home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

चाइल्ड स्लीप और मेंटल हेल्थ : जानिए बच्चे की उम्र के अनुसार कितनी नींद है जरूरी

चाइल्ड स्लीप और मेंटल हेल्थ : जानिए बच्चे की उम्र के अनुसार कितनी नींद है जरूरी

बच्चे के अच्छे मानसिक विकास के लिए उसकी अच्छी नींद का होना बहुत जरूरी है। वो जितनी अच्छी नींद लेगा,वो उतना अच्छा ग्रो करेगा। अधिकतर पेरेंट़्स बच्चे की नींद का ध्यान रखते हैं, लेकिन वो इस बात की तरफ ध्यान नहीं दे पाते हैं कि उनके बच्चे के लिए कितनी घंटे की नींद जरूरी है। बच्चे की अच्छी नींद की हैबिट के लिए उनका सही समय पर बैड पर जाना बहुत जरूरी है। यह सब चाइल्ड स्लीप और मेंटल हेल्थ (Child sleep and mental health) से जुड़ा हुआ है। बच्चा यदि अपनी पर्याप्त नीद रोज ले रहा है, तो उसकी मेंटल ग्रोथ भी अच्छी होगी। चाइल्ड स्लीप और मेंटल हेल्थ (Child sleep and mental health) के बारे में जानें यहां:

और पढ़ें: चाइल्डहुड इंटरस्टिशियल लंग डिजीज कौन सी हैं?

चाइल्ड स्लीप और मेंटल हेल्थ (Child sleep and mental health) में क्या संबंध है?

पांच से 12 साल की उम्र को कवर करते हुए, चार्ट से पता चलता है कि पांच साल की उम्र के बच्चों को उनके जागने के समय के आधार पर शाम 6.45 से 8.15 बजे तक बिस्तर पर सोने के लिए चले जाना चाहिए। इस बीच, 11 और 12 साल के बच्चों को रात 8.15 बजे से रात 9.45 बजे तक कभी भी सो जाना चाहिए। अगर आपका पांच साल का बच्चा सुबह 6.30 बजे उठता है, तो वह शाम 7.15 बजे सोने के लिए तैयार हो जाएगा। लेकिन अगर वे सुबह 7 बजे के बाद उठते हैं, तो वे शाम को 7.30 बजे फिर से जल्दी सोने के लिए तैयार रहते हैं। एक आठ वर्षीय बच्चा जो सुबह 6.45 बजे उठता है, वह 8.15 बजे सोने लगता है, वही उम्र का बच्चा जो बाद में सुबह 7.30 बजे उठता है, वह रात 9 बजे तक सोने के लिए तैयार नहीं होगा। बच्चों से लेकर किशोरों तक प्रत्येक आयु वर्ग के लिए अनुशंसित मात्रा में नींद की रूपरेखा है, जोकि है:

  • नवजात (तीन महीने तक): 14 से 17 घंटे
  • शिशु (चार से 11 महीने): 12 से 15 घंटे
  • टॉडलर्स (एक से दो): 11 से 14 घंटे
  • प्रीस्कूलर (तीन से पांच): 10 से 13 घंटे
  • स्कूल की उम्र (छह से 13): 9 से 11 घंटे
  • ट्वीन्स और किशोर (14 से 17): 8 से 10 घंटे

और पढ़ें: स्पेशल चाइल्ड के ऑनलाइन एज्यूकेशन और मेंटल हेल्थ से जुड़ें सवालों पर जानें एक्सपर्ट ओपिनियन..

1 से 4 सप्ताह : 15 से 16 घंटे प्रति दिन

नवजात शिशु आमतौर पर दिन में लगभग 15 से 18 घंटे सोते हैं, लेकिन केवल दो से चार घंटे सोते हैं, वो भी छोटी-छोटी अवधि में। शुरूआत के पहले सप्ताह में बच्चे अधिक समय तक सोते हैं। शुरूआबत में बच्चे का कोई नींद क पैटर्न नहीं होता है। वास्तव में, उनके पास बहुत अधिक पैटर्न नहीं होता है।

और पढ़ें: बच्चे के लिए सॉलिड डायट कब शुरू करना चाहिए, जानिए एक्सपर्ट की राय..

1 से 4 महीने पुराना: 14 से 15 घंटे प्रति दिन

6 सप्ताह की उम्र तक आपका शिशु थोड़ा पहले के मुकाबले थोड़ा कम सोता होगा। नींद की सबसे लंबी अवधि चार से छह घंटे चलती है और अब शाम को अधिक नियमित रूप से होती है। वो दिनभर में 13 से 14 घंटे के लगभग सोता होगा।

और पढ़ें: स्किनी बच्चा किन कारणों से पैदा होता है, क्या पतले बच्चे को लेकर आप भी हैं परेशान?

4-12 महीने : 14 – 15 घंटे प्रति दिन

इस उम्र में शिशु के लिए दिनभर में 15 घंटे तक का समय सोने के लिए आदर्श है। 11 महीने तक के अधिकांश शिशुओं को केवल 12 घंटे की नींद ही मिलती है। इस अवधि के दौरान स्वस्थ नींद की आदतें स्थापित करना, पेरेंट्स के लिए एक प्राथमिक लक्ष्य है। शिशुओं में आमतौर पर तीन समय ज्यादा सोने का होता है। इस अविध में शिशु दिनभर में तीन से चार घंटे की 3 से 4 बार नींद लेता है। यह स्लीप पैटर्न बच्चों को सिखाना जरूरी है। उनके अच्छे विकास के लिए भरपूर नींद जरूरी है।

और पढ़ें: डायबिटीज में ब्रेस्टफीडिंग, क्या इससे बच्चे को भी डायबिटीज हाे सकती है?

1-3 साल पुराना: 12 – 14 घंटे प्रति दिन

जैसे-जैसे आपका बच्चा 18 से 21 महीने की उम्र की ओर पहले वर्ष से आगे बढ़ता है, वे दिन में केवल एक बार अपनी सुबह और शाम दो समय सोना लगता है। जबकि टॉडलर्स को दिन में 14 घंटे तक की नींद की जरूरत होती है, उन्हें आमतौर पर केवल 10 घंटे ही मिलते हैं। लगभग 21 से 36 महीने की उम्र के अधिकांश बच्चों को अभी भी एक दिन में एक झपकी की जरूरत होती है, जो एक से साढ़े तीन घंटे तक हो सकती है। वे आम तौर पर शाम 7 बजे के बीच बिस्तर पर जाते हैं। और रात 9 बजे और सुबह 6 बजे से 8 बजे के बीच उठ जाते हैं।

और पढ़ें: नोक्टर्नल हायपोग्लाइसेमिया: नींद में ब्लड प्रेशर के लो होने की इस समस्या के बारे में जानें!

3 से 6 साल : 10 से 12 घंटे की नींद प्रति दिन

इस उम्र में बच्चे आमतौर पर शाम 7 बजे के बीच सो जाते हैं। रात 9 बजे और सुबह 6 बजे और सुबह 8 बजे के आसपास जागते हैं, ठीक वैसे ही जैसे वे छोटे थे। 3 साल की उम्र में, अधिकांश बच्चे अभी भी नींद ले रहे हैं, जबकि यह 5 साल की उम्र के बच्चे के लिए अधिकांश नहीं हैं। उनकी नींद भी धीरे-धीरे छोटी हो जाती है।

7-12 साल : 10 – 11 घंटे प्रति दिन

इन उम्रों में, सामाजिक, स्कूल और पारिवारिक गतिविधियों के साथ, सोने का समय धीरे-धीरे कम हो जाता है। अधिकांश 12 साल के बच्चे रात के करीब 9 बजे बिस्तर पर चले जाते हैं। यह समय उनके लिए दिन भर में 9 से 11 घंटे की नींद बहुत आवश्यक है। यह न मिलने पर बच्चे पढ़ाई में भी कमजोर होने लगते हैं और उनका मानसिक विकास भी धीमा हो जाता है

और पढ़ें: 11 साल के बच्चे का बैलेंस्ड डायट चार्ट प्लान‌ : पोषण की कमी न होने दे!

12 से 15 साल: 8 से 9 घंटे की नींद प्रति दिन

नींद की जरूरत किशोरों के लिए स्वास्थ्य और कल्याण के लिए उतनी ही महत्वपूर्ण है जितनी कि छोटे शिशु के लिए होती है। किशोरों को वास्तव में उनके पिछले वर्षों की तुलना में अधिक नींद की आवश्यकता हो सकती है। यानि बढ़ती उम्र के साथ उनके लिए नींद की जरूर भी अधिक बढ़ती जाती है। यह उम्र उनके पूर्ण शरीरिक विकास के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है। इसलिए उम्र में अच्छी पढ़ाई के लिएए उनकी नींद पर विशेष ध्यान देना जरूरी है।

जैसा कि आपने जाना कि चाइल्ड स्लीप और मेंटल हेल्थ में क्या संबंध है। बच्चे के उम्र के अनुसार उसे अच्छी नींद मिलना बहुत आवश्यक है। यदि बच्चे की नींद में किसी प्रकार की कम होती है, तो उसका असर उसके शरीरिक और मानसिक विकास पर दिखने लगता है। इससे बच्चे के व्यवहार में भी काफी बदलाव आता है, वो चिड़चिड़ा महसूस करने लगता है और कई बार यह बच्चे के लिए अवसाद का कारण भी बन सकता है। चाइल्ड स्लीप और मेंटल हेल्थ के जुड़ी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से सलाह करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Niharika Jaiswal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 30/09/2021 को
और Hello Swasthya Medical Panel द्वारा फैक्ट चेक्ड