home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

कॉन्ट्रासेप्टिव पैच (Contraceptive Patch) क्या है? जानिए इसके फायदे और नुकसान

कॉन्ट्रासेप्टिव पैच (Contraceptive Patch) क्या है? जानिए इसके फायदे और नुकसान

महिलाएं आजकल अनचाहे गर्भ से बचने के लिए कंडोम और गर्भ निरोधक दवाइयों का इस्तेमाल नियमित तौर पर कर रही हैं। इसे बर्थ कंट्रोल करने का भी अच्छा साधन माना जाता है। कंडोम और गर्भ निरोधक दवाइयों के अलावा एक विधि और आई है जिसका नाम कॉन्ट्रासेप्टिव पैच है। इसे बर्थ कंट्रोल पैच भी कह सकते हैं।

साल 2002 में सबसे पहले कॉन्ट्रासेप्टिव पैच मार्केट में आया था। 17 साल बीत जाने के बाद भी लोगों को इसके बारे में जानकारी नहीं है। जन्म नियंत्रण पैच हार्मोनल गर्भनिरोधक की एक विधि है। इसको शरीर पर चिपकाने भर से आप अनचाहे गर्भ से बच सकती हैं। ये धीरे-धीरे आपके शरीर से हार्मोन रिलीज करता है। आइए जानते हैं कि ये कैसे काम कर करता है।

और पढ़ें : कंडोम कैसे इस्तेमाल करें? जानिए इसके सुरक्षित टिप्स

कॉन्ट्रासेप्टिव पैच (Contraceptive Patch) कैसे काम करता है?

जन्म नियंत्रण पैच में हाॅर्मोन के दो मानव निर्मित संस्करण एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन पाए जाते हैं। पैच को शरीर पर चिपकाने के बाद यह हार्मोन को अवशोषित करता है, जिससे अंडे अंडाशय में नहीं जा पाते। यह एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन ग्रीव बलगम को मोटा कर देता है और स्पर्म को गर्भाशय में जाने से रोकता है। इसको इस्तेमाल करने का तरीका भी बेहद आसान है।

कॉन्ट्रासेप्टिव पैच नाम से ही जाहिर है कि यह किसी स्टिकर की तरह होता होगा। इस पर चिपकी पन्नी को हल्के हाथों से हटा दिया जाता है। ये पैच शरीर में सूखी जगहों पर लगाना चाहिए। जैसे पेट, बांह या कंधा आदि। ध्यान रहे कि चिपचिपे भाग पर हाथ न लगाएं। इसे आराम से अपनी त्वचा से चिपका लें। इस पैच को लगाने के एक हफ्ते बाद इसे हटा दें। तीन हफ्ते तक इस प्रक्रिया को कर सकते हैं।

और पढ़ें : फीमेल कंडोम और मेल कंडोम में क्या अंतर है?

कॉन्ट्रासेप्टिव पैच के साइड इफेक्ट्स(Side effect of Contraceptive Patch)

गर्भ निरोधक गोलियों की तरह इसके भी कुछ साइड इफेक्ट होते हैं। पैच लगाने के बाद त्वचा में जलन हो सकती है। सिर में दर्द रहता है। स्तन में सूजन और दर्द रहता है। योनि से अनियमित खून आ सकता है। वजन बढ़ने लगता है। इसके अलावा पैच के बहुत से फायदे भी होते हैं।

पैच लगाने से मासिक धर्म के समय दर्द से राहत मिलती है। प्रेग्नेंट होने की संभावना कम हो जाती है। मासिक धर्म को नियंत्रित करता है। यह मुंहासों को ठीक करने में भी मदद करता है। महिलाओं को ओवरी कैंसर जैसे खतरों से भी बचाता है।

और पढ़ें: रोमांस करने से पहले अपने बेडरूम को इस तरह दें नया लुक

कॉन्ट्रासेप्टिव पैच के लिए खुद को कैसे तैयार करें (How to prepare yourself for Contraceptive Patch)

आपको अपने डॉक्टर से कॉन्ट्रासेप्टिव पैच के लिए एक प्रेस्क्रिप्शन की जरूरत होगी। आपका डॉक्टर आपके मेडिकल हिस्ट्री की समीक्षा करेगा और आपके ब्लड प्रेशर की जांच करेगा। अपने डॉक्टर से ऐसी किसी भी दवा के बारे में बताएं जो आप ले रहे हैं वह चाहें नॉनस्प्रेस्क्रिप्शन दवाएं हो या फिर हर्बल प्रोडक्ट।

कॉन्ट्रासेप्टिव पैच को शुरू करने के बारे में अपने डॉक्टर से बात करें (Discuss with Doctor)

अगर आप पहली बार कॉन्ट्रासेप्टिव पैच का उपयोग कर रहे हैं, तो उस दिन तक प्रतीक्षा करें जब तक आपकी पीरियड्स शुरू नहीं हो जाते हें। अगर आप पहले दिन को शुरुआत के लिए उपयोग करते हैं, तो आप अपनी अगली पीरियड्स के पहले दिन अपना पहला कॉन्ट्रासेप्टिव पैच लगाएंगे। ऐसे में आपको गर्भनिरोधक की कोई बैकअप विधि की जरूरत नहीं होगी। अगर आप रविवार से पैच का उपयोग करते हैं, तो अपने पीरियड्स शुरू होने के बाद आप पहले रविवार को अपना पहला पैच लागू करेंगे। पहले सप्ताह के लिए गर्भनिरोधक की एक बैकअप विधि का उपयोग करें।

और पढ़ेंः भारत ने बनाया पहला पुरुष गर्भनिरोधक इंजेक्शन!

कॉन्ट्रासेप्टिव पैच लगाने के लिए जगह चुनें (Choose a place to apply the contraceptive patch)

आप पैच को अपने बट्स, ऊपरी बाहरी बांह, निचले पेट या ऊपरी शरीर पर लगा सकते हैं। इसे अपने स्तनों पर या ऐसी जगह पर न रखें जहां इसे रगड़ा जाएगा, जैसे कि ब्रा के पट्टे के नीचे। साफ और सूखी त्वचा पर लागू करें। त्वचा के उन क्षेत्रों से बचें जो लाल, जलन देते हो या कटे हुए हैं। लोशन, क्रीम, पाउडर या मेकअप को उस त्वचा के क्षेत्र पर न लगाएं जहां पैच होगा। अगर त्वचा की जलन विकसित होती है, तो पैच को हटा दें और एक अलग क्षेत्र में एक नया पैच लागू करें।

और पढ़ें: कई लोगों के साथ ओरल सेक्स करने से काफी बढ़ जाता है सिर और गले के कैंसर का खतरा

जन्म नियंत्रण पैच से संबंधित कुछ जरूरी बातें

इसे स्तनों पर बिल्कुल न चिपकाएं। अगर आप स्तनपान कराती हैं तो ये 6 हफ्तों में आपके दूध की मात्रा और गुणवत्ता को प्रभावित कर सकता है। बच्चे के जन्म से करीब 6 हफ्ते बाद तक ही इसका इस्तेमाल करें। दूध में इन हॉर्मोन के कुछ अंश हो सकते हैं, लेकिन ये बच्चों को कोई नुकसान नहीं पहुंचाते हैं। पैच का इस्तेमाल करने से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

जहां पर कॉन्ट्रासेप्टिव पैच लगा हो वहां पाउडर या लोशन जैसे किसी भी केमिकल का इस्तेमाल न करें। ये पैच को अच्छे से चिपकने नहीं देता। पूरे दिन इस पैच पर ध्यान देना चाहिए। एक हफ्ते बाद पैच को जरूर हटाएं। इसे हमेशा किसी पेपर में लपेटकर कचरे के डब्बे में डालें। पैच लगे स्थान पर पानी पड़ने के अलावा सीधी धूप लगने से भी बचाएं।

और पढ़ें : कॉपर टी (Copper T) कैसे इस्तेमाल करें, जानें इसके फायदे और नुकसान

इसका उपयोग पीरियड रोकने के लिए भी होता है। जब आप अपने पीरियड्स को रोकने के लिए बर्थ कंट्रोल पैच का उपयोग करती हैं तो आपको पहले छह महिनों तक हल्‍का रक्‍तस्राव या स्‍पॉटिंग हो सकती है। यह सामान्य है। आपको गर्भवती होना है तो बस आप अपने बर्थ कंट्रोल पैच को हटा दें। ऐसा करने पर आप गर्भवती होने की कोशिश करने के लिए तैयार हैं।

अगर कॉन्ट्रासेप्टिव पैच ढीला होकर निकल जाए या गिर जाए तो घबराने की जरूरत नहीं है। दो दिन के अंदर नया पैच लगा लें। इस बात का ध्‍यान रखें कि अब से यह नया पैच बदलने का दिन होगा। इस दौरान भी आप कंडोम का इस्तेमाल कर सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Contraceptive patch Accessed on 5/11/2019

Birth Control Patch Accessed on 5/11/2019

Birth Control Patch Accessed on 5/11/2019

Birth Control Patch (Transdermal Contraceptive) Accessed on 9/12/2019

Ortho Evra (contraceptive patch) Accessed on 9/12/2019

Birth Control Patch Accessed on 9/12/2019

Birth Control Patch Accessed on 9/12/2019

 

 

 

 

 

लेखक की तस्वीर badge
Mona narang द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 24/03/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x