गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स: इन घरेलू उपचार से मिलेगा आराम

    गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स: इन घरेलू उपचार से मिलेगा आराम

    ज्यादातर महिलाएं गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क (Pregnancy stretch marks) की समस्या से जूझती हैं। लगभग 90% महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान अचानक वजन बढ़ने (Weight gain) के कारण स्ट्रेच मार्क्स आ जाते हैं। इस बात से भी इंकार नहीं किया जा सकता कि ये स्ट्रेच मार्क्स भद्दे दिखते हैं। इससे छुटकारा पाने के लिए महिलाएं अक्सर ब्यूटी ट्रीटमेंट का सहारा भी लेती हैं। गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स के पीछे आनुवांशिकी पृष्ठभूमि भी महत्वपूर्ण कारक हो सकते हैं।

    और पढ़ें : गर्भावस्था के दौरान नींद न आने के कारण और उपाय

    गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स होने के कारण (Cause of Pregnancy stretch marks):

    गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क (Pregnancy stretch marks)

    मायो क्लिनिक के अनुसार महिलाओं में गर्भावस्था (Pregnancy) के दौरान या प्रसव के बाद होने वाले स्ट्रेच मार्क्स के निम्नलिखित कारण से हो सकते हैं।

    • अगर महिला प्रेग्नेंसी में कॉर्टिकोस्टेरॉइड दवा का सेवन कर रही हैं।
    • तेजी से वजन कम होना या बढ़ना (Weight gain or loss)
    • ब्रेस्ट इनलार्जमेंट सर्जरी कराने वाली महिलाओं को गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स होते हैं।

    और पढ़ें : गर्भावस्था के दौरान परिवार का साथ है जरुरी

    गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स के लिए उपचार (Treatment for Pregnancy stretch marks):

    सामान्यत: गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स बगल, पेट, स्तन, जांघों और नितंबों पर होते हैं, क्योंकि प्रेग्नेंसी के दौरान वजन अधिक (Weight gain) होने के कारण शरीर के इन्हीं भागों पर सबसे ज्यादा फैट इक्ठ्ठा होता है, जिससे त्वचा में खिंचाव उत्पन्न होता है। गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स से बचने के लिए कई तरह के उपचार मौजूद हैं जैसे कि लेजर ट्रीटमेंट, लेकिन ये काफी महंगे होते हैं इसलिए सभी, महिलाओं के लिए इसका लाभ ले पाना मुश्किल होता है। इसलिए गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स से बचने के घरेलू उपचार भी हैं, जो हर महिलाओं की पहुंच और आर्थिक स्थिति के अनुरूप हैं। इसमें निम्नलिखित शामिल हैं।

    और पढ़ें : प्रसव के बाद देखभाल : इन बातों का हर मां को रखना चाहिए ध्यान

    1. विटामिन-ए (Vitamin-A)

    विटामिन-ए (Vitamin-A) को रेनिटॉइड के रूप में भी जाना जाता है। रेनिटॉइड त्वचा (Skin) को चिकना और जवां रखने में मदद करते हैं। गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स के लिए ओवर-द-काउंटर कॉस्मेटिक (Cosmetic) क्रीम उपलब्ध हैं, जिनमें ये तत्व पाए जाते हैं जिनका उपयोग किया जा सकता है।

    विटामिन- ए के एक्सट्रेक्ट या विटामिन-ए को मौखिक रूप से इस्तेमाल करना भी त्वचा को स्वस्थ्य बनाए रखने में सहायक होता है। कुछ खाद्य पदार्थों जैसे गाजर और शकरकंद से भरपूर आहार भी आपके विटामिन-ए के स्तर को बढ़ाने में मदद कर सकता है। विटामिन-ए स्ट्रेच मार्क्स घटाने में मददगार हो सकता है।

    और पढ़ें : चमकदार त्वचा चाहते हैं तो जरूर करें ये योग

    2. नारियल तेल से मसाज

    गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स स्किन में हुए खिंचाव के कारण होता है जिसपर रोजाना तेल से मसाज कर इन स्ट्रेच मार्क्स को कम किया जा सकता है। अगर आप नारियल तेल (Coconut oil) का इस्तेमाल करती हैं तो बेहतर परिणाम देखने को मिल सकता है। इसके अलावा आप अरंडी, बादाम, जैतून आदि का तेल भी इस्तेमाल कर सकती हैं।

    3. गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स पर अंडे के व्हाइट पार्ट लगाएं

    अंडे के बाहरी यानी सफेद भाग में प्रोटीन (Protein) बहुत अधिक मात्रा में पाया जाता है। इसलिए रोजाना आप अंडे का सफेद वाला हिस्सा स्ट्रेच मार्क्स वाले हिस्से पर लगाएंगी तो इनको कम करने में मदद मिलेगी। दो अंडे (Egg) का सफेद वाला हिस्सा निकालकर स्ट्रेच मार्क्स पर लगाएं और सूख जाने के बाद धो दें। इसके बाद वहां मॉइश्चरराइजर का इस्तेमाल करें। गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स को कम करने के लिए यह काफी असरदार है।

    और पढ़ें : नारियल तेल में छुपा के खूबसूरती के खजाने

    4. गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स हटाने में विटामिन-ई का इस्तेमाल करें

    स्किन के लिए विटामिन-ई (Vitamin-E) बहुत फायदेमंद होता है। विटामिन-ई से युक्त तेल में एंटीऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते हैं। जो कोलेजन को क्षतिग्रस्त होने से बचाते हैं। प्रेग्नेंसी के दौरान आने वाले स्ट्रेच मार्क्स से राहत पाने के लिए रोजाना 15 से 20 मिनट तक अपने स्ट्रेच मार्क्स पर विटामिन-ई के तेल से मालिश करें। यह स्ट्रेच मार्क्स को कम कर सकता है।

    5. गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स को कम करने के लिए अरंडी का तेल

    अरंडी के तेल को स्ट्रेच मार्क्स वाली जगह पर लगाएं। पांच से दस मिनट तक हल्के हाथों से इसकी मालिश करें। मालिश करने के बाद इसे कवर करने के लिए एक प्लास्टिक की थैली का उपयोग करें। इस पर गर्म पानी की बोतल को लगभग 30 से 40 मिनट के लिए रोल करें। इसकी गर्मी रोम छिद्रों को खोलती है जिससे तेल छिद्रों में समाता है। यह तरीका स्ट्रेच मार्क्स हटाने में लाभदायक हैं।

    और पढ़ें : Vitamin E : विटामिन-ई क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    त्वचा के टेक्सचर पर भी स्ट्रेच मार्क्स का होना निर्भर करता है। ऑयली स्किन (Oily skin) की बजाए ड्राई स्किन पर स्ट्रेच मार्क्स (Stretch marks) जल्दी होते हैं। इसलिए अगर आपकी त्वचा रूखी है, तो उसे नियमित जरूरत के अनुसार नमी देती रहें

    गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स (Pregnancy stretch marks) के अन्य उपचार

    लेजर थेरिपी, इंजेक्शन और माइक्रोडर्माब्रेशन खिंचाव के निशान के लिए तीन क्लिनिकल ​​उपचार हैं।

    • माइक्रोडर्माब्रेशन में त्वचा को इस तरह से एक्सफोलिएट करना शामिल है, जो घरेलू उपचार नहीं कर सकते। अनुसंधान से पता चला है कि माइक्रोडर्माब्रेशन ने स्ट्रेच मार्क्स की उपस्थिति में सुधार किया है।
    • सुई लगाना, जो एक अपेक्षाकृत नया उपचार है जिसमें कोलेजन को आपकी त्वचा की सबसे ऊपरी परत के नीचे इंजेक्ट किया जाता है, स्रोत भी प्रभावी हो सकता है।

    इनमें से अधिकांश उपचार आमतौर पर काफी महंगे साबित हो सकते हैं। केवल एक त्वचा विशेषज्ञ ही आपको बता सकता है कि आप इन प्रक्रियाओं को करा सकते हैं या नहीं। गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स को कम करने के लिए अलग-अलग इलाज है लेकिन आपके बॉडी टाइप पर भी निर्भर करता है कि आप ये इलाज ले सकते हैं या नहीं।

    और पढ़ें : गर्भावस्था में ग्रुप बी स्ट्रेप्टोकोकस के बारे में आप क्या जानते हैं?

    गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स (Pregnancy stretch marks) होना सामान्य है?

    गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स और खिंचाव के निशान के लिए सबसे अच्छा उपचार रोकथाम माना जाता है। अपनी त्वचा को हाइड्रेटेड रखकर, आप उस इलास्टिन को रखने में मदद कर सकते हैं जो आपकी त्वचा को दाग-धब्बों से बचाए रखता है। गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स का सबसे शुरूआती और असरदार इलाज है खूब सारा पानी पीना। टॉपिकल क्रीम जैसे नारियल तेल का उपयोग आपकी त्वचा को मॉइस्चराइज रखेगा और गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स के निशान को कम करने में मदद कर सकता है।

    गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स कई बार उपचार के बिना भी समय के साथ खत्म हो जाता है। ऐसा बहुत कम होता है जब गर्भावस्था में स्ट्रेच मार्क्स उतने ही ज्यादा डार्क होते हैं जितने वो शुरूआत में थे।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड

    डॉ. अभिषेक कानडे

    आयुर्वेदा · Hello Swasthya


    Nikhil Kumar द्वारा लिखित · अपडेटेड 28/04/2021

    advertisement
    advertisement
    advertisement
    advertisement