home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

गुस्सा शांत करना है तो करें एक्सरसाइज, जानिए और ऐसे ही टिप्स

गुस्सा शांत करना है तो करें एक्सरसाइज, जानिए और ऐसे ही टिप्स

क्या आप अपना आपा खो देते हैं। फिर खुद से सवाल पूछते हैं कि मुझे इतना गुस्सा क्यों आया या फिर आप सिर्फ गुस्सा करते हैं? गुस्सा मूड स्विंग और भ्रमित भावनाओं के कारण आ सकता है। गुस्से के कारण आपका तनाव भी हो सकता है। जो लोग बहुत अधिक दबाव में होते हैं, वे अधिक आसानी से गुस्से में आ जाते हैं। आज हम इस लेख के माध्यम से आपको गुस्सा शांत करने के आसान तरीके बता रहे हैं। इन ट्रिक्स को आजमाएं, भले ही आप गुस्से में ना हों, ये ट्रिक्स गुस्से में आने वाली भावनाओं को रोकने में मदद करती हैं।

एंगर मैनेजमेंट के तरीके

गुस्सा एक फीलिंग है जिसे आप आसानी से कंट्रोल नहीं कर सकते पर फिर भी अगर आप कुछ चीजों का ध्यान रखें तो जब भी आपको गुस्सा आए आप उस पल खुद को रोक सकते हो या कुछ भी अपना नुकसान करने से बच सकते हैं। तो नीचे कुछ टिप्स बताए जा रहे हैं, इससे आपके लिए गुस्सा शांत करना आसान होगा।

गुस्सा कंट्रोल करना है तो व्यायाम करें

टहलने / दौड़ने जाएं, कसरत करें, या खेल खेलें। बहुत सारे शोध से पता चला है कि व्यायाम आपके मूड को बेहतर बनाने और नकारात्मक भावनाओं को कम करने का एक शानदार तरीका है। हर दिन कम से कम 45 मिनट के लिए एक्सरसाइज करनी चाहिए। सूर्य नमस्कार और योगा आसन करने से गुस्सा शांत करना आसान होता है। मॉर्निंग वॉक के लिए जाना भी एक अच्छा विकल्प साबित हो सकता है। अगर स्ट्रेस की वजह से गुस्सा आ रहा है तो तनाव (Stress) को कम करने के लिए तैराकी (स्विमिंग) भी कर सकते हैं जिससे आपको बहुत मदद मिलेगी।

यह भी पढ़ें- डिप्रेशन (Depression) होने पर दिखाई ​देते हैं ये 7 लक्षण

गुस्सा शांत करना है तो सुनें म्यूजिक

संगीत भी एक व्यक्ति के मूड को बहुत जल्दी बदलने के लिए बेहद कारगर है। अगर आप नृत्य करते हैं तो आप के मूड पर व्यायाम और संगीत दोनों ही अपना जादू दिखा सकता है। मनोचिकित्सक भी इस तरह का परामर्श देते हैं। म्यूजिक आपको जितना सुकून देता है उतना ही यह आपके मन को शांत कर देता है जिससे आपको किसी बात पर जल्दी से गुस्सा आना कम हो जाता है।

यह भी पढ़ें : बार-बार दुखी होना आखिर किस हद तक सही है, जानें इसके स्वास्थ्य पर प्रभाव

गुस्सा शांत करना है तो अपने विचारों और भावनाओं को लिखिए

आप चीजों को बहुत तरीकों से लिख सकते हैं; उदाहरण के लिए, आप अपनी भावनाओं को कविता या गीत के बोल के रूप में लिख सकते है। आपके द्वारा इसे लिखी इन बातों को आप अपने पास रख सकते हैं या इसे फेंक भी सकते हैं इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। महत्वपूर्ण बात यह है कि, अपने विचारों और भावनाओं को लिखने के बाद आप कैसा महसूस कर रहे हैं। स्क्रिबलिंग, डूडलिंग, या अपने विचारों या भावनाओं को स्केच करने से भी मदद मिल सकती है।

यह भी पढ़ें- डिप्रेशन रोगी को कैसे डेट करें?

जब गुस्सा शांत करना है तो लें गहरी सांस

यदि आप ब्रीदिंग एक्सरसाइज को नियमित रूप से करते हैं, तो ये अभ्यास सबसे अच्छा काम करते हैं। यह एक समग्र तनाव प्रबंधन तकनीक है। गुस्सें के दौरान आत्म-नियंत्रण करने में मदद कर सकता है। यदि आप नियमित रूप से ऐसा करते हैं, तो आप पाएंगे कि क्रोध या गुस्सा शांत करना कितना आसान हो गया है।

जिस व्यक्ति पर आप विश्वास करते हैं, उसके साथ अपनी भावनाओं के बारे में बात करें। कई बार अन्य भावनाएं भी होती हैं, जैसे डर या उदासी, क्रोध के जिनके बारे में साथी से बात करने पर आपको मदद मिल सकती है।

यह भी पढ़ें- पार्टनर को डिप्रेशन से निकालने के लिए जरूरी है पहले अवसाद के लक्षणों को समझना

टीवी देखें, पढ़ें, या फिल्म देखने जाएं

गुस्सा शांत करना है तो आप टीवी पर अपना मनपंसद शो देखें। फिल्म देखने जाए और साथ में अपने साथियों को भी ले जाए। अच्छे शो या फिल्में आपको गुस्से से बाहर निकलने में मददगार साबित हो सकती है।

6 से 8 घंटे की नींद लें

गुस्सा तभी आता है जब तनाव बहुत अधिक बढ़ जाता है। इसकी वजह से नींद न आने की समस्या से भी दो चार होना पड़ सकता है। इसलिए पूरी नींद लें। नींद पूरी लेना आपकी मेंटल हेल्थ को बढ़िया करता है। कम नींद लेने से आप चिड़चिड़ापन महसूस कर सकते हैं, लेकिन जब आप पूरी गहरी नींद लेते हैं तो चिड़चिड़ा कर आप किसी पर गुस्सा भी नहीं करेंगे।

यह भी पढ़ें : कैसे प्लान करें अपने लिए एक हेल्दी और हैप्पी रिटायरमेंट?

गुस्सा शांत करना है तो किसी एकांत जगह पर जाएं

अलग- अलग व्यक्ति अलग तरीके से अपना गुस्सा दिखाते हैं। कुछ लोग अपने कपड़ों को फाड़ देते हैं, कुछ लोग अपना फोन उठाकर जमीन पर पटक देते हैं। कुछ लोग घर के सदस्यों के साथ मारपीट करते हैं तो कुछ लोग घर का सामान फेंकने लगते हैं। यह सभी तरीके नकारात्मक हैं। वहीं, बहुत से लोग गुस्सा होने पर वहां से तुरंत ही चले जाते हैं और कहीं अकेले में बैठ जाते हैं और अपने साथ ही कुछ पल बिताए। इस युक्ति से गुस्सा शांत करना आसान होता है।

यह भी पढ़ेंः क्या गुस्से में आकर कुछ गलत करना एंगर एंजायटी है?

नशीले पदार्थों का सेवन बंद करें

गुस्सा शांत करना है तो शराब, धूम्रपान और दूसरे नशीले पदार्थों का सेवन आपको तुरंत ही बंद कर देना चाहिए। यह सभी चीजें मस्तिष्क को उत्तेजित करती हैं। यदि आपके मन में लंबे समय से कोई उलझन या समस्या चल रही है तो आप अपने मित्रों, रिश्तेदारों और दूसरे लोगों को बताकर अपना मन हल्का कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें- पार्टनर को डिप्रेशन से निकालने के लिए जरूरी है पहले अवसाद के लक्षणों को समझना

मनोचिकित्सक से संपर्क करें

यदि आपको लगता है कि आपको साधारण से ज्यादा गुस्सा आता है तो यह गंभीर मानसिक बीमारी हो सकती है। मस्तिष्क में हॉर्मोन का संतुलन बिगड़ने की वजह से गुस्सा बहुत अधिक होता है। ऐसी स्थिति में आपको तुरंत ही मनोचिकित्सक (साइकैटरिस्ट) से मिलना चाहिए। उनके परामर्श पर जो दवाई दी जाती हैं उसे रोजाना खाएं। इससे गुस्सा शांत करना आपके लिए कुछ आसान होगा।

क्रोध की भावनाओं पर काबू पाने के लिए आत्म-जागरूकता और आत्म-नियंत्रण रखना बहुत आवश्यक है। छोटे बच्चे बहुत महसूस नहीं करते हैं। वे बस अपने व्यवहार में इसे दर्शाते हैं। इसलिए आप बच्चों के गुस्से में होने पर उन्हें नखरे करते हुए देखते हैं, लेकिन किशोर आत्म-जागरूक होने की मानसिक क्षमता रखते हैं। जब आप क्रोधित होते हैं, तो एक पल को नोटिस करें कि आप क्या महसूस कर रहे हैं और क्या सोच रहे हैं? आत्म-जागरूकता और आत्म-नियंत्रण आपको इस बात के लिए तैयार करता है कि गुस्सा आने पर आप उसे कैसे शांत कर सकते हैं।

अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करें। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी प्रकार की चिकित्सा, निदान और उपचार प्रदान नहीं करता।

और पढ़ें :

छुट्टियों पर भी हो सकते हैं डिप्रेशन का शिकार, जानें हॉलिडे डिप्रेशन के बारे में

National Tourism Day पर जानें घूमने के मेंटल बेनिफिट्स

क्या यात्रा पर जा कर स्ट्रेस फ्री हो सकते हैं?

क्या म्यूजिक और स्ट्रेस का है आपस में कुछ कनेक्शन?

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Dealing With Anger. https://kidshealth.org/en/teens/deal-with-anger.html. Accessed on 09 Sep 2019

How can I control my anger?. https://www.medicalnewstoday.com/articles/162035. Accessed on 09 Sep 2019

Controlling anger before it controls you. https://www.apa.org/topics/anger/control. Accessed on 09 Sep 2019

Anger Management. https://www.mayoclinic.org/healthy-lifestyle/adult-health/in-depth/anger-management/art-20045434. Accessed on 09 Sep 2019

How to deal with anger. https://www.healthline.com/health/mental-health/how-to-control-anger#1. Accessed on 09 Sep 2019

लेखक की तस्वीर
Dr. Hemakshi J के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Smrit Singh द्वारा लिखित
अपडेटेड 22/04/2020
x