home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

कॉन्क्रीट ऑपरेशनल स्टेज: इस तरह से होता है इस स्टेज में बच्चे का विकास!

कॉन्क्रीट ऑपरेशनल स्टेज: इस तरह से होता है इस स्टेज में बच्चे का विकास!

बच्चों का सही विकास हर माता-पिता के लिए हमेशा एक चिंता का विषय रहता है। हर बच्चा अलग होता है, ऐसे में उसका विकास भी अलग तरह से होता है। जीन पियाजे (Jean Piaget) की कॉग्निटिव डेवलपमेंट थ्योरी (Cognitive development Theory) के अनुसार हर बच्चा चार विभिन्न मेंटल डेवलपमेंट से गुजरता है। यह चार स्टेजेज इस प्रकार हैं सेंसोरिमोटर स्टेज (Sensorimotor stage), प्रीऑपरेशनल स्टेज (Preoperational stage), कॉन्क्रीट ऑपरेशनल स्टेज (Concrete operational stage) और फॉर्मल ऑपरेशनल स्टेज (Formal operational stage)। आज हम बात करने वाले हैं इस थ्योरी की थर्ड स्टेज यानी कॉन्क्रीट ऑपरेशनल स्टेज (Concrete operational stage) के बारे में। आइए, पाएं इसके बारे में पूरी जानकारी।

कॉन्क्रीट ऑपरेशनल स्टेज क्या है? (Concrete operational stage)

कॉन्क्रीट ऑपरेशनल स्टेज (Concrete operational stage) यानी वो स्टेज जिसमें बच्चा सात से ग्यारह साल का होता है। इस स्टेज में छोटे बच्चे चीजों के बारे में सिम्बॉलिक्ली सोचने में सक्षम होते हैं। उनकी लैंग्वेज अधिक मैच्योर होती है। उनमें मेमोरी और इमेजिनेशन विकसित होती है, जिससे वो पास्ट और फ्यूचर के बीच में अंतर समझ पाते हैं। लेकिन, उनकी थिंकिंग इंट्यूशन पर आधारित होती है और अभी भी पूरी तरह से लॉजिकल नहीं होती है। वे अधिक कॉम्प्लेक्स कॉन्सेप्ट्स को नहीं समझ पाते हैं जैसे इफ़ेक्ट, समय, तुलना करना या कारण आदि।

कॉन्क्रीट ऑपरेशनल स्टेज (Concrete operational stage) में कॉन्क्रीट का अर्थ है फिजिकल थिंग्स और ऑपरेशनल का अर्थ है ओपेरटिंग या थिंकिंग का लॉजिकल तरीका। यानी, वो स्टेज जिसमें बच्चे लॉजिकली और रेशनली सोचना शुरू कर देते हैं। लेकिन, वो फिजिकल ऑब्जेक्ट्स के बारे में लिमिटेड ही सोच पाते हैं। आमतौर पर इस स्टेज की शुरुआत तब हो जाती है, जब बच्चा सात का होता है और तब तक रहती है जब तक वो ग्यारह साल का नहीं हो जाता। आइए जानें इस स्टेज की विशेषताओं के बारे में।

और पढ़ें : टोडलर ग्रोथ स्पर्ट्स : बच्चे की ग्रोथ के महत्वपूर्ण चरण, जानिए विस्तार से!

कॉन्क्रीट ऑपरेशनल स्टेज की कैरेक्टरिस्टिक्स (Characteristics of the concrete operational stage)

सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (Centers for Disease Control and Prevention) के अनुसार बच्चे के शुरुआती कुछ साल उनकी उम्र, हेल्थ और विकास के लिए बेहद महत्वपूर्ण होते हैं। हेल्दी डेवलपमेंट का अर्थ है बच्चे का संपूर्ण रूप से सही विकास होना। ऐसा पाया गया है कि कॉन्क्रीट ऑपरेशनल स्टेज (Concrete operational stage) में बच्चे इंडक्टिव लॉजिक के उपयोग में काफी अच्छे होते हैं। इस स्टेज की विशेषताओं को समझना जरूरी है। आइए जानें कॉग्निटिव डेवलपमेंट थ्योरी (Cognitive development Theory) की इस स्टेज के बारे में और अधिक।

क्लासिफिकेशन (Classification)

