home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Sciatica: साइटिका क्या है? जानें कारण लक्षण और उपाय

परिचय|लक्षण|डॉक्टर को दिखाएं|कारण|निदान|इलाज|जोखिम
Sciatica: साइटिका क्या है? जानें कारण लक्षण और उपाय

परिचय

साइटिका (Sciatica) क्या है?

साइटिका तंत्रिका आपकी रीढ़ की हड्डी से शुरू होती है, आपके कूल्हों (hips )और नितंबों ( buttocks)के माध्यम से चलकर आपके पैरों तक पहुंचता है। साइटिका तंत्रिका आपके शरीर की सबसे लंबी तंत्रिका होती है और बहुत महत्वपूर्ण भी होता है। आपके पैरों को नियंत्रित करने और महसूस करने की आपकी क्षमता पर इसका सीधा प्रभाव पड़ता है। जब यह तंत्रिका आपको परेशान करती है, तो आप इसको महसूस करते है। साइटिका आपकी पीठ, नितंबों और पैरों में गंभीर दर्द देने का कार्य करता है। आप अपने शरीर के इन क्षेत्रों में कमजोरी या सुन्नता भी महसूस कर सकते हैं। 40 प्रतिशत लोगों को यह जीवन में किसी भी समय हो सकता है। जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती जाती है इसका प्रभाव बढ़ सकता है।

लक्षण

साइटिका (Sciatica) का लक्षण क्या है?

साइटिका (Sciatica) तंत्रिका के लक्षण अलग प्रकार के होते हैं, यदि आपके नितंब और निचले हिस्से में दर्द का अनुभव होता है तो यह आमतौर पर साइटिका के ही लक्षण होते है। यह आपके साइटिका तंत्रिका को नुकसान का परिणाम है, इसलिए तंत्रिका क्षति के अन्य लक्षण आमतौर पर दर्द के साथ मौजूद होते हैं। इसके लक्षण इस प्रकार से होते हैं।

  • क्या आपके निचले हिस्से में अत्यधिक दर्द महसूस होता हैं।
  • इसमें आपके पैरों में सुन्नता या कमजोरी हो सकती है।
  • आप पिंस और सुइयों की सनसनी महसूस कर सकते हैं, जिसमें आपके पैर में एक दर्दनाक झुनझुनी शामिल है।

आप असंयम का अनुभव कर सकते हैं, जो आपके मूत्राशय या आंत्र को नियंत्रित करने में असमर्थता है। यह कॉउडा इविना सिंड्रोम (सीईएस) का एक दुर्लभ लक्षण होता है, जिसे नीचे वर्णित किया गया है, और यह तत्काल आपातकालीन ध्यान देने के लिए कहता है।

और पढ़ें : Thoracic Upper Back Strain: ऊपरी पीठ में तनाव क्या है?

डॉक्टर को दिखाएं

डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए?

यदि आपके अंदर ये बातें हैं तो अपने डॉक्टर से तुंरत संपर्क करें।

  • आपकी पीठ के निचले हिस्से या आपके पैर में अचानक तेज दर्द होता है और आपके पैर में मांसपेशियों में कमजोरी या सुन्नता होती है।
  • आपका दर्द कुछ हफ्तों से अधिक समय तक रहता है।
  • दर्दनाक घटना में घायल होने के बाद आपका दर्द शुरू होता है।
  • आपको अपने आंत्र या मूत्राशय को नियंत्रित करने में समस्याएं हैं।

और पढ़़ें : Lumbar (low back) herniated disk : लंबर हर्नियेटेड डिस्क क्या है?

कारण

साइटिका के कारण क्या हैं?

कटिस्नायुशूल या साइटिका तब होता है जब साइटिका तंत्रिका पिंच हो जाती है, तंत्रिका को ट्यूमर द्वारा संकुचित किया जा सकता है या मधुमेह जैसी बीमारी से क्षतिग्रस्त हो सकता है। एक हर्नियेटेड या स्लिप्ड डिस्क जिसके कारण तंत्रिका जड़ पर दबाव पड़ता है। यह साइटिका का सबसे आम कारण है। अमेरिका में लगभग 1% से 5% लोग ही इससे प्रभावित होते हैं। डिस्क रीढ़ के प्रत्येक कशेरुकाओं के बीच एक कुशनिंग पैड हैं। कशेरुक से दबाव एक डिस्क के जेल की तरह केंद्र को अपनी बाहरी दीवार में कमजोरी के माध्यम से उभार (हर्नियेट) का कारण बन सकता है।

-साइटिका हमारी रोजमर्रा की गतिविधियों से विकसित होता हैं, जैसे कि लंबे समय तक बैठे रहना, सीढ़ियां चढ़ना, चलना या दौड़ना। आप इसे दर्दनाक घटना के बाद भी विकसित कर सकते हैं, जैसे कि कार दुर्घटना या गिरावट।

[mc4wp_form id=”183492″]

और पढ़ें : Multiple Sclerosis : मल्टिपल स्क्लेरोसिस क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

निदान

साइटिका का निदान क्या है?

साइटिका ता निदान करने के लिए डॉक्टर आपके शारीरिक परीक्षा में आपकी मांसपेशियों की ताकत और सजगता की जांच कर सकता है। जैसे आपको अपने पैर की उंगलियों या एड़ी पर चलने के लिए कहा जा सकता है, क्या बैठने की स्थिति से आप आसानी से उठ सकते हैं और, अपने पैरों को एक बार में उठाएं। साइटिका के परिणामस्वरूप होने वाला दर्द आमतौर पर इन गतिविधियों के दौरान बढ़ सकता है।

इमेजिंग परीक्षण

कई लोगों में हर्नियेटेड डिस्क या हड्डी के स्पर्स होते हैं जो एक्स-रे और अन्य इमेजिंग परीक्षणों पर दिखाई देंगे लेकिन इसके कोई विशेष लक्षण नहीं है। जब तक आपका दर्द गंभीर न हो, या कुछ हफ्तों के भीतर इसमें सुधार नहीं होता है, तब तक डॉक्टर आमतौर पर इन परीक्षणों का आदेश नहीं देते हैं।

एक्स-रे- आपकी रीढ़ की एक्स-रे हड्डी के बढ़ने को प्रकट करते है जो तंत्रिका पर दबाव डाल सकती है।

एमआरआई- यह प्रक्रिया एक शक्तिशाली चुंबक और रेडियो तरंगों का उपयोग करके आपकी पीठ के अंदरुनी भाग कि पिक्चर बनाने में मदद करता है। एक एमआरआई हड्डी और हर्नियेटेड डिस्क जैसे ऊतकों की इमेज भी बनाता है। परीक्षण के दौरान, आप एक मेज पर लेट जाते हैं जो एमआरआई मशीन में जाती है।

सीटी स्कैन- सीटी स्कैन का उपयोग रीढ़ की इमेज निकालने के लिए किया जाता है, इस प्रक्रिया से पहले आपको अपनी रीढ़ की हड्डी में एक विपरीत डाई इंजेक्ट हो सकती है इसमें एक डाई आपकी रीढ़ की हड्डी के चारों ओर घूमती है, जो स्कैन पर सफेद रंग में दिखाई देता है।

इलेक्ट्रोमोग्राफी (ईएमजी)- यह परीक्षण विद्युत आवेगों द्वारा तंत्रिकाओं और आपकी मांसपेशियों की प्रतिक्रियाओं को मापता है। यह परीक्षण हर्नियेटेड डिस्क या आपके स्पाइनल कैनाल (स्पाइनल स्टेनोसिस) को कम करने के कारण तंत्रिका संपीड़न की पुष्टि कर सकता है।

और पढ़ें : Orthostatic hypotension : ऑर्थोस्टैटिक हाइपोटेंशन क्या है?

इलाज

साइटिका का इलाज क्या है?

साइटिका के निदान के पश्चात आपका डॉक्टर आपको साइटिका का इलाज करने का सुझाव और तरीका समझाएगा।आपको अपनी दैनिक गतिविधियों को जारी रखना चाहिए। यदि आप पूरी तरह से बिस्तर पर लेटकर सारी गतिविधियों को बंद कर देना चाहते हैं तो यह आपकी स्थिति और खराब हो सकती है। इसके लिए कुछ उपाय भी दिए हैं।

गरम

साइटिका के उपचार के लिए आप हॉट पैक या हीटिंग पैड भी प्रयोग कर सकते हैं। सूजन को कम करने के लिए पहले कुछ दिनों के दौरान बर्फ का उपयोग करें, और दो या तीन दिनों के बाद, हॉट पैक से सेकाई करें।

नियमित व्यायाम

आप जितना ज्यादा से ज्यादा सक्रिय रहेगें आपका शरीर उतना ही रिलीज होगा। एंडोर्फिन आपके शरीर द्वारा बनाई गई दर्द निवारक हैं। पहली बार में कम प्रभाव वाली गतिविधियां करें, जैसे तैराना और स्थिर साइकिल चलाना। जब आपको दर्द से थोड़ा राहत मिल जाए और आपकी सहनशक्ति में सुधार होता है, तो आप नियमित रुप से व्यायाम करने की आदत डालें। इससे आपके भविष्य की समस्याओं के जोखिम को कम कर सकता है।

स्ट्रेचिंग

इसमें आपको धीरे से अपनी पीठ के निचले हिस्से को फैलाना भी इसमें मददगार हो सकता है। यह जानने के लिए कि कैसे ठीक से खिंचाव करना है, अपनी चोट से निपटने के लिए एक भौतिक चिकित्सक या योग निर्देश से आप सलाह ले सकते हैं।

सर्दी

आप साइटिका के घरेलू उपचार के लिए एक आइस पैक खरीद सकते हैं या जमे हुए सब्जियों के पैकेज का उपयोग कर सकते हैं। आप एक तौलिया में आइस पैक या जमी हुई सब्जियों को लपेटें और दर्द के पहले कुछ दिनों के दौरान इसे 20 मिनट के लिए प्रति दिन कई बार प्रभावित स्थान पर लगा सकते हैं। ये आपके सूजन को कम करने और दर्द को कम करने में मदद करेगा।

और पढ़े : Hepatitis A Virus Test : हेपेटाइटिस ए वायरस टेस्ट क्या है?

काउंटर दवा खत्म होने के बाद

एस्पिरिन और इबुप्रोफेन जैसी ओवर-द-काउंटर दवाएं भी दर्द, सूजन में मदद कर सकती हैं। लेकिन एस्पिरिन का अत्यधिक उपयोग करना भी सही नहीं है इसके लिए अपने डॉक्टर की सलाह लें। नतीजतन यह जटिलताओं का कारण बन सकता है।

भौतिक चिकित्सा

भौतिक चिकित्सा में व्यायाम आपकी पीठ की मांसपेशियों को मजबूत करने में मदद कर सकता है।

दवा का पर्चा

आपका डॉक्टर मांसपेशियों को आराम, मादक दर्द से राहत, या अवसादरोधी दवाओं को लिख सकता है। एंटीडिप्रेसेंट आपके शरीर के एंडोर्फिन उत्पादन को बढ़ा सकते हैं।

एपिड्यूरल स्टेरॉयड दवा

कॉर्टिकोस्टेरॉइड दवाओं को आपके अंदर इंजेक्ट किया जाता है, साइड इफेक्ट्स के कारण, ये इंजेक्शन सीमित आधार पर दिए जाते हैं।

सर्जरी

गंभीर दर्द या स्थितियों के लिए सर्जरी की आवश्यकता हो सकती है, ऊपर दिए हुए उपचार से आपको फायदा नहीं हो रहा है तो आपके लिए आखिरी सुझाव सर्जरी होती है।इसमें आपके निचले छोर के कुछ मांसपेशी समूहों में कमजोरी हो जाती है। सर्जरी के दो सबसे आम प्रकार होते हैं, डिस्केक्टॉमी हैं, जिसमें डिस्क का वह भाग जो कि को बनाने वाली नसों पर दबाव डाला जाता है, और माइक्रोडिस्केक्टॉमी, जिसमें डिस्क को एक छोटे से कट के माध्यम से किया जाता है, इसमें माइक्रोस्कोप का उपयोग कर सकते हैं।

और पढ़ें : Ventricular septal defect: वेंट्रिकुलर सेप्टल डिफेक्ट (जन्मजात हृदय दोष) क्या है?

जोखिम

साइटिका के जोखिम क्या है?

आपके रोजर्मरा जीवन कि कुछ आदते या व्यवहार साइटिका के जोखिम को बढ़ाने का कार्य करते हैं। साइटिका के विकास और जोखिम वाले कारक इस प्रकार से हो सकते हैं।

  • जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है, यह अधिक संभावना हो जाती है किआपके शरीर के कुछ भाग खराब हो जाते हैं या टूट जाते हैं।
  • किसी कारण आपकी पीठ पर बहुत अधिक खिंचाव पड़ता हैं,जैसे किसी भारी वस्तुओं को उठाने, विस्तारित अवधि के लिए बैठे, या घुमा आंदोलनों को शामिल करते हैं।
  • मधुमेह होने पर आपके तंत्रिका क्षति का खतरा बढ़ सकता है।
  • धूम्रपान करने से आपकी रीढ़ की हड्डी की बाहरी परत टूट सकती है।

उपरोक्त दी गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क जरूर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र
लेखक की तस्वीर badge
shalu द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 10/07/2020 को
डॉ. पूजा दाफळ के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड