home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

प्रेग्नेंसी से पहले आयडियल वेट कितना होना चाहिए?

प्रेग्नेंसी से पहले आयडियल वेट कितना होना चाहिए?

प्रेग्नेंसी की प्लानिंग करना बहुत जरूरी होता है। प्लानिंग करना इसलिए बहुत जरूरी होता है क्योंकि महिला के शरीर में एक जीवन पलता है और महिला के स्वास्थ्य का सीधा प्रभाव बच्चे पर भी पड़ता है। बच्चे के पैदा होने के मंथ से लेकर उसके स्कूल तक की प्लानिंग पेरेंट्स पहले से ही कर लेते हैं, तो फिर कंसीव करने से पहले महिला के स्वास्थ्य की छोटी-छोटी बातों के लेकर भी प्लानिंग करना बहुत जरूरी है। अगर प्रेग्नेंसी के पहले महिला का वजन अधिक है, तो कंसीव करने में समस्या लेकर कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना भी करना पड़ता है। रिचर्स में भी ये बात सामने आ चुकी है कि जिन महिलाओं का वजन अधिक होता है या फिर बहुत कम होता है, उन महिलाओं को स्वस्थ्य या हेल्दी महिलाओं की अपेक्षा कंसीव करने में अधिक समय लगता है। आज इस आर्टिकल के माध्यम से जानेंगे कि प्रेग्नेंसी से पहले आयडियल वेट (Ideal weight before pregnancy) कितना होना चाहिए और किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

और पढ़ें: हेल्थ इश्यू के साथ प्रेग्नेंसी को कैसे किया मैनेज, शेयर किया आंचल ने अपना अनुभव हमारे साथ

प्रेग्नेंसी से पहले आयडियल वेट (Ideal weight before pregnancy)

हेल्दी प्रेग्नेंसी के लिए जरूरी कि आपका वजन आयडियल हो। ओवरवेट होने के कारण बेबी के हेल्थ को रिस्क हो सकता है। ओवरवेट महिला अगर कंसीव करती है, तो प्रेग्नेंसी कॉम्प्लीकेशंस बढ़ सकते हैं। इसमें मिसकैरिज की समस्या से लेकर स्टिलबर्थ और बर्थ डिफेक्ट भी शामिल हो सकते हैं। हाय ब्लड प्रेशर के साथ ही महिला को जेस्टेशनल डायबिटीज (Gestational diabetes) का खतरा भी बढ़ जाता है। जिन महिलाओं का बीएमआई 30 या अधिक होता है, उनका वजन अधिक होता है। महिला का बीएमआई 25 से 29 अगर है, उसे अधिक वजन की श्रेणी में ही रखा जाएगा। आपको इससे प्रेग्नेंसी की शुरुआत में 25 पाउंड यानी 11 किलो से अधिक वजन नहीं बढ़ाना चाहिए। आपको वजन कम नहीं करना है क्योंकि प्रेग्नेंसी में तो वजन बढ़ता ही है। अगर महिला पहले से ही अधिक वजन की होगी, तो उसे प्रेग्नेंसी के दौरान बहुत सावधानी रखने की आवश्यकता पड़ेगी। प्रेग्नेंसी से पहले आयडियल वेट (Ideal weight before pregnancy) वेट के बारे में जानने के लिए आपको अपने डॉक्टर से भी जानकारी लेनी चाहिए।

और पढ़ें: अपनी पैंडेमिक प्रेग्नेंसी में खुद को कैसे मेंटली स्टेबल रखा, जानिए शिखा से

प्रेग्नेंसी से पहले आयडियल वेट घटाता है इनफर्टिलिटी की समस्या को

जिन महिलाओं का वजन अधिक होता है, उनमें इनफर्टिलिटी की समस्या (Infertility problem) का अधिक रिस्क होता है। अगर कंसीव करने से पहले महिला अपना वजन कंट्रोल कर लें, तो बांझपन की समस्या कुछ हद तक कम हो सकती है। महिला के बीएमआई या बॉडी मास इंडैक्स (Body mass index) की जांच के लिए उसकी हाइट और वेट (किलोग्राम) की जानकारी होना जरूरी है। आप वजन (किलोग्राम) / (ऊंचाई X ऊंचाई (मीटर में) के माध्यम से बीएमआई की गणना कर सकते हैं। डॉक्टर से जानकारी लें कि आपको कितना वजन कम करने की जरूरत है और प्रेग्नेंसी के दौरान कैसे वेट को मेंटन रखा जा सकता है। अगर आप कंसीव करने की सोच रही हैं और आपका वेट कम है, तो भी ये आपके लिए समस्या का विषय है। कम वजन के कारण भी कंसीव करने में समस्या हो सकती है।

और पढ़ें: क्या लिंक है प्रेग्नेंसी और एन्काइलॉसिंग स्पॉन्डिलाइटिस के बीच में? इस तरह से करें इस कंडिशन को मैनेज!

गर्भावस्था से पहले वजन का कम होना भी है समस्या का कारण

महिला का कम वजन कई कारणों से हो सकता है। अगर महिला ज्यादा डायटिंग कर रही है या फिर अनहेल्दी ईटिंग हैबिट है, तो ऐसे में ओव्युलेशन सायकल गड़बड़ हो सकती है या फिर मेंस्ट्रुअल सायरकिल पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है। इस फैक्टर्स के कारण कंसीव करने में समस्या का सामना करना पड़ सकता है। महिला का वजन कम है और इस कारण से उसे किसी प्रकार की समस्या है, तो इसका सीधा असर उसकी प्रेग्नेंसी में पड़ने की संभावना रहती है। जिन महिलाओं के वजन कम होता है, उन महिलाओं में कम वजन के बच्चे को जन्म देने की अधिक संभावना होती है। अगर आपका वजन कम है, तो आपको डॉक्टर से जानकारी लेनी चाहिए कि खाने में क्या एड किया जा सकता है और किन तरीकों से वजन बढ़ाया जा सकता है। हो सकता है कि डॉक्टर आपको कुछ सप्लिमेंट्स लेने की राय भी देंगे।

और पढ़ें: मिसकैरिज के बाद कंसीव करते समय क्या बातें पता होनी चाहिए?

प्रेग्नेंसी से पहले वेट ऐसे करें कम

अगर आप कंसीव करने के बारे में सोच रही हैं और आपका वजन अधिक है, तो आपको कुछ उपायों को अपनाना चाहिए, ताकि आपका वजन कम हो सके और आप हेल्दी प्रेग्नेंसी एंजॉय कर सकें।

  • अगर आप एक्सरसाइज नहीं करते हैं, तो सबसे पहले आपको अपनी दिनचर्या में व्यायाम को शामिल करना चाहिए।
  • आपको खाने के लिए ऐसे फूड्स की जरूरत है, जो आपको हेल्दी रखें न कि आपका वजन बढ़ाएं।
  • खाने में फाइबर युक्त भोजन के साथ ही फ्रेश फ्रूट्स और फ्रेश वेजीटेबल्स को शामिल करें।
  • देर रात तक जागने की आदत को छोड़ना बेहतर होगा। आप शाम को सात से आठ बजे के बीच में डिनर कर लें और उसके बाद कुछ भी न खाएं।
  • रोजाना ब्रेकफास्ट (Breakfast) जरूर करें। आप ब्रेकफास्ट में हेल्दी स्नैक्स शामिल कर सकती हैं।
  • वजन को कम करने के लिए कभी भी भूखा रहने की कोशिश न करें। भूखा रहने से आपका शरीर कमजोर हो सकता है।
  • आप अगर एक्सरसाइज के लिए ज्यादा समय नहीं निकाल पा रही हैं, तो कम से कम आधा घंटा वॉक जरूर करें।
  • आपको स्मोकिंग या एल्कोहॉल जैसी बुरी आदतों से दूरी बनाने की भी जरूरत है।
  • अगर वजन आपका कम है, तो आपको एडिशनल फूड्स भी एड करने पड़ेगे।

कंसीव करने से पहले वजन कम हो या फिर ज्यादा, आपको दोनों ही कंडीशन में डॉक्टर से इस संबंध में जानकारी लेनी चाहिए और डॉक्टर की ओर से बताए गए तरीकों को अपनाना चाहिए। अगर प्रेग्नेंसी से पहले आपको कोई बीमारी है, तो बेहतर होगा कि आप पहले उसका ट्रीटमेंट करा लें। प्रेग्नेंसी से पहले आयडियल वेट (Ideal weight before pregnancy) आप सकती हैं लेकिन आपको सावधानियां रखते हुए कुछ उपायों को अपनाने की जरूरत है।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी : जानिए कंसीव करने से लेकर मां का ख्याल रखने तक की पूरी जानकारी!

हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार उपलब्ध नहीं कराता है। इस आर्टिकल में हमने आपको प्रेग्नेंसी से पहले आयडियल वेट (Ideal weight before pregnancy) के बारे में जानकारी दी है। उम्मीद है आपको हैलो हेल्थ की दी हुई जानकारियां पसंद आई होंगी। अगर आपको इस संबंध में अधिक जानकारी चाहिए, तो हमसे जरूर पूछें। हम आपके सवालों के जवाब मेडिकल एक्स्पर्ट्स द्वारा दिलाने की कोशिश करेंगे।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

सायकल की लेंथ

(दिन)

28

ऑब्जेक्टिव्स

(दिन)

7

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 20/09/2021 को
Sayali Chaudhari के द्वारा मेडिकली रिव्यूड