सर्दियों में अर्थराइटिस के दर्द और कठोरता से छुटकारा पाने के लिए खानपान में करें यह परिवर्तन

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट January 4, 2021 . 5 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

यह संभव है कि खानपान में हल्का परिवर्तन कर अर्थराइटिस के दर्द और कठोरता से छुटकारा पाया जा सकता है। लेकिन पूरी तरह दर्द से निजात पाने के लिए खानपान के साथ एक्सरसाइज और लाइफस्टाइल में परिवर्तन करने की आवश्यकता होती है। सदियों तक लोग यह दावा करते रहे कि खानपान में बदलाव करने की वजह से उन्हें अर्थराइटिस के कारण होने वाले दर्द से राहत मिलती है, जोड़ों के दर्द व जलन से आराम मिलता है। यही वजह भी है कि मौजूदा समय में शोधकर्ता इस बात का पता लगाने में जुटे हैं कि खानपान व मसाले क्या वाकइ में दर्द से छुटकारा दिलाने में मदद कर सकते हैं या नहीं। ज्यादातर मामलों में इसका संबंध हेल्दी खानपान का सेवन करने से है, जिसके तहत आप हेल्दी फल व सब्जियों का सेवन करने के साथ अनाज, बादाम आदि पौष्टिकता से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन करते हैं।

दर्द से निजात दिलाने में फल व सब्जियों का अहम योगदान रहता है। इसका सेवन कर हम न केवल स्वस्थ्य-तंदरुस्त रह सकते हैं बल्कि अपने वजन को भी नियंत्रित कर सकते हैं। पैर के जोड़ों पर दबाव कम पड़े इसके लिए वजन का नियंत्रण में रहना जरूरी होता है। यदि कोई व्यक्ति एक पाउंड वजन घटाता है तो उसके पैर को जोड़ों पर चार पाउंड तक का वजन कम होता है।

और पढ़ें :  अर्थराइटिस के दर्द से ये एक्सरसाइज दिलाएंगी निजात

अर्थराइटिस के दर्द से निजात पाने के लिए खानपान का अहम योगदान

अर्थराइटिस के दर्द से छुटकारा पाने के खानपान को अपनाकर समस्या को काफी हद तक कम किया जा सकता है। खाद्य पदार्थ दवा के समान होते हैं। यदि आप अर्थराइटिस की समस्या झेल रहे हैं तो खानपान में ऐसे पदार्थों को शामिल करना चाहिए जिसमें एंटीऑक्सीडेंट, एंटी इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टी हो। इसके अलावा डॉक्टरी सलाह लेकर बीमारी पर काफी हद तक काबू पा सकते हैं। शोध से यह पता चला है कि कई ऐसे खाद्य पदार्थ होते हैं जो अर्थराइटिस के दर्द से छुटकारा दिलाने में मदद कर सकते हैं। इस आर्टिकल में हम ऐसे ही खाद्य पदार्थों के बारे में जानते हैं, जिसका सेवन कर अर्थराइटिस के दर्द से छुटकारा पा सकते हैं।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

अदरक व हल्दी का करें सेवन

औषधीय गुणों से भरे अदरक व हल्दी का सेवन करना स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होता है। यही वजह भी है कि आयुर्वेद पद्दिति में इसका इस्तेमाल सदियों से किया जाता रहा है। अर्थराइटिस के दर्द से छुटकारा पाने के खानपान में इसे शामिल कर दर्द से छुटकारा पा सकते हैं। अदरक व हल्दी के पौधों में एंटी इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टी पाई जाती हैं। इन दोनों का इस्तेमाल चाइनीज व भारतीय खानपान में इस्तेमाल किया जाता है।

इसका ज्यादा लाभ उठाने के लिए रोजमर्रा के खानपान में इसको डालें तो ज्यादा से ज्यादा फायदा उठा सकते हैं। अदरक की कम मात्रा को ही यदि खाने में डालें तो यह पाचन संबंधी समस्या से भी निजात दिलाता है।

अदरक व हल्दी Ginger and Turmeric
अदरक व हल्दी Ginger and Turmeric

बेहतर स्वास्थ्य के लिए नट्स का करें सेवन

सभी प्रकार के नट्स में काफी मात्रा में प्रोटीन की मात्रा होती है, इसमें कोलेस्ट्रोल नहीं होता। अर्थराइटिस के दर्द से छुटकारा पाने के खानपान में इसे शामिल कर सकते हैं। आप चाहें तो इसे पसंदीदा दही के साथ, सलाद के रूप में सेवन करें तो नई ऊर्जा हासिल कर सकते हैं।

और पढ़ें : Osteoarthritis :ऑस्टियोअर्थराइटिस क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

ज्यादा से ज्यादा अनाज का करें सेवन

अनाज का कोई तोड़ नहीं है। अर्थराइटिस के दर्द से छुटकारा पाने के खानपान में इसे शामिल कर काफी फायदे उठा सकते हैं। इसमें अतिरिक्त न्यूट्रीएंट्स होने के साथ फाइबर होता है। अर्थराइटिस फाउंडेशन के अनुसार रोजाना कम से कम तीन से छह आउंस अनाज का सेवन जरूर करना चाहिए।

अनाज - grains
अनाज – grains

सालसा भी है सेहतमंद

सालसा को अपने रोजमर्रा की डायट में शामिल कर आप विटामिन सी हासिल कर सकते हैं। अर्थराइटिस के दर्द से छुटकारा पाने के खानपान में इसे शामिल कर सकते हैं, क्योंकि इसमें काफी मात्रा में फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है। इसे और पौष्टिक बनाने की सोच रहे हैं तो इसमें टमाटर, प्याज, सब्जियों को डालकर सेवन करें तो काफी फायदा होगा।

और पढ़ें : अर्थराइटिस के दर्द से ये एक्सरसाइज दिलाएंगी निजात

डार्क चॉकलेट का कर सकते हैं सेवन

डार्क चॉकलेट कई लोगों की पसंद है। अर्थराइटिस के दर्द से छुटकारा पाने के खानपान में इसे शामिल कर सकते हैं। कोशिश यही रहनी चाहिए कि आप वैसे डार्क चॉकलेट का सेवन करें जिसमें काफी मात्रा में कोकोआ कंटेंट हो और उसमें शुगर की मात्रा कम हो। इस प्रकार के चॉकलेट काफी सेहतमंद होते हैं।

डार्क चॉकलेट- Dark Choclate
डार्क चॉकलेट- Dark Choclate

ग्री टी का करें सेवन

ग्रीन टी को न्यूट्रिएंट्स, एंटी ऑक्सीडेंट और दर्द को कम करने जैसी खासियत के लिए जाना जाता है। यही वजह भी है कि अर्थराइटिस के दर्द से छुटकारा पाने के खानपान में आप इसे शामिल कर सकते हैं। इसका ज्यादा से ज्यादा फायदा उठाने के लिए दिन में दो बार सेवन करना उचित होता है।

ग्रीन टी - green tea
ग्रीन टी – green tea

ओमेगा 3 से भरपूर मछलियों का करें सेवन

अर्थराइटिस के दर्द से छुटकारा पाने के खानपान में आप चाहें तो सैलमन, टूना, सार्डिन मछली और मैकेरल मछली (Salmon, tuna, sardines and mackerel) का सेवन कर सकते हैं। इनमछलियों में ओमेगा 3 फैटी एसिड होता है। शोध से पता चला है कि यह दर्द को कम करने में मददगार साबित होती हैं। अर्थराइटिस फाउंडेशन के अनुसार 3 से चार आउंस इन मछलियों का सेवन सप्ताह में दो या चार बार करें तो इससे हमारा दिल स्वस्थ्य रहता है, दर्द से भी निजात मिलता है।

केन में मिलने वाली मछलियों की तुलना में कोशिश करें कि बाजार से ताजी मछलियों को खरीदकर उसका सेवन करें। यदि आप केन पदार्थों को खरीद रहे हैं तो उसमें यह जरूर देखें कि किसमें सोडियम का लेवल कम है, उसे ही खरीदें।

पारंपरिक खानपान के बारे में जानने के लिए एक्सपर्ट की जानें राय, देखें यह वीडियो

अनार, सेब और बेरी का करें सेवन

पौष्टिक फलों में एक अनार, सेब और बेरी को आप अर्थराइटिस के दर्द से छुटकारा पाने के खानपान में शामिल कर सकते हैं। बेरी में काफी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते हैं। अर्थराइटिस फाउंडेशन के अनुसार ब्लूबेरी, ब्लैकबेरी, स्ट्रॉबेरी, कैनबेरी, रैस्पबेरी व अन्य में अर्थराइटिस से लड़ने जैसे तत्व होते हैं। अधिक लाभ उठाने के लिए आप चाहें तो फ्रोजन या फिर फ्रेश व डिहाइड्रेटेड बेरी का सेवन कर सकते हैं। ध्यान रहे कि इसमें एडेड शुगर न हो। आप चाहें तो स्वादानुसार बैरीज की कई वैरायटी को डायट में शामिल कर सकते हैं।

बेरी फ्रूट की श्रेणी में आने वाला अनार स्वास्थ्य के लिए काफी लाभदायक है। इसमें मौजूद तत्व अर्थराइटिस के दर्द से लड़ने में मददगार साबित होते हैं। अधिक लाभ उठाने के लिए आप चाहें तो इसे दही के साथ या फिर सलाद के रूप में सेवन कर सकते हैं।

सेब में उन्नत मात्रा में एंटीऑक्सीटेंट तत्व पाए जाते हैं। यह फाइबर का अच्छा सोर्स माना जाता है। इसका सेवन करने से भूख कम लगती है, इस कारण आप अनहेल्दी स्नेक्स का सेवन करने से बच सकते हैं।

सेब - Apple
सेब – Apple

सब्जियों का करें सेवन

अर्थराइटिस के दर्द से छुटकारा पाने के खानपान में आप सब्जियों का सेवन कर सकते हैं। इसके तहत आप पत्ता गोभी, गोभी, ब्रसल स्प्राउट्स, मशरूम आदि का सेवन कर सकते हैं। अत्यधिक लाभ उठाने के लिए आप चाहें तो इसका सलाद के रूप में भी सेवन कर सकते हैं। अर्थराइटिस के दर्द से निजात पाने के लिए कोशिश करें कि ज्यादा से ज्यादा सब्जियों को डायट में शामिल करें। ताकि उसका ज्यादा से ज्यादा लाभ उठाया जा सके।

और पढ़ें : Reactive Arthritis: रिएक्टिव अर्थराइटिस क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

कैनोला व ऑलिव ऑयल है कारगर

वनस्पति तेल को छोड़कर आप कैनोला व ऑलिव ऑयल की ओर रुख कर सकते हैं। यह कई मायनों में पौष्टिकता से भरपूर है। अर्थराइटिस के दर्द से छुटकारा पाने के खानपान में आप इसे शामिल कर सकते हैं। आप वैसे तेल का सेवन करें जिसमें ओमेगा 3 की मात्रा पाई जाती है। शोध से पता चला है कि ऑलिव ऑयल में पाए जाने वाला तत्व ओलियोकैंथल (oleocanthal ) में एंटी इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टी होती है। यह हमारे सेहत के साथ दिल के लिए काफी लाभदायक होता है।

और पढ़ें : Psoriatic Arthritis: सोरायटिक अर्थराइटिस क्या है?

एक्सपर्ट की ले सकते हैं सलाह

अर्थराइटिस के दर्द से छुटकारा पाने के खानपान की लिस्ट तैयार करते वक्त आप एक्सपर्ट की सलाह ले सकते हैं। इसके लिए आप चाहें तो डायटीशियन के साथ डॉक्टर व अन्य एक्सपर्ट से पूछताछ कर उनके हिसाब से डायट तैयार करें तो आप ज्यादा से ज्यादा लाभ उठा सकते हैं। इतना ही नहीं फ्रूट्स, हरी सब्जियां, अनाज में जहां प्राकृतिक तौर पर दर्द से लड़ने के गुण पाए जाते हैं वहीं वजन कम करके भी हम दर्द को काफी हद तक कंट्रोल कर सकते हैं। यदि हम वजन कम करेंगे तो यह संभव है कि हमारे जोड़ों पर कम वजन पड़ेगा।

इस विषय पर अधिक जानकारी के लिए डॉक्टरी सलाह लें। हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

Was this article helpful for you ?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Etova MR Tablet : इटोवा एमआर टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

इटोवा एमआर टैबलेट जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, इटोवा एमआर टैबलेट का उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Etova MR Tablet डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel

वैरिकोज वेन्स के घरेलू उपाय

वैरिकोज वेन्स के घरेलू उपाय क्या है, किन किन उपायों को आजमाकर समस्या से पा सकते हैं राहत, जानें क्या करें और क्या नहीं। इसके लिए पढ़ें यह आर्टिकल।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
अन्य रक्त विकार, रक्त विकार August 19, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Nucoxia P : न्यूकॉक्सिया पी टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

न्यूकॉक्सिया पी की जानकारी in hindi, दवा के साइड इफेक्ट क्या है, एटोरिकॉक्सिब और पैरासिटामोल दवा किस काम में आती है, रिएक्शन, उपयोग, Nucoxia P Tablet

के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha

Diclowin Plus Tablet : डाइक्लोविन प्लस टैबलेट प्लस टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

डाइक्लोविन प्लस टैबलेट जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, डाइक्लोविन प्लस टैबलेट का उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Diclowin Plus Tablet डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel

Recommended for you

Bone health-बोन हेल्थ (हड्डियों) का कैसे रखें ख्याल?

Bone health: सर्दियों में बोन हेल्थ (हड्डियों) का कैसे रखें ख्याल?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
प्रकाशित हुआ January 20, 2021 . 5 मिनट में पढ़ें
अर्थराइटिस से आराम पाने के तेल व सप्लीमेंट- Arthiritis relief: Oils and supplements

अर्थराइटिस से आराम पाने के तेल व सप्लीमेंट का इस्तेमाल कर जोड़ों के दर्द से पाएं निजात

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
प्रकाशित हुआ December 29, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
सर्दियों में अर्थराइटिस से बचाव-Artheritis Pain relief in winter

सर्दियों में अर्थराइटिस के दर्द से बचाव के लिए आजमाएं यह तरीके

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
प्रकाशित हुआ December 28, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
मसक्यूलोस्केलेटल सिस्टम, musculoskeletal system

बिना इस सिस्टम के हिल भी नहीं सकते हैं आप, बॉडी को सपोर्ट करता है मसक्यूलोस्केलेटल सिस्टम

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
प्रकाशित हुआ December 23, 2020 . 15 मिनट में पढ़ें