home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

पेसमेकर के बाद सेक्स सेफ रहे, इसलिए इन बातों का पहले से रखें ध्यान

पेसमेकर के बाद सेक्स सेफ रहे, इसलिए इन बातों का पहले से रखें ध्यान

दिल यानि कि हार्ट हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है, इसमें आयी गड़बड़ी हमारी लाइफस्टाइल से लेकर सभी एक्टिविटीज तक को प्रभावित करने लगती है, जिसमें से एक हार्ट पेशेंट की सेक्शुअल लाइफ भी है। हार्ट प्राब्लम के होने के बाद कई बार हार्ट के मरीजों को पेसमेकर की जरूरत पड़ती है। तो ऐसे उनके मन में यह सवाल भी होता है कि क्या पेसमेकर के बाद सेक्स (Better sex with pacemake) किया जा सकता है ? हां, कुछ बातों का ध्यान रखते हुए हार्ट सर्जरी के बाद भी सेक्शुअल लाइफ भी पहले जैसी रखी जा सकती है। तो आइए जानते हैं कि पेसमेकर के बाद सेक्स (Better sex with pacemake) लाइफ कैसी होनी चाहिए और किन बातों का ध्यान रखना आवश्यक है। इससे पहले यह भी जान लें कि पेसमेकर क्या है?

और पढ़ें: क्या हार्ट डिजीज में कैफीन का उपयोग करना सही है?

पेसमेकर क्या है (what is a pacemaker) ?

यह एक छोटी सी डिवाइस होता है, जिसका वजन 25 से 35 ग्राम होता है। हार्ट के मरीजों को गंभीर ब्लॉकेज होने पर कई बार पेसमेकर सर्जरी की आवश्यकता होती है। पेसमेकर एक छोटा सा उपकरण है, जो हार्ट के ठीक से फंक्शन नहीं करता है या हार्ट के फेल होने होने का डर होता है, तो उस समय पेसमेकर सर्जरी की सलाह दी जाती है। ताकि हार्ट के फंक्शन को सही रखा जा सके। इसे उन हार्ट पेशेंट के दिल में फिट किया जाता है, जिनका हार्ट रेट कम होता है, यह डिवाइस हार्ट की मांसपेशियों में इलेक्ट्रिक इम्‍पल्‍स भेजता है, जिससे आर्टिफिशियल हार्ट बीट बनती है और हार्ट रेट सामान्‍य आ जाता है। इसकी अधिक जरूरत पड़ती है, जब किसी व्यक्ति की हार्ट रेट 40 से कम हो जाती है, तो उस समय कई दिल से संबंधित समस्याएं हो सकती हैं। पेसमेकर को रीचार्ज करने के लिए बैटरी को एक निश्चित समय पर बदलना पड़ता है। यह हृदय की मांसपेशियों को संकेत भेजता है, जिससे आर्टिफिशियल धड़कनों का निर्माण होता है।

और पढ़ें: हार्ट पेशेंट्स के लिए योग है बेहतर उपाय लेकिन ये योग कहीं पैदा न कर दें खतरा!

पेसमेकर के बाद सेक्स सेफ है (Is sex safe after a pacemaker)?

पेसमेकर के बाद सेक्स लाइफ को लेकर बात करें,ताे हां, कुछ बातों का ध्यान रखते हुए पेसमेकर के बाद सेक्स किया जा सकता है। कई बार लोग ये सोचते हैं कि हार्ट अटैक के बाद सेक्‍स करने से उनके हार्ट की प्रॉब्लम बढ़ भी सकती है। ऐसा नहीं है, पेसमेकर के बाद सेक्स किया जा सकता है, साथ में थोड़े से सावधानी की जरूरत हाेती है। लेकिन हार्ट अटैक के बाद एक्‍सट्रामैरिटल सेक्‍स से दूरी बनाए रखना आवश्यक है। इतना ही नहीं, सेक्‍स से तनाव कम होता है। हार्ट की सर्जरी के बाद सेक्शुअल लाइफ अच्छी होने से हेल्थ भी अच्छी बनी रहती है। वास्तव में, ऐसा हो सकता है, क्योंकि अ पेसमेकर की उपस्थिति ने उनके लिए ऐसा करना सुरक्षित बना दिया हो, लेकिन किसी भी गतिविधि की तरह जो आप करने जा रहे हैं, यह सुनिश्चित करने के लिए अपने डॉक्टर से बात करना चाहिए। इससे आपकी हार्ट हेल्थ और सेक्शुअल लाइफ दोनों ही अच्छी बनी रहेगी। यौन गतिविधि, अधिकांश अन्य शारीरिक गतिविधियों की तरह की ही है, आपको केवल अपने डॉक्टर से बात करने की आवश्यकता है और यह समझने की बात है कि वे क्या कर सकते हैं, और फिर अपनी इच्छानुसार इसका पालन करें।

और पढ़ें: हार्ट डिजीज के लिए जड़ी-बूटियों का उपयोग हो सकता है फायदेमंद, जान लीजिए इनके नाम

पेसमेकर के बाद सेक्स के दौरान न करें ये गलियां (Do not do these lanes during sex after pacemaker)

पेसमेकर के बाद सेक्स् तो किया जा सकता है, लेकिन कुछ खास बातों का ध्यान रखना आवश्यक है। छोटी-छोटी गलतियां आपके हार्ट हेल्थ पर भी भारी पड़ सकता है। हार्ट सर्जरी के बाद हार्ट पेशेंट को कुछ बातों का ध्यान रखना आवश्यक है, नहीं तो छोटी सी गतली आप पर भारी पड़ सकती है, जिनमें शामिल है:

माहौल का ध्यान रखें (Take care of the environment)

पेसमेकर के बाद सेक्स लाइफ अच्छी हो, इसके लिए कुछ खास बातों का ध्यान रखनाआवश्यक है। जिसमें सबसे पहले अच्छा मौहोल शामिल है। हार्ट के मरीजों के लिए सेक्‍स के दौरान अच्‍छा माहौल होना जरूरी है, ताकि वो सहुलियत महसूस कर सकें। जिन मरीजों को दिल की बीमारी है, उन्‍हें अनजान माहौल में सेक्‍स करने से बचना चाहिए। कई अध्‍ययनों में भी पाया गया कि ज्‍यादातर दिल की बीमारी से जूझ रहे पुरुषों की मौत एक्‍सट्रामैरिटल सेक्‍स के दौरान देखी गई है।

और पढ़ें: हार्ट पेशेंट्स ट्राय करेंगे यह डेजर्ट्स, तो उनकी सेहत को नहीं होगा कोई नुकसान!

डिनर के बाद तुरंत सेक्स न करें (Do not have sex immediately after dinner)

हार्ट के मरीजों को खाना खाने के बाद तुरंत सेक्स न करें। ऐसा करना हार्ट हेल्थ के लिए अच्छा होता है। हार्ट पेशेंट को इस मामले में थोड़ा सर्तक रहने की जरूरत होती है। डॉक्टरों का कहना है कि जिन लोगों को कभी हार्ट अटैक पड़ चका है या पेसमेकर लग चुका है, उन्हें खाने के बाद किसी भी प्रकार की इंटेस वाली एक्टिविटी से बचना चाहिए। जिन्होंने ओपन हार्ट सर्जरी कराई हो उन्हें इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि वो खाने के तुरंत बाद सेक्शुअल एक्टिविटी में शामिल ना हों। ऐसा करना उनके हार्ट के लिए अच्छा नहीं है।

और पढ़ें: हार्ट ब्लॉकेज में योगा : इस कठिन समस्या का आसान समाधान

हार्ट सर्जरी के बाद कुछ महीने तक सेक्स से बचें (Avoid sex for a few months after heart surgery)

पेसमेकर के बाद सेक्स की बात करें, तो यदि आपकी सर्जरी हुए कुछ दिन हुए, तो आपको सेक्स जैसी फिजिकल एक्टिविटी से बचना चाहिए। ऐसे में सेक्स करने से घाव खुल सकता है या हार्ट पर ज्यादा जोर पड़ सकता है। कुछ महीनों की अच्छी रिकवरी के बाद आप सेक्स कर सकते हैं। लेकिन, इसी के साथ ऐसे पोजिशन का भी ध्यान रखें कि खोजें जिससे आपके घाव पर ज्यादा दबाव न पड़े। शुरुआत में सहुलियत और बचाव के लिए आप दोनों के बीच में एक तकिये का इस्तेमाल भी कर सकते हैं।

और पढ़ें: क्या है धीमी हार्ट पल्स रेट की समस्या? जानिए इस आर्टिकल के जरिए!

गलत सेक्स पोजिशन से बचना चाहिए (Wrong sex position should be avoided)

पेसमेकर के बाद सेक्स लाइफ को अच्छे से जीने के लिए आप डॉक्टर से सेक्स पोजिशन के बारे में बात करें, कि आपके लिए कौन सी पोजिशन सही है। हार्ड और हाय इंटेंस वाले सेक्स पोजिान से भी बचाव जरूरी है। नहीं तो यह आपके हार्ट हेल्थ पर भारी पड़ सकता है। खासतौर पर ऐसी सेक्स पोजिशन से जिससे आपकी बाहों और छाती पर दबाव पड़ रहा हो। ऐसे में वाइब्रेटर जैसे सेक्स एड्स आमतौर पर उपयोग करने के लिए सुरक्षित होते हैं।

नोट: पेसमेकर के बाद सेक्स के दौरान यदि आपको हार्ट में किसी प्रकार का दवाब या दर्द महसूस हो, तो बिना देरी किए तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें: हार्ट डिजीज के लिए जड़ी-बूटियों का उपयोग हो सकता है फायदेमंद, जान लीजिए इनके नाम

आपने यहां जाना कि पेसमेकर के बाद सेक्स करने के साथ आपको किन बातों का धयान रखना चाहिए। केवल सेक्स के साथ ही नहीं, बल्कि अन्य एक्टिविटीज के दौरान भी हार्ट पेशेंट को अपना विशेष ध्यान रखना चाहिए। इसके अलावा , हार्ट के मरीजों को अपने सही डायट का भी ध्यान रखना चाहिए। समय-समय के साथ डॉक्टर से चेकअप भी करवाएं। ताकि आपका हार्ट और सेक्स लाइफ दोनों ही अच्छी बनी रहे। यदि आपको सेक्स के दौरान हार्ट पर किसी प्रकार का दबाव महसूस होता है या किसी प्रकार का दर्द महसूस होता है, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। डॉक्टर की गाइडेंस का पूरा ध्यान रखें। अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करें।

health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Niharika Jaiswal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 03/12/2021 को
और Hello Swasthya Medical Panel द्वारा फैक्ट चेक्ड