home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

एक बार ये भी अपना कर देखें 'लैस्बियन कपल'

एक बार ये भी अपना कर देखें 'लैस्बियन कपल'

स्वतंत्र तो हम बहुत पहले हो गए थे लेकिन कुछ विचार ऐसे थे जो हमे जंजीरो से जकड़े हुए थे। अब खुल कर जीने का समय आ गया है। जी हां, एलजीबीटीक्यू (LGBTQ) समुदाय के संघर्ष और योगदान का जश्न पूरी दुनिया मना रही है। आखिरकार दुनिया ने इस समुदाय को स्वीकार कर लिया। लेकिन फिर भी इस बारे में हम खुलकर बात नहीं करते है। हम स्त्री और पुरुष के बीच सेक्स को लेकर तो कई बार बातें करते है या फिर लिखते हैं लेकिन लैस्बियन को लेकर ऐसा खुलापन देखने को नहीं मिलता है। लोगों को लगता है कि लैस्बियन आम लोगों की तरह सेक्स का आनंद नहीं ले पाते होंगे। लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है। आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको लैस्बियन कपल सेक्स टिप्स बताने वाले हैं, जिससे आप लैस्बियन के लिए बेस्ट सेक्स पोजीशन की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

और पढ़ें : बोल्ड अंदाज में हों पार्टनर के सामने न्यूड, तो सेक्स लाइफ में आएगा रोमांच

लैस्बियन कपल सेक्स टिप्स

सीजरिंग (Scissoring)

लैस्बियन कपल सेक्स टिप्स के तौर पर ये सेक्स पुजिशन अपनाई जा सकती है। इस सेक्स पुजिशन को सीजरिंग इसलिए कहा जाता है, क्योंकि इसमे कैंची की तरह लैस्बियन कपल को एक-दूसरे के ऊपर पुजिशन लेनी होती है। लैस्बियन कपल के लिए यह बेस्ट पुजीशन हो सकती है। इसमे महिलाएं एक-दूसरे के क्लिट को रब कर सकती हैं। यही प्रोसेस चेस्ट में भी एप्लाई किया जा सकता है। साथ ही, एक-दूसरे को प्यार जताने का भी यह एक अच्छा तरीका हो सकता है।

घुटना टेकना (Kneeling)

लैस्बियन कपल सेक्स टिप्स के लिए घुटना टेकना सेक्स पुजिशन भी अपनाई जा सकती है। जैसा कि यह नाम से पता चल रहा है कि इस पुजिशन में लैस्बियन कपल को एक-दूसरे पार्टनर के सामने घुटने टेकने होते हैं। इस दौरान पार्टनर के पसंदीदा अंग को किस कर करके उन्हें एक्साइट कर सकते हैं।

[embed-health-tool-ovulation]

और पढ़ें : सेक्स और फोरप्ले का क्या है संबंध, आपको है जानकारी ?

स्पूनिंग (Spooning)

लैस्बियन कपल सेक्स टिप्स में स्पूनिंग बेहद अंतरंग और कामुक सेक्स पुजिशन होता है। दोनों महिलाएं एक ही तरफ मुंह करके लेटती हैं। इस दौरान आप अपने पार्टनर के फेवरेट स्पॉट को किस कर उन्हें एक्साइट कर सकती हैं।

सिक्सटी नाइन (Sixty Nine)

लैस्बियन कपल सेक्स टिप्स में इस पुजीशन के दौरान महिलाओं को निप्पल (Clitoral and Nipple) में उत्तेजना का अधिक एहसास होता है। यहीं कारण है कि उनके बीच ओरल सेक्स पॉपुलर है। कम समय में एंजॉय करने का ये बेहतर तरीका है।

एलिवेटेड मिशनरी (Elevated Missionary)

यह रेगुलर मिशनरी की तरह ही होता है। इसमें पैरों को ऊपर की तरफ उठाते हैं और एंकल को अपने साथी के कंधों के ऊपर रखते हैं। आप डिल्डो की हेल्प से अपने साथी को एक्साइट कर सकते हैं। इस प्रोसेस में जी-स्पॉट ( G-Spot)को स्टिमुलेट कर सकते है।

और पढ़ें : पहली बार पार्टनर के सामने न्यूड होने पर सताता है महिलाओं को डर

लैस्बियन कपल सेक्स टिप्स के साथ इन बातों का भी ध्यान रखें

लैस्बियन कपल सेक्स टिप्स के साथ ही, आपको कुछ जरूरी बातों का भी ध्यान रखना चाहिए, जिसमें शामिल हैंः

अपने मानसिक स्वास्थ्य की रक्षा करना

सामान्य तौर पर देखा जाए, तो लैस्बियन कपल्स की संख्या भारत में बहुत ही कम है। भारत के मुकाबले पश्चिमि देशों में लैस्बियन कपल्स होना अब बेहद ही सामान्य बात है। लेकिन भारत जैसे देशों में अभी भी लैस्बियन कपल्स को समाज से अलग करके देखा जाता है। जिसके कारण उन पर मानसिक प्रेशर अधिक बड़ सकता है। लोगों के तरह-तरह के ताने और परिवार व दोस्तों की तरफ से मिलने वाली तरह-तरह की सलाह से मानसिक स्वास्थ्य बुरी तरह से प्रभावित हो सकता है। जिसके लिए आपको खुद को तैयार रखना चाहिए। इसलिए अपने मानसिक स्वास्थ्य की सुरक्षा के लिए ऐसे माहौल में रहने का प्रयास करें, जहां आप ऐसे लोगों से दूर रहें, जो आपको समाज के तबके से अलग करते हों।

अगर आपको लगता है कि आपकी मानसिक समस्या बढ़ रही है, तो इस बारे में आप मानसिक स्वास्थ्य प्रदाता की भी मदद लें सकते हैं।

खुद को यौन संचारित संक्रमणों से बचाएं रखें

यौन संचारित संक्रमण का खतरा सेक्स से जुड़े किसी भी तरह की क्रिया से जुड़ा हो सकता है। भले भी आप कोई सामान्य कपल हो फिर लैस्बियन कपल ही हो। कुछ यौन संचारित संक्रमण, जैसे कि मानव पेपिलोमावायरस (एचपीवी), बैक्टीरियल वेजिनोसिस और ट्राइकोमोनिएसिस महिलाओं के बीच फैल सकता है। इसके अलावा, ओरल सेक्स और टॉय सेक्स के दौरान भी यौन संचारित संक्रमणों के होने का खतरा अधिक बना रहता है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक, असुरक्षित सेक्स से एचआईवी का जोखिम सबसे अधिक बढ़ सकता है। जिसकी स्थिति गंभीर होने पर यह एड्स का भी कारण बन सकता है।

लैस्बियन कपल सेक्स टिप्स करने से पहले क्या करें?

लैस्बियन कपल सेक्स टिप्स करने से पहले आपको कुछ बातों पर ध्यान देना चाहिए, जैसेः

जांच करवाएं

सेक्स करने से पहले आपको और आपके साथी को अपना शारीरिक टेस्ट करवाना चाहिए। ताकि, सेक्स के कारण होने वाले संक्रमणों से आप दोनों सुरक्षित रह सकें। अगर आप में या साथी में किसी तरह के यौन संबंध संक्रमण होने का जोखिम है, तो उसका उपचार पूरा होने के बाद ही शारीरिक संबंध बनाएं। कभी भी असुरक्षित यौन संबंध न करें।

और पढ़ें : अब वो कॉन्डम के लिए खुद कहेंगे हां, जरा उन्हें भी ये आर्टिकल पढ़ाइए

सुरक्षित सेक्स के नियम जानें

जरूरी नहीं कि कंडोम का इस्तेमाल सिर्फ योनि और लिंग सेक्स के दौरान ही किया जाए। कंडोम का इस्तेमाल ओरल सेक्स, टॉय सेक्स के दौरान भी किया जाना एक सुरक्षित विकल्प हो सकता है।

साफ-सफाई का विशेष ध्यान

एनल सेक्स, ओरल सेक्स और टॉय सेक्स के दौरान साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें। साथी के साथ इंटिमेट होने से पहले अपने हाथों और प्राइवेट पार्ट्स की अच्छे से सफाई करें।

सिर्फ एक ही सेक्स पार्टनर रखें

अपनी सेक्स की जरूरतें सिर्फ एक ही साथी तक रखें, तो स्वास्थ्य की सुरक्षा के लिहाज से यह बेहतर विकल्प हो सकता है। अलग-अलग सेक्स पार्टनर होने से यौन संचारित संक्रमणों का जोखिम काफी बढ़ सकता है।

टीका लगवाएं

हेपेटाइटिस ए और हेपेटाइटिस बी जैसे टीकाकरण करवाएं। ये टीकाकरण आपके साथ-साथ आपके साथी के लिए भी बेहद जरूरी हो सकते हैं। ये टीका आपको गंभीर लिवर इंफेक्सन से बचा सकते हैं जो यौन संपर्क के कारण फैल सकता है।

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की मेडिकली सलाह या उपचार की सिफारिश नहीं करता है। अगर इससे जुड़ा आपका कोई सवाल है, तो कृपया इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए आपको अपने डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Lesbian sexuality. https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/HealthyLiving/lesbian-sexuality.Accessed on 19 May, 2020.

Lesbian sexual renegades?. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/24786276. Accessed on 19 May, 2020.

Lesbian, Gay, Bisexual, and Transgender HealthNew. https://www.healthypeople.gov/2020/topics-objectives/topic/lesbian-gay-bisexual-and-transgender-health. Accessed on 19 May, 2020.

Lesbian and Bisexual Health. https://www.womenshealth.gov/files/documents/fact-sheet-lesbian-bisexual-health.pdf. Accessed on 19 May, 2020.

Health issues for lesbians and women who have sex with women. https://www.mayoclinic.org/healthy-lifestyle/adult-health/in-depth/health-issues-for-lesbians/art-20047202. Accessed on 19 May, 2020.

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 16/06/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x