home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

वर्ल्ड हार्ट डे: हेल्दी हार्ट के लिए फॉलो करें ऐसा लाइफस्टाइल, कम होगा हार्ट डिजीज का खतरा

वर्ल्ड हार्ट डे: हेल्दी हार्ट के लिए फॉलो करें ऐसा लाइफस्टाइल, कम होगा हार्ट डिजीज का खतरा

हार्ट की समस्या लोगों के बीच अधिक बढ़ती जा रही है। इसकी एक बड़ी वजह स्ट्रेस और लोगों की बिगड़ती लाइफस्टाइल भी है, सबसे पहले तो उनकी गलत डायट। यदि हम अच्छी डायट नहीं लेते हैं, तो केवल हृदय के ही नहीं, बल्कि कई गंभीर बीमारियों के शिकार हो सकते हैं। अगर आप भी दिल की बीमारी से बचना चाहते हैं तो एक हेल्दी लाइफस्टाइल का चयन करें, इससे आप हार्ट डिजीज के खतरों को कम कर सकते हैं। इसके साथ ही ये लाइफस्टाइल सीरियस क्रोनिक डिजीज जैसे कि डायबिटीज और कुछ प्रकार के कैंसर को रोकने में सहायक होती है।

आप क्या खाते हैं? कितना वॉक करते हैं? स्मोकिंग को कंट्रोल करने के साथ ही ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल में रखते हैं या नहीं ये सभी चीजें आपके हार्ट पर प्रभाव डालती हैं। इन सबका ख्याल रखने के साथ ही कुछ चीजें हैं, जो हार्ट हेल्दी लाइफस्टाइल में होनी चाहिए वर्ल्ड हार्ट डे के अवसर पर आइए जानते हैं उनके बारे में।

इस बारे में जब हैलो स्वास्थ्य ने जाने माने आयुर्वेदिक एक्सपर्ट पांच से ज्यादा स्वास्थ्य संबंधित किताबों के लेखक और इंक्रेडिबल आयुर्वेदा के संस्थापक डाॅ अबरार मुलतानी से बात की तो उन्होंने हार्ट को स्वस्थ रखने के दो आयुर्वेदिक उपाय बताएं।

1. सुबह के समय पीपल की नई 15 पत्तियों को लीजिए। इन्हें धोकर और छोटे टुकड़ों में काटकर 2 गिलास पानी में उबालें जब तक कि पानी 1 गिलास ना बचे।
इसे छानकर हर साल उतने दिनों तक पिए जितनी आपकी उम्र हो। यह उपाय आपके दिल को निरोगी और शक्तिशाली बना देगा।

2. 1 चम्मच शुद्ध सेब का सिरका (एप्पल साइडर विनेगर), 1 चम्मच शहद, 1 चम्मच सौंफ का अर्क और आधा चम्मच तुलसी का रस एक गिलास गर्म पानी में मिलाकर रोजाना सुबह खाली पेट कुछ दिन लेने से बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल, धड़कनों की अनियमितता, ब्लॉकेज, सीने में दर्द और सांस फूलने की समस्या में बहुत लाभ मिलता है।

अब जानते हैं हमें अपने हार्ट को हेल्दी रखने के लिए कैसी लाइफस्टाइल अपनानी चाहिए और किन-किन चीजों का ध्यान रखना चाहिए?

हेल्दी हार्ट के लिए फॉलो करें ऐसी लाइफस्टाइल

हेल्दी हार्ट के लिए चलते रहो

एक जगह पर लंबे समय तक बैठे रहना हार्ट डिजीज के रिस्क को बढ़ा सकता है। यहां तक कि हावर्ड की एक स्टडी में पाया गया है कि दो घंटे तक लगातार बैठकर टीवी देखना हार्ट डिजीज के रिस्क को 15 प्रतिशत तक बढ़ा देता है और इससे टाइम से ज्यादा समय तक लगातार टीवी देखने से रिस्क और भी बढ़ सकता है। इसका मतलब यही हुआ कि यदि हमें हेल्दी हार्ट रखना है, तो हमें अपनी लाइफस्टाइल में फिजिकल एक्टिविटीज को शामिल करना होगा। अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के अनुसार हमें हर दिन 30 मिनिट फिजिकल एक्टिविटीज करनी चाहिए। हम इसे 10-10 मिनिट के सेशन में बांट सकते हैं। रेगुलर फिजिकल एक्टिविटी मोटापे को भी कम करती है। जिससे भी हार्ट रिस्क का खतरा कम रहता है।

अगर आपको फिजिकल एक्टिविटी करने के लिए और भी कारण चाहिए, तो बता दें कि इससे हाई ब्लड प्रेशर कम होता है और ब्लड सर्कुलेशन अच्छा होता है, जो कि हेल्दी हार्ट के लिए बेहद जरूरी है।

और पढ़ें: हार्ट अटैक के बाद डायट का रखें खास ख्याल! जानें क्या खाएं और क्या न खाएं

[mc4wp_form id=”183492″]

हेल्दी हार्ट डायट

हेल्दी हार्ट के लिए हेल्दी डायट बेहद जरूरी है। इसमें एक टाइप के फूड, पोषक तत्वों पर फोकस नहीं किया जाता, ब्लकि आप दिनों, हफ्तों और महीनों से क्या खा रहे हैं इस पर ध्यान दिया जाता है। इस प्रकार की डायट में सैचुरेड और ट्रांस फैट को लो रखा जाता है। साथ ही एडेड शुगर और साल्ट की मात्रा भी बेहद कम होती है। इसमें होलग्रेन, फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट और अनसैचुरेड फैट्स को शामिल किया जाता है। आइए जानते हैं हार्ट को हेल्दी रखने के लिए डायट में किन चीजों को ध्यान रखना चाहिए।

फल और सब्जियां ज्यादा से ज्यादा खाएं

डायट में फल और सब्जियों की वैरायटी को शामिल करना हेल्दी हार्ट के लिए जरूरी है। साथ ही यह कई प्रकार की हार्ट से संबंधित बीमारियों के रिस्क को भी कम करता है।

हेल्दी हार्ट के लिए होलग्रेन पर शिफ्ट हो जाएं

आपको बता दें कि साबुत अनाज में प्राकृतिक अनाज की मात्रा अधिक होती है। इसका मतलब है कि इसमें फाइबर, विटामिन बी, विटामिन ई और स्वस्थ वसा जैसे पोषक तत्व अधिक होते हैं। होलग्रेन को अपनी डायट में जरूर शामिल करें। इसके साथ ही अपनी डायट में मोनोसैचुरेड और पॉलीअनसैचुरेड फैट (ओमेगा-3 और ओमेगा-6) को शामिल करें। ये फैट हमें एवाकाडो, नट्स, फिश और सनफ्लॉवर सीड्स में मिल जाएंगे।

हेल्दी हार्ट के लिए नमक की जगह मसालों का यूज करें

बहुत ज्यादा नमक खाना हार्ट के लिए बुरा है। नमक में मौजूद सोडियम हाई ब्लड प्रेशर की रिस्क को बढ़ा देता है, जो कि हार्ट डिजीज के लिए मेजर रिस्क फैक्टर है। नमक को कम करके आप चाहे तो अन्य मसालों का यूज कर सकते हैं।

और पढ़ें: मानसिक तनाव के प्रकार को समझकर करें उसका इलाज

स्ट्रेस को मैनेज करें

हेल्दी हार्ट के लिए तनाव को मैनेज करना बेहद जरूरी है। तनाव कार्डियोवैस्कुलर डिजीज के रिस्क को बढ़ाता है। बात दें कि एक्सरसाइज से स्ट्रेस को भी कम किया जा सकता है। जैसे ही लोग एक्सरसाइज करना शुरू करते हैं एंड्रोफिन हॉर्मोन रिलीज होता है, जिससे लोग मानसिक और शारीरिक रूप से अच्छा महसूस करते हैं। किसी भी प्रकार की फिजिकल एक्टिविटी कुछ न करने से बेहतर है। इसके लिए आप एक गोल सेट करें और आसानी से की जाने वाली एक्सरसाइज का चयन करें। ऐसी एक्सरसाइज को चुनें जिसे करने में आपको मजा आए।

इसके अलावा मेडिटेशन और योग भी स्ट्रेस को कम करने में मदद कर सकते हैं। अमेरिकन हेल्थ एसोसिएशन के अनुसार जिन लोगों को हार्ट से संबंधित कोई बीमारी है और वे अगर मेडिटेशन करते हैं तो उनमें स्ट्रोक, हार्ट अटैक और मृत्यू की संभावना उन लोगों से 50 प्रतिशत तक घट जाती है जो मेडिटेशन नहीं करते।

और पढ़ें: स्मोकिंग छोड़ने के लिए अपनाएं ये आसान उपाय, बढ़ जाएगी आपकी उम्र

हेल्दी हार्ट के लिए स्मोकिंग को छोड़ना हर हाल में है जरूरी

स्मोकिंग उन ब्लड वेसल्स को डैमेज कर देती है जो हार्ट, ब्रेन और बॉडी के दूसरे हिस्सों से जुड़ी होती हैं। इसकी वजह से आपके हार्ट अटैक, स्ट्रोक से मरने के चांसेज चार गुना और अचानक होने वाले कार्डिएक अरेस्ट से मरने के चांसेज तीन गुना बढ़ जाते हैं। स्मोकिंग छोड़ना आसान नहीं होता। इसके लिए आपको प्लानिंग, प्रैक्टिस और मदद की जरूरत होगी। इसके लिए आप अपने दोस्तों और परिवार वालों की मदद भी ले सकते हैं।

हाई ब्लड प्रेशर और हाई कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करें

अनियंत्रित हाई ब्लड प्रेशर हार्ट डिजीज के लिए जिम्मेदार रिस्क फैक्टर में से एक है, क्योंकि इसके शारीरिक लक्षण दिखाई नहीं देते। आपका ब्लड प्रेशर हेल्दी हार्ट की रेंज में है या नहीं इसकी जांच आपको डॉक्टर से करवाते रहना चाहिए। अगर उच्च रक्तचाप का इलाज न करवाया जाए, तो यह धमनियों और हार्ट को डैमेज कर सकता है।

इसके साथ ही कोलेस्ट्रॉल को मैनेज करना भी बहुत जरूरी है। लो डेंसिटी लिपोप्रोटीन (LDL) बैड कोलेस्ट्रॉल होता है और हाई डेंसिटी लिपोप्रोटीन (HDL) गुड कोलेस्ट्रॉल। गुड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम होना और बैड कोलेस्ट्रॉल बॉडी में अधिक मात्रा में पाए जाने से हार्ट डिजीज का खतरा बढ़ जाता है। बैड कोलेस्ट्रॉल आर्टरीज की दीवारों में जमा हो जाता है। समय के साथ आर्टरीज कठोर और सकरी हो जाती है जिस वजह से ब्लड फ्लो ठीक से नहीं हो पता और हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है।

कोलेस्ट्रोल को मैनेज करने के लिए डायट से पिज्जा, केक, बिस्कुट, पेस्ट्रीज और डीप फ्राइड फूड को हटा दें और डायट में सब्जियां और फल शामिल करें। साथ ही हेल्दी प्रोटीन प्राप्त करने के लिए फिश, एग, दालें, नट्स और सीड्स को शामिल करें।

और पढ़ें: खतरा! वजन नहीं किया कम तो हो सकते हैं हृदय रोग के शिकार

दवाओं को डॉक्टर की सलाह के अुनसार ही लें

अगर आप हाई कोलेस्ट्रॉल, हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज आदि की दवाएं ले रहे हैं, तो अपने डॉक्टर के निर्देशों का पालन सावधानीपूर्वक करें। अगर आपको दवा, डायट या किसी के बारे में कोई कंफ्यूजन है, तो अपने डॉक्टर से इस बारे में जरूर पूछें। डॉक्टर, नर्स या फर्मासिस्ट से पूछे बिना किसी भी दवा को लेना बंद न करें।

इन बातों का ध्यान रख और इन्हें अपनी लाइफस्टाइल में शामिल कर आप अपने हार्ट को हेल्दी रख सकते हैं। उम्मीद हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और हेल्दी हार्ट से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Keeping your heart healthy/ https://www.heartfoundation.org.au/Heart-health-education/Keeping-your-heart-healthy/ Accessed on 3rd September 2020

6 Strategies to Live a Heart-Healthy Lifestyle/https://www.cdc.gov/chronicdisease/resources/infographic/hearthealth.htm/Accessed on 3rd September 2020

Heart-healthy diet: 8 steps to prevent heart disease/https://www.mayoclinic.org/diseases-conditions/heart-disease/in-depth/heart-healthy-diet/art-20047702/Accessed on 3rd September 2020

Heart-Healthy Living/
https://www.nhlbi.nih.gov/health-topics/heart-healthy-living#:~:text=Choose%20Heart%2DHealthy%20Foods,trans%20fats%20and%20added%20sugars./Accessed on 3rd September 2020

लेखक की तस्वीर badge
Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट कुछ हफ्ते पहले को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड