home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

चिलगोजा के फायदे एवं नुकसान - Health Benefits of Pine Nut

परिचय|सावधानी और चेतावनी|साइड इफेक्ट्स|डोसेज|उपलब्ध
चिलगोजा के फायदे एवं नुकसान - Health Benefits of Pine Nut

परिचय

चिलगोजा (Pine Nut) क्या है?

चिलगोजा को पाइन नट, पिगनोली, पिनोन नट के नाम से भी जाना जाता है। यह पाइन ट्री का बीज है जो खाद्य है। यह पीनासिए (Pinaceae) परिवार से ताल्लुक रखता है। इसका वानस्पातिक नाम पिनस गेरार्डियाना (Pinus gerardiana) है। आमतौर पर यह अफगानिस्तान, पाकिस्तान, चीन और भारत में पाया जाता है। इसका इस्तेमाल खाने पीने की कई डिशेज में किया जाता है। लगभग 29 तरह की वैराइटी में उपलब्ध पाइन नट का सेवन हमारे लिए सुरक्षित है। सालों से इसका इस्तेमाल आंखों से लेकर दिल, दिमाग और स्किन के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है।

चिलगोजा (Pine Nut) का उपयोग किस लिए किया जाता है?

हृदय संबंधित रोग के खतरे को कम करता है (reduce the risk of heart disease)

कई शोध के अनुसार हफ्ते में पांच दिन चिलगोजा का सेवन करने से हृदय संबंधित परेशानी से मौत होने का खतरा कम होता है। दूसरे नट्स की तरह पाइन नट्स भी मैंगनीज, विटामिन-ई, मोनोसैचुरेटेड फैट का स्त्रोत है, जो हृदय को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। पाइन नट में स्टेरॉल कंपाउंड होता है जो लो डेंसिटी लिपोप्रोटीन (LDL) कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करता है। इसका सेवन करने से बीएमआई और ब्लड प्रेशर भी नियंत्रण में रहता है।

एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर (high in antioxidants)

चिलगोजा विटामिन-ई से लेकर जिंक का प्रमुख स्त्रोत है। एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर यह नट सेल्स को डैमेज होने से बचाता है।

ग्लाइसेमिक कंट्रोल में सुधार (Improves Glycemic Control)

चिलगोजा शुगर लेवल को मेंटेन रखने के लिए प्रोटीन, वसा और फाइबर का एक अच्छा संतुलन प्रदान करता है। इसके साथ ही पाइन नट में डायबिटीज को कंट्रोल करने के लिए जरूरी पोषक तत्व भी होते हैं।

मैग्नीशियम से भरपूर चिलगोजा इंसुलिन द्वारा ग्लूकोज को बेहतर बनाने में मदद करता है। इसके अलावा इसमें मोनोअनसैचुरेटेड फैट होता है, जो हीमोग्लोबिन A1c के स्तर को कम करता है। ब्लड शुगर नियंत्रण में यह प्रमुख भूमिका निभाता है।

ब्रेन के लिए लाभदायक (Good for healthy brain)

पाइन नट हृदय की ही तरह ब्रेन को भी स्वस्थ रखने में मददगार है। इसमें कई ऐसे पोषक तत्व होते हैं जो अल्जाइमर, पार्किंसन रोग और डेमेंशिया जैसे मानसिक रोग से आपको दूर रखता है। इसका सेवन करने से डिप्रेशन के लक्षण में सुधार होता है।

कोलन कैंसर से बचाव (Prevent Colon Cancer)
कोरिया में एक बड़े स्तर पर की गई स्टडी के अनुसार, पीनट, पाइन नट, और बादाम का सेवन करने से कोलन कैंसर होने का खतरा कम होता है। चिलगोजा में फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जिस वजह से इसे अच्छे पाचन और कैंसर की रोकथाम के लिए एक अच्छा विकल्प माना जाता है।

आंखों को स्वस्थ रखता है (Protect Your Eyes)

चिलगोजा में विटामिन-ए होता है जो आंखों की रोशनी के साथ कॉरनिया (Cornea) को सुरक्षा कवच प्रदान करता है। दूसरे नट्स की तरह पाइन नट एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है। खासकर इसमें ल्यूटिन एंटीऑक्सीडेंट होता है जो आंखों में होने वाली कॉमन परेशानियों को दूर करता है।

स्किन के लिए वरदान है पाइन नट (Supports Healthy Skin)

चिलगोजा में कई ऐसे न्युट्रिएंट्स होते हैं जो स्किन को हेल्दी रखते हैं। इसमें विटामिन-ई होता है जो स्किन को एजिंग से बचाता है। इसमें मौजूद जिंक जख्म को जल्दी भरने में मदद करता है।

इन परेशानियों में भी मददगार है चिलगोजा का सेवन:

चिलगोजा (Pine Nut) कैसे काम करता है?

100 ग्राम पाइन नट्स की न्यूट्रिशनल वैल्यू

  • कैलोरी- 673
  • टोटल फैट- 68 ग्राम
  • सैचुरेटेड फैट- 4.9 ग्राम
  • कोलेस्ट्रॉल- 0
  • सोडियम- 2 मिलीग्राम
  • टोटल कार्ब- 13.08 ग्राम
  • डायटरी फाइबर- 3.7 ग्राम
  • शुगर- 3.6 ग्राम
  • प्रोटीन- 14 ग्राम
  • कैल्शियम- 16 मिलीग्राम
  • आयरन- 5.53 मिलीग्राम

और पढ़ें : Acacia : बबूल क्या है?

सावधानी और चेतावनी

चिलगोजा (Pine Nut) का उपयोग करना कितना सुरक्षित है?

चिलगोजा का सेवन करने से पहले निम्नलिखित लोगों को सावधानी बरतने की जरूरत है:

  • यदि आप प्रेग्नेंट हैं या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं तो इन दोनों ही स्थिति में इसका सेवन करने से पहले अपने चिकित्सक से कंसल्ट करना जरूरी है।
  • यदि आपको पीनट या पाइन पॉलन से एलर्जी है तो इसका सेवन करने से परहेज करें।
  • यदि आप किसी दवा या हर्ब का सेवन कर रहे हैं तो इसका सेवन करने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श लेना न भूलें। क्योंकि हो सकता है आपकी दवा और चिलगोजा का सेवन इंटरैक्ट करे।
  • यदि आपको कोई बीमारी है तो भी इसका सेवन करने से पहले आपका डॉक्टर से सलाह लेना जरूरी है।

और पढ़ें : Coconut Water: नारियल पानी क्या है और इसके क्या फायदे हैं?

साइड इफेक्ट्स

चिलगोजा (Pine Nut) से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

आमतौर पर पाइन नट का सेवन सभी के लिए सुरक्षित है, लेकिन कुछ लोगों में इसका सेवन करने से कुछ साइड इफेक्ट्स नजर आ सकते हैं। यदि आपको पीनट या पाइन पॉलन से एलर्जी है तो हो सकता है आपको इसका सेवन करने से भी साइड इफेक्ट्स नजर आएं। चिलगोजा का सेवन करने से निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स नजर आ सकते हैं:

जरूरी नहीं इसका सेवन करने से उपरोक्त बताए साइड इफेक्ट्स ही नजर आए। यदि आपको पाइन नट का सेवन करने से किसी तरह की परेशानी होती है, तो उसको खाना बंद कर दें और बिना देरी करें डॉक्टर से कंसल्ट करें।

और पढ़ें : Chocolate: चॉकलेट क्या है?

डोसेज

चिलगोजा (Pine Nut) को लेने की सही खुराक क्या है?

चिलगोजा की खुराक को लेकर कोई पुख्ता जानकारी नहीं है। हर किसी के लिए इसकी खुराक भिन्न हो सकती है। इसके बारे में अधिक जानकारी पाने के लिए अपने चिकित्सक या हर्बलिस्ट से कंसल्ट करें। कभी भी इसकी खुराक खुद से निर्धारित न करें। ऐसा करने से आप मुसीबत में भी पड़ सकते हैं।

और पढ़ें : Poppy Seed : खसखस के बीज क्या है?

उपलब्ध

चिलगोजा (Pine Nut) कितने रूपों में उपलब्ध है?

पाइन नट निम्नलिखित रूपों में उपलब्ध है:

  • नट्स (Nuts)
  • ऑयल (Oil)

अगर आपका इससे जुड़ा किसी तरह का कोई सवाल है, तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Pine Nut: https://www.foodauthority.nsw.gov.au/about-us/science/food-risk-studies/pine-nuts-and-pine-mouth Accessed June 02, 2020

Pine Nut Nutrients: https://fdc.nal.usda.gov/fdc-app.html#/food-details/339452/nutrients Accessed June 02, 2020

Pine nut intake and risk of colorectal cancer: https://nutritionj.biomedcentral.com/articles/10.1186/s12937-018-0345-y Accessed June 02, 2020

Effect of Pine Nuts on Glycemic Control in Diabetes: https://journals.plos.org/plosone/article?id=10.1371/journal.pone.0103376 Accessed June 02, 2020

Pine Tree Allergy: https://acaai.org/allergies/types-allergies/pine-tree-allergy Accessed June 02, 2020

Health Benefits of Pine nut: https://www.mdpi.com/2076-3921/8/8/302 Accessed June 02, 2020

Vitamin E in Dermatology: https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4976416/ Accessed June 02, 2020

Pine Nut Nutrition Value: https://www.nutritionvalue.org/Nuts%2C_dried%2C_pine_nuts_nutritional_value.html Accessed June 02, 2020

लेखक की तस्वीर badge
Mona narang द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 21/10/2020 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x