home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

प्रेग्नेंसी में स्ट्रेच मार्क्स के लिए क्रीम का इस्तेमाल करना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी में स्ट्रेच मार्क्स के लिए क्रीम का इस्तेमाल करना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी में स्ट्रेच मार्क्स के लिए क्रीम का इस्तेमाल करना बहुत ही आम है। हालांकि, किस तरह के स्ट्रेच मार्क्स के लिए क्रीम का इस्तेमाल करना चाहिए, इस मुद्दे पर बहुत ही कम महिलाओं का ध्यान जाता है। आमतौर पर देखा जाए, तो हर महिला की नजर में उसका एक फेवरेट और भरोसेमंद ब्रांड होता है। जिससे ही वो अपने ब्यूटी प्रोड्क्ट्स और स्ट्रेच मार्क्स के लिए क्रीम खरीदना पसंद करती होंगी। लेकिन, क्या वाकई में उनका भरोसेमंद ब्रांड शरीर के खिचांव के निशानों को कम करने के लिए क्रीम बनाने और उसके परिणामों में भी अव्वल होगा? कोई भी कंपनी या ब्रांड इस बात का गारंटी नहीं दे सकते हैं कि बाजार में उतारे गए उनके क्रीम या कोई भी उत्पाद पूरी तरह से स्वास्थ्य के लिए सुरक्षित हो सकते हैं।

और पढ़ें – प्रेग्नेंसी में हल्दी का सेवन करने के फायदे और नुकसान

स्ट्रेच मार्क्स के लिए क्रीम है?

प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं में कई तरह से शारीरिक बदलाव होते हैं। जिनमें स्ट्रेच मार्क्स सबसे आम होते हैं। स्ट्रेच मार्क्स सामान्य तौर पर किशोरावस्था के बाद भी देखें जाते हैं। जो महिलाओं और पुरुषों दोनों में हो सकते हैं। इसके अलावा ऐसे पुरुष जो जिम जाते हैं और मसल्स बनाते हैं, उनके शरीर में भी स्ट्रेच मार्क्स काफी आसानी से देखें जा सकते हैं। ये स्ट्रेच मार्क्स एक तरह की धारीदार रेखाएं होती है, तो जांघ, कूल्हों के पास, कमर, बाजूओं और पेट पर हो जाते हैं। शारीरिक विकास के दौरान शरीर के अलग-अलग हिस्सों का विकास होता है। किसी में फैट बढ़ता है, तो किसी की मांसपेशियों का विकास होता है इसी के कारण स्किन में खिंचाव होता है, जिससे स्ट्रेच मार्क्स के निशान बन जाते हैं।

स्ट्रेच मार्क्स को कम करने लिए क्रीम कितनी असरदार है?

स्ट्रेच मार्क्स के निशानों को पूरी तरह से खत्म नहीं किया जा सकता है। हालांकि, कुछ तरह के केमिकल ट्रीटमेंट या सर्जरी से इन्हें साफ किया जा सकता है। इसके अलावा मार्केट में कई तरह के क्रीम हैं, तो इन निशानों को हल्का करने में काफी मददगार हो सकते हैं।

और पढ़ें – प्रेग्नेंसी में मक्का खाने के फायदे और नुकसान

प्रेग्नेंसी में स्ट्रेच मार्क्स के लिए क्रीम कितनी सुरक्षित है?

सामान्य स्थिति में स्ट्रेच मार्क्स के निशानों को हल्का करने के लिए आप किसी भी भरोसेमंद ब्रांड के अच्छे क्वालिटी के स्ट्रेच मार्क्स के लिए बनाए गए क्रीम का इस्तेमाल कर सकते हैं। जो सुरक्षित माने जाते हैं। लेकिन, गर्भावस्था की बात करें, तो इस दौरान स्ट्रेच मार्क्स प्रेग्नेंट महिला के पेट पर ज्यादा बनते हैं, क्योंकि गर्भ में बच्चे के विकास के साथ-साथ महिला का पेट भी बड़ा होता रहता है जिसके कारण उसके पेट की नसों और त्वचा में खिंचाव होता है और स्ट्रेच मार्क्स आ जाते हैं। इस दौरान कुछ महिलाओं के पेट पर काफी गहरे रंग के या हल्के रंग के भी स्ट्रेच मार्क्स के निशान बन सकते हैं। जो प्रसव बाद धीरे-धीरे हल्के हो जाते हैं। हालांकि, पूरी तरह से कभी खत्म नहीं होते हैं।

वहीं, प्रेग्नेंसी के दौरान महिला को किसी भी तरह के केमिकल का इस्तेमाल करने से पहले काफी सतर्क होना होता है। क्योंकि, केमिकल्स प्रेग्नेंसी और गर्भ में पल रहे बच्चे को प्रभावित कर सकते हैं। इसलिए, आमतौर पर डॉक्टर सलाह देते हैं कि प्रेग्नेंसी के दौरान स्ट्रेच मार्क्स के लिए बनाए गए क्रीम का इस्तेमाल न करें। प्रसव के बाद आप अपने डॉक्टर की सलाह पर स्ट्रेच मार्क्स के लिए क्रीम, घरेलू तरीके और अन्य ट्रीटमेंट के बारे में विचार कर सकती हैं।

इसके अलावा, अगर आप गर्भावस्था के दौरान स्ट्रेच मार्क्स को कम करने लिए क्रीम का इस्तेमाल करना चाहती हैं, तो निम्न बातों का ध्यान रख सकती हैं, जिनमें शामिल हैंः

और पढ़ें – 6 मंथ प्रेग्नेंसी डाइट चार्ट : इस दौरान क्या खाएं और क्या नहीं?

प्राकृतिक तेलों से बना हो

स्ट्रेच मार्क्स के लिए क्रीम का चुनाव करते समय सबसे पहले ध्यान दें कि वो प्राकृतिक तेलों से बना हो, ताकि उसके इस्तेमाल के बाद किसी भी तरह के केमिकल आपके त्वचा के अंदर न प्रवेश कर सके। अगर आपका स्ट्रेच मार्क्स के निशानों को कम करने के लिए क्रीम पूरी तरह से प्राकृतिक तेलों से बना हैं, तो स्किन पर लगाने के बाद वह बहुत ही जल्दी सूख जाता है औक कपड़ों पर भी उसका निशान क से कम होता है।

और पढ़ें – प्रेग्नेंसी में बाल कलर कराना कितना सुरक्षित?

गंधहीन हो

प्रेग्नेंसी के दौरान स्ट्रेच मार्क्स के लिए क्रीम गंधहीन या हाइपोएलर्जेनिक होनी चाहिए। यानी उसमें खुशबु या रंग के लिए किसी भी तरह के केमिकल का इस्तेमाल न किया गया हो। ऐसे उत्पादों के इस्तेमाल से त्वचा में जलन, खुजली या किसी तरह के एलर्जी का कारण बन सकते हैं।

ग्लिसरीन युक्त हो

प्रेग्नेंसी में स्ट्रेच मार्क्स के लिए क्रीम का कार्य होता है, त्वचा को भरपूर नमी देना। ताकि नसों और स्किन में खिचांव के समय उनमें दरारें कम से कम पड़े और स्ट्रेच मार्क्स के निशान हल्के और कम हो। इसलिए स्ट्रेच मार्क्स के निशान को कम करने के लिए क्रीम का चुनाव करते समय उसमें ग्लिसरीन की मात्रा जरूर जाचें। इसके अलावा आप हाइलूरोनिक एसिड और सेरामाइड युक्त स्ट्रेच मार्क्स क्रीम का चुनाव कर सकते हैं। ये स्किन को मॉइस्चराइजिंग करने के लिए सबसे अच्छे विकल्प हो सकते हैं।

स्किन में जल्दी घुल जाए

गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स के निशान को कम करने के लिए क्रीम को चुनते समय इस बात की जानकारी लें कि यह त्वचा में इस्तेमाल करके के कितने समय बाद सूखता है। ऐसे में आप शीया बटर और कोको बटर जैसे युक्त क्रीम का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। ये जल्दी सूख जाते हैं और त्वचा में होने वाली खुजली से भी राहत दिला सकते हैं।

और पढ़ें – गर्भावस्था का बालों पर असर को कैसे रोकें? जाने घरेलू उपाय

किस तरह के उत्पादों से रहना चाहिए दूर?

अगर आप गर्भावस्था के लिए स्ट्रेच मार्क्स क्रीम खरीद रही हैं, तो ध्यान रखें कि उनमें निम्न मिश्रण न हो, जिनमें शामिल हैंः

गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स के निशान कम करने के लिए इन बातों का भी रखें ध्यान

स्ट्रेच मार्क्स के लिए क्रीम का इस्तेमाल करने से पहले आप कुछ अन्य जरूरी बातों पर भी ध्यान दे सकते हैं। जैसे हमेशा स्वस्थ और संतुलित आहार खाएं, नियमित तौर पर व्यायाम करें और नियमित तौर पर पेट, कमर के निचले हिस्से और जांघों की मालिश करें। ऐसा करने आपकी त्वचा प्राकृतिक रूप से मुलायम और लचीली बन सकती है। जो प्रेग्नेंसी के दौरान होने वाले स्ट्रेच मार्क्स के निशान को कम से कम बनने में मदद कर सकते हैं। अगर इससे जुड़ा आपका कोई सवाल है, तो अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

health-tool-icon

ड्यू डेट कैलक्युलेटर

अपनी नियत तारीख का पता लगाने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें। यह सिर्फ एक अनुमान है - इसकी गैरेंटी नहीं है! अधिकांश महिलाएं, लेकिन सभी नहीं, इस तिथि सीमा से पहले या बाद में एक सप्ताह के भीतर अपने शिशुओं को डिलीवर करेंगी।

सायकल लेंथ

28 दिन

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Stretch marks. https://www.mayoclinic.org/diseases-conditions/stretch-marks/diagnosis-treatment/drc-20351144. Accessed on 27/07/2020

Stretch Marks (Striae)/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK436005/Accessed on 27/07/2020

Striae gravidarum: Risk factors, prevention, and management/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5440454/Accessed on 27/07/2020

Management of stretch marks (with a focus on striae rubrae)/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5782435/Accessed on 27/07/2020

लेखक की तस्वीर badge
Ankita mishra द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 27/07/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x