार्ट रेट स्लो आदि समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

सोटागार्ड टैबलेट (Sotagard tablet)

कॉन्जेनिटल हार्ट डिजीज में बीटा ब्लॉकर्स (Beta blockers in congenital heart disease) में सोटागार्ड टैबलेट का सेवन हार्ट बीट की अनियमितता के लिए किया जाता है। इस दवा का सेवन करने से लंबे समय तक हार्ट बीट की अनियमितता से छुटकारा मिलता है। आपको ये दवा ऑनलाइन या मार्केट में 80 एमजी में मिल जाएगी। इसकी एक स्ट्रिप की कीमत 21 रु है। अगर किसी व्यक्ति को अस्थमा की समस्या है, तो इस दवा के सेवन से बचना चाहिए।

आपको दवाओं का चयन करने से पहले डॉक्टर से सलाह लेना बहुत जरूरी है। हार्ट की दवाएं बिना परामर्श के लेने से आपके शरीर में साइडइफेक्ट की संभावना बढ़ जाती है। अगर हाय ब्लड प्रेशर (High blood pressure) की समस्या रहती है, तो समय पर चेकअप के साथ ही रोजाना दवाओं का सेवन करें। दवाओं के सेवन से अगर आपको किसी प्रकार की समस्या हो रही है, तो इस बारे में डॉक्टर को जरूर बताएं। दवाओं के दुष्प्रभाव को रोकने के लिए डॉक्टर दवाओं में बदलाव कर सकते हैं या फिर शरीर में पैदा होने वाले लक्षणों के कम करने के लिए अन्य दवाएं लेने की सलाह दे सकते हैं। दवाओं की कीमत देखने के लिए बेहतर होगा कि आप ऑनलाइन चेक करें।

और पढ़ें: Heart Disease: हार्ट डिजीज बन सकती हैं मौत का कारण, रखें ये सावधानियां

इस आर्टिकल में दिए गए दवाओं के ब्रांड के नाम का हैलो स्वास्थ्य प्रचार नहीं कर रहा है। डॉक्टर से परामर्श के बाद ही कॉन्जेनिटल हार्ट डिजीज में बीटा ब्लॉकर्स (Beta blockers in congenital heart disease) दवाओं का सेवन करें। हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार उपलब्ध नहीं कराता। इस आर्टिकल में हमने आपको कॉन्जेनिटल हार्ट डिजीज में बीटा ब्लॉकर्स (Beta blockers for congenital heart disease) के संबंध में जानकारी दी है। आप जानकारी और सलाह लेने के बाद ही किसी प्रोडक्ट का चयन करें। उम्मीद है आपको हैलो हेल्थ की दी हुई जानकारियां पसंद आई होंगी। अगर आपको इस संबंध में अधिक जानकारी चाहिए, तो हमसे जरूर पूछें। हम आपके सवालों के जवाब मेडिकल एक्सर्ट्स द्वारा दिलाने की कोशिश करेंगे।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 22/09/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड