home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

8 महीने से लेकर 1 साल तक के बच्चे के लिए फूड चार्ट

8 महीने से लेकर 1 साल तक के बच्चे के लिए फूड चार्ट

आठ महीने के बच्चे के दांत आना शुरू हो जाते हैं। इस उम्र में बच्चा मां के दूध के अलावा लाइट फूड यानी आहार लेने लगता है। ऐसे में पेरेंट्स के लिए सबसे मुश्किल काम होता है कि बच्चों के लिए उनका फूड चार्ट (Food Chart) तैयार करना। क्योंकि न्यू मॉम को नहीं पता होता है कि बच्चे के लिए सही पोषण क्या है, इस दौरान पेरेंट्स को बच्चे को ऊपरी आहार देना चाहिए। हैलो स्वास्थ्य ने इस संबंध में बात की वाराणसी के सृष्टि क्लीनिक के बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. पी. के. अग्रवाल से। उन्होनें बताया कि “आठ महीने से एक साल के बच्चे के फूड चार्ट में ज्यादा अंतर नहीं होता है। बस फर्क मात्र इतना होता है कि एक साल का बच्चा ठोस आहार ले सकता है। वहीं, आठ से ग्यारह माह के बच्चे को अर्द्धठोस (Semi Solid) चीजें खाने कि लिए दें।”

और पढें : स्वस्थ बच्चे के लिए हेल्दी फैटी फूड्स

पेरेंट्स रखें इन बातों का ध्यान

  • बच्चे के भोजन में लगभग 1000 कैलोरी होनी चाहिए, जिससे बच्चे को पर्याप्त ऊर्जा, पोषण मिलेगा।
  • अभी बच्चा एक साल का है, वह सीख रहा है। इसलिए बच्चे को कभी भी एक निश्चित समय पर खाने के लिए फोर्स ना करें। इससे बच्चे के अंदर खाने के प्रति उदासीनता बढ़ेगी।
  • बच्चे रंग देख कर आकर्षित होते हैं। इसलिए उनके लिए रंग-बिरंगे भोजन बनाए। जो देखने में आकर्षक लगे।
  • बच्चे के खाने में वसा की मात्रा जरूर शामिल करें। इससे बच्चे को अधिक ऊर्जा मिलेगी। कोलेस्ट्रॉल और अन्य वसाएं बच्चे की वृद्धि के लिए बहुत जरूरी है।

और पढें : बच्चे की उम्र के अनुसार क्या आप उसे आवश्यक पोषण दे रहे हैं ?

  • हमेशा बच्चे को खाना ठंडा कर के दें, इससे बच्चे का मुंह नहीं जलेगा।
  • बच्चे को ज्यादा तीखा, मीठा, नमकीन और खट्टा खाना ना दें। इससे बच्चे के स्वास्थ्य पर असर पड़ेगा।
  • बच्चे को खाना देते समय हमेशा अच्छे से मसल कर दें। भोजन को छोटे टुकड़ों में काट कर दें ताकि बच्चा उसे आराम से खा सके।
  • बच्चे को सलाद ना दें। क्योंकि उसमें खीरे, गाजर आदि के छोटे-छोटे टुकड़ें होते हैं जो बच्चे की भोजन नली में जा कर फंस सकते हैं।
  • बच्चे को जब भी खिलाएं बैठा कर खिलाएं। अगर बच्चा अपने से खा रहा है तो किसी बड़े व्यक्ति की देखरेख में खाए।
  • एक साल के बच्चे के खाने में नमक या चीनी बिल्कुल न मिलाएं।अगर आपको बच्चे को मीठा खिलाना है तो आप बच्चे को गुड़ खाने के लिए दें। साथ ही जहां तक हो सके कोशिश करें कि बच्चे को खाना मसल कर दें।

और पढें: जब शिशु का दांत निकले तो उसे क्या खिलाएं?

8 महीने के बच्चे का फूड चार्ट

फूड चार्ट

9 महीने के बच्चे का फूड चार्ट

फूड चार्ट

10 महीने के बच्चे का फूड चार्ट

फूड चार्ट
11 महीने के बच्चे का फूड चार्ट

फूड चार्ट

1 साल के बच्चे का फूड चार्ट

फूड चार्ट

इस मेन्यू और पेरेंटिंग टिप्स से आप बच्चे को अच्छा पोषण दे सकती हैं। साथ ही बच्चे की परवरिश भी बिना टेंशन लिए कर सकती हैं। बस इतना ध्यान दें कि एक साल का बच्चा इतना बड़ा नहीं है कि खुद से खा सके। इसलिए बच्चे को खुद की देखरेख में भोजन कराएं।

फूड चार्ट के साथ बच्चे के लिए बनाएं ये रेसिपीज

फूड चार्ट को फॉलो करते हुए आप बच्चे के लिए निम्न रेसिपी बना सकते हैं और उसे खिला सकते हैं, जिससे बच्चा स्वस्थ्य रहेगा।

रागी दलिया

फूड चार्ट में रागी दलिया को जरूर शामिल करें। इसमें फाइबर की मात्रा अधिक होती है और यह बोन डेंसिटी और मसल बिल्डिंग में मदद करता है।

सामग्री

  • रागी के बीज: 3-4 बड़े चम्मच।
  • पानी
  • दूध + गुड़ या दही + नमक

विधि

  • सूखे रागी के दानों को धोकर रात भर भिगो दें।
  • दानों के सफेद पेस्ट को बनाने के लिए इन्हें पानी में मिलाकर पीस लें।
  • इसे पानी के साथ उबालें।
  • एक बार जब यह गाढ़ा हो जाए, तो आंच बंद कर दें, मीठे स्वाद के लिए दूध और गुड़ मिलाएं।
  • इसके अलावा ठंडा होने के बाद आप स्वाद अनुसार दही और नमक डालें।

और पढ़ेंः बच्चों के लिए पिलाटे एक्सरसाइज हो सकती है फायदेमंद, बढ़ाती है एकाग्रता

रवा दलिया

यह दूसरी तरह के दलिया से एक अच्छा ब्रेक है। फूड चार्ट में यह मीठा और आसानी से पचने वाला होता है।

सामग्री

  • रवा: 2 बड़े चम्मच।
  • पानी: आधा कप
  • घी: 1 या 2 चम्मच।
  • गुड़: स्वाद के लिए
  • दूध

विधि

  • धीमी आंच पर घी में रवा भूनें, भूरा न करें। खुशबू आने पर इसे बंद कर दें और थोड़ी देर अलग रख दें।
  • पानी उबालें और भुना हुआ रवा धीरे-धीरे डालें। मिक्सचर के गाढ़ा होने और पानी के सूख जाने के बाद इसे बंद कर दें।
  • दस मिनट के बाद गुड़ और दूध को पूरी तरह से गाढ़ा होने के लिए डालें। इसे तब तक डालें जब तक यह दलिया की तरह गाढ़ा न हो जाए।

स्टिकी बनाना राइस

फूड चार्ट में फलों के सेक्शन को फ़लो करते हुए आप ये रेसिपी बच्चे को परोस सकते हैं।

सामग्री

  • चावल: 1 कप
  • नारियल का दूध (पतला): दो कप
  • गुड़: 1 बड़ा चम्मच
  • केला: 2 इलाची या छोटे केले
  • गाढ़ा नारियल दूध: 2 बड़े चम्मच

विधि

  • पतले नारियल के दूध में रात भर चावल भिगोएं।
  • इसे एक्सट्रा पानी के साथ प्रेशर कुक करें।
  • नारियल के दूध को गुड़ के साथ गर्म करें और चावल डालें।
  • केले को एक सर्विंग बाउल में डालें और मीठे चावल डालें।

चिकन सूप

फूड चार्ट में नॉन वेज की जगह बच्चे को ये रेसिपी दे सकते हैं।

सामग्री

  • चिकन: एक पीस चिकन ब्रेस्ट
  • प्याज: 1 छोटा (बारीक कटा हुआ)
  • सब्जियां (गाजर, आलू): 2 बड़े चम्मच (काटा हुआ)
  • चिकन स्टॉक/ पानी: 1 कप।
  • मक्खन: 2 चम्मच।
  • नमक

विधि

  • एक प्रेशर कुकर में मक्खन डालें और प्याज डालें
  • चिकन, सब्जियों और पानी के साथ मिलाएं
  • दो सीटी तक प्रेशर कुक करें
  • ठंडे मिश्रण को ब्लेंड करें और इसे गरमा-गरम सर्व करें

और पढ़ेंः बच्चों में मानसिक बीमारियां बन सकती है बड़ी परेशानी!

टमाटर और गाजर का सूप

सामग्री

  • गाजर: 1
  • टमाटर: 1
  • प्याज: 2 बड़े चम्मच (बारीक कटा हुआ)
  • लहसुन: 1 छोटा लौंग (बारीक कटा हुआ)
  • मक्खन: 1 चम्मच
  • जीरा: ¼ छोटा चम्मच।
  • काली मिर्च पाउडर: एक चुटकी
  • पानी: डेढ़ कप
  • नमक

विधि

  • सब्जियों को अच्छी तरह से साफ करें और उन्हें छोटे क्यूब्स में डालें।
  • प्रेशर कुकर में मक्खन गरम करें और जीरा डालें
  • प्याज और लहसुन को हल्का सॉटे करें
  • गाजर और टमाटर के साथ पानी मिलाएं। इसके अलावा नमक और काली मिर्च डालें।
  • इसे उबाल लें
  • मध्यम आंच पर तीन सीटी आने तक पकाएं
  • ग्राइंड करें और छान लें
  • अगर आप छानना नहीं चाहते, तो आपके सूप में टमाटर का छिलका आएगा।
  • इसे गुनगुना परोसें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर
Shayali Rekha द्वारा लिखित
अपडेटेड 07/10/2019
x