home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

बच्चों के लिए नुकसानदायक फूड, जो भूल कर भी उन्हें न दे

बच्चों के लिए नुकसानदायक फूड, जो भूल कर भी उन्हें न दे

स्वादिष्ट खाने की चाह जितने वयस्कों में होती है, ठीक वैसे ही बच्चों में भी होती है। हालांकि बड़े व्यक्ति इससे होने वाले नुकसान से तो अबगत होते हैं लेकिन, बच्चे नहीं। बच्चों को जंक फूड खूब पसंद आते हैं लेकिन, बच्चों के लिए नुकसानदायक फूड के लिस्ट में जंक फूड सबसे पहले आता है।

हैलो स्वास्थ्य की टीम ने जब दिल्ली की रहने वाली 34 वर्षीय पूजा गौरव से बात की तो पूजा कहतीं हैं कि ” मेरा 5 साल का एक बेटा है जो शरारती तो नहीं है लेकिन, खाने-पीने के मामले में परेशान जरूर करता है। उसे पिज्जा, बर्गर, चिप्स और कोल्डड्रिंक जैसी चीजें खूब पसंद आती हैं लेकिन, मैं उसे रोज-रोज ऐसे फूड आइटम्स नहीं दे सकती हूं, क्योंकि यह नुकसानदायक होता है।”

” पूजा का मानना है की पिज्जा, बर्गर, चिप्स और कोल्डड्रिंक नुकसानदायक होते हैं।” वैसे पूजा के साथ-साथ कई पेरेंट्स का जवाब यही था। आज इस आर्टिकल में जानेंगे बच्चों के लिए नुकसानदायक फूड कौन-कौन से हैं?

और पढ़ें – तामसिक छोड़ अपनाएं सात्विक आहार, जानें पितृ पक्ष डायट में क्या खाएं और क्या नहीं

कौन-कौन से फूड बच्चों के लिए नुकसानदायक हो सकते हैं?

बच्चों के लिए नुकसानदायक फूड 1: ब्रेड और जैम

बच्चे बड़े ही चाव से ब्रेड और उस पर लगे जैम को खा लेते हैं। अगर आप भी अपने बच्चों को ब्रेड और जैम ज्यादतर टिफिन में देती हैं, तो ऐसा न करें। कभी-कभी बच्चों को ब्रेड और जैम दिया जा सकता है लेकिन, रोज-रोज बच्चे को ऐसे खाने की आदत न डालें। यह बच्चे के लिए नुकसानदायक हो सकता है। असल में इनमें शुगर की मात्रा ज्यादा होती है पर पौष्टिकता की मात्रा बहुत ही कम होती है।

और पढ़ें – हेल्दी ब्रेकफास्ट रेसिपी : घर पर आसानी से हेल्दी पोहा कैसे बनाते हैं?

बच्चों के लिए नुकसानदायक फूड 2: कैंडी

बाजार में इन दिनों शहद से बने अलग-अलग तरह के कैंडी मिलते हैं। शहद तो हेल्थ के लिए अच्छा माना जाता है लेकिन, कैंडी में जिस तरह से शहद का इस्तेमाल किया जाता है वह नुकसानदायक हो सकता है। हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार इनमें टॉक्सिक बैक्टीरिया हो जाते हैं, जो सेहत के लिए नुकसानदायक होता है।

और पढ़ें – बच्चों के लिए माइंड गेम्स: ब्रेन पावर बढ़ाने में करते हैं मदद

बच्चों के लिए नुकसानदायक फूड 3: कच्चा दूध

शायद आपको यह सुन के आश्चर्य हो की बच्चों को कच्चा दूध नहीं पीलना चाहिए। लेकिन, यह सच है की कच्चा दूध बच्चों के लिए हानिकारक हो सकता है।

दरअसल कच्चे दूध में मौजूद एन्जाइम्स और न्यूट्रीएंट्स को बच्चे डायजेस्ट करने में सक्षम नहीं होते हैं। कच्चा दूध बड़े व्यक्ति आसानी से पचा सकते हैं लेकिन, बच्चे नहीं क्योंकि बच्चों का इम्यून सिस्टम बड़े लोगों की तुलना में कमजोर होता है। इसलिए जब छोटे बच्चों को दूध पिलाया जाता है, तो उसमें पानी भी मिला दिया जाता है।

और पढ़ें – आसानी से बनाएं ये पांच हेल्दी ब्रेकफास्ट; करेगा आपकी सेहत को काफी अपलिफ्ट

बच्चों के लिए नुकसानदायक फूड 4: पैक्ड जूस

बाजार में इन दिनों सेब, लीची या अमरुद जैसे अन्य जूस आसानी से उपलब्ध हैं। हालांकि ये जूस पैक्ड जूस होते हैं, जिसे सामान्य भाषा में डिब्बा बंद जूस भी कहा जाता है। पैक्ड जूस में रिफाइंड शुगर इस्तेमाल किया जाता है। इसके सेवन से शरीर में ब्लड शुगर लेवल बढ़ जाता है।

और पढ़ें – Tetralogy of Fallot: टेट्रालॉजी ऑफ फलो क्या है ?

बच्चों के लिए नुकसानदायक फूड 5: चॉकलेट

High Fibre Chocolate Bites

बच्चे चॉकलेट खाना खूब पसंद करते हैं लेकिन, चॉकलेट में कैफीन मिले होते हैं और बच्चों को कैफीन युक्त खाद्य पदार्थ या पेय पदार्थ देना सेहत की लिहाज से ठीक नहीं होता है।

चॉकलेट में चीनी की मात्रा ज्यादा होती है, जो बच्चों के लिए नुकसानदायक होता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार एक साल से कम उम्र के बच्चों को चॉकलेट नहीं देना चाहिए और इनसे बड़े बच्चे भी इसका सेवन कम करें तो बेहतर होगा।

और पढ़ें – Bromelain + Trypsin + Rutoside : ब्रोमेलैन + ट्रिप्सिन + रूटोंसाइड क्या हैं? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

बच्चों के लिए नुकसानदायक फूड 6: अंडा

Whole Eggs

संडे हो या मंडे रोज खाओ अंडे लेकिन, बच्चों को अगर आप अंडा खिलाती हैं तो कम खिलाया करें। दरअसल अंडे में विटामिन, प्रोटीन और अन्य खनिज तत्वों की मात्रा ज्यादा होती है। बच्चों को एक अंडे से ज्यादा न खिलाएं। इसके ज्यादा सेवन से डायजेशन बिगड़ सकता है, बच्चे को उल्टी हो सकती है और पेट में जलन जैसी समस्या हो सकती है।

और पढ़ें – शिशु की बादाम के तेल से मालिश करना किस तरह से फायदेमंद है? जानें, कैसे करनी चाहिए मालिश

बच्चों के लिए नुकसानदायक फूड 7: खट्टे फल

विटामिन-सी युक्त फल जैसे स्ट्रॉबेरी, ब्लूबेरी, ब्लैकबेरी या रास्पबेरी जैसे फलों में प्रोटीन की मात्रा ज्यादा होती है। इन फलों को कम उम्र के बच्चे आसानी से नहीं पचा पाते हैं, जिस वजह से उन्हें एसीडिटी की समस्या होने लगती है। कुछ बच्चों को स्किन एलर्जी जैसे परेशानी भी शुरू हो जाती है इसलिए एक साल से कम उम्र के बच्चों को ऐसे फलों का सेवन न करने दें या कम से कम खाने दें।

और पढ़ें – स्किन एलर्जी से राहत पाने के 4 आसान घरेलू उपाय

बच्चों के लिए नुकसानदायक फूड 8: सी फूड (समुद्री खाना)

सी फूड से छोटे बच्चों को एलर्जी हो सकती है। इसलिए झींगा, लॉबस्टर या समुद्री मछली बच्चे को न दें। सी फूड बच्चों को देने से एलर्जी की समस्या हो सकती है। इसलिए पहले डॉक्टर सलाह लें।

और पढ़ें – मछली खाने के फायदे जानकर हो जाएंगे हैरान, कम होता है दिल की बीमारियों का खतरा

बच्चों के लिए नुकसानदायक फूड 9: जंक फूड

जंक फूड - junk food

जंक फूड और स्ट्रीट फूड का सेवन बच्चों को न करवाएं। इनमें पौष्टिक तत्व की मौजूदगी न के बराबर होती है और हाइजीन के लिहाज से भी अच्छे नहीं होते हैं। इसलिए ऐसे खाद्य पदार्थों को बच्चों से दूर ही रखें। न खुद खाएं और न बच्चों को दें।

बच्चों के लिए नुकसानदायक फूड की लिस्ट में शामिल ऊपर बताये गए 9 खाद्य पदार्थों या पेय पदार्थों का सेवन कभी-कभी किया जा सकता है लेकिन, इन खाद्य पदार्थों के नियमित सेवन से बच्चों को नुकसान पहुंच सकता है। बच्चों को घर के बने हुए खाद्य पदार्थों का सेवन करवाएं और उनकी रुची भी इस ओर बढ़ाएं।

और पढ़ें – जंक फूड-सोशल मीडिया को बाय बोल तय की फैट से फिटनेस तक की जर्नी

बच्चों के लिए नुकसानदायक फूड 10 : मक्खन और चीज

बच्चों को मक्खन और चीज बेहद पसंद होते हैं और सही बताएं तो बढ़ो को भी यह बेहद स्वादिष्ट लगते हैं। बच्चों को सुबह के नाश्ते या के किसी भी समय चीज या मक्खन का सेवन करने को कहा जाए तो वह खुशी-खुशी ऐसा करेंगे।

हालांकि, बच्चों का यह मनसपंद और स्वादिष्ट आहार उनके लिए कुछ हद तक नुकसानदायक भी हो सकता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि इन दोनों में ही अनसैचुरेटेड फैट और रसायनिक प्रदूषित पदार्थ होते हैं जो कि बच्चों के लिए बेहद हानिकारक हो सकते हैं। ऐसे में बच्चों को इनका सेवन कम ही करवाना चाहिए।

और पढ़ें – शिशु की गर्भनाल में कहीं इंफेक्शन तो नहीं, जानिए संक्रमित अम्बिलिकल कॉर्ड के लक्षण और इलाज

खराब आहार के कारण होने वाले रोग

अस्वस्थ आहार का सेवन करने से बच्चों में सबसे सामान्य रोग कब्ज को माना जाता है। आहर में फाइबर और अन्य महत्वपूर्ण न्यूट्रिएंट्स की कमी के कारण यह स्थिति उत्पन्न होती है।

अगर आपका शिशु एक सप्ताह में 3 बार से कम बार मल त्याग करता है या उसे मल त्याग में समस्या जैसे सख्त मल व सुखा मल आता है तो उन्हें कब्ज की परेशानी हो सकती है। इसके साथ ही अगर बच्चा अत्यधिक दूध का सेवन करता है तो भी कब्ज का खतरा बड़ जाता है।

डायट के कारण नवजात शिशुओं में भी कब्ज की समस्या बढ़ जाती है। ऐसा आमतौर पर तब होता जब शिशु लिक्विड डायट से सॉलिड डायट पर जाते हैं।

बच्चों में पानी या फाइबर की कमी के कारण कब्ज की स्थिति विकसित होती है। इसके साथ ही अधिक मात्रा में चीज, जंक फूड, सफेद ब्रेड और मीट के कारण भी कब्ज होने का खतरा रहता है।

बच्चों को कब्ज से बचाने के लिए फाइबर युक्त आहार और पर्याप्त मात्रा में पानी का सेवन करवाएं।

और पढ़ें – Constipation: कब्ज (कॉन्स्टिपेशन) क्या है? जानिए इसके कारण, लक्षण और उपाय

बच्चों के लिए नुकसानदायक फूड की लिस्ट तो पढ़ ली आपने और इसमें कई ऐसे खाद्य पदार्थ हैं जिसे आप हेल्दी मानते थें वो नुकसानदायक भी हो सकते हैं। इसलिए निम्नलिखित खाद्य पदार्थ बच्चों को स्वस्थ रखने के लिए अवश्य दें।

तो चलो ये तो हो गई बच्चों के लिए नुकसानदायक आहार और उनके कारण होने वाली बिमारियों की बात अब जरा जान लेते हैं कि उनको कौन-कौन से आहार का सेवन करवाना चाहिए जिससे उनका स्वास्थ्य और विकास बेहतर बना रहे।

नेशल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी (NCBI) के अनुसार बच्चों को हमेशा पूरी तरह से पके हुए खाद्य पदार्थ दें। हरी सब्जियां, दूध (कच्चे नहीं), रोटी, सेब, दही, दाल, रोटी, चावल और सलाद अवश्य खिलाएं या उन्हें ऐसे खाने की आदत डालें। बच्चों को डिहाइड्रेट न होने दें। इसलिए पानी और फ्रेश जूस पिलाएं।

और पढ़ें – बच्चे को पसीना आना : जानें कारण और उपाय

बच्चों के लिए फायदेमंद आहार की लिस्ट

ऊपर बताए गए आहार के वैकल्पिक तौर पर कई स्वादिष्ट व स्वस्थ आहार भी मौजूद हैं जिन्हें आप अपने नादान को खिला सकते हैं। ऐसा करने का सबसे बेहतर तरीका है बच्चों के लिए सामान खरीदते समय लेबल पर लिखे इंग्रेडिएंट्स के बारे में अच्छे से पढ़ना।

सभी खाद्य पदार्थों के लेबल पर लिखा होता है कि उनमें कितना ट्रांस फैट, प्रोटीन, कार्ब्स और गुड व बैड फैट है।

बच्चों को कार्बोहाइड्रेट्स, फैट और प्रोटीन की नियंत्रित मात्रा की जरूरत होती है। तीनों ही बच्चों के विकास में महत्वपूर्ण रोल निभाते हैं। बच्चों को स्वादिष्ट खाना खिलाने का सबसे अच्छा तरीका है उनकी प्लेट को आकर्षित बनाना, यानि उन्हें अच्छे रंगों के मेल वाले व अच्छी बनावट वाले आहार दें। जैसे की गाजर, खीरा, शिमला मिर्च और आदि।

और पढ़ें – World Ocean’s Day: पास्केटेरिआन डायट के बारे में जानते हैं आप, अगर नहीं तो जानिए क्यों है ये खास ?

ट्रांस फैट की बजाए बच्चों को निम्न आहार खाने में आनंद और स्वाद दोनों आएंगे –

सीरियल (Cereal) – कुछ सीरियल्स में ट्रांस फैट मौजूद नहीं होता है जैसे की ओट्स, इसके लिए भी प्रोडक्ट की लेबल लिस्ट पर देखें। बिना लेबल पर पढ़ी जानकारी के कोई भी प्रोडक्ट अपने बच्चों के लिए न खरीदें।

नेचुरल पीनट बटर – कई कंपनिया बिना ट्रांस फैट वाला पीनट बटर भी बनाती हैं। इसकी अधिक जानकारी के लिए पीनट बटर की बोतल पर छपे लेबल पर पढ़ें।

[mc4wp_form id=”183492″]

ताजा या आटे के बनाए गए बिस्कुट – इस प्रकार के बिस्कुट अधिक स्वादिष्ट और बच्चों के लिए हेल्दी होते हैं।

फल – कोल्डड्रिंक की बजाए जूस और मीठे की जगह फ्रूट एक बेहतरीन विकल्प हैं। बच्चों को मीठा खाना बेहद पसंद होता है ऐसे में उनके मीठे खाने की इच्छा पूरी करने के लिए आप सेब, संतरे या स्ट्राबेरी जैसे आहार का चयन कर सकते हैं।

कोशिश करें की आप उन्हें ताजा फल और जूस पीला सकें क्योंकि मार्केट में पैकेट वाले जूस में रिफाइंड शुगर मिली हो सकती है।

तलने की बजाए बेक करें – खाने को तलने से उनमें वसा की मात्रा बहुत अधिक बड़ जाती है। ऐसे में बच्चों और पाने लिए भी बेक खाने का विकल्प चुनें। यह ज्यादा हेल्दी होने के साथ आसानी से पकाए भी जा सकते हैं।

इसके साथ ही बच्चों के बेहतर शारीरिक विकास के लिए उन्हें आउट डोर गेम्स खेलने के लिए प्रेरित करें, साइकिल चलवायें और उन्हें स्विमिंग सिखाएं

और पढ़ें – बच्चा बार-बार छूता है गंदी चीजों को, हो सकता है ऑब्सेसिव-कंपल्सिव डिसऑर्डर (OCD)

बच्चों को अनहेल्दी फूड ज्यादा पसंद क्यों आते हैं?

अनहेल्दी फूड्स जैसे कैंडी, बर्गर, पिज्जा और आदि सभी खाने में बेहद स्वादिष्ट होते हैं जिसके कारण बच्चों को वह मनपसंद बने रहते हैं। आप अनहेल्दी फूड्स में किसी भी प्रकार के खाद्य पदार्थ को मिला सकते हैं फिर चाहे वह हेल्दी हो या न हो। जंक फूड को केवल स्वाद के अनुसार बनाया जाता है, वह जीतने स्वादिष्ट होंगे उन्हें उतना ही अच्छा माना जाएगा, भले ही वह आपके और आपके बच्चे के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक क्यों ना हों। यही कारण है की बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक को जंक फूड बेहद पसंद आता है।

अगर आपका बच्चा खाते समय बेहद नखरे दिखाता है या नई चीजों को खाने से मना करता है तो आप उसे अन्य तरीकों से हेल्दी फूड्स का सेवन करवा सकते हैं।

बच्चे को स्वस्थ खाना खिलाना हर माता-पिता का फर्ज होता है। ऐसे में ध्यान रखें की आप हेल्दी फूड को भी कई बेहतरीन तरीकों से पकाकर स्वादिष्ट बना सकते हैं।

बच्चों को अस्वास्थ्य आहार से दूर रखने का एकमात्र तरीका है ट्रांस फैट, शुगर और आर्टिफीसियल फ्लेवर वाले आहार की मात्रा को कम करना। इसके लिए आप चाहें तो कभी-कबार हेल्दी फूड के साथ अनहेल्दी फूड का कॉम्बिनेशन भी बच्चों को बना कर दे सकते हैं।

अगर आप बच्चों के लिए नुकसानदायक फूड से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो हेल्थ एक्सपर्ट और डाइटीशियन से समझना बेहतर होगा।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Feeding patterns and diet – children 6 months to 2 years/https://medlineplus.gov/ency/patientinstructions/000713.htm/Accessed on 03/04/2020

Maternal food restrictions during breastfeeding/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5383635/Accessed on 03/04/2020

Providing healthy diets for young children: the experience of parents in a UK inner city/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6041821/Accessed on 03/04/2020

DIETARY GUIDELINES FOR AMERICANS 2015-2020 EIGHTH EDITION/https://health.gov/sites/default/files/2019-09/2015-2020_Dietary_Guidelines.pdf/Accessed on 17/09/2020

लेखक की तस्वीर badge
Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 17/09/2020 को
डॉ. पूजा दाफळ के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड