home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

मसूड़ों में सूजन के लिए घरेलू उपाय के साथ ही जानिए प्राकृतिक माउथवॉश के बारे में

मसूड़ों में सूजन के लिए घरेलू उपाय के साथ ही जानिए प्राकृतिक माउथवॉश के बारे में

मुंह शरीर का वह भाग है जिससे हमारे सभी तंत्रों के लिए ऊर्जा यानी कि खाना ग्रहण किया जाता है। जब मुंह में ही परेशानी होगी तो स्वास्थ्य कैसे ठीक रहेगा। अक्सर लोगों को मसूड़ों में सूजन की शिकायत होती है, जिसे जिंजिवाइटिस कहते हैं। मसूड़ों में सूजन से भारत में लगभग 10 लाख लोग परेशान हैं। जिंजवाइटिस गंभीर बीमारी नहीं है, पर अगर इसका इलाज समय पर न किया जाए तो गंभीर पेरिओडोन्टल (दांत संबंधित) बीमारी होने की आशंका हो सकती है।

दांतों की सबसे सामान्य समस्या होती है बैक्टीरिया की। यही बैक्टीरिया भोजन के अवशेषों के साथ मिलकर मसूड़ों और दांतों के बीच की जगह में जमा हो जाते हैं, जिसे प्लाक (plaque) कहा जाता है। ये प्लाक दांतों पर एक कठोर परत बना देता है, जिसकी वजह से मसूड़ों में सूजन होती है और खून भी आने लगता है। इस आर्टिकल में हम मसूड़ों में सूजन के लिए घरेलू उपाय के बारे में जानेंगे, लेकिन मसूड़ों में सूजन के कारण और लक्षणों पर भी बात करेंगे।

और पढ़ें- दांतों की प्रॉब्लम होगी छूमंतर, बस बंद करें ये 7 चीजें खाना

मसूड़ों में सूजन के कारण क्या हैं?

मसूड़ों में सूजन यानी कि जिंजवाइटिस एक बैक्टीरिया के कारण होने वाली समस्या है। बैक्टीरिया खाने के अवशेषों के साथ मसूड़ों और दांतो की जगह में इकट्ठा हो जाता है और प्लाक बन जाता है। प्लाक एक चिपचिपा पदार्थ होता है, जो लंबे समय तक ठीक से नहीं साफ करने पर कठोर हो जाता है और दांतों की समस्याओं को जन्म देता है।

[mc4wp_form id=”183492″]

  • धूम्रपान या तंबाकू के सेवन के कारण : जिन लोगों को तंबाकू खाने की आदत होती है, उनको जिंजवाइटिस होने की संभावना 7 गुना ज्यादा होती है। तंबाकू के सेवन से प्लाक को जमने में मदद मिलती है।
  • दांतों की ठीक से सफाई न करना : अगर दातों की ठीक से सफाई की जाए तो प्लाक को जमने और कठोर परत बनाने से रोका जा सकता है। इसलिए डेंटिस्ट दिन में दो बार ब्रश करने की सलाह देते हैं।
  • दांतों के ऊपर दूसरे दांत का होना : ये ऐसी समस्या है, जिसमे पीछे के दांतों या दो दांतों के बीच की जगह में ठीक से सफाई नहीं हो पाती है और प्लाक जम जाता है।
  • हॉर्मोन में बदलाव के कारण : हॉर्मोन में परिवर्तन के कई कारण हो सकते हैं जैसे की गर्भावस्था, मेनोपॉज, या फिर किशोरावस्था। ऐसे स्थितियों में मसूड़े के ब्लड वेसेल्स में खून का दबाव बढ़ जाता है। जिससे मसूड़े बैक्टीरिया के चपेट में जल्दी आ जाते हैं।

और पढ़ें- दांतों की परेशानियों से बचना है तो बंद करें ये 7 चीजें खाना

  • कैंसर : अगर किसी व्यक्ति को कैंसर हो या उसका इलाज चल रहा हो, ऐसी स्थिति में उसका शरीर काफी संवेदनशील हो जाता है। इस वजह से किसी भी प्रकार की मसूड़ों की समस्या या फिर जिंजवाइटिस होने की प्रबल संभावना होती है।
  • मुंह से सांस लेना : सीधे मुंह से सांस लेने पर बहुत तरह के बैक्टीरिया मुंह में जा सकते हैं।
  • खाने में पोषण की कमी : अगर खाने में मीठा ज्यादा लिया जाए जिसमें कार्बोहाइड्रेट की मात्रा ज्यादा शरीर में जाती है। इसके साथ अगर पानी कम पीना और विटामिन सी को खाने में शामिल नहीं करते हैं तो इम्यून सिस्टम कमजोर होता है। जिसका असर शरीर के साथ दांतों पर भी पड़ता है।
  • डायबिटीज : डायबिटीज शरीर की घाव भरने की क्षमता को कम कर देता है। ऐसी स्थिति किसी भी प्रकार के दांत की समस्या या जिंजवाइटिस को न्योता दे सकता है।

और पढ़ें: इन्हीं कारणों की वजह से बढ़ जाती है मुंह की परेशानी

जिंजिवाइटिस होने के लक्षण क्या हैं?

मसूड़ों में सूजन हो जाने पर निम्न लक्षण सामने आते हैं :

और पढ़ें- पूरी जिंदगी में आप इतना समय ब्रश करने में गुजारते हैं, जानिए दांतों से जुड़े ऐसे ही रोचक तथ्य

मसूड़ों में सूजन के लिए घरेलू उपाय क्या है?

मसूड़ों में सूजन के लिए घरेलू उपाय निम्न हैं :

मसूड़ों में सूजन के लिए घरेलू उपाय : ओरल हेल्थ का रखें ध्यान

ओरल हेल्थ हर उम्र के लोगों के लिए जरूरी है और साथ ही यह हर उम्र के लोगों के लिए बड़ी समस्या भी साबित हो सकती है। ओरल हेल्थ आपकी ओवर ऑल हेल्थ को इफेक्ट कर सकती है। ओरल हेल्थ को बनाए रखने के लिए टिप्स:

  • दिन में दो बार ब्रश करें।
  • एक बार ब्रश करने में तीन मिनट का समय दें।
  • ब्रश करते समय दांतों और मसूड़ों पर ब्रश को ज्यादा रगड़ें नहीं, बल्कि, हल्के हाथों से ब्रश को इधर-उधर घुमाएं।
  • ब्रश करने के बाद उंगली से धीरे-धीरे मसूड़ों की मालिश करें, इससे मसूड़े मजबूत होते हैं।
  • दांतों के बीच फंसे टुकड़ों को निकालने के लिए फ्लॉस (धागे से दांतों की सफाई) का इस्तेमाल करें।
  • फ्लोराइड युक्त टूथपेस्ट और माउथवॉश का इस्तेमाल करें।
  • कुछ भी खाने के बाद कुल्ला जरूर करें।
  • दांतों की तरह ही रोजाना जीभ की सफाई करनी भी जरूरी है।
  • जीभ की सफाई के लिए टंग क्लीनर का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • हर रोज अपने मुंह की जांच करें। अगर किसी तरह की सूजन, कटने के निशान या कोई स्पॉट नजर आए, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।
  • साल में कम से कम दो बार किसी अच्छे डेंटिस्ट से अपने ओरल हेल्थ की जांच करवाएं।

और पढ़ें- जब शिशु का दांत निकले तो उसे क्या खिलाएं?

मसूड़ों में सूजन के लिए घरेलू उपाय : सॉल्ट वॉटर से करे जिंजिवाइटिस का इलाज

मसूड़ों में सूजन के लिए घरेलू उपाय में नमक का पानी आपके बेहद काम आने वाली चीज है। 2016 में हुई एक रिसर्च के मुताबिक नमक पानी मसूड़ों के घाव को हील करने में मददगार होता है। नमक एक प्राकृतिक डिसइंफेक्टेंट है, जो शरीर को हील होने में मदद करता है। नमक पानी मसूड़ों में जलन को कम करता है। बैक्टीरिया को कम करने के साथ दर्द से राहत देता है। नमक पानी के द्वारा खाने के अवशेष निकल जाते हैं।

नमक पानी का प्रयोग करने की विधि निम्न है :

लेकिन लंबे समय नमक पानी का इस्तेमाल करने से टूथ इनेमल पर नकारात्मक असर पड़ता है। साथ ही नमक पानी की ज्यादा मात्रा भी दांतों का क्षरण कर देता है।

और पढ़ें- दांतों की बीमारियों का कारण कहीं सॉफ्ट ड्रिंक्स तो नहीं?

मसूड़ों में सूजन के लिए घरेलू उपाय : माउथवॉश के ऑप्शन हैं कई

मसूड़ों में सूजन के लिए घरेलू उपाय में कई तरह के माउथवॉश से भी मसूड़ों में सूजन को ठीक किया जा सकता है :

लेमनग्रास ऑयल माउथवॉश

2015 में हुई एक रिसर्च के मुताबिक मसूड़ों में सूजन के लिए घरेलू उपाय के रूप में लेमनग्रास ऑयल में क्लोरोहेक्साइडिन पाया जाता है, जो प्लाक और मसूड़ों में सूजन को कम करता है।

लेमनग्रास ऑयल माउथवॉश बनाने की विधि निम्न है :

  • लेमनग्रास इसेंशियल ऑयल की दो से तीन बूंदों को एक कप पानी में डालकर मिलाएं।
  • इस सॉल्यूशन को अपने मुंह में 30 सेकेंड तक रख कर पूरे मुंह में फैलाएं।
  • फिर इसे थूंक दें।
  • ऐसा दिन में दो या तीन बार ऐसा करें।

हालांकि, लेमनग्रास ऑयल माउथवॉश का कोई साइड इफेक्ट नहीं है, लेकिन फिर भी इसके इस्तेमाल के पहले अपने डॉक्टर से परामर्श कर लें।

और पढ़ें : बच्चे का रूट कैनाल(Root Canal) ट्रीटमेंट हो तो ऐसे करें डील!

एलोवेरा माउथवॉश

2016 में हुए एक रिसर्च में एक बात सामने आई है कि मसूड़ों में सूजन के लिए घरेलू उपाय के तौर पर एलोवेरा किसी भी प्रकार के सूजन में राहत पहुंचाने का गुण रखता है। इसलिए अगर आप चाहें तो एलोवेरा माउथवॉश के लिए 100% प्योर एलोवेरा जूस का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। एलोवेरा जूस को अपने मुंह में 30 सेकेंड तक रखकर पूरे मुंह में फैलाएं। फिर इसे थूंक दें। ऐसा दिन में दो या तीन बार ऐसा करें।

अगर आपको एलोवेरा से किसी भी प्रकार की एलर्जी है तो आपको इसका माउथवॉश का इस्तेमाल न करें।

अमरूद की पत्तियों का माउथवॉश

अमरूद की पत्तियों में एंटीबैक्टीरियल और एंटीमाइक्रोबीयल गुण होते हैं। जो प्लाक को रोकने के लिए प्रभावी साबित होते हैं। अमरूद की पत्तियों का माउथवॉश का इस्तेमाल करने से निम्न फायदे होते हैं :

  • मसूड़ों में सूजन को दूर करता है
  • दर्द को कम करता है
  • सांसों में ताजगी भरता है

मसूड़ों में सूजन के लिए घरेलू उपाय के लिए अमरूद की पत्तियों का माउथवॉश बनाने की विधि निम्न है :

  • पांच से छह अमरूद की पत्तियों को क्रश कर लें।
  • अमरूद की पत्तियों को एक कप उबलते पानी में डालें।
  • इसे 15 मिनट के लिए ठंडा होने के लिए छोड़ दें।
  • इसमें एक चुटकी नमक मिलाएं और जब यह माउथवॉश सिर्फ गुनगुना गर्म रहें।
  • इस सॉल्यूशन को अपने मुंह में 30 सेकेंड तक रख कर पूरे मुंह में फैलाएं।
  • फिर इसे थूंक दें।
  • ऐसा दिन में दो या तीन बार ऐसा करें।

मसूड़ों में सूजन के लिए घरेलू उपाय : कोकोनट ऑयल पुलिंग

ऑयल पुलिंग एक ऐसी थेरिपी है, जो 300 सालों से चली आ रही है। इसमें किसी भी फूड ऑयल जैसे सनफ्लॉवर ऑयल, नारियल का तेल या वेजिटेबल ऑयल से पांच से 20 मिनट तक कुल्ला किया जाता है। कोकोनट ऑयल में लॉरिक एसिड पाया जाता है, जिसमें एंटी-इंफ्लमेटरी और एंटीमाइक्रोबियल गुण होते हैं। कोकोनट ऑयल पुलिंग प्लाक और जिंजिवाइटिस के लक्षणों को कम करती है। कोकोनट ऑयल पुलिंग से निम्न फायदे होते हैं :

कोकोनट ऑयल पुलिंग के लिए निम्न विधि को अपनाएं :

  • एक या दो चम्मच कोकोनट ऑयल मुंह में लें।
  • इसे अपने मुंह में 20 से 30 मिनट तक लिए रहें। इस दौरान ध्यान देने की बात है कि ऑयल गले को टच न कर सके।
  • समय खत्म होने के बाद ऑयल को थूंक दें।
  • मुंह को पानी से साफ करें।
  • इसके बाद एक गिलास पानी पिएं।
  • दांतों को ब्रश करें।

अगर आप कोकोनट ऑयल को लेकर अगर मुंह में 20 मिनट तक नहीं रख सकते हैं तो दो छोटे हिस्सों में यानी कि 10-10 मिनट तक कोकोनट ऑयल को मुंह में रखें।

मसूड़ों में सूजन के लिए घरेलू उपाय : हल्दी का जेल लगाएं

हल्दी कई परेशानियों को ठीक करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। मसूड़ों में सूजन के लिए घरेलू उपाय में भी हल्दी का इस्तेमाल किया जाता है। इसमें एंटी-इंफ्लमेटरी गुण होते हैं। हल्दी में एंटी-माइक्रोबियल और एंटी फंगल गुण भी होते हैं। ये मसूड़ों से खून बहने और सूजन को कम करने में मदद करती है।

  • हल्दी का जेल बना कर दांतों को ब्रश करें।
  • इसके बाद मुंह को धो लें।
  • इसके बाद फिर से हल्दी के जेल को मसूड़ों पर लगाएं।
  • इसे 10 मिनट के लिए वैसा ही छोड़ दें।
  • इसके बाद पानी से मुंह को साफ कर लें।
  • इस प्रक्रिया को दिन में दो बार दोहराएं।

इस तरह आप मसूड़ों की सूजन को दूर कर सकते हैं। यहां बताए गए उपायों को अपनाने के बाद भी अगर आपको आराम ने मिले तो डॉक्टर की सलाह तुरंत लें। कई बार मसूड़ों की सूजन किसी गंभीर बीमारी का संकेत भी हो सकती है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Rinsing with Saline Promotes Human Gingival Fibroblast Wound Healing In Vitro: https://journals.plos.org/plosone/article?id=10.1371/journal.pone.0159843  Accessed July 21, 2020

Efficacy of 0.25% Lemongrass Oil Mouthwash: A Three Arm Prospective Parallel Clinical Study: https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4625327/ Accessed July 21, 2020

Comparative antiplaque and antigingivitis effectiveness of tea tree oil mouthwash and a cetylpyridinium chloride mouthwash: A randomized controlled crossover study: https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4229754/ Accessed July 21, 2020

Psidium guajava: A review on its potential as an adjunct in treating periodontal disease: https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4127827/ Accessed July 21, 2020

Comparative evaluation of topical application of turmeric gel and 0.2% chlorhexidine gluconate gel in prevention of gingivitis: https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4668736/ Accessed July 21, 2020

Effect of coconut oil in plaque related gingivitis — A preliminary report: https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4382606/ Accessed July 21, 2020

Gum Disease: https://www.mouthhealthy.org/en/az-topics/g/gum-disease Accessed July 21, 2020

Flossing: https://www.mouthhealthy.org/en/az-topics/f/flossing Accessed July 21, 2020

Smoking, Gum Disease, and Tooth Loss: https://www.cdc.gov/tobacco/campaign/tips/diseases/periodontal-gum-disease.html Accessed July 21, 2020

Oral health: Brush up on dental care basics: https://www.mayoclinic.org/healthy-lifestyle/adult-health/in-depth/dental/art-20045536?pg=1 Accessed July 21, 2020

Mouthwash: https://www.ada.org/en/member-center/oral-health-topics/mouthrinse Accessed July 21, 2020

लेखक की तस्वीर badge
Shayali Rekha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 15/06/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड