home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

हार्ट फेलियर से बचने के लिए किन आयनोट्रोप्स का किया जाता है इस्तेमाल?

हार्ट फेलियर से बचने के लिए किन आयनोट्रोप्स का किया जाता है इस्तेमाल?

आयनोट्रोपिक एजेंट मेडिसिंस का ग्रुप है, जो हार्ट की पेशियों के संकुचन प्रभावित करने का काम करते हैं। आयनोट्रोप्स को मुख्य रूप से दो भागों में बांटा जा सकता है, पहले जो हार्ट मसल्स की कॉन्सट्रेक्शन को बढ़ाने का काम करते हैं। वहीं दूसरे आयनोट्रोप्स (Inotropes) हार्ट मसल्स की कॉन्सट्रेक्शन को वीक करने का काम करते हैं। अगर हार्ट के लिए आयनोट्रोप्स की बात की जाती है, तो वो पॉजिटिव आयनोट्रोप्स ही होते हैं, जो हार्ट की मांसपेशियों के संकुचन को बढ़ाने का काम करते हैं। जब व्यक्ति को पुअर हार्ट कॉन्सट्रेक्शन की समस्या हो जाती है, तो ऐसे में आयनोट्रोप्स का सहारा लेना पड़ता है। मांसपेशियों का संकुचन कम हो जाने के कारण हार्ट अटैक, हार्ट फेलियर का सामना करना पड़ता है। अगर ऐसी अवस्था में ट्रीटमेंट न लिया जाए, तो ऊतकों में कम ऑक्सीजन पहुंचती है और लैक्टिक एसिड (Lactic acid) का निर्माण होने लगता है, जो ऑर्गन डेथ के लिए जिम्मेदार हो सकता है। आयनोट्रोप्स का काम सार्कोप्लाज्मिक रेटिकुलम (Sarcoplasmic reticulum) से कैल्शियम रिलीज करना या फिर हार्ट मसल्स सेल्स में कैल्शियम की मात्रा को बढ़ाना होता है। आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको कुछ आयनोट्रोप्स (Inotropes) के बारे में जानकारी देंगे। जानिए आयनोट्रोप्स के बारे में।

और पढ़ें: हार्ट के मरीजों में फ्लू वैक्सीन, दिल के दौरे के खतरे को कम करती है: एक्सपर्ट राय

आयनोट्रोप्स (Inotropes) का इस्तेमाल

आयनोट्रोप्स (Inotropes)

कार्डियोवस्कुल कंडीशन (Cardiovascular conditions) के ट्रीटमेंट के लिए आयनोट्रोप्स का इस्तेमाल किया जाता है। ट्रीटमेंट के दौरान किस प्रकार के आयनोट्रोप्स को दिया जाएगा, ये बीमारी के अनुसार तय किया जाता है। पॉजिटिव आयनोट्रोप्स (Positive inotropes ) हार्टबीट को कम करके अधिक रक्त पंप करने में मदद करते हैं। निगेटिव आयनोट्रोप्स (Negative inotropes) में बीटा ब्लॉकर्स, कैल्शियम चैनल्स ब्लॉकर्स और एंटीएरिथमिक मेडिसिंस (antiarrhythmic medicines) होती हैं, जो विभिन्न प्रकार से काम करती हैं। आयनोट्रोप्स (Inotropes) का इस्तेमाल आपको करना है या फिर नहीं, इस बारे में आपको डॉक्टर जानकारी देंगे। आयनोट्रोप्स का इस्तेमाल बिना डॉक्टर की सलाह के नहीं करना चाहिए। अगर आप अन्य दवा का सेवन कर रहे हैं, तो पहले डॉक्टर को बता दें। अगर आपने ऐसा नहीं किया, तो आयनोट्रोप्स का असर कम हो सकता है। यहां हम आपको आयनोट्रोप्स के कुछ ब्रांड के बारे में जानकारी दे रहे हैं, जिनका इस्तेमाल आमतौर पर किया जाता है।

आयनोट्रोप्स: अमरिनोन (Amrinone)

अमरिनोन एक वैसोडिलेटर (vasodilator) की तरह काम करता है। ये कैमिकल मैसेंजर (cAMP) का लेवल इंक्रीज करता है, जिसके कारण मसल्स को रिलेक्स फील होता है। डायलेट्स ब्लड वैसल्स के कारण ब्लड फ्लो हार्ट तक पहुंचाने में हेल्प करते हैं। ये दवा अधिक ब्लड पंप करने के लिए हार्ट कॉन्ट्रेक्टाइल एबिलिटी को प्रमोट करता है। दवा का सेवन करने से दुष्प्रभाव के रूप में लो ब्लड प्लेटलेट (Low blood platelets), मितली की समस्या (Nausea), ब्लड प्रेशर कम होने की समस्या ( Decreased blood pressure) हो सकती है। आपको दवा खाने से दिए गए साइड इफेक्ट्स हो, ये जरूरी नहीं है। आपको ये दवा 550 रु में उपलब्ध हो जाएगी।

और पढ़ें:टॉप 10 हार्ट सप्लिमेंट्स: दिल 💝 की चाहत है सप्लिमेंट्स

निस्टैक्सेल इंजेक्शन (Nistaxel injection)

