home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

प्रेग्नेंसी के दौरान ट्रैवलिंग सेफ है या नहीं?

प्रेग्नेंसी के दौरान ट्रैवलिंग सेफ है या नहीं?

प्रेग्नेंट महिलाओं के मन में अक्सर यह सवाल आता है कि प्रेग्नेंसी के दौरान ट्रैवलिंग करनी चाहिए या नहीं। ज्यादातर महिलाएं शिशु की सुरक्षा को लेकर चिंतित रहती हैं लेकिन, डॉक्टर की सलाह के साथ ही अगर कुछ सावधानियां बरती जाएं तो प्रेग्नेंसी में भी आरामदायक यात्रा की जा सकती है। डॉ. अनुभा सिंह, गायनेकोलॉजिस्ट व इंनफर्टिलिटी एक्सपर्ट का भी कहना है कि “गर्भवती होने का मतलब यह नहीं है कि अब आपको पूरे नौ महीने घर पर ही रहना होगा। अगर गर्भवती प्रेग्नेंसी के दौरान ट्रैवलिंग करना चाहती है, तो बस खान-पान और स्वास्थ्य का ख्याल पूरी तरह रखना होगा।” आपको ये बात ध्यान रखनी होगी कि प्रेग्नेंसी कोई बीमारी नहीं है, इसलिए आपको इसे एंजॉय करना चाहिए। प्रेग्नेंसी के दौरान कुछ बातों का ध्यान रखकर प्रेग्नेंसी में ट्रेवलिंग का मजा भी लिया जा सकता है। इस आर्टिकल के माध्यम से जानिए कि प्रेग्नेंसी में ट्रेवलिंग के दौरान किन बातों का ध्यान रखना चाहिए और कैसे आप सेफ ट्रेवलिंग कर सकते हैं।

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी के दौरान वाॅटर ब्रेक होने पर क्या करें?

गर्भावस्था के दौरान यात्रा (Travelling during Pregnancy): प्रेग्नेंसी के दौरान ट्रैवलिंग के लिए कब किया जाता है मना?

सामान्यतौर पर, प्रेग्नेंसी के शुरूआती 12 हफ्तों के दौरान डॉक्टर ट्रैवल करने के लिए मना करते हैं। इस दौरान मॉर्निंग सिकनेस की समस्या, ऊर्जा की कमी और उल्टी जैसी समस्याएं होती हैं। यात्रा के चलते मिसकैरिज होने का खतरा भी बढ़ सकता है। इसलिए प्रेग्नेंसी के दौरान 14 से 28 सप्ताह के बीच यात्रा की जा सकती है। प्रेग्नेंसी के दौरान ट्रैवलिंग करना इग्नोर करें, यदि आपको ये कुछ समस्याएं हैं-

प्रेग्नेंसी के दौरान ट्रैवलिंग करना हर किसी की बॉडी पर निर्भर करता है। कई महिलाएं प्रेग्नेंसी के दौरान ट्रेवलिंग करती हैं और अपना बेबीमून सेलिब्रेट करती है। वहीं कुछ को शुरूआत से ही अधिक परेशानी होती है जिसकी वजह से डॉक्टर ट्रेवल करने के लिए मना कर देते हैं। आजकल की बदलती लाइफस्टाइल में महिलाएं अपनी सेहत के आधार पर प्रेग्नेंसी के दौरान ट्रैवलिंग करने का निर्णय लेती हैं। लेकिन डॉक्टर भी हमेशा सुझाव देते हैं कि प्रेग्नेंसी के दौरान ट्रैवलिंग करते समय बहुत अधिक जागरूक होने की जरूरत है।

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करना सही या गलत?

क्या कुछ ऐसी जगह भी हैं, जहां प्रेग्नेंसी के दौरान ट्रैवलिंग (travelling during pregnancy) करने से बचना चाहिए?

डॉक्टर गर्भवती महिलाओं को ऐसी जगहों पर यात्रा करने की सलाह नहीं देते हैं, जहां जीका वायरस फैला हो । ये वायरस भ्रूण के ब्रेन डेवलपमेंट को प्रभावित कर सकता है। इसी तरह मलेरिया ग्रस्त क्षेत्रों में भी यात्रा करने की सलाह नहीं दी जाती है। गर्भावस्था के दौरान मच्छरों से विशेष बचाव करना चाहिए और ऐसी जगहों पर यात्रा नहीं करनी चाहिए जहां मच्छरों का प्रकोप हो। इसके अलावा डॉक्टर हमेशा ऐसी जगह पर जाने से भी मना करते हैं जहां मेडिकल सुविधाएं उपलब्ध ना हो। प्रेग्नेंसी के दौरान ट्रैवलिंग करने से पहले जहां जा रहे है वहां के बारे में पूरी जानकारी इकट्ठा करें। प्रेग्नेंसी के दौरान ट्रैवलिंग करने पर कुछ जगहों को आपको सिरे से नकार देना चाहिए।

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी में होने वाले पीठ-दर्द से मिलेगा आराम, आजमाएं ये आसान टिप्स

प्रेग्नेंसी के दौरान ट्रैवलिंग पर जाने से पहले मुझे क्या करना चाहिए? (What should I do before I go on a journey during my pregnancy?)

गर्भावस्था के दौरान यात्रा सुरक्षित और आरामदायक हो इसके लिए ट्रैवल से पहले ये टिप्स अपनाएं:

  • गर्भावस्था के दौरान यात्रा प्लान करने से पहले डॉक्टर के साथ चर्चा करें। साथ ही प्रसूति-स्त्री रोग विशेषज्ञ के साथ चेकअप शेड्यूल करें।
  • यात्रा के दौरान पर्याप्त पानी पिएं और खुद को हायड्रेट रखें। बाजार में मिलने वाले पेय पदार्थों से बचें।
  • डॉक्टर की सलाह पर अपने साथ सभी आवश्यक दवाइयां जरूर रखें, जो सफर के दौरान आपके काम आ सकती हैं।
  • फाइनल डेस्टिनेशन तक पहुंचने में कितना समय लगेगा। उसी के आधार पर यात्रा का माध्यम (ट्रेन, प्लेन, कार आदि) चुनें।
  • यात्रा के दौरान बीमा करवाना न भूलें। ट्रैवल इंश्योरेंस, गर्भावस्था और मेडिकल बिलों को कवर करता है।
  • आरामदायक कपड़े पहनें, खुद को धूप से बचाएं और अगर आपको कोई असुविधा महसूस हो, तो भरपूर आराम करने की कोशिश करें।
  • सभी आवश्यक टीके लगें हो, यात्रा से पहले यह सुनिश्चित करें

और पढ़ें : यात्रा करने के ये 9 कारण, जो आपके स्ट्रेस को कम करेंगे

गर्भावस्था के दौरान यात्रा (travelling during pregnancy): कार से प्रेग्नेंसी के दौरान ट्रैवलिंग करने के लिए क्या सुझाव हैं?

कार से गर्भावस्था के दौरान यात्रा करते समय इन बातों को अपनाएं:

  • कार में सफर के दौरान सीट बेल्ट पेट के नीचे बांधें।
  • कार की अगली सीट पर बैठें और ताजी हवा के लिए खिड़की खुली रखें।
  • सूजन से बचने के लिए पैरों को हिलाते- डुलाते रहें।
  • सीट पर पीछे की तरफ कमर टिका कर बैठें, जिससे कोई दर्द न हो।

हवाई जहाज से प्रेग्नेंसी के दौरान ट्रैवलिंग करने के लिए सुझाव (Tips for traveling by airplane during pregnancy)

प्रेग्नेंसी के दौरान ट्रैवलिंग

फ्लाइट बुक करते समय अपनी ड्यू डेट को ध्यान में रखें । ध्यान रहे कि गर्भावस्था के 36वें सप्ताह से पहले तक ही हवाई यात्रा करें। कुछ डोमेस्टिक एयरलाइंस गर्भावस्था के अंतिम महीने के दौरान यात्रा को प्रतिबंधित करती हैं या फिर मेडिकल सर्टिफिकेट की मांग करती हैं। ट्रैवल प्लान करते समय एयरलाइन की पॉलिसीज की जांच जरूर करें। प्रेग्नेंसी के दौरान ट्रैवलिंग के समय ब्लड सर्क्यूलेशन काे बेहतर रखने के लिए हल्की-फुल्की शारीरिक गतिविधियां हर दो घंटे में करते रहें। याद रहे गैस बनाने वाले खाद्य पदार्थों और कार्बोनेटेड पेय पदार्थों से बचें।

ट्रेन से प्रेग्नेंसी के दौरान ट्रैवलिंग करने के क्या टिप्स हैं? (What are the tips for traveling by train during pregnancy?)

वैसे तो प्रेग्नेंसी में ट्रेन का सफर अन्य साधनों से आसान होता है क्योंकि ट्रेन में न तो बेक्र लगने का डर होता है और न ही ऊबड़-खाबड़ सड़क का। फिर भी इस समय कुछ टिप्स अपनाने चाहिए। जैसे :

  • टिकट बुक करते समय हमेशा नीचे की ही बर्थ बुक करें।
  • बैक सपोर्ट के लिए तकिया अवश्य रखें।
  • रेल यात्रा के दौरान गर्भवती महिलाओं को मिलने वाली विशेष सुविधाओं की जानकारी पहले से ही लेकर रखें।
  • यात्रा के दौरान होने वाले इंफेक्शन से सुरक्षित रहने के लिए पहले से लगने वाले टीकों को अवश्य लगवा लें।
  • लंबी दूरी की यात्रा करते समय एक ही पुजिशन में बैठकर ज्यादा समय न बिताएं। अगर संभव हो तो यात्रा में ज्यादातर समय लेटकर गुजारें।

ध्यान रखें सुरक्षित यात्रा के लिए अच्छी योजना और सावधानियों की जरूरत होती है, जो होने वाली मां और शिशु की सुरक्षा को सुनिश्चित कर सके। पूरी सावधानी और देखभाल के साथ ही प्रेग्नेंसी के दौरान यात्रा करें।

उम्मीद करते हैं कि आपको इस आर्टिकल की जानकारी पसंद आई होगी और आपको प्रेग्नेंसी ट्रेवलिंग से जुड़ी सभी जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

health-tool-icon

ड्यू डेट कैलक्युलेटर

अपनी नियत तारीख का पता लगाने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें। यह सिर्फ एक अनुमान है - इसकी गैरेंटी नहीं है! अधिकांश महिलाएं, लेकिन सभी नहीं, इस तिथि सीमा से पहले या बाद में एक सप्ताह के भीतर अपने शिशुओं को डिलीवर करेंगी।

सायकल लेंथ

28 दिन

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर
Shikha Patel द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 05/05/2021 को
Mayank Khandelwal के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड
x