home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

प्रेग्नेंसी में प्रोटीन पाउडर का क्या किया जा सकता है इस्तेमाल?

प्रेग्नेंसी में प्रोटीन पाउडर का क्या किया जा सकता है इस्तेमाल?

नॉर्मल दिनों में महिलाएं खाते समय इतना ध्यान नहीं देती हैं कि उनके लिए क्या हेल्दी है या फिर नहीं। प्रेग्नेंसी के दौरान खानपान को लेकर महिलाओं की चिंता दोगुनी हो जाती है क्योंकि उन्हें पता होता है कि वो जो भी खाएंगी, उसका सीधा असर उनके बच्चे में पड़ेगा। वहीं कुछ महिलाएं ये भी सोचती हैं कि नॉर्मल दिनों में वो जितना खाती थी, प्रेग्नेंसी में उन्हें दुगना खाने की जरूरत पड़ेगी, जो सही नहीं सोच नहीं है। फ़र्स्ट ट्राइमेस्टर के दौरान महिलाओं को एडिशनल कैलोरी की जरूरत नहीं पड़ती है। ये सच है कि बच्चे की अच्छी सेहत के लिए हेल्दी डायट जरूरी होती है लेकिन इसका ये मतलब बिल्कुल नहीं है कि आप दिनभर खाएं। प्रेग्नेंसी के दौरान कुछ महिलाओं को जी मिचलाने के कारण खाने की इच्छा नहीं करती है। ऐसे में अगर महिलाएं पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन नहीं प्राप्त कर पा रही हैं, तो प्रेग्नेंसी में प्रोटीन पाउडर (Protein powder in pregnancy) लिया जा सकता है। प्रेग्नेंसी में प्रोटीन पाउडर को लेकर आपके मन में कई प्रश्न हो सकते हैं। आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको गर्भावस्था में प्रोटीन पाउडर (Protein powder in pregnancy) के इस्तेमाल के साथ ही रखी जाने वाली सावधानियों के बारे में भी बताएंगे।

और पढ़ें: क्या प्रेग्नेंसी में बजट फूड्स (Budget foods during pregnancy) के बारे में है आपको जानकारी?

प्रेग्नेंसी में प्रोटीन पाउडर (Protein powder in pregnancy)

प्रोटीन पाउडर को लेकर अक्सर लोगों के मन में प्रश्न रहता है कि क्या केवल बॉडी बिल्डर्स के लिए ही प्रोटीन पाउडर होता है, जबकि ऐसा बिल्कुल नहीं है। प्रोटीन पाउडर का इस्तेमाल कोई भी कर सकता है। प्रेग्नेंसी के दौरान भी प्रोटीन पाउडर का इस्तेमाल किया जा सकता है। सिंगल स्कूप प्रोटीन पाउडर में करीब 30 ग्राम प्रोटीन प्राप्त होती है। ऐसा नहीं है कि आप केवल प्रोटीन पाउडर (Protein powder) से ही प्रोटीन प्राप्त कर सकते हैं। प्रोटीन की पर्याप्त मात्रा एग, मिल्क, सोयाबीन, विभिन्न प्रकार की दालें, आलू, मटर, चावल आदि में होती है। अगर किसी कारण से महिला प्रोटीन युक्त भोजन नहीं ले पा रही है, तो ऐसे में प्रोटीन पाउडर अहम भूमिका निभाती है।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी में आर्टिफिशियल स्वीटनर्स का इस्तेमाल है फायदेमंद या नुकसानदायक?

प्रेग्नेंसी में प्रोटीन पाउडर: डॉक्टर दे सकते हैं इस प्रोटीन पाउडर को लेने की सलाह!

प्रेग्नेंसी के दौरान महिला को करीब 70 से 100 ग्राम प्रतिदिन प्रोटीन की जरूरत होती है। प्रोटीन की जरूरत शरीर के वजन के अनुसार तय की जाती है। आप अगर प्रेग्नेंसी के दौरान उबले हुए अंडे, कुछ मात्रा में नट्स, लेंटिल सूप, एक ग्लास दूध रोजाना पीती है, तो प्रोटीन की पर्याप्त मात्रा प्राप्त की जा सकती है। अगर आप प्रोटीन युक्त फूड्स नहीं खा पा रही है, तो डॉक्टर से जानकारी लेने के बाद प्रोटीन पाउडर (Protein powder) को भी अपनी डायट में शामिल कर सकती हैं लेकिन प्रोटीन पाउडर (Protein powder) को मील रिप्लेसमेंट के तौर पर इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं। जानिए प्रेग्नेंसी में प्रोटीन पाउडर (Protein powder in pregnancy) के कौन-से ब्रांड डॉक्टर आपको सजेस्ट कर सकते हैं।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी में कैल्शियम सप्लिमेंट्स के रूप में इस्तेमाल की जा सकती हैं ये दवाएं!

सिममॉम आईक्यू प्लस (SimMom IQ+)

सिममॉम आईक्यू प्लस पाउडर प्रेग्नेंसी के साथ ही महिलाओं को स्तनपान के दौरान भी आवश्यक पोषण तत्व प्रदान करता है। इसमें मिल्क सॉलिड्स ( Milk Solids,), माल्टोडेक्सट्रिन (Maltodextrin) और सुक्रोज, मिनरल्स, फ्रक्टो-ऑलिगोसेकेराइड्स (FOS), विटामिन और डोकोसाहेक्सैनोइक एसिड प्रमुख तत्व हैं। प्रोटीन युक्त इस पाउडर (Protein powder) का प्रेग्नेंसी में इस्तेमाल करने से पहले आपको डॉक्टर से भी राय लेनी चाहिए। इसकी कीमत 515 रु है।

प्रेग्नेंसी में प्रोटीन पाउडर: ओजीवा प्रोटीन एंड हर्ब फॉर वूमन (OZiva Protein & Herbs for Women)

ओजीवा प्रोटीन एंड हर्ब फॉर वूमन का सेवन करने से प्रोटीन की पर्याप्त मात्रा मिलने के साथ ही मल्टीविटामिन, मिनरल भी प्राप्त होते हैं। ये ग्लूटेन फ्री, सोया फ्री, नॉन-जीएमओ, जीरो एडेड शुगर होता है। इसमें आर्टिफिशियल स्वीटनर्स (Artificial sweeteners) का इस्तेमाल नहीं किया जाता है। इसकी एक बॉटल की कीमत 1070 रु है। आपको गर्भावस्था में डॉक्टर की सलाह के बिना डायट में एक्ट्रा कुछ भी एड नहीं करना चाहिए।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी में डायबिटीज रिस्क के लिए सप्लीमेंट्स : इस्तेमाल करने से होगा फायदा!

प्रो पीएल चॉकलेट पाउडर (PRO PL CHOCOLATE POWDER 200GM)

प्रेग्नेंसी और लेक्टेशन के दौरान महिलाओं में प्रोटीन की कमी को पूरा करने के लिए प्रो पीएल चॉकलेट पाउडर का इस्तेमाल किया जा सकता है। ये पाउडर ग्लूटेन फ्री है और पूरी तरह से वेजीटेरियन भी है। जिन महिलाओं को चॉकलेट फ्लेवर पसंद है, उनको ये प्रोटीन पाउडर जरूर पसंद आएगा। इसमें प्रोटीन के साथ ही मिनिरल्स और आवश्यक विटामिंस भी होते हैं। इसे गुनगुने दूध में एक से दो चम्मच मिलाकर लिया जा सकता है। 200 ग्राम पैक की कीमत ₹ 267 है। आप इसके सेवन से पहले डॉक्टर से जानकारी ले सकते हैं।

प्रेग्नेंसी में प्रोटीन पाउडर: हॉर्लिक्स मदर्स प्लस (Horlicks Mother’s Plus)

महिलाओं के लिए खासतौर पर तैयार किया गया हॉर्लिक्स मदर्स प्लस प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं में प्रोटीन की कमी को दूर करने का काम करता है। ये वेनीला (Vanilla) फ्लेवर में उपलब्ध है। ये पूरी तरह से वेजीटेरियन प्रोडक्ट है। इसमें करीब 25 पोषक तत्व होते हैं। इसमें विटामिन B1, B2, B6, B12, विटामिन ए (Vitamin A) , सेलेनियम और आयोडीन आदि भी होता है। इसमें प्रोटीन की भी पर्याप्त मात्रा मौजूद होती है। एक पैक की कीमत 189 रु है।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी में ऑर्गेनिक डायट का सेवन करने से पहले जान लें यह जरूरी बातें!

प्रेग्नेंसी में प्रोटीन पाउडर :प्रोटीनेक्स पाउडर (Protinex)

चॉकलेट फ्लेवर में उपलब्ध प्रोटीनेक्स पाउडर का सेवन गर्भावस्था के दौरान करने के लिए दीया जा सकता है। ये पाउडर दूध में एक से दो चम्मच मिलाकर रोजाना लिया जा सकता है। इस पाउडर में प्रोटीन की पर्याप्त मात्रा होने के साथ ही कैल्शियम, जरूरी विटामिंस, सेलेनियम, जिंक, सोडियम (Sodium), आयरन आदि भी पाया जाता है। अगर आप प्रेग्नेंसी के दौरान प्रोटीन पाउडर लेना चाहती हैं, तो डॉक्टर से प्रोटीनएक्स के बारे में जानकारी ले सकती हैं। करीब 400 ग्राम पैक की कीमत 485 रु है।

प्रेग्नेंसी में प्रोटीन पाउडर: इन बातों का रखें ध्यान!

एक बात का ध्यान रखें कि प्रोटीन पाउडर मील रिप्लेसमेंट नहीं है। अगर आप प्रेग्नेंसी के दौरान पोषण चाहिए, तो वेजीटेबल्स, फ्रूट्स, अनाज, दालों आदि से प्राप्त करें। जरूरत पड़ने पर आप प्रोटीन पाउडर को भी इस्तेमाल कर सकती हैं लेकिन ये प्रोटीन प्राप्त करने के लिए पहला विकल्प नहीं होना चाहिए। अगर आपको डेयरी प्रोटक्ट से एलर्जी है, तो आपको मिल्क बेस्ड पाउडर से बचना चाहिए। आप एलर्जी के बारे में डॉक्टर को जानकारी जरूर दें। अगर आप व्हे प्रोटीन पाउडर (Whey protein powder) ले रही हैं, तो कोशिश करें कि उसमें कोई और इंग्रीडिएंट न हो।

बिना डॉक्टर की जानकारी के प्रोटीन पाउडर का सेवन आपको नुकसान भी पहुंचा सकता है क्योंकि प्रोटीन पाउडर की निश्चित मात्रा के सेवन जरूरी है। अगर आपको खाने में पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन मिल रही है, तो बेहतर होगा कि आप प्रोटीन पाउडर का सेवन न करें। प्रोटीन की अधिक मात्रा नुकसान भी पहुंचा सकती है।स्कॉटलैंड में साल 2014 में एक अध्ययन में ये बात सामने आ चुकी है कि अधिक मात्रा में प्रेग्नेंसी में प्रोटीन का सेवन करने से बेबी की बढ़ने की गति धीमी हो गई थी। इसी कारण से प्रेग्नेंसी में कीटो डायट न लेने की सलाह दी जाती है।

हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार उपलब्ध नहीं कराता है। इस आर्टिकल में हमने आपको प्रेग्नेंसी में प्रोटीन पाउडर (Protein powder in pregnancy) के बारे में जानकारी दी है। उम्मीद है आपको हैलो हेल्थ की दी हुई जानकारियां पसंद आई होंगी। अगर आपको इस संबंध में अधिक जानकारी चाहिए, तो हमसे जरूर पूछें। हम आपके सवालों के जवाब मेडिकल एक्स्पर्ट्स द्वारा दिलाने की कोशिश करेंगे।

health-tool-icon

ड्यू डेट कैलक्युलेटर

अपनी नियत तारीख का पता लगाने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें। यह सिर्फ एक अनुमान है - इसकी गैरेंटी नहीं है! अधिकांश महिलाएं, लेकिन सभी नहीं, इस तिथि सीमा से पहले या बाद में एक सप्ताह के भीतर अपने शिशुओं को डिलीवर करेंगी।

सायकल लेंथ

28 दिन

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र
लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट कुछ दिन पहले को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड