पहली बार बन रहे हैं पिता तो काम आएंगी ये 5 सलाह

By Medically reviewed by Dr. Abhishek Kanade

पहली बार पिता बनने वाले पुरुषों को प्रेग्नेंसी में होने वाले लेबर के बारे में अधिक पता नहीं होता। इसलिए अधिकांश पुरुषों के लिए गर्भवती पार्टनर को दर्द में देखना मुश्किल हो जाता है। अधिकांश पिता शिशु के जन्म को जीवन के बेहतरीन पल में से एक मानते हैं। साथ ही चिंतित भी होते हैं कि वे पार्टनर की कैसे मदद करें? इसलिए हैलो स्वास्थ्य आपके लिए ‘गुड बर्थ-पार्टनर’ बनने के टिप्स बता रहा है।

पहली बार पिता बनने वाले हैं तो रखें इन बातों का ध्यान

1. गर्भवती पत्नी क्या चाहती हैं, इस बारे में अवगत रहें:

जब आपकी पत्नी गर्भवती हो उसी दौरान या प्रसव से पहले उनसे बात कर लें कि वह लेबर के दौरान क्या नहीं चाहती है (नॉर्मल या सिजेरियन डिलिवरी को चुनना)? पत्नी के साथ सिर्फ आप ही हैं जिसे हर चीज की जिम्मेदारी लेने की जरूरत है। दाई को भी आप उनकी परेशानियों और दर्द के बारे में सब कुछ बता सकते हैं। यदि अपने बर्थ-प्लान की योजना बना रखी है तो उन्हें सही समय पर अस्पताल ले जाएं।

प्रेग्नेंसी के दौरान यूज होने वाले मेडिकल टर्म, जान लें इनके बारे में

2. यह जानें कि लेबर पेन के दौरान क्या किया जाना चाहिए?

लेबर के दर्द से लड़ रही अपनी साथी का सहारा बनने के लिए जरूर जानें कि लेबर के दौरान क्या किया जाना चाहिए? ताकि आपको पता चल सके कि आखिर प्रसव के दौरान क्या हो रहा है? इसी कारण ज्यादातर डॉक्टर साथी के साथ रूम में जाकर डिलिवरी की तैयारी करने की सिफारिश करते हैं। 

3. अनएक्सपेक्टेड की उम्मीद:

गायनेकोलॉजिस्ट भी सटीक अनुमान नहीं लगा सकते कि पत्नी का लेबर पेन कब शुरू होगा और डिलिवरी कैसे होगी? इसलिए पिता के लिए सलाह है कि यदि बर्थ-प्लान को उपयोग करना पड़े तो उसके लिए अपने आप को तैयार रखें। जैसे आप दोनों ने दवा के बिना प्रसव पर चर्चा की हो या किसी विशेष टाइम पर डिलिवरी कराने को प्लान किया हो, लेकिन लेबर के बढ़ने पर हालात बदल सकते हैं। कई गर्भवती महिलाओं के लिए वह समय (जब योनि का फैलाव लगभग 8 सेमी होता है) सबसे दर्दनाक हो सकता है और ऐसे में एपिड्यूरल एनेस्थिसिया मददगार हो सकता है।

प्रेग्नेंट हैं? लेबर की स्टेज के बारे में जरूर जानें

4. पिता के लिए सलाह है कि पत्नी की एडवोकेसी करें:

लेबर के दौरान पार्टनर खुद के लिए बोलने में सक्षम नहीं होती। इसलिए उसकी ओर से बोलने के लिए तैयार रहें। इस दौरान आपकी पत्नी प्रसव के दौरान क्या महसूस कर रही है? इस बारे में डॉक्टर से बात करें। पहली बार पिता बनने वालों के लिए सलाह है पार्टनर की पीड़ा देखकर भी वे दृढ़ रहें। यहां तक ​​कि एक आपातकालीन सी-सेक्शन  के दौरान पत्नी के इंटरफेयर करने पर भी आप उसे रोक सकते हैं।

नॉर्मल डिलिवरी के लिए फॉलो करें ये 7 आसान टिप्स

5. पिता के लिए सलाह है कि लेबर में एक सक्रिय भागीदार बनें

पहली बार पिता बनने वालों के लिए सलाह है कि लेबर की शुरुआत के दौरान पत्नी को हाइड्रेटेड रहने और तरल पदार्थ पीने की लिए याद दिलाएं। गर्भवती को प्रसव के दौरान डीहाइड्रेशन से बचने के लिए पानी या हर्बल चाय दें। यह जरूर सुनिश्चित करें कि वह कुछ भी अम्लीय नहीं खा सकती है, क्योंकि इससे उल्टी हो सकती है। जब वह लेबर में होगी तो उन्हें ऊर्जा के लिए किसी पेय की जरूरत पड़ेगी।

अस्पताल में आपके आसपास अनुभवी लोग होंगे, लेकिन आप अपने साथी के लिए सबसे महत्वपूर्ण सपोर्ट होंगे। कुछ चीजें जो आप उसकी मदद करने के लिए कर सकते हैं।

पिता के लिए सलाह:

  • हाथ पकड़ें
  • सांस को धीमा करने में मदद करें
  •  मालिश करें
  • कूल्हों पर काउंटर प्रेशर करें
  • कमरे में सही तापमान बनाएं रखें
  • हर घंटे टॉयलेट का उपयोग करने के लिए याद दिलाएं ताकि उसका मूत्राशय बच्चे के सिर पर न चढ़े
  • एक गीले कपड़े से माथे और भौंह को पोंछें

यह भी पढ़ें- गर्भवती महिलाएं प्रेग्नेंसी में हेयरफॉल के कारणों और घरेलू उपाय को जान लें

अभी शेयर करें

रिव्यू की तारीख नवम्बर 8, 2019 | आखिरी बार संशोधित किया गया नवम्बर 9, 2019

सूत्र