home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Karaya Gum: करया गोंद क्या है?

Karaya Gum: करया गोंद क्या है?
उपयोग|सावधानियां और चेतावनी|साइड इफेक्ट्स|इंटरैक्शन|डोसेज

उपयोग

करया गोंद (Karaya Gum) का इस्तेमाल किस लिए होता है?

करया गोंद को स्टरकुलिया गम भी कहा जाता है। यह प्राकृतिक तौर पर एक घुलनशील फाइबर होता है। करया गम (करया गोंद) एक सैप जैसी सामग्री है, जो स्टर्लिंगिया के पेड़ से मिलती है। इसका वैज्ञानिक नाम Sterculia Urens Roxb है। यह भारत में उगने वाले पेड़ों से निकाली जाती है। लोग इसका इस्तेमाल दवा के रूप में करते हैं। कब्ज से राहत दिलाने वाले कई लेक्सेटिव को बनाने में करया गोंद का इस्तेमाल किया जाता है या सेक्स की इच्छा को बढ़ाने के लिए (Aphrodisiac) इसका इस्तेमाल होता है। इसके अलावा, गले की खराश, कोलेस्ट्रॉल, ब्लड शुगर, प्लाज्मा लिपिड लेवल्स (Plasma Lipid Levels), सर्जरी के बाद त्वचा को राहत देने के लिए चिपकने वाले प्लैटर के तौर पर और घाव के उपचार में इसका इस्तेमाल होता है। इसमें कार्बोहाइड्रेट, पॉलिसैकेराइड, गैलेक्टोज, रमनोज, गैलेक्टुरोनिक और ग्लुकुरोनिक एसिड की मात्रा पाई जाती है। करया गोंद का पौधा 15 मिटर तर लंबा होता है। इसके फूलों का रंग हरा और पीला या अलग-अलग रंगों में भी हो सकता है। यह पूरी तरह से शाकाहारी होता है। डॉक्टर करया गोंद को अन्य परेशानियों में इस्तेमाल करने की सलाह दे सकता है। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्टसे सलाह लें।

यह भी पढ़ेंः दिमाग नहीं दिल पर भी होता है डिप्रेशन का असर

करया गोंद कैसे कार्य करता है?

करया गोंद कैसे कार्य करता है, इस संबंध में पर्याप्त अध्ययन मौजूद नही हैं। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें। हालांकि, कई अध्ययनों में करया गोंद आंत में सूजन करती हुई पाई गई, जो स्टूल का बाहर धक्का देने के लिए डाइजेस्टिव ट्रैक को उत्तेजित करती है।

  • इसका इस्तेमाल विभिन्न तरह के पकवानों को फुलाने के लिए किया जाता है।
  • सेक्स की इच्छा बढ़ाने के इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • पेट से जुड़ी समस्याओं जैसे, कब्ज और गैस के उपचार के लिए भी इसका इस्तेमाल किया जाता है।
  • इसका इस्तेमाल डेंटल इंप्लांट के लिए भी किया जाता है।
  • गले की सूजन के उपचार के लिए भी यह मददगार होता है।
  • इसमें एंटी-डायबिटिक गुण होते हैं जो डायबिटीज की रोकथाम में भी सहायक होता है। यह नॉर्मल ब्लड शुगर लेवल को बनाए रखने में शरीर की मदद करता है।

सावधानियां और चेतावनी

करया गोंद (Karaya Gum) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

निम्नलिखित स्थितियों में करया गोंद का इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लें:

  • यदि आप प्रेग्नेंट या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं। दोनों ही स्थितियों में सिर्फ डॉक्टर की सलाह पर ही दवा खानी चाहिए।
  • यदि आप अन्य दवाइयां ले रही हैं। इसमें डॉक्टर की लिखी हुई और गैर लिखी हुई दवाइयां शामिल हैं, जो मार्केट में बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के खरीद के लिए उपलब्ध हैं।
  • यदि आपको करया गोंद के किसी पदार्थ से एलर्जी है या अन्य दवा या औषधि से एलर्जी है।
  • यदि आपको कोई बीमारी, डिसऑर्डर या कोई अन्य मेडिकल कंडिशन है।
  • यदि आपको फूड, डाई, प्रिजर्वेटिव्स या जानवरों से अन्य प्रकार की एलर्जी है।

अन्य दवाइयों के मुकाबले, आयुर्वेदिक औषधियों के संबंध में रेग्युलेटरी नियम अधिक सख्त नही हैं। इनकी सुरक्षा का आंकलन करने के लिए अतिरिक्त अध्ययनों की आवश्यकता है। करया गोंद का इस्तेमाल करने से पहले इसके खतरों की तुलना इसके फायदों से जरूर की जानी चाहिए। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

यह भी पढ़ें: Garlic : लहसुन क्या है?

करया गोंद (Karaya Gum) कितनी सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी और ब्रेस्टफीडिंग: यदि आप प्रेग्नेंट या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं, तो इन दोनों ही स्थितियों में करया गोंद का इस्तेमाल कितना सुरक्षित है? इस संबंध में पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं है। सुरक्षा की दृष्टि से इसका सेवन करने से बचें। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें। यू एस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) के निर्देशों में करया गौंद का इस्तेमाल सुरक्षित माना गया है, सुरक्षा के तौर पर इसे E416 नंबर दिया गया है। हालांकि, इसके अत्यधिक सेवन से डायरिया का जोखिम हो सकता है। इसके अलावा अगर इसका सेवन पानी की बहुत कम मात्रा की साथ की जाए, तो पाचन से जुड़ी समस्याएं भी सकती है। साथ ही, इसके अत्यधिक इस्तेमाल से एलर्जी होने की भी संभावना बनी रह सकती है।

साइड इफेक्ट्स

करया गोंद (Karaya Gum) से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

पर्याप्त पानी के साथ इस गोंद का सेवन करना ज्यादातर लोगों के लिए सुरक्षित माना जाता है। यदि आप पर्याप्त पानी नहीं पिएंगे, तो यह आंत को जाम कर सकती है। हालांकि, हर व्यक्ति को यह साइड इफेक्ट्स नहीं होता है। उपरोक्त दुष्प्रभाव के अलावा भी करया गोंद के कुछ साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं, जिन्हें ऊपर सूचीबद्ध नहीं किया गया है। यदि आप इसके साइड इफेक्ट्स को लेकर चिंतित हैं, तो अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें।

यह भी पढ़ें: Ginger : अदरक क्या है?

इंटरैक्शन

करया गोंद (Karaya Gum) से मुझे क्या रिएक्शन हो सकते हैं?

यह गोंद आपकी मौजूदा दवाइयों के साथ रिएक्शन कर सकता है या दवा का कार्य करने का तरीका परिवर्तित हो सकता है। इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर या हर्बलिस्ट से संपर्क करें।

निम्नलिखित स्थितियों में स्थितियों में यह औषधि आपको रिएक्शन कर सकती है:

मौखिक रूप से ली जाने वाली दवाइयां (ओरल ड्रग्स): ओरल ड्रग के साथ में इस गोंद का इस्तेमाल करने से आपकी दवाइयों की प्रभाविकता कम हो सकती है। इस रिएक्शन से बचने के लिए ओरल ड्रग्स लेने के कम से कम एक घंटा बाद करया गोंद का सेवन करें।

आंत में ब्लॉकेज: यदि आपकी आंत में ब्लॉकेज है, तो करया गोंद को मिलाकर किसी भी प्रकार के बल्क लेक्सेटिव का इस्तेमाल न करें।

डोसेज

उपरोक्त जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं हो सकती। इसका इस्तेमाल करने से पहले हमेशा अपने डॉक्टर या हर्बालिस्ट से सलाह लें।

यह भी पढ़ें: Turmeric : हल्दी क्या है?

करया गोंद (Karaya Gum) का सामान्य डोज क्या है?

हर मरीज के मामले में करया गोंद की डोज अलग हो सकती है। जो डोज आप ले रहे हैं वो आपकी उम्र, हेल्थ और दूसरे अन्य कारकों पर निर्भर करता है। औषधियां हमेशा ही सुरक्षित नहीं होती हैं। करया गोंद के उपयुक्त डोज के लिए अपने डॉक्टर या हर्बालिस्ट से सलाह लें।

क्लिनिकल अध्ययनों में करया गोंद की कोई विशिष्ट खुराक निर्धारित नहीं की गई है। हालांकि, 1980 में किए गए अध्ययनों में प्रति दिन 10 ग्राम करया गोंद का डोज इस्तेमाल किया गया।

करया गोंद (Karaya Gum) किस रूप में आती है?

करया गोंद निम्नलिखित रूपों में उपलब्ध हो सकती है:

  • पाउडर
  • सूखा सैप (Sap)
  • लोजेंजेस (Lozenges)

हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या इलाज मुहैया नहीं कराता।

और पढ़ें:-

Kiwi : कीवी क्या है?

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र
लेखक की तस्वीर
Dr Sharayu Maknikar के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Sunil Kumar द्वारा लिखित
अपडेटेड 22/10/2019
x