निस्टैक्सेल इंजेक्शन का इस्तेमाल हार्ट फेल (heart failure) और कार्डियोजेनिक शॉक के दौरान किया जाता है। ये हार्ट मसल्स के स्टिमुलेशन का काम करता है। इसमें (Dobutamine) कम्पाउंड के रूप में पाया जाता है। इसकी कीमत 3,500 रु है। आप इस आयनोट्रोप्स (Inotropes) को ऑनलाइन खरीद सकते हैं।

और पढ़ें: हार्ट अटैक से बचा सकता है कैल्शियम स्कोरिंग टेस्ट (Calcium scoring test), जानिए कैसे

लैनोक्सिन टैबलेट (Lanoxin Tablet)

आयनोट्रोप्स के रूप में लैनोक्सिन टैबलेट का इस्तेमाल किया जाता है। इस टैबलेट में डिगॉक्सिन (Digoxin) एक्टिव इंग्रीडिएंट के रूप में इस्तेमाल होता है। इस दवा का इस्तेमाल करने से हार्ट ब्लड को आसानी से पंप करता है और साथ ही एब्नार्मल हार्ट रिदम ( Abnormal heart rhythm) की समस्या से भी छुटकारा मिलता है। अगर डॉक्टर ने आपको इस आयनोट्रोप्स को लेने की सलाह दी है, तो डॉक्टर से जानकारी लें कि इसका सेवन कैसे करना है किन बातों का ख्याल रखना चाहिए। इसकी एक स्ट्रिप की कीमत 11 रु है।

आयनोट्रोप्स: डोपामाइन 200mg इंजेक्शन (Dopamine 200mg Injection)

डोपामाइन 200mg इंजेक्शन में एक्टिव इंग्रीडिएंट के रूप में डिगॉक्सिन (Digoxin)पाया जाता है। इस इंजेक्शन का इस्तेमाल हार्ट अटैक के कारण हुए लो ब्लड प्रेशर को ठीक करने के लिए किया जाता है। साथ ही ये इंजेक्शन संक्रमण, हार्ट सर्जरी (heart surgery) या फिर ट्रॉमा के दौरान भी इस्तेमाल किया जाता है। इसे हार्ट फेलियर के दौरान भी यूजफुल माना जाता है। जब बीपी अचानक से कम हो जाता है, तो इंजेक्शन का इस्तेमाल करने से पंपिंग कैपिसिटी बढ़ जाती है शरीर का ब्लड फ्लो नॉर्मल हो जाता है। इस इंजेक्शन का इस्तेमाल करने से साइड इफेक्ट के रूप में सिरदर्द, हार्ट रेट का तेजी से बढ़ जाना आदि समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। प्रेग्नेंसी के दौरान इस इंजेक्शन को सुरक्षित नहीं माना जाता है।

और पढ़ें: Heart Disease: हार्ट डिजीज बन सकती हैं मौत का कारण, रखें ये सावधानियां

डोबट्रेक्स 250mg इन्जेक्शन (Dobutrex 250mg Injection)

डोबट्रेक्स 250 एजी इंजेक्शन में डोबुटामाइन (Dobutamine) एक्टिव इंग्रीडिएंट के रूप में उपस्थित होता है। जब हार्ट फंक्शन ठीक तरह से नहीं हो पाते हैं, तो लो ब्लड प्रेशर की समस्या हो जाती है।इस इंजेक्शन का इस्तेमाल ब्लड प्रेशर को बढ़ाने के लिए किया जाता है। ये इंजेक्शन हार्ट की स्ट्रेस इकोकार्डियोग्राफी इवोल्यूशन (Stress echocardiography evaluation) के दौरान इस्तेमाल किया जाता है। इसे डॉक्टर की देखरेख में दिया जाता है क्योंकि इंजेक्शन देने के बाद बीपी पर लगातार नजर रखनी पड़ती है। इसे ऑॉनलाइन भी खरीदा जा सकता है। इसकी कीमत 378 रु है। आप इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

हार्ट से संबंधित बीमारियों को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। अगर आपको हाय ब्लड प्रेशर, हार्ट बीट तेज होने या फिर अचानक से सीने में दर्द (Chest Pain) की समस्या हो, तो डॉक्टर से तुरंत जांच कराएं। डॉक्टर आपको जिन दवाओं का सेवन करने की सलाह दें, उन्ही का सेवन करें। किसी के द्वारा बताई गई दवाओं का सेवन करने से बचें। दवाओं का सेवन जितनी मात्रा में बताया जाए, उतना ही करें, वरना दवाओं के साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से परामर्श जरूर करें।

इस आर्टिकल में दिए गए दवाएं के ब्रांड के नाम का हैलो स्वास्थ्य प्रचार नहीं कर रहा है। डॉक्टर से परामर्श के बाद ही एक्यूट हार्ट फेलियर में आयनोट्रोप्स लें। हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार उपलब्ध नहीं कराता। इस आर्टिकल में हमने आपको आयनोट्रोप्स ( Inotropes) के संबंध में जानकारी दी है। आप जानकारी और सलाह लेने के बाद ही किसी प्रोडक्ट का चयन करें। उम्मीद है आपको हैलो हेल्थ की दी हुई जानकारियां पसंद आई होंगी। अगर आपको इस संबंध में अधिक जानकारी चाहिए, तो हमसे जरूर पूछें। हम आपके सवालों के जवाब मेडिकल एक्सर्ट्स द्वारा दिलाने की कोशिश करेंगे।

health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 21/09/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड