योनि में गीलापन क्या है? जानिए वजाइनल डिस्चार्ज के बारे में विस्तार से

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जुलाई 27, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

महिलाएं अक्सर योनि संबंधी कई रोगों को महसूस करती हैं। यह समस्याएं मासिक धर्म, इन्फेक्शन, बीमारी आदि के कारण हो सकती हैं। योनि एक श्लेष्म झिल्ली (mucous membrane) है। एक स्वस्थ योनि की त्वचा और ऊतक हमेशा गीले होते हैं। इनके गीला होने के पीछे कई कारण होते हैं और इन पर ही निर्भर करता है कि आपकी योनि कितना तरल पदार्थ पैदा करती है। इसका गीला होना सेक्स(गीला सेक्स) के कारण भी हो सकता है। जानिए योनि के गीला होने के पीछे क्या कारण होते हैं और इससे जुड़े अन्य सवालों और जवाबों के बारे में।

जब योनि गीली होती है तो क्या होता है?

आमतौर पर योनि तब गीली होती है, जब महिला सेक्सुअली उत्तेजित होती है, ऐसे में गुप्तांगों से खून का प्रवाह बढ़ जाता है। इसके साथ ही योनी और क्लाइटोरिस (भगशेफ) सूज जाती है और योनि स्वयं लुब्रिकेटस का काम करती है। इस लुब्रिकेशन यानी योनि का गीलापन सेक्स को आसान बनाता है। यानी यह  सेक्स आरामदायक और मजेदार होता है। 

और पढ़ें: योनि हाइलाइटर के बारे में सुना है, कितना सुरक्षित है इसका इस्तेमाल

एक अन्य तरह का गीलापन भी होता है जिसे योनि के डिस्चार्ज के नाम से भी जाना जाता है। यह यौन उत्तेजना के बिना भी कभी भी हो सकता है। यह सामान्य डिस्चार्ज गाढ़ा, सफेद रंग, चिपचिपा या साफ हो सकता है। योनि का यह डिस्चार्ज सामन्य और स्वस्थ होता है या आप ऐसा कह सकते हैं कि योनि का यह तरीका है स्वयं को प्राकृतिक रूप से साफ करने का होता है। 

 योनि में हमेशा गीलापन क्यों महसूस होता है?

योनि द्वारा जो लुब्रिकेशन होती है उसकी मात्रा और गुणवत्ता हर स्त्री के लिए अलग होती है। लेकिन, अगर आपको ऐसा लगता है कि यह डिस्चार्ज आपके ऊपर बुरा प्रभाव डाल रहा है तो आपको इसके कारणों के बारे में जानना चाहिए और साथ ही यह भी पता होना चाहिए कि इस स्थिति में क्या किया जाए।

कई स्थितियों में योनि से होने वाले डिस्चार्ज की मात्रा बढ़ जाती है, जैसे:

  • इंफेक्शन होने की स्थिति में डिस्चार्ज की मात्रा और गुणवत्ता बढ़ जाती है। जिसके कारण इससे गन्दी बदबू आती है और यह डिस्चार्ज सफेद रंग का हो सकता है। इसके साथ ही इसके होने से पेट में दर्द, खारिश हो सकती है।

अगर यह सेक्स के दौरान डिस्चार्ज बहुत अधिक हो तो यह गीला सेक्स, इस दौरान कई समस्याओं का कारण बन सकता है जैसे:

  • सेक्स के दौरान असहजता -यानी सेक्स के दौरान योनि के अधिक गीला होने पर यह गीला सेक्स असुविधाजनक हो सकता है।
  • पेनेट्रेशन के दौरान लिंग या सेक्स टॉय की पकड़ का कमजोर होना

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

अगर इंफेक्शन न तो इसके अन्य कारण क्या हो सकते हैं?

  • पेल्विक कंजेशन – यह एक ऐसी स्थिति है जहां इस जगह के ब्लड वेसल में सूजन आ जाती है। जैसे पैरों में वैरिकाज़ नसों के समान।
  • पेल्विक एरिया में कमजोरी।
  • हॉर्मोन्स
  • गर्भाशय फाइब्रॉएड और विकास।
  • फिस्टुलास – कभी-कभी मूत्राशय और योनि के बीच एक असामान्य कनेक्टिंग मार्ग बन सकता है। जिससे योनि में रिसाव हो सकता है। जो लगातार गीलापन की अनुभूति देता है।

क्या योनि से डिस्चार्ज होना सामान्य है ?

योनि स्राव योनि और सर्विक्स (गर्भाशय ग्रीवा) के स्किन सेल्स द्वारा महिला हार्मोन, एस्ट्रोजन के प्रभाव के कारण होता है। जिन महिलाओं को रजोनिवृत्ति सामान्य रूप से होती है, उनमें एस्ट्रोजेन के कम स्तर के कारण कम से कम योनि स्राव होता है। जिन महिलाओं में रजोनिवृत्ति पहले हो जाती है, उन्हें लगभग अधिक मात्रा में सफ़ेद, गाढ़ा, बलगम जैसा और ज्यादातर गंधहीन वजाइनल डिस्चार्ज हर दिन सामान्य रूप से हो सकता है। हालांकि, इस डिस्चार्ज की मात्रा हर महिला के लिए अगल हो सकती है। मासिक धर्म चक्र के दौरान यह डिस्चार्ज अलग-अलग समय पर भी भिन्न हो सकती है। कुछ स्थितियों में इस पर अधिक ध्यान देना चाहिए जैसे गर्भावस्था, गर्भ निरोधक गोलियों, पैच आदि का प्रयोग,मासिक धर्म से पहले सप्ताह में

सामान्यतया इस डिस्चार्ज में वजाइनल स्किन सेल, बैक्टीरिया, बलगम शामिल होते है। एक सामान्य डिस्चार्ज में अक्सर हल्की गंध होती है और इससे योनि में हल्की जलन हो सकती है। 

और पढ़ें: Quiz: व्हाइट डिस्चार्ज (White Discharge) क्विज खेलें और जान लें व्हाइट डिस्चार्ज की पूरी जानकारी

योनि के गीलेपन या वजाइनल डिस्चार्ज को कौन-कौन से कारक प्रभावित करते हैं?

मासिक धर्म 

मासिक धर्म के दौरान योनि से होने वाला स्त्राव बदलता रहता है। अगर आप किसी तरह के हार्मोन्स का प्रयोग नहीं कर रहे हैं तो यह डिस्चार्ज मासिक धर्म साइकिल के बीच में पतला और अधिक होता है। क्योंकि, यह ओवुलेशन पीरियड होता है। मासिक धर्म के पहले यह गाढ़ा हो जाता है।

सेक्स

अधिकतर महिलाएं सेक्स के बाद योनि डिस्चार्ज में अधिकता यानी गीला सेक्स और गंध में बदलाव महसूस करती हैं। खासतौर पर अगर यह शारीरिक सम्बन्ध बिना कंडोम के इस्तेमाल के बनाएं गए हों। ऐसे में यह वजाइनल डिस्चार्ज कई दिनों तक रह सकता है। वीर्य योनि pH में बदलाव ला सकता है। इसके साथ ही इससे गंध भी बदल सकती है। वीर्य की मात्रा के कारण भी योनि के डिस्चार्ज में बढ़ोतरी हो सकती है।

हार्मोन्स या मेडिकेशन्स

कुछ दवाईआं और हार्मोन्स भी वैजिनल डिस्चार्ज को बढ़ा सकते हैं जैसे बर्थ कण्ट्रोल पिल आदि।

कोई अन्य चीज / अंतगर्भाशयी उपकरण

लंबे समय तक आपकी योनि के अंदर अगर कुछ रह गया हो तो इससे भी योनि के डिस्चार्ज या मात्रा प्रभावित हो सकती है। जो महिलाएं अपने टैम्पोन को बाहर निकालना भूल जाती हैं, वे अक्सर अधिक मात्रा में डिस्चार्ज और गन्दी गंध की मात्रा का अनुभव कर सकती हैं। अंतगर्भाशयी उपकरण (आईयूडी) आपके योनि द्रव की स्थिरता और मात्रा को बदल सकते हैं। प्रोजेस्टेरोन युक्त आईयूडी जैसे कि मिरेना या लिलेट्टा अक्सर गाढ़ी मात्रा, गंध में परिवर्तन और pH शिफ्ट का उत्पादन करते हैं। जो बैक्टीरियल योनिशोथ (vaginitis) का कारण बन सकते हैं। लेकिन यह सुरक्षित हैं, और लंबे समय तक गर्भनिरोधक के रूप में प्रयोग किया जा सकता है। 

और पढ़ें: क्यों आती है योनि से बदबू? जानिए इसके घरेलू उपचार

योनि की स्वच्छता

योनि की सफाई बेहद जरूरी है लेकिन अधिक खुशबू वाले साबुन या अन्य चीजों का प्रयोग, लगातार  टच करना आदि योनि के लिए नुकसानदायक हो सकता है। कई प्रकार के प्राकृतिक बैक्टीरिया हैं, जो हर महिला की योनि में रहते हैं। ऐसे में ऐसी चीजों के प्रयोग से संक्रमण फैल सकता है। इसलिए अगर आप योनि में अत्यधिक स्त्राव महसूस कर रहे हैं, जिससे आपकी रोजाना की जिंदगी प्रभावित हो रही है या आपको सेक्स में परेशानी हो रही है (आप गीला सेक्स महसूस कर रहे हैं) तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लें।

अपनी योनि को कैसे स्वस्थ रखें 

अपनी योनि को स्वस्थ रखने के लिए आप निम्नलिखित तरीके अपना सकते हैं : 

जिम्मेदार बनें 

अपनी योनि को स्वस्थ रखने के लिए और अगर आप चाहते हैं कि आपको सेक्सुअली ट्रांसमिटेड इन्फेक्शन न हो, तो आप अपने साथी के साथ अपने रिश्ते को सही रखें। कंडोम का प्रयोग करें। साफ-सफाई का ध्यान रखें। अगर आप सेक्स टॉय का प्रयोग करते हैं तो प्रयोग के बाद उसे अच्छे से साफ करें।

वैक्सीन 

आप वैक्सीन के प्रयोग से ह्यूमन पैपिलोमा वायरस (HPV), से बच सकते हैं, जो सर्वाइकल कैंसर और हेपेटाइटिस बी से जुड़ा हुआ है। यह एक गंभीर लिवर इन्फेक्शन है जो यौन संबंधों द्वारा फैल सकता है।

और पढ़ें: पीरियड्स में योनि में जलन क्यों होती है? जानिए इसके कारण और इलाज

कीगल एक्सरसाइज 

कीगल एक्सरसाइज करने से पेल्विक से जुड़ी मांसपेशियां मजबूत होती है। अगर आपको प्रोलैप्स, यूरिन का रिसाव और पेल्विक क्षेत्र में कमजोरी जैसी समस्याएं हैं तो इस एक्सरसाइज से आपको लाभ होगा।

अपनी दवाईओं का ध्यान रखें 

अगर आप कोई दवाई ले रहे हैं। तो उनका आपकी योनि पर कोई साइड इफ़ेक्ट तो नहीं होगा। इसके बारे में डॉक्टर से जान लें।

स्मोकिंग न करें

अगर आप स्मोकिंग करते हैं या शराब पीते हैं तो उसे छोड़ दें। इनका अधिक सेवन यौन फंक्शन पर प्रभाव डालता है।

पोषक तत्व और तरल पदार्थों का सेवन

अपनी योनि को स्वस्थ रखने में आपका आहार भी मुख्य भूमिका निभाता है। इसलिए सही आहार लें और भरपूर मात्रा में पानी और अन्य तरल पदार्थों का सेवन करें।

सभी योनि संबंधी समस्याओं को रोका नहीं जा सकता है। लेकिन, नियमित जांच से आपकी योनि को प्रभावित करने वाली समस्याओं का जल्द से जल्द निदान किया जाए। इसके साथ ही उपचार भी सही तरीके और समय पर हो जाएगा। अपने चिकित्सक से आपके योनि स्वास्थ्य के बारे में बात करने या बताने से न शर्माएं।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

योनि हाइलाइटर के बारे में सुना है, कितना सुरक्षित है इसका इस्तेमाल

चेहरे और गाल की तरह ही अब योनि हाइलाइटर का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। योनि हाइलाइटर का इस्तेमाल कैसे करें, कैसी सावधानी बरतें, इसके बारे में यहां पढ़ें।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Ankita mishra
ब्यूटी/ ग्रूमिंग, स्वस्थ जीवन सितम्बर 26, 2019 . 2 मिनट में पढ़ें

योनि से जुड़े तथ्य, जो हैरान कर देंगे

जानिए योनि से जुड़े तथ्य in Hindi, योनि से जुड़े तथ्य क्या हैं, Vagina Facts, योनि क्या है, Vagina in Hindi Meaning, वजायना क्या है।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Ankita mishra
सेक्शुअल हेल्थ और रिलेशनशिप, स्वस्थ जीवन सितम्बर 19, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

जानिए क्यों होती है योनि में खुजली? ऐसे करें उपचार

जानिए योनि में खुजली (Itching in vagina) क्यों होती है? क्या यह है कोई गंभीर परेशानी? कैसे बचें इस परेशानी से और किन बातों का रखें ख्याल?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Ankita mishra

पीरियड्स में योनि में जलन क्यों होती है? जानिए इसके कारण और इलाज

पीरियड्स में योनि में जलन क्या है, क्यों होता पीरियड्स में योनि में जलन, योनि में जलन से होने वाली परेशानियां, योनि में जलने के लिए घरेलू उपचार,जानें

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Ankita mishra

Recommended for you

हिस्टेरेक्टॉमी के बाद सेक्स

क्या हिस्टेरेक्टॉमी (Hysterectomy) सर्जरी के बाद भी सेक्स लाइफ रहेगी हिट?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ सितम्बर 10, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
थर्ड ट्राइमेस्टर में वाइट डिस्चार्ज- Third Trimester me White Discharge

क्या थर्ड ट्राइमेस्टर में व्हाइट डिस्चार्ज होना सामान्य है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Ankita mishra
प्रकाशित हुआ अप्रैल 15, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
Vaginoplasty : वजाइनोप्लास्टी

Vaginoplasty : वजाइनोप्लास्टी क्या है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Sharayu Maknikar
के द्वारा लिखा गया Ankita mishra
प्रकाशित हुआ नवम्बर 13, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें
महिलाओं में सिफलिस-Syphilis (Female)

ये हैं वजायना में होने वाली गंभीर बीमारियां, लाखों महिलाएं हैं ग्रसित

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Sidharth Chaurasiya
प्रकाशित हुआ अक्टूबर 24, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें