home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

यात्रा से तनाव मुक्ति: क्या यात्रा करने से हम स्ट्रेस फ्री हो सकते हैं?

यात्रा से तनाव मुक्ति: क्या यात्रा करने से हम स्ट्रेस फ्री हो सकते हैं?

यात्रा, यह शब्द ही हमें अलग-अलग स्थानों का एहसास कराता है। यात्रा का पूरा विचार, यात्रा की योजना बनाना, बैग पैक करना, लोगों में उत्साह भरता है। यह डी-स्ट्रेस (तनाव-मुक्त) और तनाव के अनुभव से छुटकारा पाने का एक बेहतर तरीका है। दरअसल, ट्रेवलिंग नाम सुनते ही हमारे दिमाग में उत्सुकता का भाव आने लगता है। बहुत ही गिने-चुने ऐसे व्यक्ति होते हैं, जिन्हें यात्रा करना पसंद नहीं होता है। क्योंकि, हर दूसरे व्यक्ति की हॉबी ट्रेवलिंग करना होती है।आपने भले ही कभी महसूस न किया हो, लेकिन यात्रा और स्ट्रेस का बहुत गहरा नाता है। अकसर लोग यात्रा करते समय अपने बड़े-बड़े दुख भूल जाते हैं। तो वहीं कुछ लोग अपना स्ट्रेस कम करने के साथ ही जाने कितनी नई-नई यादें बना लेते हैं। क्योंकि सफर हमेशा खूबसूरत होता है। न केवल स्ट्रेस कम करने के लिए बल्कि यात्रा करने से हमें तमाम तरह के फायदे (benefits of travelling) हो सकते हैं। तो इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि किस तरह यात्रा से तनाव मुक्ति पाई जा सकती है:

और पढ़ें: क्या म्यूजिक और स्ट्रेस का है आपस में कुछ कनेक्शन?

किस तरह यात्रा से तनाव मुक्ति (Stress relief from travel) मिलने में मिलती है मदद?

जैसा की हमने बताया यात्रा से तनाव मुक्ति पाई जा सकती है। इसके पीछे कई कारण हैं और ये आर्टिकल पढ़ने के बाद आप जब दोबारा यात्रा करेंगे, तो आप इसके फायदों को स्वयं ही महसूस कर पाएंगे। दरअसल, जब तक हम एक कमरे में बंद होते हैं, तो तब हम सिर्फ अपनी दुनिया तक ही सीमित रह जाते हैं। ऐसे में हमें केवल अपनी प्रॉब्लम, दुख और तकलीफ दिखाई देती है। जिसके बारे में हम लगातार सोचते रहते हैं और तनाव का शिकार हो जाते हैं। लेकिन जैसे ही हम अपने घर से बाहर कदम रखते हैं, हमारे सामने एक बड़ी-सी दुनिया होती है। जहां बहुत से लोग खुश तो बहुत से लोग आपसे भी ज्यादा परेशान दिखाई दे सकते हैं। लेकिन जब हमारी नजर आस-पास के लोगों पर, खूबसूरत जगह या किसी भी ऐसी चीज पर पड़ती है, जो हमारे दिमाग में अपनी छवि बना लें। तो हमारे दिमाग में हमारी प्रॉब्लम की जगह कई और नई बातें पनपने लगती है। उदाहरण के लिए मान लिजिए आप घर से निकलते हैं और आपके सामने किसी दिवार पर एक बेहद खूबसूरत चित्रकारी की गई है। पहली नजर में वह आपको पसंद आ गई। अब आपको करीब से जाकर उसे देखने का मन करता है। आपके मन में उस पेंटिंग को लेकर कई सारे सवाल आने लगते हैं। ये कैसी बनाई गई है? किसने बनाई होगी?

वैसे यह मात्र एक उदाहरण है, जरूरी नहीं कि आपके स्ट्रेस से आपका ध्यान हटाने के लिए केवल पेंटिंग ही जरूरी हो। आपका स्ट्रेस कम करने के लिए आपका ध्यान भटकाने और आपको रिलैक्स फील कराने के लिए कोई भी चीज, जगह या व्यक्ति आपको पसंद आ सकता है। लेकिन यह बात ध्यान रखने के लिए जरूरी है कि जब भी हम यात्रा करते हैं, तो हम एक नई दुनिया देखते हैं। इसलिए कई बार घर से बाहर निकलकर नई दुनिया देखना हमारे मानसिक स्वास्थ्य के लिए बेहतर साबित होता है। इसी से यह पता चलता है कि यात्रा से तनाव मुक्ति प्राप्त हो सकती है। तो आइए जानते हैं,आखिर कैसे यात्रा आपको तनाव मुक्त कर सकती है।

और पढ़ें: क्या है मानसिक बीमारी और व्यक्तित्व विकार? जानें इसके कारण

यात्रा से तनाव मुक्ति – लोगों को जानने का मौका

ट्रैवलिंग आपको अलग-अलग क्षेत्रों के लोगों से मिलने का मौका देती है। इसके अलावा, ट्रैवलिंग के दौरान आपको कई लोगों के असाधारण जीवन जीने के बारे में भी जानने को मिलेगा। इस दौरान, आपको मौका मिलेगा कि कैसे एक साधारण व्यक्ति ने असाधारण जीवन जिया होगा। जिसे जानने के बाद आप खुद के तनाव को भूल कर स्ट्रेस फ्री महसूस करने लगेंगे।

यात्रा से तनाव मुक्ति

यात्रा से तनाव मुक्ति (Stress relief from travel) – कंफर्ट जोन से बाहर निकल कर फील करेंगे स्ट्रेस फ्री (strees free)

रोमांच ब्रेक निश्चित ही आपको अपने कंफर्ट जोन से बाहर निकाल देता है। हालांकि, यात्रा करना, साहसिक खेलों में भाग लेना काफी रोमांचक होता है। जब आप यात्रा करते हैं, तो आपके सामने कई ऐसी परिस्थितियां आ सकती हैं, जिनका अंदाजा नहीं होता। ऐसे में, आपको कई बार अपनी प्लानिंग में बदलाव करना पड़ सकता है या तुरंत निर्णय लेने पड़ सकते हैं। यह आपकी समस्या को सुलझाने के कौशल को बढ़ावा देता हैऔर स्ट्रेस फ्री महसूस करने के लिए तैयार कर सकता है।

यात्रा से तनाव मुक्ति के लिए जरूरी है अलग-अलग कल्चर देखना

जब आप अपने देश के अंदर या बाहर अलग-अलग जगहों पर ट्रैवल करते हैं, तो आपको अलग-अलग कल्चर के लोग मिलते हैं। आपको उनके रीति-रिवाजों, उनके संस्कारों, जीवनशैली आदि के बारे में जानकारी मिलती है। जो आपको स्ट्रेस-फ्री फील करने में मदद करता है। जब हम किसी अन्य जगह पर लोगों को बहुत खुश देखते हैं, तो हमें भी अंदर से इच्छा होती है कि हम भी खुश रह सकते हैं। ये ख्याल धीरे-धीरे आपका स्ट्रेस कम करके आपको खुश रखने में मदद करता है।

और पढ़ें: डिप्रेशन क्या है? इसके लक्षण और उपाय के बारे में जानने के लिए खेलें क्विज

यात्रा से तनाव मुक्ति पाना ही है जीवन का उद्देश्य

विभिन्न सांस्कृतिक सेटिंग्स और सामाजिक आर्थिक बैकग्राउंड के लोगों से मिलने से बहुत से ऐसे लोगों का सामना करना पड़ सकता है, जिन्हें सहायता की जरूरत होती है। इससे आपके अंदर दया की भावना पैदा हो सकती है। तनाव मुक्ति के लिए यात्रा आपको ज्यादा मोटीवेटेड बनने में मदद कर सकता है। यह आपके दिमाग को आपकी तनावपूर्ण घटनाओं से भी निकाल कर स्ट्रेस फ्री करता है।

यात्रा से तनाव मुक्ति

खुद के लिए समय मिलता है (Get time for yourself)

यदि आपको किताबें पढ़ने का शौक है, तो आप यह जरूर ही जानते होंगे कि दूसरों को समय देने के साथ-साथ स्वयं को भी समय देना कितना अधिक आवश्यक होता है। इसलिए किसी के साथ या अकेले ट्रैवल करना बेहद जरूरी होता है। क्योंकि ट्रैवल करने से आपको अपने लिए समय मिलता है। इससे आपको कई शारीरिक और मनोवैज्ञानिक लाभ होते हैं। इससे आप पॉजिटिव महसूस करते हैं। इसलिए, जब आप अपनी दिनचर्या में वापस आते हैं, तो आप तरोताजा और स्ट्रेस फ्री महसूस करते हैं।

सोच का दायरा बढ़ाएं

जब आप नई जगह पर जाते हैं, नए लोगों से मिलते हैं, तो आप काफी कुछ नया भी सीखते हैं। ऐसे में आपकी सोच का दायरा बढ़ता है और आप अपने विचारों को अच्छी तरह से व्यक्त करने में समर्थ होते हैं। क्योंकि सोचने के लिए हमारे मन का शांत होना बहुत जरूरी होता है। यदि किसी व्यक्ति के मन में किसी प्रकार की हलचल होती है, तो वह सही तरीके से सोच और समझ नहीं पाता है। ऐसे में यात्रा के दौरान हमें अपने लिए समय मिलता है, जिसमें हमारी सोच का दायरा बढ़ता है।

अच्छी यादें बनती हैं

वो कहते हैं न ‘यात्रा आपको यादों के अनमोल खजाने देती है।’ तो ये बात सच है, इन यादों को अपने अंदर बसाकर इन्हें किसी भी समय पर दोहराया जा सकता है। जब भी आप तनाव महसूस करें, तो आप उन पलों को फिर से याद कर मुस्कुरा सकते हैं और इस वजह से तनाव में भी आप स्ट्रेस फ्री फील करते हैं। यात्रा स्ट्रेस से छुटकारा दिलाने के साथ-साथ बहुत सी खूबसूरत यादें भी बनाता है।

यात्रा से तनाव मुक्ति

यात्रा से कॉर्टिसोल (Cortisol) घटता है और आप स्ट्रेस फ्री (strees free) होते हैं

हां, इस बात की आपको शायद जानकारी न हो, लेकिन हम आपको बता दें कि रिलेक्स फील करने और स्ट्रेस फ्री होने पर कॉर्टिसोल का लेवल शरीर में कम होता है। अब आप सोच रहे होंगे कि कॉर्टिसोल क्या होता है? कॉर्टिसोल हार्मोन होता है जो सभी व्यक्तियों के लिए बहुत जरूरी होता है। कॉर्टिसोल को स्ट्रेस हार्मोन भी कहा जाता है। यानी अधिक चिंता के कारण स्ट्रेस हार्मोन का लेवल बढ़ जाता है, वहीं जब इंसान रिलेक्स फील करता है और खुद को परेशानी से बाहर पाता है तो कॉर्टिसोल का लेवल भी ठीक हो जाता है।

काॅर्टिसोल के अधिक बने रहने पर कई तरह की समस्याएं जैसे कि हाई बीपी, हाई ब्लड शुगर, शरीर में ज्यादा फैट जमा होना और इंफेक्शन से लड़ने की कम क्षमता आदि समस्याओं का सामना करना पड़ता है। अब आप सोच सकते हैं कि किस तरह से ट्रेवलिंग आपको बहुत सी समस्याओं से बचाने का काम करती है।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी के दौरान ट्रैवलिंग सेफ है या नहीं?

वीडियों में जानें, क्यों करना चाहिए सूर्य नमस्कार? एक योगासन से कैसे मिलता है 12 योगासन का फायदा?

