डायबिटीज के कारण होने वाले रोग फोरनिजर्स गैंग्रीन के लक्षण और घरेलू उपाय

    डायबिटीज के कारण होने वाले रोग फोरनिजर्स गैंग्रीन के लक्षण और घरेलू उपाय

    गैंग्रीन एक ऐसा रोग है जिसमें शरीर के कुछ खास हिस्सों के टिश्यूस को नुकसान होता है, जिससे वो नष्ट होने लगते हैं। टिश्यूस के नष्ट होने के कारण वहां घाव हो जाता है और फैलने लगता है। यह बीमारी तब होना शुरू होती है जब शरीर में ब्लड सर्कुलेशन सही से नहीं होता। ब्लड सर्कुलेशन सही न होने के कारण शरीर के उस हिस्से के टिश्यू सड़ने लगते हैं। यह रोग बेहद भयानक है और अगर सही समय पर इसका इलाज न किया जाए, तो रोगी की मृत्यु भी हो सकती है। यह रोग अधिकतर डायबिटीज के कारण होता है। गैंग्रीन का ही एक प्रकार है जिसे फोरनिजर्स गैंग्रीन (fournier gangrene) कहा जाता है। जानिए, फोरनिजर्स गैंग्रीन (fournier gangrene) के बारे में।

    क्या है फोरनिजर्स गैंग्रीन (fournier gangrene)?

    फोरनिजर्स गैंग्रीन (fournier gangrene) जननांगों और इसके आसपास के स्थान पर टिश्यूस के नष्ट होने के कारण फैलने वाला संक्रमण है। गैंग्रीन की तरह फोरनिजर्स गैंग्रीन भी बेहद घातक है। यह रोग हालांकि बहुत दुर्लभ है लेकिन इससे मृत्यु तक हो सकती है। वयस्क पुरुषों में इस रोग के होने की संभावना अधिक होती है।

    और पढ़ें: Pyoderma Gangrenosum : पायोडर्मा गैंग्रीनोसम क्या है?

    फोरनिजर्स गैंग्रीन के लक्षण ( Symptoms of fournier gangrene)

    फोरनिजर्स गैंग्रीन (fournier gangrene) के लक्षण इस प्रकार हो सकते हैं:

    • बुखार
    • बेचैनी
    • जननांग, गुदा क्षेत्र या उसके आसपास के क्षेत्र में कम से लेकर गंभीर दर्द और सूजन होना
    • प्रभावित टिश्यू से बदबू आना

    यह रोग आमतौर पर अन्य विकारों के साथ अधिक होता है, खासतौर पर उन विकारों के साथ जिनसे इम्यून सिस्टम कमजोर होता है। कुछ विकार जो कि फोरनिजर्स गैंग्रीन (fournier gangrene) की संभावना को बढ़ाते हैं, वे हैं डायबिटीज मेलेटस, मोटापा, सिरोसिस आदि। गंभीर स्थिति में यह इंफेक्शन पेट से लेकर जांघों तक फैल सकता है।

    इन स्थितियों में तुरंत डॉक्टरों की सलाह लें, अगर आपका

    • रक्तचाप कम हो जाए
    • बुखार अधिक हो जाए या 96.8 डिग्री F से कम हो
    • हार्ट बीट तेज हो जाए
    • आपको चक्कर आए
    • सांस लेने में समस्या हो
    • बेचैनी हो
    • ब्लड सप्लाई सही से न हो

    और पढ़ें: Quiz : डायबिटीज के पेशेंट को अपने आहार में क्या शामिल करना चाहिए और क्या नहीं?

    फोरनिजर्स गैंग्रीन के कारण (Causes of fournier gangrene)

    खून हमारी कोशिकाओं और इम्यून सिस्टम तक पोषण के लिए ऑक्सीजन और नुट्रिएंट्स को पहुंचाता है ताकि, वो इंफेक्शन से लड़ सके। लेकिन जब सही से ब्लड सप्लाई नहीं होती, तो कोशिकाएं सही से काम नहीं कर पाती और टिश्यू भी नष्ट हो जाते हैं। इस रोग के कारण इस प्रकार हो सकते हैं:

    इंफेक्शन (Infection)

    यदि शरीर में बैक्टीरिया लंबे समय तक अनियंत्रित रहते हैं, तो संक्रमण हो सकता है और आपके ऊतक नष्ट हो सकते हैं, जिससे फोरनिजर्स गैंग्रीन हो सकता है।

    ट्रामा (Trauma)

    अगर ट्रामा (trauma) के कारण कोई चोट लगती है, जैसे एक्सीडेंट से तो जननांग के ऊतक संक्रमित हो सकते हैं, ऐसे में फोरनिजर्स गैंग्रीन हो सकता है।

    डायबिटीज (Diabetes)

    अगर आपको डायबिटीज है तो आप फोरनिजर्स गैंग्रीन का शिकार जल्दी हो सकते हैं। क्योंकि, डायबिटीज से शरीर पर्याप्त मात्रा में हॉर्मोन इंसुलिन नहीं बना पाता या फिर इंसुलिन के प्रभाव को कम हो जाता है। अधिक डायबिटीज होने से ब्लड वेसल नष्ट होते हैं, जिससे शरीर में ब्लड फ्लो सही से नहीं पाता। जिससे फोरनिजर्स गैंग्रीन रोग होने की संभावना बढ़ जाती है।

    इसके अलावा इसके अन्य कारण इस प्रकार हैं:

    • ब्लड वेसल रोग
    • गंभीर चोट या सर्जरी
    • स्मोकिंग
    • मोटापा
    • कोई दवाई या ड्रग

    और पढ़ें : डबल डायबिटीज की समस्या के बारे में जानकारी होना है जरूरी, जानिए क्या रखनी चाहिए सावधानी

    महिलाओं और बच्चों में फोरनिजर्स गैंग्रीन (fournier gangrene)

    महिलाओ की तुलना में फोरनिजर्स गैंग्रीन की समस्या पुरुषों को अधिक होती है, लेकिन यह इंफेक्शन महिलाओं में भी हो सकता है। यह इंफेक्शन योनि में टिश्यू की बाहरी सतह पर होता है जिसे लेबिया(labia) कहा जाता है। सेप्टिक गर्भपात या हिस्टेरेक्टॉमी के बाद भी महिलाओं में फोरनिजर्स गैंग्रीन हो सकता है। बच्चों में फोरनिजर्स गैंग्रीन होना दुर्लभ है, लेकिन कई कारणों से यह समस्या बच्चों को भी हो सकती है। यह कारण हैं जैसे किसी कीड़े के काटने,कोई संक्रमण,स्ट्रांगुलेटेड इनगुइनल हर्निया आदि।

    निदान

    फोरनिजर्स गैंग्रीन के निदान के लिए डॉक्टर आपकी शारीरिक जांच करेंगे। इसके साथ ही आपके टिश्यू का नमूना भी लिया जायेगा। इसके बाद इस टिश्यू की जांच होगी ताकि पता चल सके कि आपको फोरनिजर्स गैंग्रीन है या कोई और समस्या या इंफेक्शन। इसके साथ ही अन्य टेस्ट भी कराये जा सकते हैं जैसे ब्लड टेस्ट

    फोरनिजर्स गैंग्रीन के निदान और अन्य संभावित संभावनाओं के बारे में जानने के लिए आपके इमेजिंग टेस्ट भी कराये जा सकते हैं जैसे:

    • एक्स-रे : एक्स-रे से घाव का सही स्थान और इसके फैलने के बारे में पता चल सकता है।
    • अल्ट्रासाउंड : अल्ट्रासाउंड से फोरनिजर्स गैंग्रीन और गंभीर सूजन वाले रोग जैसे एपिडिडीमाइटिस या ऑर्काइटिस के बीच में फर्क को जानने के लिए कराया जाता है।
    • CT स्कैन
    • MRI स्कैन

    फोरनिजर्स गैंग्रीन के उपचार

    • फोरनिजर्स गैंग्रीन विकार को पहचानना थोड़ा मुश्किल है। लेकिन, डॉक्टर त्वचा के नीचे के बैक्टीरियल इंफेक्शन के उपचार के लिए कई एंटीबायोटिक दे सकते हैं।
    • गंभीर रक्त संक्रमण के मरीजों में रक्त के थक्कों के जमने की संभावना अधिक होती है और एक बार इंफेक्शन नियंत्रित हो जाता है तो थ्रोम्बोसिस के लिए जोखिम को कम करने के लिए दवा की आवश्यकता हो सकती है।
    • नष्ट हुए टिश्यू या नष्ट हो रहे टिश्यूस को हटाने के लिए सर्जरी कराई जा सकती है। इसे क्षतशोधन (debridement) कहा जाता है। रोगी को सभी डेड टिश्यू हटवाने और संक्रमण को रोकने के लिए कई सर्जरी कराई जा सकती है।
    • यदि यह रोग मधुमेह, शराब का सेवन करने, या अन्य बीमारियों के कारण है, तो उन्हें भी इलाज करने की आवश्यकता होगी।

    और पढ़ें: डायबिटीज में फल को लेकर अगर हैं कंफ्यूज तो पढ़ें ये आर्टिकल

    फोरनिजर्स गैंग्रीन से बचने के घरेलू उपाय

    फोरनिजर्स गैंग्रीन को होने से रोकने या इनके लक्षणों को कम करने के लिए इन तरीको का ध्यान रखना चाहिए:

    • अपनी डायबिटीज का ख्याल रखे। अगर आपको डायबिटीज है तो अपने गुप्तांगों को रोजाना जांचें कि उनमें कहीं कोई कट, घाव या इंफेक्शन के निशान तो नहीं हैं। जैसे लालिमा, सूजन या मवाद का निकलना आदि।
    • समय-समय पर डॉक्टर से भी जांच कराएं और अपनी ब्लड शुगर को नियंत्रित रखने की कोशिश करें
    • वजन को कम करें। क्योंकि, वजन के बढ़ने से डायबिटीज का जोखिम भी पड़ता है।
    • अगर आप तम्बाकू का सेवन करते हैं, तो उसे छोड़ दें क्योंकि, इससे ब्लड वेसल्स के नष्ट होने की संभावना अधिक होती है।
    • अगर आपको कोई घाव है, तो उसे समय-समय पर साफ करें और हमेशा साफ रखें। जब तक वो ठीक न हो जाए।
    • फोरनिजर्स गैंग्रीन की समस्या के उपचार के लिए डॉक्टर की सलाह और अन्य उपायों का पूरी तरह से पालन करना अनिवार्य है

    ऊपर दी गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। इसलिए किसी भी दवा या सप्लिमेंट का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर करें। आपको इस आर्टिकल के माध्यम से फोरनिजर्स गैंग्रीन (fournier gangrene) के बारे में जानकारी मिल गई होगी। अगर मन में अधिक प्रश्न हैं, तो बेहतर होगा कि इस बारे में डॉक्टर से पूछें। आप स्वास्थ्य संबंधी अधिक जानकारी के लिए हैलो स्वास्थ्य की वेबसाइट विजिट कर सकते हैं। अगर आपके मन में कोई प्रश्न है, तो हैलो स्वास्थ्य के फेसबुक पेज में आप कमेंट बॉक्स में प्रश्न पूछ सकते हैं और अन्य लोगों के साथ साझा कर सकते हैं।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

    डॉ. प्रणाली पाटील

    फार्मेसी · Hello Swasthya


    Anu sharma द्वारा लिखित · अपडेटेड 21/11/2021

    advertisement
    advertisement
    advertisement
    advertisement