home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

ब्रेस्टफीडिंग के दौरान कैल्शियम सप्लिमेंट्स नहीं कमजोर होने देंगे आपकी बोंस!

ब्रेस्टफीडिंग के दौरान कैल्शियम सप्लिमेंट्स नहीं कमजोर होने देंगे आपकी बोंस!

हर उम्र में शरीर के लिए कैल्शियम बहुत जरूरी होता है। कैल्शियम हड्डियों को मजबूती प्रदान करता है और साथ ही बोंस को हेल्दी रखने का काम भी करता है। कैल्शियम मिनरल है, जो सभी के लिए जरूरी होता है। कैल्शियम ब्लड क्लॉटिंग के दौरान भी अहम भूमिका निभाता है। शरीर का करीब 99 प्रतिशत कैल्शियम बोंस और टीथ के लिए इस्तेमाल होता है। प्रेग्नेंसी के दौरान गर्भ में पल रहे बच्चे को कैल्शियम की पर्याप्त मात्रा मां से प्राप्त होती है। वहीं ब्रेस्टफीडिंग के दौरान भी मां के दूध से बच्चे को कैल्शियम की पर्याप्त मात्रा प्राप्त होती है। स्तनपान के दौरान महिलाओं में बोन मास में कमी हो जाती है। स्तनपान के दौरान महिलाओं के लिए कैल्शियम सप्लिमेंट बहुत जरूरी होता है। आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको ब्रेस्टफीडिंग में कैल्शियम सप्लिमेंट्स (calcium supplements for breastfeeding moms) के बारे में जानकारी देंगे और कुछ ब्रांड के नाम भी बताएंगे। आप डॉक्टर से परामर्श करने के बाद ही इनका चुनाव करें।

और पढ़ें : ब्रेस्टफीडिंग बचा सकता है आपको जानलेवा बीमारी से

ब्रेस्टफीडिंग में कैल्शियम सप्लिमेंट्स (Calcium supplements for breastfeeding moms)

ब्रेस्टफीडिंग में कैल्शियम सप्लिमेंट्स

ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली महिलाओं को एक दिन में करीब 1000 मिलीग्राम कैल्शियम की जरूरत होती है। अगर इतनी मात्रा में कैल्शियम पोषक तत्वों से प्राप्त नहीं हो पाता है, तो ऐसे में कैल्शियम सप्लिमेंट्स कमी को पूरा करने का काम करते हैं। आप डॉक्टर से जानकारी लेने के बाद स्तनपान के दौरान कैल्शियम सप्लिमेंट्स का इस्तेमाल कर सकती हैं। डॉक्टर आपको दिन में जितनी मात्रा में कैल्शियम सप्लिमेंट लेने की सलाह दें, केवल उतना ही लें। अगर आप अधिक मात्रा में कैल्शियम का सेवन करेंगी, तो ये दुष्प्रभाव का कारण भी बन सकता है। कैल्शियम को अवशोषित करने के लिए पर्याप्त मात्रा में विटामिन डी (Vitamin D) की भी जरूरत होती है। जानिए ब्रेस्टफीडिंग में कैल्शियम सप्लिमेंट्स (calcium supplements for breastfeeding moms) के बारे में।

और पढ़ें : स्तनपान करवाते समय न करें यह गलतियां

ब्रेस्टफीडिंग में कैल्शियम सप्लिमेंट्स का प्रयोग

ब्रेस्टफीडिंग के दौरान अगर मां के शरीर में कैल्शियम की कमी हो जाए, तो कैल्शियम हड्डियों से अवशोषित होने लगता है। धीरे-धीरे महिलाओं की हड्डियां कमजोर होने लगती हैं। ऐसी स्थिति में कैल्शियम युक्त आहार बहुत जरूरी होता है। अगर शरीर में कैल्शियम की ज्यादा कमी हो जाती है, तो डॉक्टर कैल्शियम सप्लिमेंट्स लेने की सलाह दे सकते हैं।

हिमालयन ऑर्गेनिक (Himalayan Organics)

ब्रेस्टफीडिंग के दौरान कैल्शियम की पर्याप्त मात्रा प्राप्त करने के लिए हिमालयन ऑर्गेनिक (Himalayan Organics) टैबलेट का इस्तेमाल किया जा सकता है। इन टैबलेट्स में कैल्शियम, मैग्नीशियम (Magnesium), जिंक, विटामिन डी3 (Vitamin D3) के साथ ही विटामिन बी12 भी होता है। एक बॉटल में 120 टैबलेट्स होती हैं, जिनकी कीमत 652 रु है। ये टैबलेट्स बोंस को स्ट्रेंथ दने के साथ ही इम्यूनिटी को भी बूस्ट करती हैं। ये सप्लिमेंट स्लीप क्वालिटी में भी सुधार करता है। कैल्शिम कार्डियक रिदम को भी मेंटन करता है। शरीर में कैल्शियम की कमी से बचने के लिए आप इस दवा का सेवन कर सकती हैं। बेहतर होगा कि आप इस बारे में एक बार डॉक्टर से परामर्श जरूर करें और फिर सप्लिमेंट्स का सेवन करें।

और पढ़ें : स्तनपान के दौरान वजन कम करने के हेल्दी तरीके

एंडमी लैक्टेशन बूस्टर ड्रिंक (andMe Lactation Booster Drink)

नवजात शिशु के लिए मां के दूध से बेहतर कुछ भी नहीं होता है। बच्चों को पोषक तत्व मिलने के लिए जरूरी है कि मां को भी सभी पोषक तत्व मिलें। लैक्टेशन बूस्टर के रूप में आयुर्वेदिक हर्ब और माइक्रोन्यूट्रिएंट्स के रूप में एंडमी लैक्टेशन (Lactation) बूस्टर ड्रिंक का इस्तेमाल किया जा सकता है। कैल्शियम के साथ ही अन्य मिनरल्स से भरपूर इस ड्रिंक में जिंजर, टर्मरिक, मेथी के दाने (Fenugreek seeds), ब्लैक क्युमन सीड्स का इस्तेमाल किया जाता है। इसके एक पैक की कीमत 699 रु है। डॉक्टर से परामर्श के बाद ही कैल्शियम सप्लिमेंट्स का इस्तेमाल करें। हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार उपलब्ध नहीं कराता है।

नोट: दिए गए प्रोडक्ट के रेट कम या फिर ज्यादा भी हो सकते हैं। हैलो हेल्थ किसी भी प्रोडक्ट का प्रचार नहीं कर रहा है। आपको बिना डॉक्टर की सलाह के सप्लिमेंट्स का चुनाव नहीं करना चाहिए।

हेल्थ कार्ट एचके वायटल (HealthKart HK Vitals)

हेल्थ कार्ट एचके वायटल का सेवन आपको एक दिन में 1000 एमजी कैल्शियम प्रदान करता है। इस टैबलेट में कैल्शियम के साथ ही मैग्नीशियम और जिंक की मात्रा भी शामिल होती है। बोंस की मजबूती के साथ ही इस सप्लिमेंट का सेवन करने से थकान भी कम होती है। कैल्शियम के साथ में विटामिन डी3 की भी आवश्यकता होती है। बेहतर है कि आप डॉक्टर से इस बारे में जानकारी जरूर प्राप्त करें। इसे आप ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं। इसकी एक बॉटल की कीमत 299 रु है।

और पढ़ें : कहीं स्तनपान के बाद भी बच्चा भूखा तो नहीं?

फास्टएंडअप फोर्टिफाय (FAST&UP FORTIFY)

फास्टएंडअप फोर्टिफाय कैल्शियम + विटामिन डी3 + मैग्नीशियम (Calcium + Vitamin D3 + Magnesium) का कॉम्बिनेशन है। ये महिलाओं की रोजाना की कैल्शियम की जरूरत को पूरा करने के साथ ही बोंन लॉस से बचाने का काम भी करता है। ये सप्लिमेंट पानी में मिलाकर पीना होता है। आपको डॉक्टर से जानकारी लेनी चाहिए कि दिन में कितनी बार ये सप्लिमेंट लिया जा सकता है और साथ ही किन सावधानियों की जरूरत होती है। इसमें कैल्शियम के साथ ही विटामिन सी (Vitamin C), विटामिन बी6 और विटामिन के होता है। ये 100 परसेंट वेजीटेरियन प्रोडक्ट है। 6 ट्यूब कीमत 832 रु है।

ओजिवा हरबोंस (OZiva HerBones)

ओजिवा हरबोंस हर्बल प्रोडक्ट है, जिसमें प्लांट बेस्ड कैल्शियम होती है। साथ ही विटामिन डी3 और विटामिन के2 भी होती है। एक बॉटल की कीमत 809 रु है। ये सप्लिमेंट सोया फ्री है और इसमें ट्रांस फैट भी नहीं होता है। साथ ही इसमें किसी प्रकार की एडेड शुगर या फिर आर्टिफिशियल स्वीटनर का इस्तेमाल भी नहीं किया जाता है। एक दिन में इसकी दो टैबलेट खाने की सलाह दी जाती है। बेहतर होगा कि आप डॉक्टर से जानकारी लेने के बाद ही कोई सप्लिमेंट लें।

आपको डेली डायट में कैल्शियम की पर्याप्त मात्रा शामिल करनी चाहिए। सप्लिमेंट्स का सेवन करने के साथ ही आपको डायट में भी कैल्शियम रिच फूड्स को शामिल करना चाहिए। अगर आपको कैल्शियम युक्त आहार के बारे में जानकारी नहीं है, तो आप डॉक्टर से इस बारे में जानकारी ले सकती हैं। अगर मां का स्वास्थ्य बेहतर होगा, तभी बच्चे का स्वास्थ्य बेहतर बन पाएगा। शुरुआती छह माह तक बच्चे को मां से ही पोषण मिलता है, इसलिए आपको अपनी डायट का खास ख्याल रखने की जरूरत है।

इस आर्टिकल के माध्यम से आपको ब्रेस्टफीडिंग में कैल्शियम सप्लिमेंट्स (Calcium supplements for breastfeeding moms) के बारे में जानकारी मिल गई होगी। हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार उपलब्ध नहीं कराता। उम्मीद है आपको हैलो हेल्थ की दी हुई जानकारियां पसंद आई होंगी। अगर आपको इस संबंध में अधिक जानकारी चाहिए, तो हमसे जरूर पूछें। हम आपके सवालों के जवाब मेडिकल एक्सर्ट्स द्वारा दिलाने की कोशिश करेंगे।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Accessed on 5/8/2021

Breastfeeding your baby.
acog.org/patient-resources/faqs/labor-delivery-and-postpartum-care/breastfeeding-your-baby

Meeting maternal nutrient needs during lactation. Nutrition during lactation.
ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK235579/

Nutrition recommendations in pregnancy and lactation.
ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5104202/

Vitamin D: Fact sheet for health professionals.
ods.od.nih.gov/factsheets/VitaminD-HealthProfessional/

https://www.jwatch.org/wh199709010000018/1997/09/01/do-breastfeeding-mothers-need-calcium

 

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 09/08/2021 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x