नेचर से जुड़ाव बनाता है

स्टडी में ये बात सामने आई है कि अगर कोई भी व्यक्ति शहरी भीड़ की जगह प्राकृतिक वातावरण में रोजाना वॉक पर जाए तो उसकी मेंटल हेल्थ में सुधार होता है। प्राकृतिक वातावरण में रोजाना जाने से नेचर (प्रकृति) के साथ एक रिलेशन बन जाता है, जो इंसान के क्रोध को कम करने का भी काम करता है। अगर आप ऐसी जगह में कुछ एक्सरसाइज कर लें तो आपको कुछ ही पलों में स्ट्रेस फ्री महसूस करेंगे। लोगों को अक्सर नदी या समुद्र का किनारा और पहाड़ के आसपास की हरियाली अधिक पसंद आती है।

अगर आपको लगता है कि घूमने के मेंटल बेनिफिट्स ही होते हैं तो आपको कुछ बातें और भी जाननी पड़ेंगी। फ्रामिंघम हार्ट स्टडी में (Framingham Heart Study) के दौरान ये बात सामने आई है कि जो व्यक्ति एक साल या फिर छह महीने में छुट्टी नहीं लेते हैं, उन लोगों को हार्ट अटैक से मरने की संभावना 20 प्रतिशत और हार्ट डिजीज का जोखिम 30 प्रतिशत तक बढ़ जाता है। समय-समय पर ट्रेवलिंग करने पर अच्छे स्वास्थ्य के साथ ही उम्र भी बढ़ने की संभावना रहती है।

और पढ़ें : जानें एल्डर एब्यूज को कैसे पहचानें और कैसे इसे रोका जा सकता है

घूमने के मेंटल बेनिफिट्स के साथ ही अन्य बेनीफिट्स भी होते हैं। अगर आपको मानसिक रूप से बहुत अकेलापन महसूस हो रहा हो, या फिर वर्कप्लेस में अधिक प्रेशर के कारण काम करने में समस्या महसूस हो रही हो तो ट्रेवल जरूर करें। घूमने के मेंटल बेनिफिट्स के बारे में अपने दोस्तों और परिवारजनों को भी बताएं।

ट्रैवल के जरिए आप खुद को और दूसरों को बेहतर जान सकते हैं, प्रेरित हो सकते हैं और इसलिए यात्रा से तनाव मुक्ति और तनाव से राहत भी पाई जा सकती है। अगर आपने भी कभी यात्रा से तनाव मुक्ति पाई है, तो आपने इस यात्रा से तनाव मुक्ति की कहानी हमसे जरूर शेयर करें।

उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और यात्रा से तनाव मुक्ति कैसे मिलती है इससे संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

The Mental Benefits of Vacationing Somewhere New. https://hbr.org/2018/01/the-mental-benefits-of-vacationing-somewhere-new. Accessed on 27 August, 2020.

New study proves that traveling can change our life perceptions. https://www.technology.org/2014/06/12/tourism-psychology-new-study-proves-traveling-can-change-life-perceptions/. Accessed on 27 August, 2020.

Science Proves That Traveling Can Boost Your Health And Overall Well-Being. https://www.lifehack.org/338212/science-proves-that-travelling-can-boost-your-health-and-overall-well-being. Accessed on 27 August, 2020.

When a Vacation Reduces Stress — And When It Doesn’t. https://hbr.org/2014/02/when-a-vacation-reduces-stress-and-when-it-doesnt. Accessed on 27 August, 2020.

Short Vacation Improves Stress-Level and Well-Being in German-Speaking Middle-Managers—A Randomized Controlled Trial. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5800229/. Accessed on 27 August, 2020.

Coping with Stress. https://www.cdc.gov/coronavirus/2019-ncov/daily-life-coping/managing-stress-anxiety.html. Accessed on 27 August, 2020.

लेखक की तस्वीर
Aamir Khan द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 16/03/2021 को
Dr. Pooja Bhardwaj के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड
x