home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करना सही हैं या गलत?

प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करना सही हैं या गलत?

इस बात में जरा भी संशय नहीं है कि गर्भावस्था के दौरान एक महिला के शरीर मे कई तरह के बदलाव आते हैं। प्रेग्नेंट महिला और उसके पार्टनर के मन मे अक्सर यह सवाल आता है कि क्या प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स (Sex during pregnancy) करना सुरक्षित है? प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स (Sex during pregnancy) करने से गर्भ में पल रहे शिशु को नुकसान तो नहीं पहुंचेगा? क्या इसका नतीजा गर्भपात होगा? “हैलो स्वास्थ्य” के इस लेख में डॉ. उमा सरीन (गायनोकोलॉजिस्ट) से गर्भावस्था के दौरान सेक्स (Sex during pregnancy) करने से जुड़े कई सवालों के जवाब मिलेंगे।

1. क्या गर्भावस्था में सेक्स या प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स (Sex during pregnancy) करना उचित है?

प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स (Sex during pregnancy) तब तक सुरक्षित है, जब तक गर्भवती महिलाएं स्वस्थ हों और डॉक्टर इसके लिए मना नहीं करते। गर्भाशय में शिशु एमनियोटिक थैली के साथ-साथ गर्भाशय की मजबूत मांसपेशियों द्वारा सुरक्षित होता है। यौन क्रिया न तो आपके बच्चे को प्रभावित करती है और न ही इससे लेबर पेन शुरू होता है। हालांकि, कुछ डॉक्टर गर्भावस्था के अंतिम हफ्तों में सेक्स न करने की सलाह देते हैं, क्योंकि उनके अनुसार प्रोस्टाग्लैंडिंस नामक सीमन के हार्मोन, संकुचन को उत्तेजित कर सकते हैं।

और पढ़ें : बच्चे की डिलिवरी पेरेंट्स के लिए खुशियों के साथ ला सकती है डिप्रेशन भी

2 . क्या प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स (Sex during pregnancy) करने से शिशु को नुकसान हो सकता है?

शिशु गर्भाशय में एमनियोटिक थैली के तरल पदार्थ से पूरी तरह से सुरक्षित होता है। ऐसा बिलकुल भी नहीं है कि सेक्स करने से बच्चे को किसी भी प्रकार की हानि पहुंचती है लेकिन, इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए कि महिला के पेट पर दबाव न पड़े।

और पढ़ें : तो इस वजह से पैदा होते हैं, जुड़वां बच्चे

3. क्या गर्भावस्था के दौरान सेक्स (Sex during pregnancy) करने से गर्भपात हो सकता है?

नहीं, प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स (Sex during pregnancy) करने से गर्भपात नहीं होता है। यदि भ्रूण सही प्रकार से विकसित न हो या स्वस्थ न हो, उस समय गर्भपात होने की संभावना अधिक होती है।

और पढ़ें : सेक्स ड्रीम्सः जानिए सेक्स से जुड़े इन 5 सपनों का मतलब

4. प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स (Sex during pregnancy) पुजिशन कौन-सी सही है?

प्रेग्नेंसी के दौरान वही पुजिशन सबसे सही होती है जिसमें दोनों ही पार्टनर आरामदायक स्तिथि में हो और साथ ही महिला के पेट पर किसी भी तरह का दबाव न पड़े। प्रेग्नेंसी के दौरान करवट वाली स्थिति में सेक्स करना सेफ रहता है। इससे महिला के पेट के निचले हिस्से में कम दबाव पड़ता है।

5. प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स (Sex during pregnancy) कब सुरक्षित नहीं है?

गर्भावस्था के दौरान सेक्स (Sex during pregnancy) सुरक्षित है जब तक कि महिला को प्रेग्नेंसी से जुड़ी कोई समस्या न हो लेकिन, कुछ स्थितियां ऐसी भी हैं जब डॉक्टर आपको सेक्स न करने की सलाह दे सकते हैं।

इन स्थितियों में शामिल हैं:

गर्भावस्था के दौरान हर महिला के अनुभव अलग-अलग होते हैं, जिसमें से सेक्स भी एक है। कुछ महिलाएं गर्भावस्था के दौरान सेक्स को लेकर उदासीन हो जाती हैं तो वहीं कुछ महिलाएं इसके लिए काफी उत्तेजित रहती हैं। डॉक्टर के परामर्श के अनुसार गर्भवती महिला एवं आपके पार्टनर को सेक्स का आनंद लेना चाहिए।

अब हम आपको कुछ सेक्स पुजिशन के बारे में बता रहे हैं जिन्हें प्रेग्नेंसी के दौरान अपनाया जा सकता है।

  • सेक्स फ्रॉम बिहाइंड

इसे डॉगी स्टाइल से भी जाना जाता है। इस पुजिशन को तीसरी तिमाही में सही माना जाता है। इसमें महिला के बैक में और पेल्वक एरिया में ज्यादा प्रेशर नहीं पड़ता है। इस पुजिशन में महिला हाथ और घुटनों के बल आराम महसूस कर सकती है। इस दौरान सहूलियत के लिए तकिए का प्रयोग भी किया जा सकता है। प्रेग्नेंसी में सेक्स पुजिशन के लिए डॉगी स्टाइल का इस्तेमाल किया जा सकता है।

और पढ़ें : 5 तरह के फूड्स की वजह से स्पर्म काउंट हो सकता है लो, बढ़ाने के लिए खाएं ये चीजें

  • काउगर्ल पुजिशन

प्रेग्नेंसी में सेक्स पुजिशन को प्रेग्नेंसी की दूसरी तिमाही में अपनाना सही रहेगा। इसमें महिला अपने पार्टनर के ऊपर होती है। इस पुजिशन में पुरुष को जी स्पॉट तक पहुंचने में आसानी होती है। साथ ही काउगर्ल पुजिशन आपको और पार्टनर को ज्यादा प्लेजर फील करवा सकती है।

  • स्पूनिंग (spooning)

इस पुजिशन को प्रेग्नेंसी के दौरान कभी भी अपनाया जा सकता है। इस पुजिशन में कपल एक-दूसरे के साइड बाई साइड लेटते हैं। चूकिं प्रेग्नेंसी के दौरान पेट बड़ा होता है तो सामने से सेक्स नहीं किया जा सकता है। इस पुजिशन में कंफर्ट फील हो सकता है। प्रेग्नेंसी में सेक्स पुजिशन में स्पूनिंग आरामदायक हो सकता है।

और पढ़ें : इन वजहों से कम हो जाता है स्पर्म काउंट, जानिए बढ़ाने का तरीका

  • रिवर्स काउगर्ल (reverse cowgirl)

काउगर्ल पुजिशन में जब महिला साथी के ऊपर रहते हुए पुजिशन चेंज कर लेती है तो उसे रिवर्स काउगर्ल पुजिशन कहा जाता है।

  • स्टेन्डिंग ( standing)

ये पुजिशन प्रेग्नेंसी पहली या दूसरी तिमाही के दौरान आरामदायक रहती है। इस पुजिशन में महिला व पुरुष खड़े होकर सेक्स करते हैं। ये पुजिशन प्रेग्नेंसी के दौरान कुछ लोगों को सही लग सकती है। प्रेग्नेंसी में सेक्स पुजिशन इस बात पर भी निर्भर करता है कि आपको कैसे सेक्स करना पसंद है।

प्रेग्नेंसी में सेक्स के दौरान दूसरे अनुभव भी होते हैं जानते हैं उनके बारे में।

प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स (Sex during pregnancy): ऑर्गेज्म के दौरान रोना क्यों आता है?

प्रेग्नेंसी के समय बॉडी में बायोलॉजिकल चेंजेस होते हैं। इस दौरान शरीर में हार्मोनल बदलाव के कारण कुछ लक्षण नजर आते हैं। महिलाएं खुद को पहले से ज्यादा इमोशनल फील करती हैं। यही कारण है कि प्रेग्नेंसी सेक्स के दौरान महिलाओं को रोना आ जाता है।

इस बारे में जब हैलो स्वास्थ्य ने कलकत्ता के फोर्टिस हॉस्पिटल की गायनेकोलॉजिस्‍ट डॉ. सगारिका बसु से बात की गई तो उनका कहना था कि, ‘महिलाओं में प्रेग्नेंसी के दूसरी तिमाही के दौरान एस्ट्रोजन का लेवल बढ़ जाता है। इस कारण पेल्विक एरिया में खून का बहाव भी बढ़ जाता है। इस कारण महिलाओं को सेक्स की तीव्र इच्छा उत्पन्न होती है। ऑर्गेज्म के दौरान महिलाएं इमोशनल फील कर सकती है। उन्हें रोना भी आ सकता है। इसे हार्मोनल स्विंग भी कह सकते हैं।

ऐसा नहीं है। प्रेग्नेंसी सेक्स के दौरान ऑर्गेज्म के समय रोना किसी समस्या का संकेत नहीं है। अगर आप रिलेशनशिप और आने वाले बच्चे को लेकर खुश हैं तो इस दौरान रोना आम बात मानी जाती है। प्रेग्नेंसी सेक्स के दौरान ऑर्गेज्म में कई बार महिलाएं अपने पार्टनर के प्यार और आने वाले बच्चे की खुशी को व्यक्त करने के लिए रोने लगती हैं।

प्रेग्नेंसी सेक्स में ऑर्गेज्म के दौरान रोना खुशी की अभिव्यक्ति के साथ ही किसी समस्या के कारण भी हो सकता है। कई बार महिलाएं किसी बात को मन में लेकर बैठ जाती है। किसी वजह से दुखी होने के कारण भी उन्हें ऑर्गेज्म के दौरान रोना आ जाता है। बेहद करीब होने के दौरान महिलाओं के अंदर जो भी भावना होती है वो आंसू के रूप में सामने आ जाती है।

प्रेग्नेंसी के दौरान शारीरिक संबंध बनाने के क्या हैं फायदे?

प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स (Sex during pregnancy) करने के निम्नलिखित फायदे हो सकते हैं। जैसे:

  • शारीरिक संबंध बनाने के कारण गर्भवती महिला के शरीर में एंडोर्फिन और ऑक्सिटॉसिन हॉर्मोन का निर्माण होता है, जो रिलेशनशिप को हेल्दी बनाये रखने में अहम भूमिका निभाता है।
  • प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स (Sex during pregnancy) की वजह से शारीरिक से कपल एक-दूसरे के साथ करीब आते हैं वहीं इमोशनल बॉन्डिंग भी ज्यादा स्ट्रॉन्ग होती है।
  • हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार प्रेग्नेंसी में सेक्स करने से ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है, अच्छी नींद आती है और यह गर्भवती महिला के साथ-साथ गर्भ में पल रहे शिशु के लिए भी बेहतर होता है।
  • रिसर्च की मानें तो प्रेग्नेंसी में सेक्स करने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।
  • प्रेग्नेंसी में शारीरिक संबंध बनाने से ब्लड प्रेशर लेवल (Blood pressure level) भी बैलेंस्ड रहता है।

इन ऊपर बताये गए फायदे के अलावा अन्य फायदे भी हो सकते हैं। लेकिन, प्रेग्नेंसी के दौरान अगर गर्भवती महिला की सेक्स की इच्छा न हो या कोई सेक्स के दौरान कोई परेशानी महसूस होती है, तो शारीरिक संबंध न बनायें।

हम उम्मीद करते है कि प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स (Sex during pregnancy) करना चाहिए या नहीं विषय पर लिखा आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित होगा। अधिक जानकारी के लिए सेक्सोलॉजिस्ट से संपर्क करें।

health-tool-icon

ड्यू डेट कैलक्युलेटर

अपनी नियत तारीख का पता लगाने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें। यह सिर्फ एक अनुमान है - इसकी गैरेंटी नहीं है! अधिकांश महिलाएं, लेकिन सभी नहीं, इस तिथि सीमा से पहले या बाद में एक सप्ताह के भीतर अपने शिशुओं को डिलीवर करेंगी।

सायकल लेंथ

28 दिन

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Shikha Patel द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 27/08/2021 को
और Hello Swasthya Medical Panel द्वारा फैक्ट चेक्ड