आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

कोविड-19 में मासिक धर्म स्वच्छता का ध्यान रखना है बेहद जरूरी

    कोविड-19 में मासिक धर्म स्वच्छता का ध्यान रखना है बेहद जरूरी

    पूरी दुनिया बेहद संक्रामक वायरस कोविड-19 के खतरे से जूझ रही है। इससे बचने के लिए साफ-सफाई और सोशल डिस्टेंसिंग अपनाना ही बेस्ट है। पर्सनल हाइजीन को बनाए रखने के लिए बार-बार हाथों को साबुन से धोने की सलाह दी जाती है। घर के अंदर रहने के अलावा संतुलित आहार और व्यायाम करने की सलाह दी जा रही है। इससे शरीर को बीमारियों से लड़ने में आसानी होगी, लेकिन पीरियड्स के दौरान महिलाओं को अपने स्वास्थ्य पर और भी ज्यादा ध्यान देने की जरूरत होती है। वहीं कोविड-19 में मासिक धर्म स्वच्छता और महत्वपूर्ण हो जाती है।

    माहवारी के दौरान महिलाओं में बीमारियों से लड़ने की शक्ति कम हो जाती है। ऐसे में उनमें इंफेक्शन की संभावना भी बढ़ जाती है। इसलिए, कोविड-19 में मासिक धर्म स्वच्छता के साथ स्वास्थ्य और पोषण पर ध्यान दें। अक्सर महिलाएं परिवार की देखभाल के चक्कर में खुद की केयर करना भूल जाती हैं। इसके लिए नीचे कुछ ऐसे निर्देश दिए गए हैं जिन से आप अपने स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रख सकती हैं और पीरियड्स के दिनों में होने वाले कई तरह के संक्रमण से बच सकती हैं।

    एक्सपर्ट की सलाह

    परिधी मंत्री जो परी सैनेटरी नेपकिन्स में कंज्यूमर इनसाइट्स एण्ड प्रोडक्ट इनोवेशन की प्रबंधक हैं, कोविड-19 में मासिक धर्म स्वच्छता को बनाए रखने के लिए कुछ सुझाव बता रही हैं। परी को इनके आधुनिक एवं हैवी फ्लो चैम्पियन सैनेटरी नेपकिन्स के लिए जाना जाता है। जो मेंस्ट्रुएशन में हैवी फ्लो के दिनों में भी ड्रायनेस का अहसास देता है। यहां पर कोविड-19 में मासिक धर्म स्वच्छता के लिए कुछ सुझाव दिए गए हैं जिनको अपनाकर माहवारी के दौरान स्वच्छ एवं स्वस्थ जीवनशैली को महिलाएं अपना सकती हैं।

    यह भी पढ़ें : स्टडी : मेंस्ट्रुअल कप का उपयोग होता है सेफ और प्रभावी

    कोविड-19 में मासिक धर्म स्वच्छता बनाए रखने के टिप्स

    हर महिला को मासिक धर्म के दौरान साफ-सफाई का खास ख्याल रखने की जरूरत होती है। क्योंकि इस समस्य शरीर की गंदगी ब्लड के रूप में बाहर आती है। इस दौरान अगर लापरवाही बरती जाती है, तो संक्रमण होने की संभावना बढ़ सकती है। इसलिए, इन बातों का खास ख्याल रखें-

    • हर चार से पांच घंटे में अपना सैनेटरी नेपकिन बदलें और हर बार सैनेटरी पैड्स बदलते समय अपने प्राइवेट पार्ट्स को धोकर साफ करें।
    • हमेशा अच्छी क्वालिटी का ही सैनेटरी पैड इस्तेमाल करें, जो आपको दिनभर ड्रायनेस और कोमलता का एहसास दे सके। इससे आपको त्वचा पर रैशेस या खुजली भी नहीं होगी।
    • जब आप सैनेटरी पैड बदलती हैं, तो उसे धोएं या टॉयलेट में फ्लश न करें। बल्कि, उसे पेपर में लपेटकर डस्टबिन में डालें।
    • कई महिलाएं बहुत ज्यादा ब्लीडिंग की वजह से स्पॉट लगने के डर के कारण एक साथ दो पैड का इस्तेमाल करती है जो कि गलत है। बता दें इससे आपको इंफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए, अगर आपको हैवी ब्लड फ्लो होता है तो पैड को जल्दी-जल्दी बदल सकती हैं।
    • अगर आप सैनेटरी पैड्स का इस्तेमाल कर रही हैं, तो पैक पर दिए गए न‍िर्देशों को बेहद सावधानी से फॉलो करें। सैनेटरी नैपकिन्स को ठीक से लगाने के ल‍िए थोड़ा समय लें, क्योंकि अगर पैड्स सही तरीके से नहीं लगेगा तो रैशेज होने की संभावना बढ़ जाती है।
    • कोविड-19 में मासिक धर्म स्वच्छता को बनाए रखने के लिए साफ-सुथरे अंडरवियर पहनें। इसके साथ ही याद रखें कि फैब्रिक आरामदायक हो ताकि वजायना तक हवा पहुंचती रहे। इसके अलावा अपने इनरवियर को भी बदलती रहें। खासकर अगर आपको पसीना अधिक आता है, तो इनरवियर जल्दी-जल्दी बदलें।
    • मेंस्ट्रुएशन के दौरान हाइजीन मेंटेन करने के लिए दिन में एक बार नहाना भी जरूरी है। मासिक धर्म के दौरान आने वाले स्मेल को दूर करने के लिए महिलाओं को निजी अंगों की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देना चाहिए। पीरियड्स क्रैंप से छुटकारा पाने के लिए हल्के गर्म पानी से नहाएं।
    • कोविड-19 में मासिक धर्म स्वच्छता को बनाए रखने के लिए गंदगी और इंफेक्‍शन से बचने के लिए अपनी बेडशीट भी बदलती रहें।
    • आप सैनेटरी पैड्स के अलावा टैम्पोन्स और मेंस्ट्रुअल कप्स का भी इस्तेमाल कर सकती हैं। यदि टैम्पॉन का इस्तेमाल कर रही हैं तो हर दो घंटे के अंदर इसे बदलें। कोविड-19 में मासिक धर्म स्वच्छता के दौरान वही इस्तेमाल करें जिसमें कम्फर्टेबल महसूस करती हैं।
    • आप पीरियड्स के दौरान जब भी वॉशरूम जाएं, तो पैड बदलने के बाद हैंडवॉश से अच्छी तरह से हाथ धोएं। इससे साफ-सफाई बनी रहती है।
    • कुछ राज्यों में लॉकडाउन में सैनेटरी पैड्स की समस्या भी हो रही है। ऐसे में कोविड-19 में मासिक धर्म स्वच्छता बनाए रखने के लिए आप कॉटन के कपड़े का भी इस्तेमाल कर सकती हैं। बस याद रखें कपड़े को इस्तेमाल करने से पहले डिटॉल से अच्छी तरह से धो लें। साथ ही एक बार इस्तेमाल किए हुए कपड़े को बार-बार धोकर इस्तेमाल करने से बचें। इससे संक्रमण तेजी से फैलता है।

    ये आसान से स्टेप्स फॉलो करके आप कोविड-19 में मासिक धर्म स्वच्छता को बनाए रख सकती हैं और इंफेक्शन से खुद को बचा सकती हैं। साथ ही आगे घर में कोई लड़की है तो उसे भी पीरियड्स के दौरान हाइजीन के महत्व को समझाएं।

    यह भी पढ़ें : लॉकडाउन: महामारी के समय पीरियड्स नहीं रुकते, फिर सेनेटरी पैड की बिक्री भी नहीं रुकनी थी…

    रखें इन बातों का भी ध्यान

    • हल्का-फुल्का शारीरिक और मानसिक व्यायाम करें। योगा, मेडिटशन और हल्के व्यायाम पीरियड्स के दिनों में अच्छे साबित हो सकते हैं। इससे बीमारियों से लड़ने की ताकत बढ़ती है। हालांकि, हैवी एक्सरसाइज करने की मनाही होती है।
    • संतुलित आहार लें। खाने-पीने की आदतों का असर आपके स्वास्थ्य पर पड़ता है। मासिक धर्म के दौरान विटामिन और प्रोटीन से भरपूर आहार का सेवन करें। अपने आहार में फल, अंकुरित अनाज, डेयरी प्रोडक्ट्स और सूखे मेवे शामिल करें। इस समय मांसाहारी आहार न लेना ही बेहतर होगा।
    • आराम करें, तनाव से बचें। कम से कम 8 घंटे की नींद लें, अपने शरीर को आराम देने के लिए पर्याप्त समय निकालें।

    घर के काम-काज इस तरह से करें कि आपको थकान न हो। इसके लिए बीच-बीच में ब्रेक लें। आप पेंटिंग, रीडिंग या फिटनेस एक्टिविटी भी कर सकती हैं। लॉकडाउन के दौरान अपने मन और शरीर के स्वास्थ्य पर ध्यान दें। अपने परिवार के सदस्यों में भी पर्सनल हाइजीन को बढ़ावा दें। इन छोटे-छोटे उपायों से आप अपने स्वास्थ्य को उत्तम रख सकती हैं। उम्मीद करते हैं आपको कोविड-19 में मासिक धर्म स्वच्छता पर लिखा गया यह एक्सपर्ट आर्टिकल पसंद आया होगा। इस आर्टिकल में दी गई जानकारियां आपके काम आएंगी, जिससे आप पीरियड्स के दौरान साफ-सफाई का खास ध्यान रख पाएंगी। खुद को इंफेक्शन से बचा सकेंगी।

    ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

    अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

    ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

    ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

    अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

    ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

    सायकल की लेंथ

    (दिन)

    28

    ऑब्जेक्टिव्स

    (दिन)

    7

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    Menstrual Hygiene/https://www.wvi.org/clean-water-sanitation-and-hygiene-wash/menstrual-hygiene/Accessed on 05/05/2020

    Menstrual Hygiene: How Hygienic is the Adolescent Girl?/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2784630/Accessed on 05/05/2020

    Menstrual Hygiene Management Enables Women and Girls to Reach Their Full Potential/https://www.worldbank.org/en/news/feature/2018/05/25/menstrual-hygiene-management/Accessed on 05/05/2020

    Guidance on Menstrual Health and Hygiene/https://www.unicef.org/wash/files/UNICEF-Guidance-menstrual-health-hygiene-2019.pdf/Accessed on 05/05/2020

    Covid 19 Lockdown and Sanitary pads: https://www.shethepeople.tv/coronavirus/sanitary-napkins-essential-commodity-lockdown Accessed on 05/05/2020

    Period problems. https://www.womenshealth.gov/menstrual-cycle/period-problems. Accessed on 05/05/2020

     

    लेखक की तस्वीर badge
    परिधी मंत्री द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 27/11/2020 को
    Next article: