सर्दियों में अर्थराइटिस के दर्द से बचाव के लिए आजमाएं यह तरीके

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट January 4, 2021 . 5 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

बीमारियों का मौसम से सीधा संबंध है, खासतौर पर अर्थराइटिस जैसी बीमारी का। सर्दियों में अर्थराइटिस के दर्द से बचाव के इंतजाम न किए गए तो परेशानी बढ़ सकती है। इस मौसम में सामान्य की तुलना में दर्द आपको काफी ज्यादा परेशान कर सकता है। सर्दियों में आमतौर पर लोग गर्म रजाई में अपने पैरों को डालकर घंटों लेटे रहते हैं, टीवी देखते रहते हैं। लोगों की कोशिश यही रहती है कि घर से कम ही निकलें। इस कारण वो कोई भी एक्टिविटी नहीं कर पाते हैं। कम चलने-फिरने की वजह से ही मसल्स में कठोरता आ जाती है। तो ऐसे में इससे बचाव के लिए सर्दियों में चलें ताकि मसल्स में कठोरता न आए। अर्थराइटिस के दर्द से निजात पाने के लिए कुछ एक्सरसाइज कर सकते हैं। इन एक्सरसाइज को कर न केवल अर्थराइटिस के दर्द को कम कर सकते हैं, बल्कि स्ट्रेंथ बढ़ाने के साथ फ्लेक्सिब्लिटी व अपनी एनर्जी में इजाफा कर सकते हैं। कुल मिलाकर कहें तो सर्दियों में अर्थराइटिस के दर्द से बचाव के लिए गर्म कपड़े पहनें, सूर्य की किरणों में निकलकर पर्याप्त मात्रा में विटामिन डी लें। ऐसा कर अर्थराइटिस के दर्द से निजात पाया जा सकता है।

कई लोग जिन्हें अर्थराइटिस की बीमारी होती है वो सामान्य तौर पर अपनी दिनचर्या में एक्सरसाइज कर, अच्छी डायट अपनाकर, वजन को नियंत्रण में कर व समय-समय पर ओवर द काउंटर दवा का सेवन कर दर्द से निजात पा सकते हैं। दवा का सेवन हमेशा डॉक्टरी सलाह लेकर ही करें।  लेकिन सर्दियों में अर्थराइटिस का यही दर्द सामान्य मौसम की तुलना में बढ़ जाता है। शोध से यह पता चला है कि वैसे लोग जो अर्थराइटिस के साथ इससे संबंधित बीमारियों जैसे ऑस्टियोअर्थराइटिस, रूमेटायड अर्थराइटिस, सोरायटिक अर्थराइटिस व फिब्रोम्यल्गिा  (osteoarthritis, rheumatoid arthritis, psoriatic arthritis and fibromyalgia) से पीड़ित होते हैं वो यदि नियमित एक्सरसाइज करें तो दर्द से निजात पा सकते हैं। सर्दियों में अर्थराइटिस के दर्द से बचाव के लिए क्या करना चाहिए उसके बारे में विस्तारपूर्वक जानते हैं।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

और पढ़ें : Psoriatic Arthritis: सोरायटिक अर्थराइटिस क्या है?

नियमित पानी पीएं

सर्दियों में अर्थराइटिस के दर्द से बचाव के लिए नियमित पानी पीना फायदेमंद होता है। सितंबर 2015 में एक्सपेरिमेंटल फिजियोलॉजी में छपे शोध के अनुसार- शरीर में पानी की उन्नत मात्रा होने से शरीर एक्टिव रहता है। यदि शरीर में पानी की कमी होगी तो डिहाइड्रेशन की स्थिति में और दर्द का एहसास होगा।

वजन को नियंत्रण में रखें

2013 में द जर्नल ऑफ द अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन (जेएएमए) के अनुसार अर्थराइटिस की बीमारी से ग्रसित व्यक्ति यदि अपना वजन कम करें तो उन्हें सर्दियों में काफी राहत मिलती है। यह भी सर्दियों में अर्थराइटिस के दर्द से बचाव का एक तरीका है। लोग चाहें तो एक्सरसाइज, डायट व अन्य तरीके आजमाकर वजन को नियंत्रण में कर सकते हैं।

अर्थराइटिस व जोड़ों के दर्द की बीमारी से ग्रसित लोगों को सर्दियों में सामान्य लोगों की तुलना में ज्यादा एक्टिव रहने की आवश्यकता है। 2015 में छपे शोध अर्थराइटिस केयर एंड रिसर्च के अनुसार इंडोर एक्सरसाइज करना काफी लाभदायक होता है। वॉकिंग के साथ ट्रेडमील व सामान्य वॉकिंग कर शरीर को स्वस्थ्य रखा जा सकता है।

एक्सरसाइज-excercise
एक्सरसाइज-excercise

बैक पेन के बारे में जानने के लिए खेलें क्विज : Quiz : बैक पेन को सही करेंगे ये टिप्स, क्विज में हैं कमर-दर्द के उपचार

गर्म पानी में नहाना भी है बेहतर एक्सरसाइज

गर्म पानी में नहाना न केवल बेहतर एक्सरसाइज है, बल्कि इससे जोड़ों में दर्द से भी आराम मिलता है। अर्थराइटिस फाउंडेशन के रिसर्च के अनुसार अर्थराइटिस के दर्द से बचाव के लिए गर्म पानी में नहाना लाभदायक होता है। नहाने के बाद एक बात का ध्यान रखें कि एकाएक बाहरी तापमान के संपर्क में न आए। शरीर को अच्छे से पोछने के बाद व बॉडी का तापमान सामान्य होने के बाद बाहर निकलें।

विटामिन डी का सप्लीमेंट भी है फायदेमंद

सर्दियों में अर्थराइटिस के दर्द से बचाव के लिए कोशिश करें कि जितना संभव हो विटामिन डी का सप्लीमेंट लें। क्योंकि शरीर में विटामिन डी की कमी के कारण अर्थराइटिस के दर्द की संभावना हो सकती है। शोध के अनुसार शरीर में विटामिन डी की कमी के कारण ऑस्टियोपोरोसिस की बीमारी होने की संभावना काफी अधिक रहती है। ऐसे में बीमारी से बचाव के लिए सुबह सुबह सूर्य की किरणों के संपर्क में आएं। क्योंकि उससे शरीर को विटामिन डी मिलता है। वहीं डॉक्टरी परामर्श लेकर विटामिन डी के सप्लीमेंट का सेवन कर इस बीमारी से बचाव किया जा सकता है।

योग की मदद से दर्द से पाया जा सकता है निजात, जानें एक्सपर्ट की राय

और पढ़ें : Reactive Arthritis: रिएक्टिव अर्थराइटिस क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

फिश ऑयल का सेवन करना है बेहतर

मछलियों व फिश ऑयल सप्लीमेंट का सेवन कर सर्दियों में अर्थराइटिस के दर्द से बचाव किया जा सकता है। अर्थराइटिस फाउंडेशन के अनुसार मछली में ओमेगा 3 फैटी एसिड होता है। इसका सेवन कर दर्द को कम किया जा सकता है। यदि कोई व्यक्ति रोजाना 2.6 ग्राम फिश ऑयल कैप्सूल का सेवन दिन में दो बार करे तो चोटिल होने व ब्लीडिंग होने की संभावना कम होती है। लेकिन कैप्सूल का सेवन हमेशा डॉक्टरी परामर्श लेकर ही करना चाहिए। बिना डॉक्टरी सलाह के इसका सेवन करना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक साबित हो सकता है।

और पढ़ें : अर्थराइटिस के दर्द से ये एक्सरसाइज दिलाएंगी निजात

एसिटामिनोफेन व एनएसएआईडी (Acetaminophen or NSAIDs), ओवर द काउंटर दवा का सेवन

सर्दियों में अर्थराइटिस के दर्द से बचाव के लिए ओवर द काउंटर दवा का सेवन कर बीमारी से बचाव किया जा सकता है। खासतौर पर एसिटामिनोफेन व एनएसएआईडी जैसी दवा का सेवन कर बीमारी से काफी हद तक बचाव संभव है। लेकिन बिना किसी डॉक्टरी परामर्श के दवा का सेवन करना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक साबित हो सकता है। कोशिश यही रहनी चाहिए कि यदि दर्द से राहत न मिल रहा हो तो ऐसे में दवा का कम-कम डोज का सेवन किया जाए। वहीं यदि स्थिति में किसी प्रकार का सुधार न हो तो तुरंत डॉक्टरी सलाह ली जाए।

और पढ़ें : Osteoarthritis :ऑस्टियोअर्थराइटिस क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

मसाज का ले सकते हैं सहारा

मसाज करवाकर सर्दियों में अर्थराइटिस के दर्द से बचाव किया जा सकता है। अर्थराइटिस के दर्द में सबसे अधिक तकलीफ जोड़ों में होने के साथ उसके आसपास के मसल्स में होती है। इस दर्द से निजात पाने के लिए यदि एक घंटे तक मसाज किया जाए व पीड़ित मरीज को नियमित मसाज दिया जाए। ऐसा मसाज करीब सप्ताह में एक बार या फिर आठ सप्ताह तक तो किया जाए तो संभव है कि मरीज को दर्द से निजात मिलेगा। 2015 में छपे शोध द जर्नल ऑफ अलटरनेटिव एंड कंप्लीमेंटरी मेडिसिन के अनुसार यदि अर्थराइटिस से पीड़ित मरीज को मसाज दिया जाता है तो उससे उन्हें न केवल दर्द कम होता है बल्कि तकलीफ से भी निजात मिलता है। इसलिए कोशिश यही रहनी चाहिए कि बीमारी से पीड़ित मरीज को नियमित तौर पर मसाज दिया जाए

और पढ़ें : Rheumatoid arthritis: रयूमेटाइड अर्थराइटिस क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

निडिल का सहारा लेकर बीमारी से पाएं निजात

सर्दियों में अर्थराइटिस के दर्द से बचाव के लिए निडिल थेरेपी का सहारा लेकर दर्द से निजात पाया जा सकता है। गैर पारंपरिक तरीकों से इलाज करवाने की यदि आप सोच रहे हैं तो एक्यूपंक्चर अच्छा माध्यम हो सकता है। एक्यूपंक्चर की मदद से दर्द से निजात पाया जा सकता है। एक्यूपंक्चर के जरिए न केवल आप रिलेक्स महसूस करेंगे बल्कि पहले की तुलना में ज्यादा स्वस्थ्य भी महसूस करेंगे। 2015 में द जर्नल ऑफ अल्टरनेटिव कंप्लीमेंटरी मेडिसिन के शोध के अनुसार पाया गया कि अर्थराइटिस की बीमारी से निजात व राहत पाने में एक्यूपंक्चर काफी मददगार साबित होता है। इससे जोड़ों के दर्द में कमी आती है। वहीं जो व्यक्ति नियमित एक्यूपंक्चर करवाते हैं वो ज्यादा तरोताजा महसूस करते हैं।

एक्यूपंक्चर -Accupunture
एक्यूपंक्चर -Accupunture

एक्सपर्ट की सलाह लेकर आजमाएं यह तमाम तरीकें

सर्दियों में अर्थराइटिस के दर्द से बचाव के लिए जैसा कि हमने इस आर्टिकल में जाना कि एक्सरसाइज के साथ गर्म कपड़े पहन, फिश ऑयल, विटामिन डी, मसाज, एक्यूपंक्चर आदि तरीकों को आजमाकर बीमारी से निजात पाया जा सकता है। वहीं कुछ ओवर द काउंटर दवा का सेवन कर दर्द से निजात पाया जा सकता है। लेकिन सबसे अहम यह कि बीमारी से पीड़ित व्यक्ति इन तरीकों को आजमाने के पूर्व डॉक्टरी सलाह जरूर लें। उसके अनुसार ही एक्सरसाइज, डायट के साथ ओटीसी दवा का सेवन कर बीमारी से छुटकारा पाएं। बिना डॉक्टरी सलाह के दवा का सेवन करना व थेरेपी की ओर रुख करना आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक साबित हो सकता है। वहीं सर्दियों में सामान्य मौसम की तुलना में इस बीमारी से पीड़ित मरीज को काफी सतर्क रहने की आवश्यकता है। यदि सर्दियों में गर्म कपड़े पहनने, खुले मौसम के संपर्क में ज्यादा न आने जैसे एहतियात न बरते तो व्यक्ति ज्यादा बीमार हो सकता है।

इस विषय पर अधिक जानकारी के लिए डॉक्टरी सलाह लें। हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

Was this article helpful for you ?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Etova MR Tablet : इटोवा एमआर टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

इटोवा एमआर टैबलेट जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, इटोवा एमआर टैबलेट का उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Etova MR Tablet डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel

Diclowin Plus Tablet : डाइक्लोविन प्लस टैबलेट प्लस टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

डाइक्लोविन प्लस टैबलेट जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, डाइक्लोविन प्लस टैबलेट का उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Diclowin Plus Tablet डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel

Dolowin Plus Tablet : डोलोविन प्लस टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

डोलोविन प्लस टैबलेट जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, डोलोविन प्लस टैबलेट का उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Dolowin Plus Tablet डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel

Enzomac Plus Tablet : एंजोमैक प्लस टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

एंजोमैक प्लस टैबलेट जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, एंजोमैक प्लस टैबलेट का उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Enzomac Plus Tablet डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel

Recommended for you

Bone health-बोन हेल्थ (हड्डियों) का कैसे रखें ख्याल?

Bone health: सर्दियों में बोन हेल्थ (हड्डियों) का कैसे रखें ख्याल?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
प्रकाशित हुआ January 20, 2021 . 5 मिनट में पढ़ें
अर्थराइटिस के दर्द से छुटकारा पाने के खानपान -Arthritis Food

सर्दियों में अर्थराइटिस के दर्द और कठोरता से छुटकारा पाने के लिए खानपान में करें यह परिवर्तन

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
प्रकाशित हुआ January 4, 2021 . 5 मिनट में पढ़ें
अर्थराइटिस से आराम पाने के तेल व सप्लीमेंट- Arthiritis relief: Oils and supplements

अर्थराइटिस से आराम पाने के तेल व सप्लीमेंट का इस्तेमाल कर जोड़ों के दर्द से पाएं निजात

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
प्रकाशित हुआ December 29, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
मसक्यूलोस्केलेटल सिस्टम, musculoskeletal system

बिना इस सिस्टम के हिल भी नहीं सकते हैं आप, बॉडी को सपोर्ट करता है मसक्यूलोस्केलेटल सिस्टम

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
प्रकाशित हुआ December 23, 2020 . 15 मिनट में पढ़ें