home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

ताई ची और क्यु गोंग एक्सरसाइज अब तक नहीं की, तो अब तैयार हो जाएं

ताई ची और क्यु गोंग एक्सरसाइज अब तक नहीं की, तो अब तैयार हो जाएं

ताई ची एक्सरसाइज का ही एक प्रकार है, जो चाइनीज ट्रेडीशन से शुरू हुआ था। ताई ची मुख्य रूप से मार्शल आर्ट (martial arts), स्लो मूवमेंट और डीप ब्रिदिंग के माध्यम से किया जाता है। ताई ची एक्सरसाइज से शरीर को फिजिकल के साथ ही इमोशनल बेनीफिट्स भी होते हैं। जिन लोगों को क्रॉनिक डिजीज होती है उनके लिए भी ताई ची बहुत फायदेमंद साबित होता है। ताई ची तरह ही क्यु गोंग एक्सरसाइज भी शरीर को बहुत फायदा पहुंचाती है। स्लो मूवमेंट, मेडिटेशन और ब्रीथिंग एक्सरसाइज सर्कुलेशन, बैलेंस और एलिग्मेंट में हेल्प करती है। लो इम्पेक्ट मूविंग मेडिटेशन में स्टैंडिंग और बैलेंसिंग मुख्य होता है। आप दोनों एक्सरसाइज को किसी एक्सपर्ट की देखरेख में आसानी से कर सकते हैं। जानिए आखिर किस तरह से ये एक्सरसाइज शरीर को फायदा पहुंचाती हैं।

और पढ़ें: सूर्य नमस्कार (Surya Namaskar) आसन के ये स्टेप्स अपनाकर पाएं अच्छा स्वास्थ्य

ताई ची और क्यु गोंग (tai chi and qi gong ) एक्सरसाइज में क्या है अंतर?

किसी सिचुएशन को सोच कर मूवमेंट करना क्यु गोंग के अंतर्गत आता है, जो कि पूरी बॉडी में दिखाई पड़ता है। क्यु गोंग एक्सरसाइज करने के दौरान ऐसे मूवमेंट किए जाते हैं, जो लंग्स को ओपन करने में मदद करता है। प्रैक्टिसनर स्पेसिफिक मूवमेंट को तब तक दोहराते रहते हैं जब तक कि उन्हें उस क्रिया के लाभ का एहसास न हो जाए।
ताई ची एक्सरसाइज में हमेशा कॉन्सेप्ट और थ्योरीज होती हैं। इसमें भी क्यु गोंग की तरह मूवमेंट शामिल होते हैं।क्यु गोंग की प्रैक्टिस के दौरान ताई ची करना जरूरी नहीं होता है।

ताई ची और क्यु गोंग के बीच अंतर समझने के लिए यहां हम आपको एक उदाहरण देते हैं। एक वेटलिफ्टर केवल बाइसेप्स के साथ ही बाइसेप्स कर्ल बनाने पर पूरा फोकस रखता है। वेटलिफ्टर उन्हीं कर्ल्स को बार-बार रिपीट करता है ताकि मसल्स बनें। यानी उसका पूरा फोकस मसल्स में ही होता है। ठीक इसी प्रकार क्यु गोंग भी माइंड, बॉडी या स्पिरिट के किसी खास मुद्दे पर फोकस करता है। जबकि ताई ची फुल बॉडी वेटलिफ्टिंग रूटीन पर फोकस करता है।

और पढ़ें:पेरीफेरल न्यूरोपैथी से राहत के लिए ये एक्सरसाइज पहुंचा सकती हैं आपको राहत

जानिए ताई ची और क्यु गोंग एक्सरसाइज से जुड़ी अहम जानकारी

ये लो इंटेंसिटी लेवल (Intensity Level) एक्सरसाइज है। ताई ची मूविंग मेडिटेशन लो इम्पेक्ट एक्सरसाइज है, जो ज्वाइंट्स और मसल्स पर कम स्ट्रेस देती है।

ये एरिया होता है टार्गेट

कोर(Core) : ये बात सच है कि इसमे कोर एरिया टार्गेट होता है। इसे क्रंचेज जैसा नहीं करते हैं लेकिन मूवमेंट के दौरान कोर मसल्स का इस्तेमाल किया जाता है।

आर्म्स(Arms): इस जेंटल मार्शल आर्ट में आर्म्स का पार्ट का यूज भी होता है।

लेग्स(Legs): ताई ची और क्यु गोंग में पैरों का इस्तेमाल होता है लेकिन इसका उपयोग इंटेंस्टिटी वे में नहीं किया जाता है।

ग्लूट्स (Glutes): वैसे तो ग्लूट्स को टारगेट कर ये एक्सरसाइज नहीं की जाती है लेकिन मूवमेंट के दौरान मसल्स काम करती हैं।

बैक (Back):ताई ची और क्यु गोंग में पूरी बॉडी का इस्तेमाल किया जाता है। साथ ही बैक मसल्स भी को भी काम करना पड़ता है।

और पढ़ें:ग्रोइन स्ट्रेन: खिलाड़ियों को होने वाली यह समस्या क्या है? कैसे होता है इसका उपचार?

जानिए एक्सरसाइज के टाइप

फ्लेक्सिबिलिटी (Flexibility): मूवमेंट की हेल्प से फ्लेक्सिबिलिटी में सुधार किया जा सकता है।

एरोबिक (Aerobic): ताई ची और क्यु गोंग मूविंग मेडिटेशन है। इसमे कार्डियो वर्कआउट शामिल नहीं है।

स्ट्रेंथ (Strength): जब आप ताई ची और क्यु गोंग करते हैं, तो आप अपनी बॉडी में स्ट्रेंथ को भी बढ़ाने का काम करते हैं। ये मस्कुलर पोज से पावर देने का काम नहीं करता है बल्कि पूरे बॉडी मूवमेंट से शरीर को स्ट्रेंथ मिलती है।

लो इम्पेक्ट (Low-Impact): ताई ची और क्यु गोंग से मसल्स और ज्वाइंट्स में कम स्ट्रेस पड़ता है, इसलिए इसे लो इम्पेक्ट एक्सरसाइज भी कहा जा सकता है।

ताई ची और क्यु गोंग एक्सरसाइज बिगिनर्स के लिए अच्छी प्रैक्टिस साबित हो सकता है। आप इसे ऑनलाइन क्लास के माध्यम से भी सीख सकते हैं। ताई ची और क्यु गोंग को करने के लिए इनडोर या आउटडोर जगह पर्याप्त होती है। ताई ची और क्यु गोंग के लिए किसी भी तरह के इक्युपमेंट की जरूरत नहीं होती है।

और पढ़ें: जिम के बाद मांसपेशियों में दर्द होना अच्छा है या नहीं? जानिए इससे बचने के तरीके

जानिए ताई ची स्टाइल (tai chi style) के बारे में

हो सकता है कि आपने ताई ची के बारे में पहली बार सुना हो लेकिन आपको इसके बारे में जानकारी जरूर होनी चाहिए। ताई ची की पांच अलग-अलग शैलियां हैं। फिटनेस के अनुरूप ही इन शैलियों को चुना जा सकता है। ताई ची एक्सरसाइज पॉश्चर और एक्जेक्ट मूवमेंट (exact movements) की हेल्प से किया जाता है। इसे अपने आप सीखना मुश्किल होता है। बेहतर होगा कि आप इस प्रक्रिया को एक्सपर्ट की सहायता से सीखें और करें। जानिए इसकी विभिन्न स्टाइल के बारे में।

  • यांग शैली (Yang style ) ताई ची की स्लो, ग्रेटफुल मूवमेंट और रिलेक्सेशन से भरी एक्सरसाइज है। जो लोग ताई ची की शुरुआत करना चाहते हैं, उनके लिए ये शैली बेहतर साबित हो सकती है।
  • वू शैली (Wu style) में माइक्रोमूवमेंट्स को शामिल किया जाता है। इसे बहुत ही धीमी गति से किया जाता है।
  • चेन स्टाइल (Chen style) में धीमा और तेज मूवमेंट होता है। अगर कोई व्यक्ति इस स्टाइल को पहली बार सीख रहा है, तो उसके लिए ये स्टाइल कठिन साबित हो सकता है।
  • सन स्टाइल (Sun style) में क्राउचिंग, किकिंग और पंचिंग शामिल होता है। अन्य शैलियों के मुकाबले ये कठिन होता है। ये कम फिजिकल डिमांडिंग होता है।
  • हाओ स्टाइल (Hao style) कम ही लोगों की जानकारी में है और ये ज्यादा प्रचिलित भी नहीं है। इस स्टाइल में एक्युरेट पुजिशन और इंटरनल स्ट्रेंथ पर फोकस किया जाता है।

ताई ची एक्सरसाइज से होने वाले बेनिफिट्स

जब सही तरीके से ताई ची सीखा जाता है और नियमित रूप से किया जाता है, तो ताई ची आपके स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में सहायता करता है। ताई ची के लाभों के बारे में जानिए।

अगर आपको किसी भी तरह की बीमारी है, तो बेहतर होगा कि आप ताई ची एक्सरसाइज करने से पहले डॉक्टर की राय जरूर लें।

और पढ़ें: गेट ट्रेनिंग: जानिए मांसपेशियों को मजबूत बनाने वाली इस फिजिकल थेरेपी के बारे में

ताई ची और क्यु गोंग क्या सेफ एक्सरसाइज हैं?

ताई ची और क्यु गोंग को सुरक्षित व्यायाम माना जाता है। इस एक्सरसाइज के साइडइफेक्ट देखने को नहीं मिलते हैं। हो सकता है कि आपको इस एक्सरसाइज की शुरुआत करने पर कुछ दर्द का अनुभव हो लेकिन कुछ समय बाद सब नॉर्मल हो जाता है। अगर ताई ची और क्यु गोंग का सही तरह से अभ्यास न किया जाए, तो व्यक्ति को चोट भी लग सकती है। बेहतर होगा कि आप इस एक्सरसाइज को करने से पहले अच्छी तरह से अभ्यास जरूर कर लें। अगर आप प्रेग्नेंट हैं या किसी तरह की हेल्थ कंडीशन है, तो बेहतर होगा कि एक बार इस बारे में एक्सपर्ट से राय जरूर लें।

यहां दी गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। आपको इस विषय के बारे में अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से बात करनी चाहिए। हम उम्मीद करते हैं कि आपको इस आर्टिकल के माध्यम से ताई ची एक्सरसाइज और क्यु गोंग एक्सरसाइज के बारे में जानकारी मिली होगी। आप स्वास्थ्य संबंधि अधिक जानकारी के लिए हैलो स्वास्थ्य की वेबसाइट विजिट कर सकते हैं। अगर आपके मन में कोई प्रश्न है, तो हैलो स्वास्थ्य के फेसबुक पेज में आप कमेंट बॉक्स में प्रश्न पूछ सकते हैं।

health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Tai Chi and Qi Gong: In Depth https://www.nccih.nih.gov/health/tai-chi-and-qi-gong-in-depth Accessed on 28/1/2021

The difference between tai chi and qi gong  https://www.piedmont.org/living-better/the-difference-between-tai-chi-and-qi-gong Accessed on 28/1/2021

Tai chi: A gentle way to fight stress https://www.mayoclinic.org/healthy-lifestyle/stress-management/in-depth/tai-chi/art-20045184 Accessed on 28/1/2021

Safety first.
Teaching Tai Chi Safely  taichiforhealthinstitute.org/safety-first-2/ Accessed on 28/1/2021

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 29/01/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x