home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

कार्डिएक कैथेटेराइजेशन: कई प्रकार की हार्ट डिजीज का पता लगाने के लिए किया जाता है ये टेस्ट

कार्डिएक कैथेटेराइजेशन: कई प्रकार की हार्ट डिजीज का पता लगाने के लिए किया जाता है ये टेस्ट

कार्डिएक कैथेटेराइजेशन (Cardiac catheterization) एक प्रॉसीजर है जिसके जरिए ये पता किया जाता है कि हृदय ठीक से काम कर रहा है या नहीं। इस प्रॉसीजर के दौरान एक पतली होलो ट्यूब (Hollow tube) जिसे कैथर (Cather) कहते हैं को लार्ज ब्लड वेसल्स में इंसर्ट किया जाता है। यह ब्लड वेसल्स हार्ट तक जाती है। इस प्रॉसेस का उपयोग कार्डियोवैस्कुलर कंडिशन को ट्रीट करने के लिए किया जाता है। कुछ हार्ट कंडिशन जैसे कि कोरोनरी एंजियोप्लास्टी (Coronary angioplasty) और कोरोनरी स्टेंनिंग (Coronary stenting) में कार्डिएक कैथेटेराइजेशन का उपयोग करके ही होता है।

सामान्य तौर पर कार्डिएक कैथेटेराइजेशन के दौरान व्यक्ति होश में होता है और उसे दिया गया मेडिकेशन रिलैक्स होने में मदद करता है। कार्डिएक कैथेटेराइजेशन (Cardiac catheterization) का रिकवरी टाइम कम है और कॉम्प्लिकेशन्स का रिस्क भी नहीं है।

कार्डिएक कैथेटेराइजेशन क्यों किया जाता है? (Cardiac catheterization uses)

इस प्रॉसेस को कार्डिएक कैथ या हार्ट कैथ (Cardiac Cath or Heart Cath) भी कहते हैं। इसका उपयोग यह पता लगाने के लिए किया जाता है कि व्यक्ति को किसी प्रकार की हार्ट मसल्स, हार्ट वाल्व या कोरोनरी हार्ट आर्टरीज से जुड़ी बीमारी तो नहीं है। साथ ही इसका उपयोग हार्ट प्रॉब्लम (Heart Problem) को करेक्ट करने के लिए भी किया जाता है। प्रक्रिया के दौरान मरीज के हार्ट के प्रेशर और ब्लड फ्लो को मेजर किया जाता है। अगर डॉक्टर कार्डिएक कैथेटेराइजेशन का उपयोग (Cardiac catheterization uses) हार्ट डिजीज (Heart disease) का पता लगाने के लिए कर रहे हैं तो वे निम्न चीजें कर सकते हैं।

  • संकरी या बंद रक्त वाहिकाओं का पता लगा सकते हैं जो कि सीने में दर्द का कारण बन रही हैं।
  • ऑक्सिजन के प्रेशर और लेवल का शरीर के विभिन्न हिस्सो में पता लगाते हैं।
  • हार्ट के पंपिंग फंक्शन की जांच की जाती है।
  • बायोप्सी के लिए टिशू का सैम्पल ले सकते हैं।
  • जन्मजात होने वाले हृदय रोगों के बारे में पता कर सकते हैं।

और पढ़ें: बैक्टीरियल एंडोकार्डाइटिस (Bacterial endocarditis): हार्ट में होने वाला ये इंफेक्शन हो सकता है जानलेवा

कार्डिएक कैथेटेराइजेशन का उपयोग (Cardiac catheterization uses) हार्ट डिजीज के उपचार में भी किया जाता है ये प्रक्रियाएं निम्न हैं।

  • संकरी आर्टरीज को सेंट प्लेसमेंट (Stent placement) के बिना चौड़ा करने के लिए। इसे एंजियोप्लास्टी (Angioplasty) कहते हैं।
  • दिल में रहने वाले छेद को बंद करने और किसी जन्मजात डिफेक्ट को ठीक करने के लिए
  • हार्ट वाल्व को रिपेयर (Heart Valve repair) या रिप्लेस करने के लिए।
  • संकरे हार्ट वाल्व को खोलने के लिए। इसे बैल्लून वल्वोपास्टी (Balloon valvuloplasty) कहते हैं।
  • इरेगुलर हार्ट रिदम का इलाज करने के लिए।
  • ब्लड क्लॉट बनने से रोकने वाले किसी हिस्से को बंद करने के लिए।

कार्डिएक कैथेटेराइजेशन के रिस्क क्या हैं? (Cardiac catheterization Risk)

कार्डिएक कैथेटेराइजेशन (Cardiac catheterization)

हार्ट और ब्लड वेसल्स के लिए जाने वाले हर प्रॉसीजर की तरह ही इस प्रक्रिया के भी कुछ रिस्क हैं, लेकिन मेजर कॉम्प्लिकेशन कम हैं। कार्डिएक कैथेटेराइजेशन के रिस्क (Cardiac catheterization Risk) निम्न प्रकार हैं।

  • केथर इंसर्ट करने वाली जगह पर नील पड़ना
  • पेट खराब होना
  • खुजली होना
  • हाइव्स
  • प्रॉसीजर के दौरान उपयोग की गई दवा या डाई से एलर्जिक रिएक्शन
  • इंफेक्शन
  • कैथर इंसर्ट करने वाली जगह पर ब्लीडिंग होना
  • सीने में दर्द
  • एक्स रे के एक्सपोज से माइल्ड स्किन रिएक्शन
  • किडनी फेलियर (Kidney)
  • हार्ट अटैक, ब्लड क्लॉट्स, स्ट्रोक

अगर आप प्रेग्नेंट या प्रेग्नेंसी प्लानिंग कर रही हैं तो प्रॉसीजर के पहले डॉक्टर को बताएं।

और पढ़ें: लेफ्ट साइड हार्ट फेलियर के क्या होते हैं लक्षण और किन समस्याओं का करना पड़ता है सामना?

कार्डिएक कैथेटेराइजेशन की तैयारी कैसे करें? (Before Cardiac catheterization procedure)

कार्डिएक कैथेटेराइजेशन (Cardiac catheterization) प्रॉसीजर हॉस्पिटल में संपन्न होती है। इसके लिए कुछ तैयारियों की जरूरत पड़ सकती है। निम्न बातों को प्रॉसेस से पहले फॉलो करें।

  • प्रॉसेस के 6 घंटे पहले तक कुछ भी खाएं या पिएं नहीं। पेट में मौजूद खाना एनेस्थीसिया (Anesthesia) के कॉम्प्लिकेशन को बढ़ा सकता है।
  • अगर व्यक्ति को डायबिटीज की परेशानी है तो डायबिटीज की दवाओं और इंसुलिन के उपयोग के बारे में डॉक्टर से पूछ लें। टेस्ट के कुछ समय बाद मरीज कुछ भी खाने या पीने मे सक्षम हो जाता है।
  • डॉक्टर कुछ दवाओं को लेने से मना कर सकते हैं जो ब्लड को पतला करती हैं जैसे कि एस्पिरिन, वारफेरिन (Warfarin), (Aspirin)।
  • टेस्ट से पहले डॉक्टर ब्लड प्रेशर (Blood Pressure) और पल्स चेक करेंगे
  • ब्लैडर खाली करने के लिए टॉयलेट जाने के लिए कहा जाएगा।
  • आपको डेंचर (Denture) या किसी भी प्रकार की ज्वैलरी को हटाना होगा।

और पढ़ें: Heart Valve Stenosis: हार्ट वॉल्व स्टेनोसिस के कारण किन समस्याओं का करना पड़ता है सामना?

कार्डिएक कैथेटेराइजेशन प्रॉसीजर (During the catheterization procedure)

कार्डिएक कैथेटेराइजेशन

कार्डिएक कैथेटेराइजेशन (Cardiac catheterization) प्रॉसीजर में स्पेशल एक्स रे और इमेजिंग मशीन के द्वारा किया जाता है। एक ऑपरेटिंग रूप की तरह ही कार्डिएक कैथेटेराइजेशन लैब एक स्टेराइल एरिया (Sterile area) होता है। इस प्रक्रिया के दौरान व्यक्ति होश में होता है, लेकिन उसे सेडेटिव दिया जाता है। वहीं वाल्व रिपेयर (Valve repair), वाल्व रिप्लेसमेंट (Valve replacement) आदि के दौरान मरीज को जनरल एनेस्थीसिया (General anesthesia) दिया जाता है। यह प्रक्रिया निम्न प्रकार होती है।

  • कैथ प्रॉसीजर के दौरान नर्स आई वी लाइन (IV line) को हाथ में इंसर्ट करेगी ताकि आपको बेहोश करने वाली दवा दी जा सके, लेकिन आप इस दौरान जागे रहेंगे और इस दौरान दिए जाने वाले निर्देशों को फॉलो कर सकेंगे।
  • आपके पास कुछ मॉनिटर होंगे जिनके जरिए टेस्ट के दौरान हार्टबीट (Heart beat) को चैक किया जाएगा।
  • टेस्ट के पहले नर्स या टेक्निशियन उस एरिया को क्लीन या शेव करेंगे जहां पर कैथर को इंसर्ट किया जाना होगा। कैथर के इंसर्ट करने से पहले उस हिस्से को सुन्न कर दिया जाएगा। जिस दौरान आपको थोड़ दर्द हो सकता है, लेकिन हिस्सा सुन्न होने के बाद ऐसा नहीं होगा।
  • जैसे ही हिस्सा सुन्न होगा कैथर को इंसर्ट किया जाएगा। आर्टरीज तक पहुंचने के लिए एक छोटा कट लगाया जाएगा। इसके जरिए कैथर को इंसर्ट किया जाएगा। यह कैथर ब्लड वेसल्स तक पहुंच जाएगी।
  • वीडियो स्क्रीन के जरिए कैथर की पॉजिशन पर नजर रखी जाएगी। यह प्रमुख रक्त वाहिकाओं से हृदय तक जाती है। इस दौरान मरीज को कमर पर दवाब महसूस हो सकता है, लेकिन दर्द का एहसास नहीं होगा।

कार्डिएक कैथेटेराइजेशन प्रॉसीजर के बाद क्या होता है? (After cardiac catheterization procedure)

कुछ समय के बाद ही आप रिकवर हो जाएंगे। इस दौरान आपको लेटे रहना होगा। इस इस दौरान निम्न स्टेप फॉलो किए जाएंगे।

  • पंक्चर साइट पर प्रेशर डाला जाएगा ताकि ब्लीडिंग रुक जाए।
  • मरीज से पैरों को सीधा रखने के लिए कहा जाएगा और आप कुछ समय तक बिस्तर से नहीं उतर सकते।
  • रिकवरी के दौरान मरीज का ब्लड प्रेशर और पल्स को चेक किया जाएगा।
  • अगर इस दौरान किसी प्रकार की ब्लीडिंग (Bleeding), चेस्ट पेन (Chest Pain) या ब्लीडिंग का एहसास होता है तो डॉक्टर से बात करें।
  • हॉस्पिटल से जाने से पहले डॉक्टर आपको निर्देश देंगे कि आपको क्या करना चाहिए या नहीं?

और पढ़ें: हार्ट फेलियर से बचने के लिए किन आयनोट्रोप्स का किया जाता है इस्तेमाल?

कार्डिएक कैथेटेराइजेशन का रिजल्ट (Cardiac catheterization Results)

अगर कार्डिएक कैथेटेराइजेशन (Cardiac catheterization) का उपयोग एक टेस्ट के तौर पर किया गया है, तो डॉक्टर इसका रिजल्ट मरीज को बताएंगे। अगर कोरोनरी एंजियोग्राम (Coronary angiogram) हुआ है, तो इसके रिजल्ट का मतलब हो सकता है कि मरीज को एंजियोप्लास्टी (Angioplasty) की जरूरत है या स्टेंट (Stent) की। ऐसे में डॉक्टर तुरंत स्टेंट के साथ या उसके बिना एंजियोप्लास्टी कर सकता है ताकि आपको एक और कार्डिएक कैथेटेराइजेशन की आवश्यकता न पड़े। प्रक्रिया शुरू होने से पहले आपके डॉक्टर को चर्चा करनी चाहिए कि क्या इसकी संभावना है।

रिजल्ट में यह भी पता चल सकता है कि मरीज को कोरोनरी बाईपास सर्जरी (Coronary bypass surgery) जिसे ओपन हार्ट सर्जरी (Open Heart Surgery) भी कहते हैं की आवश्यकता है। इस तरह यह पूरी प्रक्रिया संपन्न होती है।

उम्मीद है कि आपको कार्डिएक कैथेटेराइजेशन (Cardiac catheterization) से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Cardiac catheterization/https://www.mayoclinic.org/tests-procedures/cardiac-catheterization/about/pac-20384695/ Accessed on 8th June 2021

Cardiac catheterization/https://www.heart.org/en/health-topics/heart-attack/diagnosing-a-heart-attack/cardiac-catheterization/Accessed on 8th June 2021

Cardiac catheterization/https://my.clevelandclinic.org/health/diagnostics/16832-cardiac-catheterization/Accessed on 8th June 2021

Cardiac catheterization/https://www.hopkinsmedicine.org/health/treatment-tests-and-therapies/cardiac-catheterization/Accessed on 8th June 2021

Cardiac catheterization/https://www.nhlbi.nih.gov/health-topics/cardiac-catheterization/Accessed on 8th June 2021

Cardiac catheterization/https://medlineplus.gov/ency/article/003419.htm/Accessed on 22nd September 2021

Cardiac catheterisation and coronary angiography/https://www.nhs.uk/conditions/coronary-angiography/Accessed on 22nd September 2021

 

लेखक की तस्वीर badge
Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट कुछ दिन पहले को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x