दांतों में ब्रेसेस लगवाने के बाद बचें इन खाद्य पदार्थों के सेवन से

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट October 20, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

टीथ ब्रेसेस लगने के बाद खाने पीने में परेशानी शुरू हो जाती है और इससे थोड़ा तनाव भी होता है। पहले दिन ब्रेसेस लगने के बाद नरम खाद्य पदार्थों को ही खाएं।  मीट, हार्ड ब्रेड और कच्ची सब्जियों से बचें। इसी तरह कुछ और भी सावधानियां हैं जो दांतों में ब्रेसेस लगने के बाद रखनी चाहिए। दांतों में ब्रेसेस के साथ क्या खा सकते हैं और क्या नहीं आज हमारा लेख आपको इसके बारे में बताएगा।

टीथ ब्रेसेस क्या है?

दांतों में तार लगाकर टेढ़े-मेढ़े दांतों को आकार दिया जाता है या यूं कहें कि इनका एलाइनमेंट सही किया जाता है। टीथ ब्रेसेस या डेंटल ब्रेसेस टेढ़े-मेढ़े दांतों को एक साथ लगाने के लिए डेंटिस्ट द्वारा लगाए जाते हैं। इससे भोजन चबाने की प्रक्रिया भी सुधरती है और दांतों का स्वास्थ्य भी सुधरता है। टीथ ब्रेसेस मैटलिक, सिरेमिक, कलर्ड और लिंगुअल किसी भी प्रकार के आप चूज कर सकते हैं।

और पढ़ें : पूरी जिंदगी में आप इतना समय ब्रश करने में गुजारते हैं, जानिए दांतों से जुड़े ऐसे ही रोचक तथ्य

दांतों में ब्रेसेस लगने के बाद क्या नहीं खाए?

टीथ ब्रेसेस के नुकसान के जोखिम को कम करने के लिए शक्कर और स्टार्च वाले खाद्य पदार्थों और पेय पदार्थों में कटौती करें खास तौर से मिठाई, मीठे केक, डोनट या कोई भी ऐसे आहार जो चीनी लोडेड हो।

“वियरिंग ब्रेसेस (wearing braces) किताब के लेखक हैरियट ब्रुंडल के अनुसार चबाने वाले  खाद्य पदार्थ  से बनी चीजों से दूर रहे जैसें चने, बताशे, बैगल्स, हार्ड रोल साथ ही वे खाद्य पदार्थ जो आपको काटने पड़ते हैं जैसें कॉब, मकई, सेब, गाजर या कोई कच्चे फल। ये आपके टीथ ब्रेसेस के कुछ हिस्सों को तोड़ सकते हैं। नीचे बताएं पदार्थों का उपयोग न करें।

कुरकुरे खाद्य पदार्थ: पॉपकॉर्न, फ्राइज, स्नैक्स, नमकीन, आदि
चिपचिपे खाद्य पदार्थ: कारमेल, च्यूइंगम, अधिक मात्रा वाले चीज से बने आहार
हार्ड फूड्स: नट्स, हार्ड प्रेट्जेल
सुगन्धित भोजन: कैंडी

फ्लोराइड टूथपेस्ट और सॉफ्ट-ब्रिसल युक्त ब्रश का इस्तेमाल करें और हमेशा भोजन के बाद सावधानी से ब्रश करें। यदि आप भोजन के बाद ब्रश नहीं कर सकते हैं, तो अपना मुंह पानी से धोएं। फ्लॉस थ्रेडर की मदद से टीथ ब्रेसेस और अंडर वायर के बीच फ्लॉस करें। आपके ऑर्थोडेंटिस्ट भी टीथ ब्रेसेस और तारों के बीच सफाई करने के लिए एक छोटे लचीले टूथब्रश की सलाह दे सकते हैं।

और पढ़ें : यह भी पढ़ें रूट कैनाल उपचार के बाद न खाएं ये 10 चीजें

कठोर चीजों (उदाहरण के लिए, कलम, पेंसिल या नाखून) ब्रेसेस को नुकसान पहुंचा सकते हैं। जब एक ब्रैकेट (ब्रेस) ढीला हो जाता है और आपके दांत से जुड़ा नहीं होता है, तो वह दांत आगे नहीं बढ़ सकता है। जाहिर है, ढीले और टूटे हुए ब्रेसेस के कारण आपको लंबे समय तक इलाज कराना पड़ सकता है और इससे खराब परिणाम हो सकता है। अपने दांतों और मसूड़ों को स्वस्थ रखने के लिए अपने डेंटिस्ट से चेकअप और सफाई के लिए पूछें। उनकी बातों का गंभीरता से पालन करें । दांतों का स्वस्थ रहना एक एक हेल्दी जीवन की निशानी है। चमकदार मुस्कान जो सबका दिल जीत ले इसके लिए भी दांतों की देखभाल करना बेहद जरूरी है।

और पढ़ें : जब सताए दांतों में सेंसिटिविटी की समस्या, तो ऐसे पाएं निजात

दांतों में ब्रेसेस लगने के ठीक बाद क्या खाने से बचें?

दांतों में ब्रेसेस लगने के बाद आप कौन से खाद्य पदार्थ खा सकते हैं, यह जानने के साथ-साथ आपको यह भी पता होना चाहिए कि टीथ ब्रेसेस लगने के तुरंत बाद किन खाद्य पदार्थों से बचना चाहिए। बहुत सारे ऐसे खाद्य पदार्थ होते हैं जिनको टीथ ब्रेसेस के साथ खाया जा सकता है, लेकिन यही सुरक्षित खाद्य पदार्थ दांतों में तार लगवाने के तुरंत बाद खाने के लिए आदर्श नहीं माने जाते हैं क्योंकि इससे आपके मुंह में जलन हो सकती है। दांतों में ब्रेसेस लगने के ठीक बाद इन खाद्य पदार्थ को खाने से बचें:

  • आइसक्रीम
  • मोटे रोल या ब्रेड
  • मसालेदार भोजन
  • खट्टे खाद्य पदार्थ

एक बार आपके टीथ ब्रेसेस एडजस्ट हो जाने के बाद आप इन फूड्स को खाने में सक्षम होंगे।

और पढ़ें: दांतों का पीलापन दूर करने वाली टीथ वाइटनिंग कितनी सुरक्षित है?

यदि आपके दांतों के ब्रेसेस के तार या बैंड ढीले हो जाए हैं तो क्या करें?

टीथ ब्रेसेस लगवाने के बाद आपको समय-समय पर अपने डेंटिस्ट हो दिखाना पड़ेगा ताकि वे दांतों के ब्रेसेस को कस सके या अन्य समस्याओं के लिए उपचार कर सके। अगर आपके दांतों की तार या बैंड ढीला हो जाए तो चिपचिपा या कुरकुरे खाद्य पदार्थ न खाएं। यदि आपको टीथ ब्रेसेस से संबंधित कोई समस्या है, तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें। टूटे तार या ब्रैकेट को न खींचे या न ही मोड़ें। इससे आपको और अधिक नुकसान हो सकता है। इसके बजाय, जब तक आप डेंटिस्ट या ऑर्थोडेंटिस्ट तक नहीं पहुंच पाते हैं, तब तक गीले कॉटन या ऑर्थोडॉन्टिक वैक्स का एक टुकड़ा एजेस पर रखें।

और पढ़ें : दूध की बोतल भी बच्चे के दांत कर सकते हैं खराब, सीखें दांतों की देखभाल करना

इलास्टिक बैंड्स पहनने की आवश्यकता

अगर आपने डेंटल ब्रेसेस (dental braces) लगाने के लिए पूरी तरह से मन बना लिया है तो यह भी बात जान लें कि टीथ ब्रेसेस ट्रीटमेंट के तौर पर डॉक्टर आपको ब्रेसेस के ऊपर एक इलास्टिक बैंड पहनने की भी सलाह दे सकते हैं। इससे दांतों में ब्रेसेस पर एक्स्ट्रा फोर्स लगता है जिससे दांतों को अपनी उचित स्थिति में आने में काफी मदद मिलती है। अपने आर्थोडेंटिस्ट के बताएं गए निर्देश के अनुसार इसे पहनें। दांतों में तार लगाने से आपके बेढंगे दांत बेहतर हो सकते हैं, लेकिन अगर टीथ ब्रेसेस के दौरान आप गलत प्रकार का भोजन खाते हैं और अच्छी ओरल हाइजीन बनाए नहीं रखते हैं, तो आपके दांतों के ब्रेसेस और दांतों को नुकसान पहुंचने का खतरा होता है।

दांतों में ब्रेसेस लगे हों तो क्या ध्यान रखना चाहिए?

  • दांत और मुंह की सफाई का ध्यान रखें।
  • सफाई के लिए एक विशेष प्रकार का ब्रश आता है जिसे प्रोक्सा ब्रश कहते हैं। इससे ब्रेसेस ज्यादा अच्छी तरह से साफ किए जा सकते हैं। डॉक्टर की सलाह से इसका इस्तेमाल करें।
  • माउथवॉश का इस्तेमाल करके भी दांत और ब्रेसेस के बीच भोजन के कण और प्लाक जमने से रोका जा सकता है।
  • कुछ भी खाने के बाद अच्छे से कुल्ला जरूर कर लेना चाहिए।
  • कड़क और चिपकने वाली चीजें नहीं खानी चाहिए। अन्यथा दांतों में लगे तार या ब्रेकेट के टूटने की संभावना रहती है।
  • गंदी आदतों जैसे नाखून चबाना, पैंसिल या पेन मुंह में डालना आदि से दूर रहें इससे ब्रेसेस और दांतों को नुकसान पहुंच सकता है।

आशा करते हैं कि आपको यह लेख पसंद आया होगा। अपने डेंटिस्ट या ऑर्थोडेंटिस्ट से इस विषय पर आप और भी चर्चा कर सकते हैं कि किन खाद्य पदार्थों से बचना है। यदि आपका कोई प्रश्न हैं, तो पूछने में संकोच न करें। दांतों में ब्रेसेस को नुकसान पहुंचाना आपके टीथ ब्रेसेस ट्रीटमेंट को और बढ़ा सकता है, मतलब कि आपको उन्हें अधिक समय तक पहनना पड़ सकता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

Was this article helpful for you ?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

दांत दर्द में तुरंत आराम पहुंचाएंगे ये 10 घरेलू उपचार

दांत-दर्द के घरेलू उपाय से दांतों में दर्द के साथ ही इंफेक्शन, मसूड़ों में दर्द, मुंह से बदबू भी दूर होती है। लौंग का तेल, अमरूद के पत्ते, ऑयल पुलिंग, बर्फ की सिकाई, नमक पानी का कुल्ला जैसे दांत-दर्द के घरेलू उपाय..toothache home remedies in hindi

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Smrit Singh
ओरल हेल्थ, दांतों की समस्या May 8, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

गर्भावस्था में ओरल केयर न की गई तो शिशु को हो सकता है नुकसान

गर्भावस्था में ओरल केयर से आप डेंटल कैविटी, मसूड़ों की सूजन और सांसों की बदबू की समस्या से दूर रह सकती हैं। प्रेग्नेंसी में ओरल केयर के लिए नियमित ब्रश और फ्लॉस करें, संतुलित आहार लें और ... pregnacny oral care tips in hindi

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Smrit Singh

दांतों से टार्टर की सफाई के आसान 6 घरेलू उपाय

दांतों से टार्टर की सफाई कैसे करें? tartar removal home remedies in hindi, दांतों में जमा मैल को हटाने के उपाय, दांतों से टार्टर की सफाई जरूरी क्यों है।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Smrit Singh
दांतों की समस्या, ओरल हेल्थ May 8, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

टीथ ब्रेसेस (दांतों में तार) लगवाने के बाद क्या करें और क्या ना करें?

टीथ ब्रेसेस क्या है, दांतों में तार लगाने का खर्च, डेंटल ब्रेसेस के बाद सावधानियां, teeth braces dos and donts in hindi, टीथ ब्रेसेस के नुकसान, dental braces types in hindi

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Smrit Singh
ऑर्थोडोंटिक्स, ओरल हेल्थ May 7, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

ऑर्थोडोंटिक्स ट्रीटमेंट - Orthodontic Treatment

ऑर्थोडोंटिक्स ट्रीटमेंट से ठीक करें दांतों का शेप, इतना आएगा इलाज में खर्च

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Toshini Rathod
प्रकाशित हुआ February 11, 2021 . 7 मिनट में पढ़ें
bad breath in teenagers

मुंह की बदबू का आयुर्वेदिक इलाज क्या है? आयुर्वेद के अनुसार क्या करें और क्या न करें?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ June 22, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
जीभ का कैंसर-tongue cancer

जीभ का कैंसर क्या है? कब बढ़ जाता है ये कैंसर होने का खतरा?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Hema Dhoulakhandi
प्रकाशित हुआ May 11, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
जीभ साफ करने के उपाय

जीभ साफ करने के आसान व घरेलू उपाय, सांसों को रखेंगे एकदम फ्रेश

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Hema Dhoulakhandi
प्रकाशित हुआ May 10, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें