महिलाओं के लिए रेगुलर हेल्थ चेकअप है जरूरी, बढ़ती उम्र के साथ रखें इन बातों का ध्यान

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट July 14, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

महिलाओं को बढ़ती उम्र के साथ एक तय अंतराल पर डॉक्टर से मिलकर सामान्य जांच यानी रेगुलर हेल्थ चेकअप करवाना चाहिए। रेगुलर हेल्थ चेकअप करवाने से कई बड़ी बीमारियों को रोका जा सकता है। डॉक्टर आपकी मेडिकल हिस्ट्री, आपके परिवार के किसी भी प्रकार के बीमारी के इतिहास और आपकी बीमारी के बारे में जांच कर सकता है। रेगुलर हेल्थ चेकअप कराने की सलाह हर महिला को दी जाती है। जांच के दौरान डॉक्टर लाइफस्टाइल से संबंधित कुछ बातें जैसे कि आहार, व्यायाम की आदतें और आप धूम्रपान करते हैं या नहीं, एल्कोहॉल ड्रिंकिंग आदि आदतों के बारे में जानकारी ले सकता है।

रेगुलर हेल्थ चेकअप की जरूरत क्यों? (Need of Regular health checkup)

रेगुलर हेल्थ चेकअप की मदद से आपको किसी भी प्रकार की बीमारी के शुरुआती लक्षणों का आसानी से पता चल जाएगा। यानी किसी भी प्रकार की बीमारी के शुरुआती संकेत मिल जाने से ट्रीटमेंट में आसानी हो जाती है। हार्ट डिसीज, डायबिटीज रोग और कुछ प्रकार के कैंसर आदि के लक्षणों की शुरुआत में ही जानकारी मिल जाती है। अगर आपके घर में कोई बीमारी अनुवांशिक है तो उसके बारे में भी शुरुआत में ही जानकारी मिल जाती है। शरीर में बीमारी का प्रवेश कभी भी हो सकता है, इसलिए महिलाओं के लिए बहुत जरूरी है कि वो रेगुलर हेल्थ चेकअप को इग्नोर न करें। इस इंटरनेशनल वुमंस डे के मौके पर जानिए महिलाओं के स्वास्थ्य से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी।

और पढ़ें : पीरियड डेट ट्रैक करने का आसान तरीका, इसे ऐसे समझें

18 से 39 वर्ष महिलाओं के लिए रेगुलर हेल्थ चेकअप (Regular health checkup)

अगर कोई भी लड़की या महिला खुद को पूरी तरह से हेल्दी फील कर रही है फिर भी उसे अपने हेल्थ केयर प्रोवाइडर से जांच करवानी चाहिए।चेकअप का परपज निम्नलिखित हो सकता है,

  • मेडिकल इश्यू के लिए स्क्रीनिंग
  • भविष्य में किसी भी प्रकार की समस्या से बचने के लिए
  • हेल्दी लाइफस्टाइल के लिए
  • वैक्सीनेशन के लिए
  • किसी भी प्रकार बीमारी के लक्षणों से निपटने के लिए

रेगुलर हेल्थ चेकअप : ब्लड प्रेशर स्क्रीनिंग (Blood Pressure screening)

ब्लड प्रेशर को हर दो साल में चेक करवाना चाहिए। अगर आपका ब्लड प्रेशर हाई या फिर लो रहता है तो बेहतर होगा कि आप एक साल या फिर छह महीने के अंतराल में ब्लड प्रेशर का चेकअप कराएं। अगर आपको डायबिटीज, हार्ट डिसीज या फिर अन्य कोई हेल्थ कंडीशन है तो बेहतर रहेगा कि डॉक्टर से परामर्श करने के बाद समय-समय पर ब्लड प्रेशर चेकअप जरूर कराएं। आप अपने घर के पास ही ब्लड प्रेशर स्क्रीनिंग आसानी से करवा सकते हैं।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

और पढ़ें : पैड और मेंस्ट्रुअल कप से जुड़ी जरूरी बातें, जो हर महिला को जानना जरूरी है

कोलेस्ट्रॉल स्क्रीनिंग (Cholesterol Screening)

कोलेस्ट्रॉल स्क्रीनिंग के लिए 20 से 45 साल की उम्र सही रहती है। जिन महिलाओं को कभी भी कोलेस्ट्रॉल की समस्या नहीं रही है, बेहतर होगा कि ऐसी महिलाएं 5 साल के अंतराल में कोलेस्ट्रॉल स्क्रीनिंग करवाएं। अगर आपकी लाइफस्टाइल में चेंज (वेट गेन या फिर डायट में बदलाव) हो रहा है तो बेहतर होगा कि कोलेस्ट्रॉल स्क्रीनिंग जरूर कराएं। रेगुलर हेल्थ चेकअप करवाने से संभावित बड़ी बीमारी से बचा जा सकता है। अगर आपको हार्ट प्रॉब्लम, डायबिटीज, किडनी प्रॉब्लम या फिर कोई हेल्थ कंडीशन है तो बेहतर होगा कि कोलेस्ट्रॉल स्क्रीनिंग के लिए डॉक्टर से परामर्श करें। डॉक्टर आपको सही समय के बारे में जानकारी देगा।

रेगुलर हेल्थ चेकअप : डायबिटीज स्क्रीनिंग (Diabetes Screening)

अगर आपका ब्लड प्रेशर 140/80 mm Hg या उससे ज्यादा है तो आपका डॉक्टर ब्लड शुगर लेवल चेक करेगा। ऐसा डायबिटीज चेक करने के लिए किया जाता है। अगर आपका बॉडी इंडेक्स मास 25 से ज्यादा है तो डायबिटीज का खतरा अधिक हो जाता है। ऐसी शंका होने पर डॉक्टर स्क्रीनिंग कर सकता है। आपको बताते चलें कि 25 से ज्यादा बीएमआई है तो इसका मतलब है कि आप ओवरवेट हैं। अगर आपको हार्ट डिसीज या फिर रेलेटिव फस्ट डिग्री डायबिटीज की समस्या है तो डॉक्टर डायबिटीज स्क्रीनिंग के लिए सजेस्ट कर सकता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

Was this article helpful for you ?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

हाइपरग्लाइसेमिया और टाइप 2 डायबिटीज में क्या है सम्बंध?

हाइपरग्लाइसेमिया डायबिटीज से जुड़ी गंभीर स्थिति है जिसमें ब्लड ग्लूकोज लेवल बहुत बढ़ जाता है। समय रहते इलाज न कराने पर यह जानलेवा हो सकता है।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Toshini Rathod
डायबिटीज, हेल्थ सेंटर्स February 10, 2021 . 5 मिनट में पढ़ें

कम उम्र के पुरुषों में इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के क्या हो सकते हैं कारण?

कम उम्र के पुरुषों में इरेक्टाइल डिस्फंक्शन होने के कई कारण हो सकते हैं। अगर बीमारियों पर नियंत्रण किया जाए, तो इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या से निजात पाया जा सकता है। Erectile Dysfunction in young men

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi

जानें टाइप-2 डायबिटीज वालों के लिए एक्स्पर्ट द्वारा दिया गया विंटर गाइड

सर्दियों में डायबिटीज वालों के लिए खतरा बढ़ जाता है। इस मौसम के शुगर पेशेंट को बचने की जरूरत होती है। अपने डायट और एक्सरसाइज का ध्यान रखें। जानें डायबिटीज विंटर केयर गाइड

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Niharika Jaiswal
डायबिटीज, हेल्थ सेंटर्स December 22, 2020 . 13 मिनट में पढ़ें

ओरल थिन स्ट्रिप : बस एक स्ट्रिप रखें मुंह में और पाएं मेडिसिन्स की कड़वाहट से छुटकारा

ओरल थिन स्ट्रिप का सेवन कैसे किया जाता है। इसका सेवन करने के दौरान क्या सावधानियां रखनी चाहिए। oral strips

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
दवाइयां और सप्लिमेंट्स A-Z December 18, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

महिलाओं में होने वाली बीमारी (Women illnesses)

Women illnesses: इन 10 बीमारियों को इग्नोर ना करें महिलाएं

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
प्रकाशित हुआ March 4, 2021 . 8 मिनट में पढ़ें
सिंगल किडनी के साथ लाइफस्टाइल (Living with one functioning kidney)

सिंगल किडनी के साथ लाइफस्टाइल कैसी होनी चाहिए? किन बातों का रखें ध्यान और कौन से एक्टिविटी से रहें दूर?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
प्रकाशित हुआ March 2, 2021 . 4 मिनट में पढ़ें
नक्स वोमिका (Nux Vomica)

नक्स वोमिका क्या है? जानिए इसके फायदे और नुकसान

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
प्रकाशित हुआ February 15, 2021 . 4 मिनट में पढ़ें
ऑर्थोडोंटिक्स ट्रीटमेंट - Orthodontic Treatment

ऑर्थोडोंटिक्स ट्रीटमेंट से ठीक करें दांतों का शेप, इतना आएगा इलाज में खर्च

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Toshini Rathod
प्रकाशित हुआ February 11, 2021 . 7 मिनट में पढ़ें