home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

बच्चों को एक्टिव रखना है तो अपनाएं ये 13 टिप्स

बच्चों को एक्टिव रखना है तो अपनाएं ये 13 टिप्स

आज के समय में बच्चे का ज्यादातर समय स्कूल में बैठकर या घर पर ही टीवी, मोबाइल और कंप्यूटर के सामने गुजर जाता है। कुछ आंकड़ों के मुताबिक, तीन में से केवल एक बच्चा ही फिजिकली एक्टिव रहता है। 50 प्रतिशत से भी कम समय बच्चे खेलकूद और फिजिकल एजुकेशन की क्लास में बिताते हैं। वहीं, औसतन प्रतिदिन सात घंटे से भी अधिक समय बच्चे टीवी, कंप्यूटर, फोन और अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का उपयोग करने में बिता देते हैं। ये आकड़े बिलकुल भी ठीक नहीं है। बेहतर मानसिक और शारीरिक विकास के लिए बच्चों को एक्टिव रखना (keeping kids active) बेहद जरूरी होता है।

चाइल्ड स्पेशलिस्ट डॉक्टर आर. के. ठाकुर (आर. के. क्लिनिक, लखनऊ) का कहना है कि “बच्चों की शारीरिक सक्रियता कम होने की वजह से लगभग बच्चों में लगभग 70 प्रतिशत संभावनाएं बढ़ जाती है कि वे आगे जाकर मोटापे का शिकार हो सकते हैं।” ऐसे में अगर बच्चों को एक्टिव रखना है तो पेरेंट्स को कुछ बातों पर ध्यान देना होगा। “हैलो स्वास्थ्य” के इस आर्टिकल में बच्चों को एक्टिव रखना क्यों जरूरी है और पेरेंट्स कैसे बच्चों को एक्टिव रखें इस बारे में बताया गया है। शुरूआती तौर पर बच्चे को शारीरिक रूप से सक्रिय रहने में ये 13 तरीके मदद करेंगे-

बच्चों को एक्टिव रखने के टिप्स (Tips to keep kids active)

फिजिकली इनएक्टिव होने की वजह से बच्चों में शारीरिक कमजोरी, मोटापा जैसी कई शारीरिक और मानसिक समस्याएं पैदा होने लगती हैं। इसलिए, बच्चों को एक्टिव रखना बेहद जरूरी है। नीचे बच्चों को एक्टिव रखने के टिप्स दिए जा रहे हैं जिनकी मदद से आप बच्चों को फिजिकली एक्टिव बना सकते हैं−

1.डॉक्टर से बात करें

बच्चों को एक्टिव रखना (keeping kids active) क्यों जरूरी है, यह बात एक डॉक्टर से अच्छा कोई नहीं समझा सकता। डॉक्टर की सलाह से आप यह जान सकते है कि आपके बच्चे के लिए कौन-सा खेल या फिजिकल एक्टिविटी सबसे अच्छी है।

यह भी पढ़ें : बेबी हार्ट मर्मर के क्या लक्षण होते हैं? कैसे करें देखभाल

2.मजेदार एक्टिविटी ढूंढें (keeping kids active)

अपने बच्चे के लिए ऐसी एक्टिविटी ढूंढें जिसको वह एन्जॉय कर सके। जितना ज्यादा बच्चा एक्टिविटी का आनंद लेता है, उतनी ही ज्यादा देर वह उसमें इन्वॉल्व रहेगा। कोशिश करें के बच्चे के साथ गतिविधि में पूरा परिवार शामिल हो।

3.एक्टिविटी जो विकास के लिए उपयुक्त हो (Tips to keep kids active)

बच्चों के लिए ऐसी एक्टिविटी का चयन करें जो की उनके शारीरिक विकास के लिए लाभदायक हो। उदाहरण के लिए सात या आठ साल के बच्चे के लिए फुटबॉल, साइकिलिंग और स्विमिंग काफी अच्छे रहते हैं। इससे बच्चों को एक्टिव रखना (keeping kids active) तो आसान होता ही है साथ ही बच्चे का विकासभी सही ढंग से हो पाता है।

यह भी पढ़ें : बच्चों को स्विमिंग क्लासेस भेजने से पहले रखें इन बातों का ध्यान

4.प्लानिंग (Planning)

सुनिश्चित करें कि आपके बच्चे के पास एक्टिविटी करने का उपयुक्त समय और स्थान हो। उसकी दैनिक दिनचर्या में उसकी फिजिकल एक्टिविटी के लिए भी समय निर्धारित करें।

5.सुरक्षित वातावरण प्रदान करें

पेरेंट्स का यह सुनिश्चित करना जरूरी है कि बच्चे के खिलौने और खेल के लिए चुना गया स्थान सुरक्षित हो।

यह भी पढ़ें : शिशुओं में विटामिन डी कमी से हो सकते हैं ये खतरनाक परिणाम

6.सही खिलौने दे

बच्चों को दिए गए खिलौने उपयुक्त होने चाहिए खासकर की छोटे बच्चों के लिए। छोटे बच्चों को ऐसे खिलौने दें, जिनसे वह आसानी से खेल सकें।

7.अपने बच्चे के साथ खेलें

बच्चों को एक्टिव रखना

यदि आप चाहते हैं कि बच्चा किसी तरह की फिजिकल एक्टिविटी करे तो इसके लिए बेहद जरूरी है कि आप खुद भी उसके साथ उसमें शामिल हों। अगर आप सच में बच्चों को एक्टिव रखना (keeping kids active) चाहते हैं तो जरूरी है कि पेरेंट्स बच्चे के साथ खेलें। अक्सर माता−पिता फोन या लैपटॉप में लगे रहते हैं। नतीजन, बच्चे भी मोबाइल फोन, टीवी या अन्य गैजेट में लग जाते हैं। इसलिए, संभव हो तो शाम के समय बच्चों को पार्क ले जाएं, उनके साथ एक्सरसाइज करें, कोई ऑउटडोर गेम खेलें। बच्चे को नए खेल सिखाने में मदद करें।

8.टीवी, फोन और कंप्यूटर का उपयोग कम करें

बच्चों को फिजिकली एक्टिव रखने का यह मतलब बिल्कुल भी नहीं के टेक्नोलॉजी से उन्हें दूर रखा जाएं लेकिन, टीवी, मोबाइल और कंप्यूटर का इस्तेमाल सीमित होना चाहिए। अमेरिकन एकेडमी ऑफ पेडियाट्रिक्स सलाह देता है कि दिन एक से दो घंटे तक टीवी, वीडियो, कंप्यूटर और वीडियो गेम का इस्तेमाल बच्चों के द्वारा किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें : बच्चों के मानसिक विकास के लिए 5 आहार

9.न बनाएं दबाव

माना कि बच्चों को एक्टिव रखना (keeping kids active) जरूरी है। लेकिन, इसके लिए कभी भी बच्चे पर दबाव न बनाएं। इससे बच्चे में रूचि पैदा होने की जगह बच्चा चिड़चिड़ा होने लगेगा। इसकी बजाय बच्चे को प्रोत्साहित करने के लिए पहले उन्हें खेलने के स्वास्थ्य लाभ के बारे में बताएं।

यह भी पढ़ें : बच्चों को दस्त होने पर न दे ये फूड्स

10.व्यायाम करें

बच्चों के लिए होमवर्क, म्यूजिक क्लास, डांस प्रैक्टिस और अन्य एक्टिविटीज के साथ ही छोटी-छोटी एक्सरसाइज भी जरूरी हैं। बच्चों को एक्टिव रखना (keeping kids active) है तो बेस्ट तरीका है उनके साथ एक्सरसाइज, योगा, रनिंग या वॉक करें 24 घंटों में से कुछ समय व्यायाम के लिए जरूर निर्धारित करें। इससे बच्चे का स्वास्थ्य ठीक रहता है।

यह भी पढ़ें : खाने में आनाकानी करना हो सकता है बच्चों में ईटिंग डिसऑर्डर का लक्षण

11.क्लास का सहारा

कई तरह के ऐसे सेंटर्स हैं जो बच्चों को उनकी उम्र के हिसाब से एक्टिविटी कराते हैं जैसे-जूडो, डांसिंग, गेम खिलाना आदि। समय की कमी के चलते अगर पेरेंट्स को बच्चों को एक्टिव रखना मुश्किल हो रहा है तो इस तरह की क्लासेज एक अच्छा ऑप्शन है। इससे बच्चा नियमित रूप से शारीरिक रूप से सक्रिय तो रहेगा ही, साथ ही उसे कुछ नया सीखने को भी मिलेगा।

यह भी पढ़ें : बच्चे के अच्छे मानसिक स्वास्थ्य के लिए जरूरी है परिवार

12.समय करें निश्चित

बच्चों को एक्टिव रखना है इसका अर्थ यह बिलकुल भी नहीं है कि उनसे लैपटॉप, टीवी या मोबाइल बिल्कुल ही छीन लें। बल्कि, जरूरत है कि आपका बच्चा स्क्रीन पर कितना समय बिताए ?यह सुनिश्चित करें।

13.अति न करें (Tips to keep kids active)

हर चीज की अति बुरी होती है, यह कहावत तो आपने सुनी ही होगी। बच्चा चाहे कोई भी काम कर रहा हो उसकी एक सीमा तय ही करें, यह सुनिश्चित करना पेरेंट्स का काम होता है। किसी भी कार्य के दौरान चाहे वह व्यायाम हो या कोई और शारीरिक गतिविधि, बच्चे को नुकसान नहीं पहुंचाना चाहिए।

बच्चों को एक्टिव रखना जितना जरूरी है उतना ही जरूरी है संतुलित आहार। शारीरिक गतिविधियां और संतुलित आहार बच्चे को एक स्वस्थ जीवन प्रदान करने में सहायक होते हैं। पेरेंट्स की कई जिम्मेदारियों में से एक बच्चों को एक्टिव रखना भी एक जिम्मेदारी है। इस रेस्पॉन्सिबिलिटी को पूरा करने के लिए पेरेंट्स ऊपर बताए गए टिप्स को फॉलो कर सकते हैं। इससे बच्चों का शारीरिक और मानसिक विकास उचित ढंग से हो पाता है।

उम्मीद करते हैं कि आपको बच्चों को एक्टिव रखना (keeping kids active) कैसे चाहिए इससे संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र
लेखक की तस्वीर
Shikha Patel द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 4 weeks ago को
Mayank Khandelwal के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड
x