home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

डायबिटीज में एप्रिकॉट (Apricot in diabetes) खाने के क्या होते हैं फायदे?

डायबिटीज में एप्रिकॉट (Apricot in diabetes) खाने के क्या होते हैं फायदे?

डायबिटीज की बीमारी में शरीर में बनने वाला हॉर्मोन इंसुलिन (Insulin) असंतुलित हो जाता है। इस कारण से ब्लड में शुगर की मात्रा बैलेंस नहीं हो पाती है। इंसुलिन हॉर्मोन की पर्याप्त मात्रा के लिए डॉक्टर इंसुलिन इंजेक्शन लेने की सलाह देते हैं और साथ ही कुछ दवाएँ भी देते हैं। डॉक्टर डायबिटीज को कंट्रोल में रखने के लिए खानपान में परहेज की सलाह भी दे सकते हैं। डायबिटीज में फलों का सेवन भी अहम होता है। आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको डायबिटीज में एप्रिकॉट (Apricot in diabetes) खाने के फायदे के बारे में जानकारी देंगे। जानिए मधुमेह में एप्रिकॉट (Apricot in diabetes) कितना लाभदायक होता है और आपको किन बातों का ख्याल रखने की जरूरत है।

और पढ़ें: टाइप 2 डायबिटीज और GI इशूज : क्या है दोनों के बीच में संबंध, जानिए

डायबिटीज में एप्रिकॉट (Apricot in diabetes)

डायबिटीज में एप्रिकॉट (Apricot in diabetes) का सेवन किया जा सकता है। अगर आपको डायबिटीज की समस्या (Problem of diabetes) हो गई है, तो आपको इस बात को ध्यान में रखने की आवश्यकता है कि आपको किस फूड को खाने में लेना चाहिए और किस फूड को इग्नोर करना चाहिए। खाने में फल और सब्जियां बहुत जरूरी होती हैं। आपको कोई भी बीमारी हो लेकिन डॉक्टर आपको फल, सब्जियां खाने की सलाह जरूर देते हैं। हो सकता है कि कुछ फल और सब्जियों को लेने के लिए मना किया गया हो लेकिन आप ज्यादातर फल खा सकते हैं। डायबिटीज की बीमारी में भी ऐसा होता है। लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स (Low glycemic index) फूड्स का सेवन डायबिटीज की बीमारी (Diabetic disease) के दौरान फायदेमंद माना जाता है।

एप्रिकॉट (Apricot) को स्वीट समर फ्रूट के नाम से भी जाना जाता है। यह फल गर्मियों के सीजन में आता है और डायबिटीज पेशेंट के लिए बेहतर माना जाता है। एक एप्रीकॉट में करीब 17 कैलोरी और 4 ग्राम कार्बोहाइड्रेट होता है। इस फल से डेली विटामिन ए (Vitamin A) रिक्वायरमेंट का 134 माइक्रोग्राम प्राप्त होता है। यह फल फाइबर (Fiber) का भी अच्छा सोर्स माना जाता है। डायबिटीज के दौरान पर्याप्त मात्रा में फाइबर युक्त आहार का सेवन करना भी बहुत जरूरी होता है। फाइबर युक्त आहार खाने से पाचन क्रिया बेहतर रहती है और कब्ज की समस्या (Constipation problem) से भी राहत मिलती है आप चाहे तो कुछ अन्य फ्रूट के साथ एप्रीकॉट (Apricot) को मिलाकर भी खा सकते हैं। अनाज में भी एप्रीकॉट को मिलाकर खा सकते हैं या फिर सलाद में भी इसे शामिल कर सकते हैं। डायबिटीज की समस्या (Problem of diabetes) में एप्रिकॉट का सेवन जहां एक ओर आपको पोषण से भर देता है, वहीं दूसरी ओर ये डायबिटी की समस्या को बढ़ने भी नहीं देता है।

और पढ़ें: टाइप 2 डायबिटीज के लॉन्ग टर्म कॉम्प्लीकेशन में शामिल हो सकती हैं ये समस्याएं!

डायबिटीज में एप्रिकॉट (Apricot in diabetes) खाने से पहले जान लें इसके फायदे!

डायबिटीज में एप्रिकॉट (Apricot in diabetes) खाने से पहले आपको इसके फायदे के बारे में जानकारी जरूरी है। यह एक पीले रंग का फल होता है, जो कि प्लम के आकार का दिखता है। यह पोषण से भरपूर होता है और इस फल से हेल्थ बेनिफिट्स भी जुड़े होते हैं। यह फल बेहतर डायजेशन (Better digestion) के साथ ही आंखों के लिए भी बहुत अच्छा माना जाता है। इस फल को खाने से ना केवल डायबिटिक पेशेंट को लाभ मिलता है बल्कि कई अन्य प्रकार के फायदे भी होते हैं। करीब दो फलों यानी 70 ग्राम एप्रिकॉट में 34 कैलोरी होती है और 8 ग्राम कार्ब होता है। 70 ग्राम फल में प्रोटीन की 1 ग्राम मात्रा होती है और फाइबर करीब 1.5 ग्राम होता है। विटामिन सी डेली वैल्यू का 8 प्रतिशत और विटामिन ई का 4 प्रतिशत होता है। इस फल में बीटा कैरोटीन, ल्यूटिन और जेक्सैन्थिन ( Beta carotene, Lutein, and Zeaxanthin,) भी होता है, जो शरीर में फ्री रेडिकल (Free radical) से लड़ने में मदद करता है। अगर आप इस फल का सेवन करना चाहते हैं तो एक बार डॉक्टर से इस बारे में सलाह जरूर लें

और पढ़ें: टाइप 2 डायबिटीज और जंक फूड : यह स्वादिष्ट आहार कहीं बन ना जाए जी का जंजाल!

मधुमेह में एप्रिकॉट का सेवन करने के साथ ही इन बातों का रखें ध्यान!

डायबिटीज में एप्रिकॉट (Apricot in diabetes) का सेवन करने के साथ ही आपको अन्य बातों पर भी ध्यान देने की आवश्यकता है। डायबिटीज एक क्रॉनिक कंडीशन है, यह बीमारी सिर्फ दवा खाने से कंट्रोल में नहीं रहती है इसके लिए आपको बेहतर लाइफ स्टाइल अपनाने की जरूरत होती है आपको खानपान के साथी एक्सरसाइज पर भी ध्यान रखने की आवश्यकता होती है हम यहां आपको कुछ ऐसी महत्वपूर्ण जानकारीयाँ दे रहे हैं जो डायबिटीज पेशेंट के लिए ध्यान रखना बहुत जरूरी है। जानिए किन बातों को ध्यान में रखना चाहिए:

  • डायबिटीज में एप्रिकॉट: टाइप 2 डायबिटीज में अधिक वजन या मोटापा रिस्क फैक्टर के तौर पर काम करता है। अगर आपका वजन अधिक है, तो बेहतर होगा कि आप रोजाना एक्सरसाइज (Exercise) करें और ऐसे फ्रूट्स खाने में शामिल करें, जो आपके वजन को ना बढ़ाएं।
  • डायबिटीज में एप्रिकॉट: आपको खाने में उन फूड को शामिल करना चाहिए जिनमें कम मात्रा में फैट और कैलोरी हो और साथ ही अधिक मात्रा में फाइबर हो। आपको खाने में फ्रूट्स, वेजिटेबल के साथी अनाज को शामिल करना चाहिए।

और पढ़ें: टाइप 2 डायबिटीज और जंक फूड : यह स्वादिष्ट आहार कहीं बन ना जाए जी का जंजाल!

  • आपको जानकर हैरानी होगी लेकिन लंबे समय तक एक ही स्थान पर बैठने से टाइप 2 डायबिटीज (type 2 diabetes) का खतरा बढ़ जाता है। अगर आप लंबे समय तक बैठकर काम कर रहे हैं, तो बेहतर होगा कि हर 30 मिनट बाद आप कुछ समय का ब्रेक लें। आप चाहे तो कुछ समय के लिए वॉक कर सकते हैं। ऐसा करने से आप डायबिटीज के खतरे से बच सकते हैं।
  • डायबिटीज के खतरे को कम करने के लिए आपको रोजाना एरोबिक एक्टिविटीज (Arobic activities) जैसे कि वॉक, साइकिलिंग (Cycling), रनिंग, स्विमिंग आदि जरूर करना चाहिए। ऐसा करने से आपका वजन भी कम होगा और मधुमेह का रिस्क भी कम होगा।
  • खाने में किसी भी फल या सब्जी को शामिल करने से पहले आपको डॉक्टर से जानकारी लेनी चाहिए।डॉक्टर आपको कुछ फलों या फिर फूड्स को न लेने की राय दे सकते हैं। बेहतर होगा कि उनकी सलाह जरूर मानें।

डायबिटीज में एप्रिकॉट (Apricot in diabetes) का सेवन कितनी मात्रा में करना चाहिए, आपको ये बात डॉक्टर से जरूर पूछनी चाहिए। डायबिटीज में एप्रिकॉट (Apricot in diabetes) का सेवन बेहतर परिणाम देता है लेकिन उचित खुराक लेना भी जरूरी होता है।

और पढ़ें: टाइप 2 डायबिटीज में न्यू ड्रग ट्रीटमेंट : जानिए क्या है ये खास ट्रीटमेंट?

ताजे और सूखे दोनों प्रकार के एप्रिकॉट का इस्तेमाल किया जा सकता है। आप चाहे तो इसे नाश्ते या भोजन में शामिल कर सकते हैं। आप चाहे तो इसे दही से साथ भी ले सकते हैं। इस फल को प्लम के स्थान में भी इस्तेमाल किया जा सकता है। अगर अब तक आप प्लम का इस्तेमाल कर चुके हैं लेकिन एप्रिकॉट नहीं खाया है, तो एक बार आप प्लम से इसे रिप्लेस कर सकते हैं। अगर आपको इसका फल का सेवन करने के बाद किसी तरह की परेशानी हो, तो डॉक्टर से इस बारे में जानकारी जरूर लें।

इस आर्टिकल में हमने आपको डायबिटीज में एप्रिकॉट (Apricot in diabetes) खाने के फायदे के बारे में बारे में जानकारी दी है। उम्मीद है आपको हैलो हेल्थ की दी हुई जानकारियां पसंद आई होंगी। अगर आपको डायबिटीज में एप्रिकॉट के संबंध में अधिक जानकारी चाहिए, तो हमसे जरूर पूछें। हम आपके सवालों के जवाब मेडिकल एक्स्पर्ट्स द्वारा दिलाने की कोशिश करेंगे।

health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट एक हफ्ते पहले को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड