home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

कोरोना वायरस के कारण बिजनेस में हो रहा नुकसान? जानें महान लोग कैसे पाते हैं तनाव पर नियंत्रण

कोरोना वायरस के कारण बिजनेस में हो रहा नुकसान? जानें महान लोग कैसे पाते हैं तनाव पर नियंत्रण

कोविड-19 महामारी के कारण भारत सहित विश्व के कई देशों में लॉकडाउन लगा हुआ है। कोरोना का औद्योगिक क्षेत्रों पर भी काफी बुरा असर पड़ा है। दुकान, फैक्ट्री, प्राइवेट या सरकारी कार्यालय बंद हैं। सरकारी या निजी परिवहन सेवा सहित सभी सेवाएं पूरी तरह से बंद हैं। कोरोना वायरस से व्यापार के प्रभावित होने के कारण छोटे दुकानदार, व्यापारी, नौकरी पेशा लोग सहित बड़े उद्योगपतियों को बहुत नुकसान झेलना पड़ रहा है। अगर संकट की इस स्थिति के कारण आपका जीवन भी तनाव से भर गया है, तो हम बताएंगे कि आप लॉकडाउन के तनाव से कैसे बचें। उम्मीद है कि कोरोना लॉकडाउन में तनाव प्रबंधन के इन उपायों से आपको तनाव पर नियंत्रण पाने में जरूर सहायता मिलेगी।

कोरोना लॉकडाउन में तनाव प्रबंधन : संयम न खोएं आप

जब भी मुसीबत की घड़ी आती है, तो अधिकांश लोग संयम खो देते हैं। उनकी सोचने-समझने की शक्ति कम हो जाती है। लोग घबराने और चिंता करने लगते हैं। जैसा अभी कोरोना वायरस से व्यापार के प्रभावित होने के बाद देखा जा रहा है। इस चिंताजनक स्थिति में भले ही अधिकांश लोगों को यह समझ नहीं आ रहा है कि लॉकडाउन के तनाव से कैसे बचें। दूसरी तरफ कुछ ऐसे भी लोग हैं, जो अपनी समस्या को इतना बड़ा नहीं बनने देते।

कोरोना लॉकडाउन में तनाव प्रबंधन-corona lockdown me stress management

कोरोना लॉकडाउन में तनाव प्रबंधन : दुनिया में होते हैं दो तरह के लोग

दुनिया में दो तरह के लोग होते हैं। एक वे लोग होते हैं, जो विपत्ति आते ही मुंह मोड़ कर विपत्ति से भागने की कोशिश करते हैं। दूसरे वे लोग होते हैं, जो समस्याओं का सामना करते हैं, लड़ते हैं और विजय पाते हैं। हालांकि, संकट के समय में इन लोगों को भी खुद को शांत रखना बहुत मुश्किल होता है, लेकिन ये मुसीबत से मुंह छिपाकर भागते नहीं।

कोरोना लॉकडाउन में तनाव प्रबंधन : गलतियों या कमियों पर दें ध्यान

अभी कोरोना वायरस संक्रमण का जिस तरह ओद्यौगित क्षेत्रों पर असर हो रहा है, उससे कई चीजेंं उलट-पुलट हो गई हैं। कोविड-19 महामारी को छोड़ भी दें, तो अक्सर व्यापार में ऐसा होता रहता है। आपसे कुछ चीजें अच्छी भी होती हैं, तो कुछ चीजें गलत भी हो सकती हैं। गलती हो जाने पर ऐसा लगता है कि आपकी दुनिया ही खत्म हो गई। दुनिया के सारे दरवाजे बंद हो गए।

अगर आप भी कोरोना वायरस से व्यापार के प्रभावित होने के कारण ऐसी ही परिस्थिति में आ गए हैं, तो सबसे पहले यह सोचें कि आप दुनिया में अकेले व्यक्ति नहीं हैं। आपके जैसे हजारों, लाखों लोग फंसे हुए हैं।

कोरोना लॉकडाउन में तनाव प्रबंधन-corona lockdown me stress management

ये भी पढ़ेंः कोरोना वायरस : किन व्यक्तियोंं को होती है जांच की जरूरत, अगर है जानकारी तो खेलें क्विज

कोरोना लॉकडाउन में तनाव प्रबंधन : हिम्मत हारने से कभी सफलता नहीं मिलती

यह विचार करें कि तनावपूर्ण जीवन से बाहर निकलने के लिए आपके पास क्या-क्या उपाय हैं। आपकी परिस्थिति कैसी भी हो, लेकिन आप उससे निपटने के लिए कई तरीके अपना सकते हैं। आपको हर वह चीज करना चाहिए, जो आप कर सकते हैं। हिम्मत हारने से कभी भी सफलता नहीं मिलती। इसलिए समस्याओं से लड़ने के लिए हिम्मत जुटाएं। यह काम आपको ही करना होगा।

कोरोना लॉकडाउन में तनाव प्रबंधन : नकारात्मक बातों को मन में न आने दें

कोरोना का ओद्यौगिक क्षेत्रों पर असर ऐसा पड़ा है कि कई कंपनियों के कामकाज ठप हो गए हैं, तो कई कंपनियां ही पूरी तरह से बंद हो गई है। ऐसे में लोगों के मन में केवल नकारात्म बातें ही आती हैं, लेकिन आपको नकारात्मक बातों को अपने ऊपर हावी नहीं होने देना है। हमेशा सकारात्मक सोचें। आशावान रहें। ऐसा करके ही आप अपने लिए रास्ते बना सकते हैं।

कोरोना लॉकडाउन में तनाव प्रबंधन : घबराहट में जल्दबाजी न करें

बिजनेसमैन के रूप में आप कोरोना वायरस से व्यापार के प्रभावित होने के कारण तनावपूर्ण माहौल से गुजर रहे हैं, तो यह समय सोचने का नहीं, बल्कि निर्णय लेने का है। आपको जल्द निर्णय लेना है, लेकिन घबराहट में कोई गड़बड़ या गलत काम भी नहीं करना है।

हालांकि कोरोना वायरस से आपका व्यापार जितना प्रभावित हुआ है, उस घाटा को आप पूरा नहीं कर सकते, लेकिन कई खर्चों को कम करके आप हानि को थोड़ा कम जरूर कर सकते हैं।

कोरोना लॉकडाउन में तनाव प्रबंधन-corona lockdown me stress management

ये भी पढ़ेंः सावधान ! क्या आप कोरोना वायरस के इन लक्षणों के बारे में भी जानते हैं? स्टडी में सामने आई ये बातें

कोरोना लॉकडाउन में तनाव प्रबंधन : आत्मविश्वास न खोएं

अपने आत्मविश्वास को वापस पाने की कोशिश करें। यह सोचें कि कोरोना का औद्यौगिक क्षेत्रों पर जैसा असर हुआ है, स्थिति उससे भी बदतर हो सकती थी। अच्छी बातें सोचें और व्यापार को फिर से खड़ा करने या बढ़ाने की कोशिशें शुरू करें। इसके लिए आप व्यापार की रीब्रांडिंग कर सकते हैं।

कोरोना लॉकडाउन में तनाव प्रबंधन : अपने क्षेत्र के लोगों से जुड़ रहें

स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि व्यक्तिगत रूप से लोगों से मिलने से आपको तनाव से उबरने में सहायता मिलती है। अब आप सोच रहे होंगे कि जब आप घर से बाहर नहीं जा सकते हैं, तो ऐसे में लॉकडाउन के तनाव से कैसे बचें। ऐसे में आप अपने अकेलेपन को दूर करने के लिए कंपनी के मालिक, इंवेस्टर, सलाहकार से चर्चा कर सकते हैं।

ये भी पढ़ेंः कोरोना वायरस : किन व्यक्तियोंं को होती है जांच की जरूरत, अगर है जानकारी तो खेलें क्विज

कोरोना लॉकडाउन में तनाव प्रबंधन : प्रोफेशनल लोगों से परामर्श लें

अगर आप पहले से ही किसी डॉक्टर की सहायता ले रहे हैं, तो यह बहुत अच्छी बात है। अगर ऐसा नहीं कर रहे हैं, तो किसी वरिष्ठ व्यक्ति या डॉक्टर से मिलें, जो आपको उचित सलाह दे सके। उन्हें अपनी समस्या बताएं।

कोरोना लॉकडाउन में तनाव प्रबंधन-corona lockdown me stress management

कोरोना लॉकडाउन में तनाव प्रबंधन : नई दिनचर्या बनाएं

आप नई दिनचर्या बनाकर तैयार कर सकते हैं। मनोबल को मजबूत करें, अच्छे कपड़े पहनें और फिर से काम पर लग जाएं। काम को सही समय और तारीख पर खत्म करने की कोशिश करें। अपने लिए लक्ष्य निर्धारित करें, लोगों से मिलें। इसके बाद भी अगर आप यह सोच रहे हैं कि लॉकडाउन के तनाव से कैसे बचें, तो मेडिटेशन की सहायता भी लें।

कोरोना से बचने के लिए सावधानी बहुत जरूरी है। कोरोना से बचाव के लिए अवेयरनेस एकमात्र उपाय है। बेहतर होगा कि घर में सभी लोगों को कोविड-19 से बचाव के तरीकों के बारे में बताएं और खुद भी सावधान रहें।

ये भी पढ़ेंः कैंसर पेशेंट्स में कोरोना वायरस का ज्यादा खतरा, बचने का सिर्फ एक रास्ता

हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

और पढ़ेंः

कोरोना के दौरान बेबी प्लानिंग के बारे में सोच रहे हैं तो पहले पढ़ लें ये आर्टिकल

लोगों में हो रही हैं लॉकडाउन के कारण मानसिक बीमारियां, जानें इनसे बचने का तरीका

दूसरे देशों के मुकाबले भारत में कोरोना वायरस इंफेक्शन फैलने की रफ्तार कम कैसे?

लोगों का डर: क्या सैनिटाइजर के साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं?

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

All accessed on 20/04/2020

https://www.nimh.nih.gov/health/publications/stress/index.shtmlYou Should Know About Stress

What is Stress?:https://www.stress.org/

Coronavirus-https://www.who.int/health-topics/coronavirus

Coronavirus disease (COVID-19) Pandemic –https://www.who.int/emergencies/diseases/novel-coronavirus-2019
India ramps up efforts to contain the spread of novel coronavirus-

How Great Leaders Handle High-Stress Situations-https://www.inc.com/mandy-gilbert/how-great-leaders-handle-high-stress-situations.html?cid=sf01001-08/04/2020

How to Train Your Mind for High-Pressure Situations, According to an Olympic Coach-
https://www.inc.com/betsy-mikel/how-train-your-mind-high-pressure-situations-olympic-coach.html?icid=mustread3

Ways to Manage Your Anxiety During Uncertain Times-
https://www.inc.com/elizabeth-gore/4-ways-to-manage-your-anxiety-during-uncertain-times.html?icid=mustread2

IndiaFightsCorona COVID-19 –https://www.mygov.in/covid-19

लेखक की तस्वीर
Dr. Pranali Patil के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Suraj Kumar Das द्वारा लिखित
अपडेटेड 21/04/2020
x