आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Lactifiber: लैक्टिफाइबर (लैक्टिटोल + इस्पागुला) क्या है? जानिए इसके डोज और साइड इफेक्ट्स

    Lactifiber: लैक्टिफाइबर (लैक्टिटोल + इस्पागुला) क्या है? जानिए इसके डोज और साइड इफेक्ट्स

    नैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन (NCBI) में साल 2018 में पब्लिश्ड एक रिपोर्ट के अनुसार भारत में क्रोनिक कॉन्स्टिपेशन (Chronic Constipation) की समस्या से 16 प्रतिशत लोग पीड़ित हैं। कॉन्स्टिपेशन की समस्या धीरे-धीरे शरीर में दूसरी बीमारी को पांव पसारने में मदद करती है। अब ऐसी स्थिति होने पर कब्ज की समस्या (Constipation problem) को दूर करने के लिए दवाओं को प्रिस्क्राइब करते हैं। ऐसी ही दवाओं की लिस्ट में एक दवा है लैक्टिफाइबर (लैक्टिटोल + इस्पागुला) (Lactifiber [Lactitol + Ispaghula])। आज इस आर्टिकल में लैक्टिफाइबर (लैक्टिटोल + इस्पागुला) से जुड़ी पूरी जानकारी आपके साथ शेयर करेंगे। जैसे:

    • क्या है लैक्टिफाइबर (लैक्टिटोल + इस्पागुला)?
    • लैक्टिफाइबर में कौन-कौन से इंग्रीडिएंट्स शामिल हैं?
    • लैक्टिफाइबर (लैक्टिटोल + इस्पागुला) के फायदे क्या हैं?
    • लैक्टिफाइबर (लैक्टिटोल + इस्पागुला) का सेवन कैसे किया जाता है?
    • लैक्टिफाइबर के सेवन से होने वाले साइड इफेक्ट्स क्या हैं?
    • कब्ज के अलावा अगर कोई और शारीरिक परेशानी है, तो लैक्टिफाइबर का सेवन कैसे करें?
    • लैक्टिफाइबर (लैक्टिटोल + इस्पागुला) को स्टोर कैसे करें?

    अब इन सवालों का एक-एक जवाब ढूंढ़ते हैं।

    और पढ़ें : कॉन्स्टिपेशन और बैक पेन! कहीं आपकी परेशानी ये दोनों तो नहीं?

    क्या है लैक्टिफाइबर (लैक्टिटोल + इस्पागुला)? What is (Lactifiber [Lactitol + Ispaghula]?)

    कब्ज (Constipation) की समस्या हो या बॉवेल मूवमेंट (Bowel movement) ठीक तरह से ना हो रहा हो, तो ऐसी स्थिति में लैक्टिफाइबर (लैक्टिटोल + इस्पागुला) (Lactifiber [Lactitol + Ispaghula]) पेशेंट की हेल्थ कंडिशन को ध्यान में रखते हुए प्रिस्क्राइब की जा सकती है। यह सिंथेटिक डिसैक्राइड दवा है, जिसके सेवन से कॉन्स्टिपेशन की वजह से होने वाले दर्द (Pain) या कोई अन्य परेशानियों से राहत मिलती है।

    दवा का नाम और केटेगरी

    यह लैक्सेटिव (Laxative) केटेगरी में आता है।

    और पढ़ें : Sitagliptin + Metformin :सीटाग्लिप्टिन + मेटफोर्मिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    ओटीसी (OTC) या प्रिस्क्रिप्शन ड्रग

    लैक्टिफाइबर (लैक्टिटोल + इस्पागुला) डॉक्टर द्वारा प्रिस्क्राइब की जाती है।

    एक्टिव इंग्रिडेंट

    इसका मुख्य इंग्रीडिएंट्स लैक्टिटोल (Lactitol) एवं इस्पागुला (Ispaghula) है।

    विशिष्ट उपयोग

    कब्ज (Constipation) की समस्या एवं बॉवेल मूवमेंट (Bowel movement) की परेशानी को दूर करने के लिए लैक्टिफाइबर (लैक्टिटोल + इस्पागुला) प्रिस्क्राइब की जाती है।

    दवा का उपयोग

    लैक्टिफाइबर (लैक्टिटोल + इस्पागुला) (Lactifiber [Lactitol + Ispaghula]) का उपयोग किस लिए किया जाता है?

    इस दवा के सेवन की सलाह सिर्फ कॉन्स्टिपेशन (Constipation) की तकलीफ को दूर करने के लिए प्रिस्क्राइब की जाती है। रिसर्च के अनुसार इस दवा का संतुलित मात्रा में और एक्सपर्ट के बताये अनुसार लेने से जल्द लाभ मिलता है। इसलिए अपनी मर्जी से इस दवा का सेवन ना करें।

    लैक्टिफाइबर (लैक्टिटोल + इस्पागुला) का सेवन कैसे किया जाता है? (Use of Lactifiber [Lactitol + Ispaghula])

    लैक्टिफाइबर टैबलेट, पाउडर एवं ग्रैन्यूल्स, ये 3 अलग-अलग फॉर्म में मिलते हैं, लेकिन इसके सेवन से पहले निम्नलिखित बातों का ध्यान रखें और फिर सेवन करें। जैसे:

    • लैक्टिफाइबर लेने से पहले सबसे पहले डॉक्टर से कंसल्ट करें।
    • इसका सेवन सिर्फ ओरली (Oral) किया जाता है।
    • किसी भी दवाओं के सेवन और सोने से आधे घंटे पहले लैक्टिफाइबर (लैक्टिटोल + इस्पागुला) का सेवन करें।
    • लंच और डिनर के बाद इसका सेवन किया जा सकता है।
    • अगर किसी भी कारण लैक्टिफाइबर (लैक्टिटोल + इस्पागुला) आपने स्किप कर दिया है या भूल गयें हैं, तो ऐसी स्थिति में इसका डोज डबल ना करें।
    • पानी, दूध या अन्य पदार्थों के साथ इसका सेवन किया जा सकता है, लेकिन आपके सेहत के लिए यह लैक्टिफाइबर (Lactifiber) कैसे लाभकारी है, इसकी जानकारी डॉक्टर से लें।

    ये हैं लैक्टिफाइबर (Lactifiber) टैबलेट, पाउडर या ग्रैन्यूल्स के सेवन से जुड़ी खास बातें, लेकिन इस दवा के सेवन से साइड इफेक्ट्स की भी संभावना बनी रहती है।

    लैक्टिफाइबर (लैक्टिटोल + इस्पागुला) को स्टोर कैसे करें? (Storage of Lactifiber)

    इस दवा का रखरखाव बेहद आसान है। आप इसे रूम टेम्प्रेचर पर स्टोर कर सकते हैं, लेकिन घर में ऐसी जगह पर ना रखें जहां गर्मी ज्यादा हो या धूप आती हो। इसके अलावा दवा को बच्चों और पालतू जानवरों की पहुंच से भी दूर रखें।

    फंक्शन

    इस दवा का सेवन मौखिक रूप से किया जाता है। इसमें मौजूद मेन इंग्रीडिएंट्स लैक्टिटोल (Lactitol) एवं इस्पागुला (Ispaghula) कब्ज की तकलीफ को दूर करने में मदद करता है। लैक्टिटॉल एक ऑस्मोटिक डिसैक्राइड रेचक है, जो मल की मात्रा बढ़ाता है और पेरिस्टलसिस को उत्तेजित करता है। इससे कॉन्स्टिपेशन की समस्या दूर होती है।

    इस्तेमाल के लिए निर्देश

    • लैक्टिफाइबर (लैक्टिटोल + इस्पागुला) का सेवन डॉक्टर द्वारा बताये गए निर्देशानुसार करें।
    • इस दवा को लेते समय लेबल पर लिखे सभी निर्देशों को ध्यानपूर्वक पढ़ें और उसका पालन करें। यह सुनिश्चित करें कि दवा की सही मात्रा निर्धारित अवधि के लिए ही ली जाए।
    • इसका सेवन भोजन के साथ और बिना भोजन के भी किया जा सकता है या नहीं डॉक्टर से अवश्य जानें।
    • इस दवा का उपयोग बिना डॉक्टरी सलाह के अचानक बंद नहीं किया जाना चाहिए।

    और पढ़ें : Trimetazidine: ट्राईमेटाजिडाइन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    लैक्टिफाइबर के सेवन से होने वाले साइड इफेक्ट्स क्या हैं? (Side effects of Lactifiber (Lactitol + Ispaghula)

    कब्ज की परेशानी से राहत दिलवाने में मददगार लैक्टिफाइबर (लैक्टिटोल + इस्पागुला) Lactifiber (Lactitol + Ispaghula) के सेवन से साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं। इन साइड इफेक्ट्स में शामिल है:

    लैक्टिफाइबर (Lactifiber) के सेवन से ये बताई गई परेशानी हो सकती है। इसलिए बिना डॉक्टर के परामर्श किये इस दवा का सेवन ना करें। इस दवा के सेवन के बाद अगर शारीरिक परेशानी हो, तो जल्द से जल्द डॉक्टर से कंसल्ट करें।

    और पढ़ें : Voglibose: वॉगलीबोस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    सावधानियां और चेतावनी

    कब्ज के अलावा अगर कोई और शारीरिक परेशानी है, तो लैक्टिफाइबर (Lactifiber [Lactitol + Ispaghula]) का सेवन कैसे करें?

    अगर किसी व्यक्ति को निम्नलिखित बीमारी या शारीरिक परेशानी है, तो ऐसी स्थिति में लैक्टिफाइबर (लैक्टिटोल + इस्पागुला) का सेवन नहीं करना चाहिए। जैसे:

    • एलर्जी (Allergy) की समस्या होना
    • पेट दर्द (Stomach pain) की शिकायत रहना
    • मतली या उल्टी की समस्या रहना
    • इंटरनल ब्लीडिंग (Internal bleeding या Internal Hemorrhage) की समस्या

    अगर आप इन ऊपर बताई गई परेशानियों से पीड़ित हैं और कब्ज की भी समस्या बनी रहती है, तो इन बीमारियों की भी जानकारी डॉक्टर को अवश्य दें। आप किन-किन दवाओं का सेवन करते हैं, यह भी अपने डॉक्टर को जरूर बताएं।

    और पढ़ें : Zolpidem : जोल्पिडेम क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    कब्ज की समस्या से हैं परेशान, तो लैक्टिफाइबर (लैक्टिटोल + इस्पागुला) के सेवन के साथ-साथ योगासन से भी लाभ मिल सकता है। नीचे दिए इस वीडियो लिंक को क्लिक कर एक्क्सपर्ट से जानिए कॉन्स्टिपेशन की समस्या को दूर करने के लिए कौन-कौन से योग किये जा सकते हैं।

    लैक्टिफाइबर (लैक्टिटोल + इस्पागुला) से जुड़े रिस्क फेक्टर क्या हैं? (Risk factor of Lactifiber)

    निम्नलिखित स्थितियों में लैक्टिफाइबर (Lactifiber) का सेवन आपकी परेशानी को बढ़ा सकता है। जैसे:

    इन ऊपर बताई गई हैबिटिस को ना सिर्फ लैक्टिफाइबर (Lactifiber) के सेवन के दौरान बंद करें, बल्कि सामान्य दिनों में भी इसका सेवन नुकसानदायक हो सकता है। इसके अलावा अगर आप गर्भवती (Pregnant) हैं या स्तनपान (Breastfeeding) करवाती हैं, तो लैक्टिफाइबर (Lactifiber) के सेवन से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

    और पढ़ें : विटामिन सप्लिमेंट्स लेना कितना सुरक्षित है? जानें इसके संभावित खतरे

    अगर आप कब्ज (Constipation) की समस्या से परेशान रहते हैं, तो अपनी मर्जी से किसी भी दवा का सेवन ना करें। कॉन्स्टिपेशन की समस्या से बचने के लिए आप घरेलू उपायों को भी अपना सकते हैं, लेकिन ऐसे किसी भी उपायों पर निर्भर ना रहें। किसी भी शारीरिक परेशानी को शुरुआती इलाज और हेल्दी टिप्स से दूर किया जा सकता है।

    कब्ज की समस्या से राहत पाने के लिए हेल्दी डायट फॉलो करना अत्यधिक जरूरी है। वहीं कॉन्स्टिपेशन में कुछ खास खाद्य पदार्थों एवं पेय पदार्थों से दूरी भी बनाये रखें। नीचे दिए इस क्विज में कब्ज की समस्या से बचने के लिए क्या खाएं और क्या नहीं ये जानिए

    health-tool-icon

    बीएमआई कैलक्युलेटर

    अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

    पुरुष

    महिला

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    lactifiber powder before or after food/https://ardentinny.org/wp-content/falling-in-tsi/lactifiber-powder-before-or-after-food-b4a2a0/Accessed on 31/03/2021

    Efficacy and tolerance of lactitol supplementation for adult constipation: a systematic review and meta-analysis/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4103919/Accessed on 31/03/2021

    lactifiber during pregnancy/https://abmi8.org/wp-content/uploads/plant-identification-eqgiww/lactifiber-during-pregnancy-9dd86f/Accessed on 31/03/2021

    लेखक की तस्वीर badge
    Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 15/04/2021 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: