home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

बच्चों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए जरूरी है सही पोषण, जानिए 6 साल के बच्चों का फूड चार्ट

बच्चों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए जरूरी है सही पोषण, जानिए 6 साल के बच्चों का फूड चार्ट

बच्चों की ग्रोथ और डेवलपमेंट के लिए बहुत जरूरी है कि आप उनके खाने में उन सभी पोषक तत्वों को शामिल करें, जो उनकी ग्रोथ के लिए बहुत जरूरी है। अगर आपके बच्चे को सही मात्रा में कार्बोहायड्रेट, प्रोटीन, फैट, कैल्शियम, आयरन, विटामिन बी 12, विटामिन सी और विटामिन ए नहीं मिल पाता है, तो आपके बच्चे की ग्रोथ या डेवलपमेंट में रुकावट पैदा हो सकती है। बच्चों की डायट बैलन्स्ड होनी चाहिए ताकि उन्हें जरूरी मात्रा में पोषण मिल सके। आज हम आपको 6 साल के बच्चे के लिए फूड चार्ट संबंधी जानकारी साझा करेंगे। जानिए बच्चों के लिए फूड चार्ट (Food chart for kids) तैयार करते समय किन फूड्स को शामिल करना फायदेमंद साबित हो सकता है और साथ ही किन बातों का ध्यान रखने की जरूरत है।

और पढ़ें: स्कूल के बच्चों के लिए हेल्दी हेबिट्स क्यों है जरूरी? जानें किन-किन आदतों को बच्चों को बताना है बेहतर

बच्चों के लिए फूड चार्ट (Food chart for kids)

बच्चा जब स्कूल जाने लगता है, तो मां के लिए ये एक चुनौती की तरह होता है। मां को बच्चे के लिए हमेशा ऐसे फूड की तलाश रहती है, जो बच्चा आसानी से खा ले और उसको पोषक तत्व भी प्रदान हो जाए। कहा जाता है कि ताकतवर चीज स्वादिष्ट हो, ये जरूरी नहीं है लेकिन मां को ऐसा ही करना होता है। जी हां! अगर आप सोच रहे हैं कि आप बच्चे के सामने हेल्दी फूड्स (Healthy foods) रखेंगे और वो बिना नाक मुंह बनाएं उसे खा लेंगे, तो ऐसा संभव नहीं है। आपको बच्चे के लिए ऐसा डायट चार्ट तैयार करना पड़ेगा, जिसे बच्चे बिना किसी आनाकानी के खा लें। इस उम्र में गलत या फैटी फूड्स (Fatty foods) खाने से मोटापे की समस्या भी आम हो जाती है। आपको बच्चों के लिए फूड चार्ट (Food chart for kids) तैयार करते समय ऐसे फूड का चयन करना चाहिए, जो हेल्दी होने के साथ ही टेस्टी भी हो। आइये जानते हैं 6 साल के बच्चे के लिए फूड चार्ट कैसे तैयार किया जा सकता है।

और पढ़ें:बच्चों का मिल्क चार्ट: यहां जानिए 1 से 3 साल तक के बच्चों के लिए कितना दूध है जरूरी?

6 साल के बच्चों के लिए हेल्दी ब्रेकफास्ट (Breakfast)

स्कूल जाने वाले बच्चों के लिए सुबह जल्दी सोकर उठना और फिर ब्रेकफास्ट करना वाकई कठिन काम होता है। बच्चों की आंखों में नींद भरी रहती है और वो जल्द खाने के लिए भी तैयार नहीं होते हैं लेकिन हेल्दी नाश्ता बच्चों के लिए बहुत जरूरी होता है। हेल्दी नाश्ता बच्चों को स्कूल में दिनभर एनर्जी देने का काम करता है। आपको बच्चे के नाश्ते में आसानी से और टेस्टी बनने वाले ब्रेकफास्ट (Breakfast) का चयन करना चाहिए। आप बच्चे को सुबह आधा कटोरी दलिया (Oatmeal), आधा केला और साथ में थोड़ा दूध दे सकते हैं। अगर बच्चे को मीठी दलिया पसंद है, तो आप उसी में दूध मिला दें और फिर अलग से दूध देने की जरूर नहीं है। आप बच्चे के टिफिन में हेल्दी स्नैक्स के रूप में कुछ ड्राय फ्रूट्स (Dry fruits) भी रख सकती हैं। बच्चों को आप अगर सुबह सिर्फ दूध या बिस्किट देंगी, तो उन्हें पूरा पोषण नहीं मिल पाएगा। अगर बच्चे को एग पसंद है, तो आप एक से दो अंडे का आमलेट भी बना कर दे सकते हैं। बच्चों के लिए फूड चार्ट (Food chart for kids) तैयार करते समय आप न्यूट्रीशनिस्ट की हेल्प भी ले सकते हैं।

और पढ़ें:Goat’s Milk: क्या बच्चों के लिए बकरी का दूध होता है फायदेमंद?

बच्चों के लिए फूड चार्ट (Food chart for kids) तैयार करते समय रखें हेल्दी लंच

बच्चे चूंकि स्कूल में ही लंच करते हैं, तो ऐसे में आपको बच्चे के लिए टिफिन तैयार करते समय हेल्दी फूड्स के साथ ही उसकी पसंद और नापसंद का भी खास ख्याल रखना पड़ेगा। अगर आपके बच्चे को कोई चीज नहीं पसंद है, तो यकीन मानिए वो टिफिन में से थोड़ा खाना खाएगा और बाकी छोड़ देगा। आपको 6 साल बच्चे के लिए फूड या लंच पैक करते समय उसमें वेजीटेबल्स, व्होल वीट ब्रेड, कुकम्बर (Cucumber) के साथ ही उसका फेवरेट फ्रूट भी रखना चाहिए। अगर बच्चे को नॉनवेज खिलाना है, तो बेहतर होगा कि आप उसे घर में ही खिलाएं। स्कूल में नॉनवेज लाना मना होता है, इसलिए बेहतर होगा कि आप नॉनवेज बच्चे को घर में ही खिलाएं

और पढ़ें:बच्चों के लिए नुकसानदायक फूड, जो भूल कर भी उन्हें न दे

हेल्दी स्नैक्स टाइम को न करें इग्नोर

स्कूल से आने के बाद बच्चे खाना खाने से इंकार कर सकते हैं। आपको ऐसे समय में हेल्दी स्नैक्स का चुनाव करना चाहिए। हेल्दी स्नैक्स में आप बच्चे को योगर्ट के साथ फ्रूट मिक्स करके दे सकते हैं। बच्चों को फ्लेवर्ड योगर्ट भी पसंद आता है। अगर बच्चा लंच या ब्रेकफास्ट में फ्रूट्स खा चुका है और अब फ्रूट्स नहीं खाना चाहता है, तो आप दही या फिर योगर्ट (Curd or yogurt) का चयन कर सकते हैं। बच्चे को जबरदस्ती खिलाने की कोशिश न करें।

FOOD CHART

डिनर में शामिल करें फेवरेट वेजीटेबल्स के साथ दाल

अगर आपके बच्चे को सब्जियों के साथ दाल पसंद है, तो ये आपके लिए बहुत अच्छी बात है। आप डिनर में बच्चे के लिए स्वीट पटैटो के साथ ही ब्रोकली या फिर उसके पसंद की सब्जी के साथ ही व्होल ग्रेन या चावल की कुछ मात्रा दे सकते हैं। आपको रोजाना एक जैसा खाना नहीं पकाना चाहिए। खाने में वेरिएशन बच्चों को पसंद आता है और वो इसे बड़े चाव से खाते हैं। आप बच्चे के खाने में रेनबो आइडिया (Rainbow idea) का इस्तेमाल भी कर सकती है। यानी उन्हें रंग-बिरंगी सब्जियां खाने के लिए दे सकती हैं। उन्हें बेहद पसंद आएगा। अगर बच्चे को किसी फूड से एलर्जी है या फिर लैक्टोज इंटॉलरेंस (Lactose intolerance) है, तो आपको डायट चार्ट तैयार करने के दौरान उन फूड्स को निकाल देना होगा, जो बच्चे को नुकसान पहुंचा सकते हैं। अगर आपको किसी प्रोडक्ट को लेकर कन्फ़्यूज़न है, तो आप डॉक्टर से भी इस बारे में जानकारी ले सकते हैं।

और पढ़ें:बच्चों में खाना न खाने की आदत को इस तरह से बदल सकते हैं आप

बच्चों की हेल्दी हैबिट में हेल्दी लिक्विड को भी शामिल करें और उन्हें ज्यादातर दूध और पानी जैसे लिक्विड पीने के लिए कहें। आप उन्हें उनके फेवरेट फलों के जूस को पीने के लिए भी कह सकते हैं। मार्केट वाले जूस, कोल्ड ड्रिंक्स, स्पोर्ट्स ड्रिंक्स आदि का बच्चों को सेवन न करने दें क्योंकि इनमें कैलोरी और चीनी ज्यादा होती है, जो स्वास्थ्य के लिए अच्छी नहीं होती है। जब बच्चा खाना खाएं, तो उसे टीवी या स्क्रीन से दूर ही रखें। आप खाने को अधिक स्वादिष्ट बनाने के लिए बटर, चीज (Chees), पनीर, पीनट बटर आदि को भी शामिल कर सकते हैं। आप चाहे तो बच्चे को दाल का चीला भी नाश्ते में दे सकते हैं। 6 साल के बच्चों के लिए फूड चार्ट (Food chart for kids) संबंधित अधिक जानकारी के लिए आप न्यूट्रीशनिस्ट से भी परामर्श कर सकते हैं।

हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार उपलब्ध नहीं कराता। इस आर्टिकल में हमने आपको बच्चों के लिए फूड चार्ट (Food chart for kids) के संबंध में जानकारी दी है। उम्मीद है आपको हैलो हेल्थ की दी हुई जानकारियां पसंद आई होंगी। अगर आपको इस संबंध में अधिक जानकारी चाहिए, तो हमसे जरूर पूछें। हम आपके सवालों के जवाब मेडिकल एक्स्पर्ट्स द्वारा दिलाने की कोशिश करेंगे।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 08/07/2021 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड