महिलाओं के लिए 5 बेस्ट स्‍क्वैट्स एक्सरसाइज

    महिलाओं के लिए 5 बेस्ट स्‍क्वैट्स एक्सरसाइज

    फिट रहने और शरीर को सुडौल बनाने के लिए आजकल महिलाएं बहुत अधिक जागरूक हो रही हैं। महिलाओं में स्‍क्वैट्स एक्सरसाइज (Squat Exercise) अधिक लोकप्रिय है, क्योंकि इस व्यायाम में पूरे शरीर की एक्सरसाइज अच्छे से हो जाती है। यही नहीं, स्‍क्वैट्स एक्सरसाइज (Squat Exercise) के लिए आपको किसी खास उपकरण की भी जरूरत नहीं पड़ती। शरीर के लचीलेपन को बढ़ाने और मांसपेशियों को मजबूत करने में भी स्‍क्वैट्स एक्सरसाइज (Squat Exercise) बहुत सहायक है। इससे शरीर की चर्बी कम होती है, जिससे वजन कम करने में भी मदद मिलती है। स्‍क्वैट्स एक्सरसाइज के फायदे यहीं खत्म नहीं होते। इसके ऐसे और भी कई लाभ है, जिनके कारण महिलाएं इसे अपना रही हैं। अगर आप भी स्क्वैट्स एक्सरसाइज का लाभ लेना चाहती हैं तो जानिए महिलाओं के लिए 5 बेस्ट स्क्वैट्स एक्सरसाइज (Squat Exercise) और पाएं इनके फायदे।

    5 बेस्ट स्क्वैट्स एक्सरसाइज (Squats exercise) और इनके फायदे

    1. गॉब्लेट स्‍क्वैट्स एक्सरसाइज (Goblet squats exercise)

    गॉब्लेट स्‍क्वैट्स एक्सरसाइज (Goblet squats exercise) करने से शरीर का निचला भाग मजबूत होता है। इसके साथ ही इससे जांघों, कंधों, बाजुओं और कमर को भी मजबूती मिलती है। महिलाओं को इस एक्सरसाइज से बहुत अधिक फायदा होता है। इसे करना भी आसान है। जानिए कैसे करते हैं इस व्यायाम को।

    कैसे करें

    • इस व्यायाम को करने के लिए आपको केटलबेल की जरूरत पड़ेगी।
    • एक जगह पर ऐसे खड़े हो जाएं कि आपके पैर एक दूसरे से कुछ दूरी पर हों।
    • केटलबेल को अपनी छाती के पास सामने पकड़ें।
    • आपकी कोहनी नीचे की तरह होनी चाहिए।
    • आप अपने कूल्हे को पीछे की तरफ करें और अपनी घुटनों को नीचे की तरफ मोड़ कर स्क्वैट्स करें।
    • इस प्रक्रिया को कम से कम 15 बार दोहराएं।

    और पढ़ें : लोअर बॉडी को टोन करना चाहते हैं? ये एक्सरसाइज आएगी आपके काम

    2. सूमो स्‍क्वैट्स (Sumo squats)

    सूमो स्‍क्वैट्स

    टांगों और शरीर के निचले भाग को मजबूत बनाने के साथ-साथ आप अपने शरीर का संतुलन बनाना भी इस एक्सरसाइज के माध्यम से सीख सकती हैं। इस स्‍क्वैट्स एक्सरसाइज को आप बिना किसी उपकरण से कहीं भी कर सकते हैं। यह सामान्य स्‍क्वैट्स एक्सरसाइज (Squat Exercise)की तरह ही है।

    कैसे करें

    • इस व्यायाम को करने के लिए एक जगह पर खड़े हो जाएं।
    • आपकी टांगे एक दूसरे से बहुत दूर होनी चाहिए।
    • इसके साथ ही आपके पैर भी बाहर की तरफ होने चाहिए।
    • अपने हाथों को आगे की तरफ रखें। इन्हे आप जोड़ भी सकते हैं, नमस्कार स्थिति में भी रख सकते हैं या अपने सिर के ऊपर भी कर के नमस्कार स्थिति में जोड़ सकते हैं।
    • आप अपने कूल्हे को पीछे की तरफ करें और अपनी घुटनों को नीचे की तरफ मोड़ कर स्‍क्‍वैट करें।
    • इस प्रक्रिया को कम से कम 15 बार दोहराएं।

    और पढ़ें : कार्डियो एक्सरसाइज से रखें अपने हार्ट को हेल्दी, और भी हैं कई फायदे

    3. लेटरल स्टेप आउट स्‍क्वैट्स एक्सरसाइज (Lateral step out squats exercise)

    squats

    इस स्‍क्वैट्स के फायदे शायद आप नहीं जानते होंगे। यह स्‍क्वैट्स एक्सरसाइज (Squat Exercise) महिलाओं की टांगों के लिए बहुत लाभदायक है। यह एक्सरसाइज अन्य स्क्वैट्स एक्सरसाइज से थोड़ी अलग है, लेकिन इसके फायदे अन्य एक्सरसाइज से कम नहीं है। इस स्‍क्वैट्स एक्सरसाइज को करने के लिए आपको एक रेजिस्टेंस बैंड की जरूरत है।

    कैसे करें

    • इस स्‍क्वैट्स एक्सरसाइज (Squat Exercise) को करने के लिए एक जगह पर खड़े हो जाएं।
    • अपने घुटनों के नीचे रेजिस्टेंस बैंड लगा लें।
    • अपने हाथों को अपनी छाती के आगे जोड़ लें।
    • अब अपने दाईं तरफ एक बड़ा कदम लें और अपने घुटनों को मोड़ लें और जमीन के समानांतर बैठ जाएं।
    • इसके बाद खड़े होते हुए अपने पैरों को पहले की स्थिति में ले आएं और खड़े हो जाएं।
    • इस एक्सरसाइज (Squat Exercise) को दोहराएं।

    और पढ़ें : सिर्फ जिम जाने से नहीं बनेगी बात, पेट कम करने के लिए करें ये एक्सरसाइज

    4. जंप स्‍क्वैट्स एक्सरसाइज (Jump squats exercise)

    squats

    जैसा की नाम से ही पता चल रहा है इसमें आपको जंप करना है। इससे आपके पूरे शरीर का व्यायाम हो जाता है। जानिए कैसे करते हैं यह एक्सरसाइज।

    कैसे करें

    • जंप स्क्वैट्स एक्सरसाइज को करने के लिए आप सीधे खड़े हो जाएं और आपके पैरों में अच्छा खासा अंतर होना चाहिए।
    • आपके पैर भी बाहर की तरफ होने चाहिए।
    • आपके हाथ आपकी छाती के सामने होने चाहिए।
    • अपने घुटनों को मोड़ें और जितना जंप कर सकते हैं करें।
    • लेकिन जंप के बाद जमीन पर अपने पैरों को आराम से रखें और स्क्वाट करें ।
    • इस एक्सरसाइज (Squat Exercise) को दोहराएं।

    और पढ़ें : महिलाओं की प्रजनन क्षमता बढ़ाने में सहायक 5 योगासन

    5. ओवर हेड स्‍क्वैट्स एक्सरसाइज (Over head squats exercise)

    squats

    यह सामान्य स्क्वैट्स एक्सरसाइज का दूसरा रूप है। इसमें आपको अपने कंधों पर स्क्वैट प्लस बार को रखना है। इसमें आप जितना हो सके भार ऐड कर सकती हैं। आपके मसल्स के लिए यह स्‍क्वैट्स एक्सरसाइज बहुत लाभदायक है।

    क्या करें

    • इस व्यायाम को करने के लिए एक जगह पर खड़े हो जाएं।
    • आपकी टांगे एक दूसरे से बहुत दूर होनी चाहिए।
    • इसके साथ ही आपके पैर भी बाहर की तरफ होने चाहिए।
    • अपने कन्धों के पीछे दोनों हाथों से स्‍क्‍वैट प्लस बार को पकड़ लें।
    • आप अपने कूल्हे को पीछे की तरफ करें और अपनी घुटनों को नीचे की तरफ मोड़ कर स्‍क्‍वैट करें।
    • इस स्‍क्वैट्स एक्सरसाइज की प्रक्रिया को कम से कम 15 बार दोहराएं।

    और पढ़ें : एथलीट्स से जिम जाने वालों तक, जानिए कैसे व्हे प्रोटीन आपके रूटीन में हो सकता है एड

    6. बुल्गारियन स्प्लिट स्‍क्वैट्स एक्सरसाइज (Bulgarian split squats exercise)

    क्या करें

    • किसी सीढ़ी के सामने थोड़ी दूरी पर खड़े हो जाए।
    • यह सीढ़ी आपकी पीठ के पीछे होनी चाहिए।
    • अब अपने एक पैर को पीछे करें और सीढ़ी पर रख दें।
    • यह आपकी शुरुआत की स्थिति है।
    • अब अपने घुटनों को अपने शरीर से उतना मोड़ कर नीचे ले कर जाएं जितना आप कर सकते हैं।
    • इस दौरान आपके कंधे पीछे, छाती ऊपर और कूल्हे आगे की तरफ होने चाहिए।
    • कुछ देर ऐसे ही रहें इसके बाद शुरुआत की स्थिति में आ जाएं।
    • यह एक rep है। इस स्‍क्वैट्स एक्सरसाइज (Squat Exercise) को दस बार दोहराएं। फिर दूसरी तरह से भी करें।

    तो ये थीं महिलाओं के लिए स्‍क्वैट्स एक्सरसाइज, जो काफी फायदेमंद हो सकती है। स्‍क्वैट्स के फायदे एक नहीं बल्कि बहुत से होते हैं। बेहतर परिणाम पाने के लिए आप इन्हें नियमित रूप से करें। ध्यान रहे कि आप इन स्‍क्वैट्स एक्सरसाइज (Squat Exercise) को विशेषज्ञ की निगरानी में या अच्छी तरह सीखकर ही करें। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी प्रकार की चिकित्सा और उपचार प्रदान नहीं करता है। हम उम्मीद करते हैं कि आपको ये आर्टिकल पसंद आया होगा। आप स्वास्थ्य संबंधी अधिक जानकारी के लिए हैलो स्वास्थ्य की वेबसाइट विजिट कर सकते हैं। अगर आपके मन में कोई प्रश्न है, तो हैलो स्वास्थ्य के फेसबुक पेज में आप कमेंट बॉक्स में प्रश्न पूछ सकते हैं और अन्य लोगों के साथ साझा कर सकते हैं।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

    डॉ. हेमाक्षी जत्तानी

    डेंटिस्ट्री · Consultant Orthodontist


    Anu sharma द्वारा लिखित · अपडेटेड 18/10/2021

    advertisement
    advertisement
    advertisement
    advertisement