home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

ये 7 संकेत बताएंगे कि आप दोनों को कपल थेरिपी (Couple Therapy) की जरूरत है

ये 7 संकेत बताएंगे कि आप दोनों को कपल थेरिपी (Couple Therapy) की जरूरत है

जब हमें मानसिक तौर पर समस्या होती है तो हम उसे ठीक करने के लिए मेंटल थेरिपी का इस्तेमाल करते हैं। ठीक उसी तरह जब रिश्ते में कोई परेशानी या अनबन होती है तो हम लोग कपल्स थेरिपी (couple therapy) का सहारा लेते हैं। कई बार कपल्स के रिश्तों में ऐसी दिक्कतें आने लगती हैं कि उनका रिश्ता उलझता चला जाता है। कभी-कभी उनके बीच मनमुटाव की ऐसी स्थिति बन जाती है कि वो एक-दूसरे से बात नहीं करते। ऐसा होने पर क्या किया जाए, अपने रिश्ते में सुधार कैसे किया जाए, दोनों के मन में कहीं न कहीं ये सवाल आता ही होगा। तो अगर आप भी इस सवाल का जवाब ढूंढ रहे हैं, तो कपल थेरिपी को अपनाना एक बेहतर विकल्प हो सकता है। कपल थेरिपी पर ज्यादातर लोंगो को शंका भी होती है, कि भला यह थेरिपी कैसे किसी रिश्ते को टूटने से बचा सकती है? कपल थेरिपी में काउंसलर आपको आपके पार्टनर का नजरिया समझाने और दिखाने में मदद करता है जिससे रिश्ते में बढ़ रही गलतफहमियां कम होती है।

तो आइए उन 7 संकेतों के बारे में जानते हैं जो बताएंगी कि कपल थेरिपी की जरूरत क्यों है? (Why Couple Therapy is needed)

अगर आपको अपने रिश्ते में नीचे बताई गई स्थितियों का सामना करना पड़े तो आपको कपल थेरिपी (Couple Therapy) की जरूरत पड़ सकती है। अगर आपको कोई इस थेरिपी को कराने की सलाह दे रहा है, तो आप इसे नेगेटिव न लें। ये थेरिपी यकीनन आपके रिश्ते की कड़वाहट और आपके बीच आई दरार को मिटाने का काम कर सकती है। जानिए किन स्थितियों में इस थेरिपी के लेने की जरूरत पड़ सकती है। पढ़ें विस्तार से :

जीवन में कुछ अप्रत्याशित घाटे

कई बार जीवन में आपको वित्तीय समस्याओं से होकर गुजरना पड़ सकता है। कितनी ही बार अनचाहे गर्भधारण (Unwanted pregnancies) से, अचानक से आए वित्तीय घाटे की वजह से या किसी बड़े नुकसान की वजह से कपल्स के बीच मनमुटाव उत्पन्न हो सकता है, जो किसी भी प्यार भरे रिश्ते को कड़वा करने के लिए काफी है। आपके जीवन में अचानक से आए बदलाव की वजह से आयी परेशानियों से लड़ने के लिए कपल्स काउंसलिंग के लिए जा सकते हैं।

और पढ़ें: जब दिल की धड़कन बढ़ने लगे तो, समझ लो कि प्यार नहीं ब्रोकन हार्ट हो गया है

रिश्ते में सेक्स (sex) घटने लगे

कपल थेरिपी

ऐसे बहुत से कपल होते हैं जिन्हें एक समय आने पर अपनी सेक्स लाइफ (sex life) में कोई इंट्रस्ट नहीं रहता। इसे बहुत से लोग काफी सामान्य समझते हैं, लेकिन ये सामान्य नहीं है। अक्सर सेक्स लाइफ से दूर होने पर रिश्तों में भी दूरियां आने लगती है। अगर आपकी सेक्स लाइफ उतनी खुशनुमा नहीं है जैसी होनी चाहिए तो यह एक बड़ी समस्या हो सकती है। ऐसे में आपको सही समय पर सही निर्णय लेते हुए इस समस्या का समाधान ढूंढना चाहिए। यदि आप ध्यान देते हैं कि आपकी सेक्स लाइफ धीरे-धीरे कमजोर होने लगी है, तो एक कपल काउंसलर की तलाश करना एक अच्छा विचार हो सकता है।

अगर आपका साथी राज रखने लगे

इसमें कोई दो राय नहीं है कि जब दो लोग एक दूसरे के साथ जुड़ते हैं तो उनकी हर एक चीज एक दूसरे के साथ जुड़ जाती है। ऐसे में किसी चीज को छुपाना या किसी बात के लिए झूठ बोलने की कोई जगह नहीं होती है, लेकिन अगर किसी भी रिलेशनशिप में आप राज रखते हैं, जैसे कि अपनी भावनाओं को छिपाना, खर्च किए गए पैसों को छिपाना और अपने आस पास झूठ का एक जाल बुनना तो ये सारे संकेत इस बात के सूचक है कि आप अपने रिश्ते से खुश नहीं हैं। ऐसे मामलों में कपल थेरिपी (Couple Therapy) ज्यादा बेहतर उपाय है। ऐसा होने पर आप कपल थेरिपी ले सकते हैं।

और पढ़ें: प्यार और मौत से जुड़े इंटरेस्टिंग फैक्ट्स

छोटी-छोटी बातों पर झगड़ना

कहते हैं जहां प्यार होता है, वहां तकरार भी होती है। लेकिन अगर ये तकरार हद से ज्यादा बढ़ जाए, तो रिश्ते में खटास आ सकती है। अगर आपके रिश्ते में भी हद से ज्यादा लड़ाई-झगड़े होते हैं और झगड़ा खत्म होने पर भी मन शांत ना रहे तो आपको किसी विशेषज्ञ की जरूरत है। कपल थेरिपी (Couple Therapy) जरूर ही आपको इस मामले में मदद करेगी।

व्यवहार में है एक नकारात्मक पैटर्न

विशेषज्ञ बताते हैं कि इस मामले में दोनों पार्टनर एक दूसरे से हमेशा नकारात्मक व्यवहार करने की अपेक्षा करने लगते हैं। इसलिए, उनके बीच की बात हर लड़ाई के बाद और भी बुरी हो जाती है। उनका रिश्ता समय के साथ खराब होने लगता है। ऐसे मामले में किसी विशेषज्ञ की राय बहुत फायदेमंद हो सकती है।

जब एक दूसरे को क्षमा करना असंभव लगने लगे

यदि आपको अपने रिलेशन में ऐसा लगने लगे कि आप दोनों में कुछ भी असहमति होने पर एक दूसरे को माफ नहीं कर पा रहे हो, तो इसका मतलब ये है कि आपके रिश्ते में विश्वास की कमी है। ऐसी स्थिति में एक प्रोफेशनल डॉक्टर का परामर्श आपके रिश्ते को सुधार सकते है।

अगर आपको किसी नशे (drinking) या बुरी आदत से छुटकारा ना मिल पा रहा हो

अगर आपका साथी शराब की लत के चपेट में हो या तो जुए या किसी अन्य व्यवहार को नियंत्रित नहीं कर पा रहा हो तो आपको किसी पेशेवर की सहायता लेने की बहुत जरूरत है। एक चिकित्सक आपको यह पता लगाने में मदद कर सकता है कि क्या लत वास्तव में समस्या है और इसका इलाज करने के तरीके क्या हो सकते हैं। ऐसे में कपल्स थेरेपी बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकती है।

कपल्स थेरेपी से जुड़ा कोई भी दुष्प्रभाव (side effects) नहीं हैं। इसलिए इस प्रक्रिया का इस्तेमाल रिलेशनशिप से जुड़ी समस्याओं का सामना करने के लिए किया जा सकता है।

और पढ़ें: इन राशियों के बीच होती है गजब की कपल केमिस्ट्री

हम उम्मीद करते हैं कि आप अपने रिश्ते में हमेशा खुश रहते होंगे और अपने प्यार से अपने रिश्ते की मजबूती को कायम रखते होंगे। लेकिन अगर आपके रिश्ते में ऊपर बताई गई दिक्कतें आती हैं, तो आप कपल थेरिपी की मदद से इस रिश्ते की मिठास को फिर से वापस ला सकेंगे।

उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और कपल थेरिपी से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर
Pawan Upadhyaya द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 30/04/2021 को
Dr. Pooja Bhardwaj के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड
x