आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

आईबीएस और एल्कॉहल : आंत के मरीजों के लिए शराब का सेवन हाे सकता है खतरनाक!

    आईबीएस और एल्कॉहल : आंत के मरीजों के लिए शराब का सेवन हाे सकता है खतरनाक!

    आईबीएस और शराब (IBS and Alcohol) में क्या संबंध है? बहुत सारे लोगों के मन में यह सवाल होता है कि क्या आईबीएस यानि कि इरिटेबल बाउल सिंड्रोम के मरीजों में शराब का सेवन परेशानी को बढ़ा सकती है। वैसे तो शराब शरीर के लिए नुकासनदेह होती ही है। जिन्हें पाचन की समस्या है, उन्हें तो शराब पीने के लिए खासतौर पर सोचना चाहिए। आईबीएस को स्पास्टिक कोलन, इरिटेबल कोलन, म्यूकस कोलाइटिस और स्पास्टिक कोलाइटिस के रूप में भी जाना जाता है। यह आंत में सूजन की अलग स्थिति है, और अन्य आंत्र स्थितियों से संबंधित नहीं है। इसके लक्षण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में अलग दिख सकते हैं। आईबीएस कुछ मामलों में आंतों को नुकसान पहुंचा सकता है। तो ऐसे में शराब के सेवन आतों के लिए गंभीर हो सकता है। जानिए यहां कि आईबीएस और शराब (IBS and Alcohol) के सेवन में क्या संबंध है:

    और पढ़ें: Foods To Avoid With IBS: आईबीएस से बचने के लिए इन फूड्स को हटा दें डायट से!

    आईबीएस क्या है (what is IBS)?

    इरिटेबल बाउल सिंड्रोम (आईबीएस) आंतों से जुड़ी बीमारी है, जिसमें पेट में दर्द , ऐंठन, सूजन, डायरिया और कब्ज की शिकायत होती है। इसे स्पैस्टिक कोलन (Spastic Colon), इरिटेबल कोलन (Irritable Colon), म्यूकस कोइलटिस (Mucus colitis) जैसे नामों से भी जाना जाता है। यह सिंड्रोम तीन तरह की होती है:

    • आईबीएस सी (IBS C)
    • आईबीएस डी (IBS D)
    • आईबीएस एम (IBS M)

    और पढ़ें: जानिए आईबीडी और आईबीएस में क्या है अंतर?

    आईबीएस के लक्षणों में शामिल हैं

    आईबीएस के लक्षण सभी में अलग-अलग देखने को मिल सकते हैं। आईबीएस के लक्षणों में आम तौर पर शामिल हैं:

    आईबीएस वाले लोगों के लिए कब्ज और दस्त दोनों के एपिसोड होना असामान्य नहीं है। मल त्याग करने के बाद सूजन और गैस जैसे लक्षण आमतौर पर दूर हो जाते हैं। आईबीएस के लक्षण हमेशा स्थायी नहीं होते हैं। वे हल कर सकते हैं, केवल वापस आने के लिए। हालांकि, कुछ लोगों में लगातार लक्षण होते हैं। इर्रिटेबल बोवेल सिंड्रोम (आईबीएस) संयुक्त राज्य अमेरिका में लगभग 10 से 15 प्रतिशत वयस्कों को प्रभावित करता है, अमेरिकी कॉलेज ऑफ गैस्ट्रोएंटरोलॉजी का अनुमान है। आईबीएस आंतों के लक्षणों का एक समूह है जो एक साथ होते हैं। हालांकि अलग-अलग ट्रिगर अलग-अलग लोगों को प्रभावित करते हैं।

    और पढ़ें: पीडियाट्रिक आईबीएस के लिए एंटीडायरियल मेडिकेशन के बारे में पूरी जानकारी!

    इरिटेबल बॉवेल सिंड्रोम (Irritable bowel syndrome) का खतरा इन लोगों में ज्यादा होता है:

    • 50 वर्ष से कम उम्र वाले लोगों में।
    • संयुक्त राज्य अमेरिका में, आईबीएस महिलाओं में अधिक आम है। मेनोपोज से पहले या बाद में एस्ट्रोजेन थेरिपी भी आईबीएस के लिए एक जोखिम कारक है।
    • कुछ लोगों में यह पारिवारिक इतिहास के कारण होती है।
    • जो लोग मानसिक स्वास्थ्य समस्या जैसे चिंता, अवसाद से ग्रसित हैं उन्हें इस होने की संभावना रहती है।

    और पढ़ें: हॉलिडे हार्ट सिंड्रोम (Holiday Heart Syndrome) : हॉलिडे का मजा बन सकता है आपकी सजा

    आईबीएस और शराब (IBS and Alcohol) : आईबीएस के लक्षण होने पर क्या शराब पीना चाहिए (what alcohol to drink if you have ibs symptoms)?

    वैसे तो शराब किसी भी मामले में सेहत के लिए अच्छी नहीं होती है। यह एक ऐसा प्रश्न है जिसका उत्तर केवल व्यक्तिगत रूप से दिया जा सकता है। आईबीएस पर शराब का प्रभाव, सामान्य व्यक्ति के शराब के सेवन से भिन्न होता है। शोधकर्ताओं ने यह भी नोट किया कि एल्कोहॉल फोडमैप जैसे कार्बोहाइड्रेट के अवशोषण और गति को कम करता है। यह उनके दुष्प्रभावों को बढ़ा सकता है, जैसे कि सूजन, गैस और पेट दर्द।

    और पढ़ें: Antidepressants for pediatric IBS: पेडिएट्रिक आईबीएस के लिए एंटीडिप्रेसेंट का इस्तेमाल क्या पहुंचाता है फायदा?

    फोडमैप क्या हैं (What is FODMAP)?

    फोडमैप (FODMAP) किण्वित ओलिगोसेकेराइड, मोनोसेकेराइड और पॉलीओल्स के लिए एक संक्षिप्त शब्द है। फोडमैप कार्बोहाइड्रेट होते हैं, जो कुछ लोगों में खराब स्थिति का कारण बन सकते हैं। उन्हें पाचन लक्षणों से जोड़ा गया है जैसे:

    और पढ़ें: पीडियाट्रिक आईबीएस के लिए एंटीस्पाज्मोडिक एजेंट के क्या साइड इफेक्ट्स हैं?

    लो फोमेड (Low FODMAP) आहार के बाद विशेषज्ञ नोट IBS वाले कई लोगों के लक्षणों को दूर करने में मदद कर सकते हैं। आप मादक पेय भी चुन सकते हैं जो आपके IBS पर कम प्रभाव डाल सकते हैं।

    लो फोडमेड ड्रिंक्स में शामिल हैं:

    हाय फोडमेप ड्रिंक्स के साथ इन्हें न लें :

    • साइडर
    • रम
    • स्पेनिश सफेद मदिरा
    • पोर्ट
    • स्वीट डैजर्ट वाइन

    मिक्सर चुनने के लिए आप कम FODMAP आहार का भी उपयोग कर सकते हैं। उदाहरण के लिए, जबकि फोडमेप में कई फलों के रस अधिक होते हैं, टमाटर का रस और क्रैनबेरी का रस लो फोडमेप का विकल्प हो सकते हैं। कॉकटेल मिश्रण करने के लिए सेल्टज़र भी लो फोडमेप ड्रिंक पेय है।

    और पढ़ें: पीडियाट्रिक आईबीएस में फायबर सप्लिमेंट्स हो सकते हैं मददगार! जान लीजिए इनके नाम

    आईबीएस और शराब (IBS and Alcohol) : पीने के दौरान की इन बातों का रखें ध्यान

    आईबीएस और शराब (IBS and Alcohol) में संबंध हो सकता है। यदि आप शराब पीने का निर्णय लेते हैं, तो अपने सेवन पर ध्यान दें ताकि यह निर्धारित करने में मदद मिल सके कि शराब का प्रकार और मात्रा आपके आईबीएस को प्रभावित करती है या नहीं, और यदि हां, तो कैसे। ध्यान में रखने के लिए यहां कुछ युक्तियां दी गई हैं:

    • यदि आप शराब पीते समय अपने आईबीएस के लक्षणों में वृद्धि देखने को मिल सकती हैं, तो शराब से दूर रहना ही सही उपाय है।
    • यदि फिर भी आप शराब पी रहे हों तो पानी अवश्य पिएं। हाइड्रेटेड रहने से अल्कोहल को पतला करने में मदद मिल सकती है, जिससे यह कम जलन पैदा करता है।
    • यदि आप एल्कॉहल पी रहे हैं, तो खाली पेट शराब न पिएं। आपके पेट में मौजूद भोजन,पेट में जलन से बचाने में मदद कर सकता है। लेकिन इसका यह अर्थ नहीं है कि आप ऐसे फूड का चुनाव करें, जो आपके आईबीएस लक्षणों को ट्रिगर करते हैं।
    • एक साथ अधिक मात्रा में और तेजी से शराब पीने से बचें।

    और पढ़ें:पेट दर्द और जी मिचलाना (Stomach Pain and Nausea): जानिए इसके 9 सामान्य एवं 4 गंभीर कारणों को!

    आईबीएस और शराब (IBS and Alcohol) के बारे में आपने जाना यहां। शराब शरीर के लिए किसी भी प्रकार से अच्छी नहीं है। यदि आप पी रहे हैं, तो यह भी ध्यान दें कि क्या शराब आपके आईबीएस लक्षणों को क्या ट्रिगर कर रही है। कुछ लोगों के लिए, शराब से पूरी तरह परहेज करना सबसे अच्छा उपाय हो सकता है। आईबीएस ट्रिगर को रोकने के अलावा, शराब बिल्कुल नहीं पीना आपके समग्र स्वास्थ्य के लिए आम तौर पर अच्छा होता है। आईबीएस और शराब (IBS and Alcohol) में संबंध है, इस बारे में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र
    लेखक की तस्वीर badge
    Niharika Jaiswal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 27/05/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: