backup og meta

हायपरइमेसिस ग्राविडारम के लिए एंटीइमेटिक्स दवाओं का उपयोग क्यों किया जाता है?

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड Sayali Chaudhari · फार्मेकोलॉजी · Hello Swasthya


Manjari Khare द्वारा लिखित · अपडेटेड 25/10/2021

हायपरइमेसिस ग्राविडारम के लिए एंटीइमेटिक्स दवाओं का उपयोग क्यों किया जाता है?

हायपरइमेसिस ग्राविडारम (Hyperemesis Gravidarum) एक मेडिकल टर्म है जिसका उपयोग प्रेग्नेंसी के दौरान होने वाली अत्यधिक उल्टी और जी मिचलाने की समस्या के लिए किया जाता है। जो प्रेग्नेंट महिला को असहज बना सकती है। इस स्थिति में दिन में 4 बार से अधिक उल्टी हो सकती हैं, महिला डीहायड्रेटेड हो सकती है, लगातार चक्कर आ सकते हैं और वजन कम हो सकता है। हायपरइमेसिस ग्राविडारम के लिए एंटीइमेटिक्स दवाओं (Antiemetics for Hyperemesis Gravidarum) का उपयोग इलाज के लिए किया जाता है। ये दवाएं इस स्थिति के इलाज में प्रभावी बताई जाती हैं। एंटीइमेटिक्स दवाओं का उपयोग उल्टी और जी मिचलाना के इलाज के साथ ही स्टमक फ्लू (Stomach flu) और इंफेक्शन (Infection) के इलाज में भी उपयोग होती है।

हायपरइमेसिस ग्राविडारम के लिए एंटीइमेटिक्स (Antiemetics for Hyperemesis Gravidarum)

बता दें कि हायपरइमेसिस ग्राविडारम का कारण प्रेग्नेंसी के दौरान एचसीजी (HcG) और ईस्ट्रोजन (Estrogen) हॉर्मोन का बढ़ना हो सकता है। इसके अलावा प्रेग्नेंसी के दौरान बहुत उल्टी होना और ज्यादा  जी मिचलाना जुड़वां बच्चे होने का संकेत भी हो सकता है। कारण जो भी हो। इसका समाधान मौजूद है। वह है एंटीइमेटिक्स दवाएं। एंटीअमेटिक्स दवाओं के कई प्रकार है। जिसका चयन डॉक्टर मरीज की तकलीफ के आधार पर करते हैं। ये दवाएं इंजेक्शन, टैबलेट और पैजेस (जिन्हें बॉडी में प्लेस किया जाता है) के रूप में उपलब्ध होती हैं। लक्षण के आधार पर डॉक्टर दवा रिकमंड करते हैं।

यहां हम आपको हायपरइमेसिस ग्राविडारम के लिए एंटीइमेटिक्स (Antiemetics for Hyperemesis Gravidarum) के बारे में बताने जा रहे हैं। ध्यान रखें किसी भी दवा का उपयोग डॉक्टर की सलाह के बिना ना करें। हमारा उद्देश्य किसी भी ब्रांड का प्रचार करना नहीं बल्कि अपने पाठकों तक जानकारी पहुंचाना है। साथ ही इस बात का भी ध्यान रखें कि यहां बताई जा रही कीमतों और जहां से आप दवा को खरीदते हैं उनमें अंतर हो सकता है।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी में एल्डरबेरी: जानिए इसके फायदे और नुकसान के बारे में

ड्रमिनेट 50mg टैबलेट (Draminate 50mg Tablet)

इस टैबलेट का उपयोग कई प्रकार की एजर्लिक कंडिशन के इलाज में किया जाता है। जिसमें रनी नोज, रैशेज और खुजली शामिल है। इसके साथ ही हायपरइमेसिस ग्राविडारम के लिए एंटीइमेटिक्स (Antiemetics for Hyperemesis Gravidarum) की लिस्ट में भी इसको शामिल किया जाता है। इस दवा का उपयोग खाने के साथ या खाने के बिना किया जा सकता है। डॉक्टर ने जैसे प्रिस्क्राइब उसी तरह दवा का उपयोग करना चाहिए।

यह दवा लंबे समय के लिए भी प्रिस्क्राइब की जा सकती है। परेशानी ज्यादा होने पर कभी भी दवा का डबल डोज ना लें। दवा का उपयोग ओरली किया जाता है। इसके साइड इफेक्ट्स में नींद ना आना, मूंह सूखना शामिल है। इस दवा में एक्टिव इंग्रीडिएंट के रूप में डिमेनहायड्रिनेट Dimenhydrinate (50mg) शामिल है। 10 टैबलेट वाली एक ट्रिप की कीमत 23 रुपए है।

फेनेरगन 10 टैबलेट (Phenergan 10 Tablet)

इस दवा को भी हायपरइमेसिस ग्राविडारम के लिए एंटीइमेटिक्स (Antiemetics for Hyperemesis Gravidarum) की लिस्ट में शामिल किया जाता है। यह दूसरी एलर्जिक कंडिशन के साथ ही मॉर्निंग सिकनेस से जुड़ी उल्टी और जी मिचलाने की समस्याओं का इलाज करने के लिए उपयोग की जाती है। इस दवा का उपयोग खाने के साथ या खाने के बिना किया जा सकता है। अधिक फायदे के लिए दवा का एक ही समय पर लें। जब तक दवा को प्रिस्क्राइब किया है तब तक इसका सेवन जारी रखें। इस दवा के साइड इफेक्ट्स में मुंह सूखना, धुंधला दिखाई देना, सिर में दर्द आदि शामिल हैं। इनके बारे में डॉक्टर से जानकारी प्राप्त करें। दवा में एक्टिव इंग्रीडिएंट के रूप में प्रोमेथाजिन हायड्रोक्लोराइज (Promethazine HYDROCHLORIDE)  पाया जाता है। इस दवा की ऑनलाइन कीमत 13 रुपए के लगभग है।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी में आयोडीन का सेवन है फायदेमंद, लेकिन इसे सही मात्रा में लेना है आवश्यक!

हायपरइमेसिस ग्राविडारम के लिए एंटीअमेटिक्स दवाओं (Antiemetics for Hyperemesis Gravidarum)

क्रोफेन सिरप (Crophen syrup)

इस दवा को भी हायपरइमेसिस ग्राविडारम के लिए एंटीइमेटिक्स (Antiemetics for Hyperemesis Gravidarum) की लिस्ट में शामिल किया जा सकता है। यह सिरप के रूप में उपलब्ध है। यह भी एलर्जिक कंडिशन और मॉर्निंग सिकनेस के इलाज के लिए प्रिस्क्राइब की जाती है। यह ब्रेन के कैमिकल्स में परिवर्तन करके वॉमिटिंग और मतली को कंट्रोल करती है। दवा में एक्टिव इंग्रीडिएंट के रूप में प्रोमेथाजिन (Promethazine) शामिल है। इस दवा के साइड्स इफेक्ट में मुंह सूखना, धुंधला दिखाई देना, सिर में दर्द आदि शामिल हैं।

यह दवा लंबे समय के लिए भी प्रिस्क्राइब की जा सकती है। परेशानी ज्यादा होने पर कभी भी दवा का डबल डोज ना लें। दवा का उपयोग ओरली किया जाता है। दवा की कीमत 25 रुपए के लगभग है।

ग्रावोल टैबलेट (GRAVOL tab)

इस दवा को भी हायपरइमेसिस ग्राविडारम के लिए एंटीइमेटिक्स (Antiemetics for Hyperemesis Gravidarum) की लिस्ट में शामिल किया जा सकता है। यह एलर्जी के लक्षणों जैसे कि नाक बहना, लालिमा, आंखों से पानी आना आदि के इलाज में उपयोग के साथ ही मॉर्निंग सिकनेस से संबंधित उल्टी और जी मिचलाने के इलाज में भी उपयोग की जाती है। बीमारी के लक्षणों के आधार पर डॉक्टर दवा का डोज और शेड्यूल डिसाइड करते हैं।

इस खाने के साथ या खाने के बिना भी लिया जा सकता है। दवा जिस तरह से दवा लेने को कहा है वैसे ही लें। दवा का उपयोग ओरली किया जाता है। इसके साइड इफेक्ट्स में नींद आना और मुंह सूखना शामिल है। दवा को फिक्स टाइम पर ले ताकि डोज मिस ना हो। प्रेग्नेंसी के अलावा किसी अन्य हेल्थ कंडिशन के इलाज के लिए दवा का उपयोग कर रहे हैं तो डॉक्टर संबंधित स्थितियों जैसे कि अगर आप अस्थमा, लिवर या किडनी से संबंधित परेशानी है तो। इस दवा में एक्टिव इंग्रीडिएंट के रूप में डिमेनहायड्रिनेट (Dimenhydrinate) उपलब्ध है। इसकी कीमत 25 रुपए के लगभग है।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी की फ़र्स्ट ट्राइमेस्टर डायट कर रही हैं प्लान, तो एक बार जरू पढ़ें ये आर्टिकल!

डिलिगन 25 टैबलेट (Diligan 25 Tablet)

इस दवा को भी हायपरइमेसिस ग्राविडारम के लिए एंटीइमेटिक्स (Antiemetics for Hyperemesis Gravidarum) की लिस्ट में रख सकते हैं। इसका उपयोग मॉर्निंग सिकनेस से संबंधित उल्टी, और जी मिचलाने के इलाज में किया जाता है। इसके साथ ये दवा वर्टिगो के इलाज में भी उपयोग की जाती है। यह ब्रेन की कुछ केमिकल को कंट्रोल करके उलटी और जी मिचलाना की समस्या को कंट्रोल करने में मदद करती है। इस दवा के एक्टिव इंग्रीडिएंट के रूप में मेक्लिजिन (Meclizine) उपस्थित रहता है।

टैबलेट को खाने के साथ या बिना खाए लिया जाना चाहिए, लेकिन ज्यादा से ज्यादा फायदा पाने के लिए इसे रोजाना एक ही समय पर लें। अगर आप यात्रा कर रहे हैं तो यात्रा से एक घंटा पहले इसे लें। इसे आपके डॉक्टर की सलाह के रूप में लिया जाना चाहिए। खुराक और आप इसे कितनी बार लेते हैं यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप इस स्थिति के लिए ले रहे हैं। आपको यह दवा तब तक लेनी चाहिए जब तक यह आपके लिए निर्धारित है। कभी भी दोहरी खुराक नहीं लेनी चाहिए।

नींद आना इस दवा का सबसे आम दुष्प्रभाव है। ड्राइविंग या ध्यान आकर्षित करने वाली गतिविधि से बचें। कुछ मामलों में, इससे मुंह में सूखापन हो सकता है, इसलिए अधिक पानी पीने की सलाह दी जाती है, हमेशा मिश्री साथ रखें या मौखिक स्वच्छता बनाए रखें। दवा की कीमत 130 रुपए के लगभग है।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी में लो कार्ब डायट बच्चे और मां दोनों के लिए हो सकती है नुकसान दायक, अपनाने से पढ़ लें ये लेख

प्रेग्नेंसी में उल्टी और जी मिचलाने की समस्या कम करने के उपाय (Remedies to reduce the problem of vomiting and nausea in pregnancy)

हायपरइमेसिस ग्राविडारम के लिए एंटीइमेटिक्स दवाओं (Antiemetics for Hyperemesis Gravidarum) के फायदे तो आप समझ ही गए होंगे। निम्न टिप्स भी इस समस्या को कम करने में मददगार हो सकती हैं।

उम्मीद करते हैं कि आपको हायपरइमेसिस ग्राविडारम के लिए एंटीइमेटिक्स दवाओं (Antiemetics for Hyperemesis Gravidarum) के उपयोग से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

Sayali Chaudhari

फार्मेकोलॉजी · Hello Swasthya


Manjari Khare द्वारा लिखित · अपडेटेड 25/10/2021

ad iconadvertisement

Was this article helpful?

ad iconadvertisement
ad iconadvertisement