क्लासिफिकेशन के दो पार्ट होते हैं। जिसमें से एक पार्ट में चीजों को कैटेगरीज में सॉर्ट किया जाता है। यानी आपके बच्चे फूलों या जानवरों को दो अलग कैटेगरी में बांटना सीख जाते हैं। इस स्टेज पर वो एक स्टेप आगे जा सकते हैं। वो समझ जाते हैं कि इन ग्रुप्स को सब-क्लासेज में भी बांटा जा सकता है। जैसे लाल फूल, पीला या हरा फूल। जानवरों में वो जानवर जो जमीन पर रहते हैं या वो जानवर जो पानी में रहते हैं।

कॉन्क्रीट ऑपरेशनल स्टेज में स्थिरता (Conservation)

कॉन्क्रीट ऑपरेशनल स्टेज (Concrete operational stage) की अगली स्टेज है स्थिरता। यानी यह समझना कि चीजें चाहे दिखती अलग हों। लेकिन, वो एक ही क्वांटिटी की हो सकती हैं। जैसे अगर एक समान क्वांटिटी की मिट्टी की बॉल या चिड़िया बनाई जाए, तो उस मिट्टी की क्वांटिटी दोनों की सूरतों में एक ही रहती है।

और पढ़ें : बच्चे का बदलता व्यवहार हो सकता है बिहेवियरल डिसऑर्डर का संकेत!

डीसेंट्रेशन (Decentration)

यह भी कन्सेर्वटिव (Conservation) से जुड़ा है। बच्चे के लिए डीसेंट्रेशन (Decentration) के बारे में समझना बेहद जरूरी है ताकि वो सही से कंज़र्व कर पाएं। उन्हें एक ही समय में कई फैक्टर्स के ऊपर कंसन्ट्रेट करना है। यानी, अगर आप बच्चे के सामने पांच पेन्सिलें एक कतार में रखते हैं, तो उसके लिए यह समझना अवश्य है कि यह किताबों की एक कतार है। इसमें इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि इन किताबों के बीच में कितना अंतर है। इस स्टेज में आपके बच्चे को इसका एहसास होता है क्योंकि वे एक ही समय में संख्या और लंबाई में हेरफेर कर सकते हैं।

रिवर्सिबिलिटी (Reversibility)

रिवर्सिबिलिटी इस चीज पर निर्भर करती है कि एक्शंस को रिवर्स किया जा सकता है। इसे आप मेंटल जिम्नास्टिक भी कह सकते हैं। इसमें आपका बच्चा यह पहचान कर सकता है कि आपकी कार मारुती है, मारुती एक कार है और कार एक वाहन को कहा जाता है।

सिरिएशन यानि क्रमबद्धता (Seriation)

यह चीजों के एक ग्रुप को सॉर्ट करना है। यानी, इसमें बच्चा चीजों के समूह में इस चीज को पहचान सकता है कि चीज लंबी, छोटी, चौड़ी या पतली है। कॉन्क्रीट ऑपरेशनल स्टेज (Concrete operational stage) की यह विशेषता बेहद महत्वपूर्ण है

कॉन्क्रीट ऑपरेशनल स्टेज में सामाजिक केन्द्रितता (Sociocentricity)

यह वो कैरेक्टरिस्टिक है, जिसमें बच्चे अन्य लोगों से घुलने-मिलने और उन्हें जानने में रुचि दिखाते हैं। ऐसी स्थिति में बच्चे केवल खुद पर ध्यान केंद्रित नहीं करते हैं बल्कि अन्य लोगों के बारे में भी जानते हैं। यह तो थी कॉन्क्रीट ऑपरेशनल स्टेज (Concrete operational stage) की विशेषताओं के बारे में जानकारी। अब जानते हैं कॉन्क्रीट ऑपरेशनल स्टेज (Concrete operational stage) के उदाहरणों के बारे में।

कॉन्क्रीट ऑपरेशनल स्टेज

और पढ़ें : कहीं आपके बच्चे में तो नहीं है इन पोषक तत्वों की कमी?

कॉन्क्रीट ऑपरेशनल स्टेज के उदाहरण क्या हैं? (Example of Concrete operational stage)

कॉन्क्रीट ऑपरेशनल स्टेज (Concrete operational stage) के बारे में यह जानकारी आपको अवश्य पसंद आई होगी। लेकिन, विस्तृत रूप से इसके बारे में जानने के लिए इसके उदाहरणों के बारे में जानकारी होना जरूरी है। आइए जानते हैं इनके बारे में:

स्थिरता (Conservation)

स्थिरता यानी कंज़र्वेशन को समझने के लिए आपको एक लंबे कप से छोटे कप में पानी डालें। इसके बाद अपने बच्चे को छोटा कप दें। क्या आपका बच्चा छोटा कप ले लेता है? हो सकता है शायद ले ले। इस स्टेज में बच्चे यह समझते हैं कि पहले कप में पानी की मात्रा केवल इसलिए नहीं बदलेगी क्योंकि नया कप पहले से छोटा है।

क्लासिफिकेशन और डिसेंट्रलाइजेशन (Classification and decentralization)

कॉन्क्रीट ऑपरेशनल स्टेज (Concrete operational stage) की इस विशेषता को समझाने के लिए अपने बच्चे को चार लाल फूल और दो पीले फूल दिखाएं। अब अपने बच्चे से पूछें कि क्या उनके पास लाल फूल अधिक है या फूल अधिक संख्या में हैं? पांच साल का बच्चा इसका उत्तर सही दे सकता है कि लाल फूल अधिक हैं। लेकिन, जब बच्चे इस स्टेज पर पहुंचते हैं तो वो दो चीजों पर फोकस कर सकते हैं एक फूलों की संख्या और दूसरा उनकी क्लास। ऐसे में वो जवाब दे सकते हैं कि फूलों की संख्या अधिक है।

सामाजिक केन्द्रितता (Sociocentricity)

जब आप बीमार हैं और आराम कर रहे हैं तो क्या आपका बच्चा आपके लिए आपका कंबल या कोई अन्य इस समय काम आने वाली चीज ले कर आएगा? अगर ऐसा है तो समझ जाएं कि आपका बच्चा इस स्टेज में आगे की तरफ बढ़ रहा है। अब जानते हैं इन एक्टिविटीज के बारे में जो इस स्टेज पर आप अपने बच्चे के साथ कर सकते हैं।

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी में बेस्ट डीएचए सप्लिमेंट : मां और बच्चे दोनों के संपूर्ण विकास के लिए है जरूरी!

कॉन्क्रीट ऑपरेशनल स्टेज के लिए एक्टिविटीज (Activities for Concrete operational stage)

अब आप जान गए होंगे कि इस स्टेज में बच्चों की थिंकिंग कैसे बदल सकती है? कॉग्निटिव डेवलपमेंट थ्योरी (Cognitive development Theory) की इस स्टेज में अपने बच्चे की कॉग्निटिव एबिलिटीज (Cognitive abilities) को मजबूत करने के लिए आप कुछ फन एक्टिविटीज भी अपने बच्चे के साथ कर सकते हैं। यह एक्टिविटीज इस प्रकार हैं:

दूध वाली एक्टिविटी (Activity with Milk)

दूध के एक छोटे से कार्टन को लें और इसके एक लंबे लेकिन पतले गिलास में डाल दें। वहीं दूसरे कार्टन से दूध को छोटे गिलास में डालें। इसके बाद अपने बच्चे से पूछें कि किस गिलास में अधिक दूध है? इस स्टेज में बच्चे यह निर्णय ले पाने में सक्षम होते हैं कि कौन से गिलास में अधिक दूध होगा।

और पढ़ें : रसल सिल्वर सिंड्रोम : इस कंडिशन में हो सकती है बच्चे के विकास में देरी, समय रहते इसे पहचानना है जरूरी

चीजों की तुलना करना (Comparison of things)

एक चॉकलेट को कई हिस्सों में तोड़ दें। इसके बाद एक पूरी चॉकलेट और एक टूटे हुए हिस्से में से एक को चुनने के लिए कहें। इससे उसे यह जानने में मदद मिलेगी कि दोनों चॉकलेट्स एक ही हैं। यह कंज़र्वेशन का हिस्सा है

ब्लॉक्स (Blocks)

कॉन्क्रीट ऑपरेशनल स्टेज (Concrete operational stage) में अगली एक्टिविटी है ब्लॉक्स से संबंधित। ब्लॉक्स की मदद से एक बड़ा टावर बनाएं। अब अपने बच्चे को इसे तोड़ने दें। इसके बाद अपने बच्चे को इन ब्लॉक्स को इकठ्ठा करने और जोड़ने के लिए कहें।

टब में खेल (Play in the tub)

बच्चे को एक पानी से भरे टब के पास ले जाएं और कुछ चीजों को इस पानी में डाल दें। अब इनमें से कुछ चीजें तैरेंगी, जबकि कुछ चीजें डूब जाएंगी। यह एक अच्छा साइंस एक्सपेरिमेंट भी हैं। इसमें आप अपने बच्चे को इस एक्सपेरिमेंट को पूरे स्टेप बाय स्टेप करने के लिए कह सकते हैं ताकि उसकी सोचने और समझने की क्षमता मजबूत हो।

पार्टी प्लान करें (Plan a party)

अपने बच्चे को घर के किसी बड़े या बुजुर्ग के लिए सरप्राइज पार्टी अरेंज करने के लिए कहें। ऐसे में बच्चे खुद उनके पसंदीदा फ़ूड और उपहार के बारे में सोचेंगे। ऐसे में वो एक नया सामाजिक सर्किल बना पाने में भी सक्षम होंगे।

ऐसे ही आप रोजाना के कार्यों जैसे कुकिंग, क्लीनिंग आदि में अपने बच्चों को शामिल कर के भी उन्हें बहुत कुछ सीखा सकते हैं। नई-नई कहानियां सुनाकर, रोज नए सवाल पूछ कर भी आप उनकी सही ग्रोथ में मदद कर सकते हैं। यानी, आप अपने बच्चे के साथ कॉग्निटिव डेवलपमेंट थ्योरी (Cognitive development Theory) की इस स्टेज में कई फन एक्टिविटीज (Fun activities) की मदद से उनकी कॉग्निटिव एबिलिटीज (Cognitive abilities) को मजबूत कर पाएंगे।

Quiz : 5 साल के बच्चे के लिए परफेक्ट आहार क्या है?

(function() { var qs,js,q,s,d=document, gi=d.getElementById, ce=d.createElement, gt=d.getElementsByTagName, id="typef_orm", b="https://embed.typeform.com/"; if(!gi.call(d,id)) { js=ce.call(d,"script"); js.id=id; js.src=b+"embed.js"; q=gt.call(d,"script")[0]; q.parentNode.insertBefore(js,q) } })()

और पढ़ें : बच्चे के लिए ढूंढ रहे हैं बेस्ट बेबी फूड ब्रांड्स, तो ये आर्टिकल कर सकता है मदद

यह तो थी कॉन्क्रीट ऑपरेशनल स्टेज (Concrete operational stage) के बारे में जानकारी। इस स्टेज में बच्चे में कई तरह के बदलाव आते हैं। उसकी सोचने और समझने की क्षमता में परिवर्तन होता है। लेकिन, याद रखें हर बच्चा एक जैसा नहीं होता। ऐसे में, अगर आपके बच्चे को कुछ चीजें सोचने या समझने में समस्या आती है, तो ऐसा होना बेहद सामान्य है। जैसा की पहले ही बताया गया है कि हर बच्चा अलग है। तो ऐसे में उनकी ग्रोथ भी अलग तरह से होती है। इस स्थिति में धैर्य से काम लें और अपने डॉक्टर से इस बारे में सलाह लें। डॉक्टर आपका इस विषय में सही मार्गदर्शन कर सकते हैं।

आप हमारे फेसबुक पेज पर भी अपने सवालों को पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Concrete Operational Stage. https://www.simplypsychology.org/concrete-operational.html .Accessed on 30/10/21

Concrete-Operational Thinking . https://www.frontiersin.org/articles/10.3389/feduc.2018.00038/full .Accessed on 30/10/21

A TEACHER’S GUIDE TO THE CONCRETE OPERATIONAL STAGE. https://www.theedadvocate.org/a-teachers-guide-to-the-concrete-operational-stage/ .Accessed on 30/10/21

Concrete Operational Stage. https://dictionary.apa.org/concrete-operational-stage .Accessed on 30/10/21

Cognitive Development. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK537095/

Accessed on 30/10/21

लेखक की तस्वीर badge
AnuSharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट कुछ हफ्ते पहले को
Sayali Chaudhari के द्वारा मेडिकली रिव्यूड