home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

क्या प्रेग्नेंसी में वजन उठाने से बचना चाहिए ?

क्या प्रेग्नेंसी में वजन उठाने से बचना चाहिए ?

महिलाओं को प्रेग्नेंसी में वजन उठाना चाहिए या नहीं इसको लेकर अभी तक एक राय नहीं बन पाई है। हालांकि कई डॉक्टर्स हल्की एक्सरसाइज करने की सलाह देते हैं। प्रेग्नेंसी के दौरान मसल्स की टोन को इंप्रूव करने के लिए हर हफ्ते कुछ स्ट्रेंथ ट्रेनिंग करने की सलाह भी दी जाती है लेकिन, इसका मतलब यह नहीं कि आपको हमेशा प्रेग्नेंसी में वजन उठाना ही है। यदि प्रेग्नेंसी से पहले आप वेट ट्रेनिंग करती थीं, तो गर्भावस्था के दौरान हल्का वजन उठा सकती हैं। यह प्रेग्नेंसी से पहले जितना नहीं होना चाहिए। रोजाना नियमित तौर पर हल्की एक्सरसाइज करना सुरक्षित होगा। इससे आपका बॉडी पॉश्चर सही रहेगा और मसल्स भी मजबूत होंगी।

यदि आपको हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है तो एक्सरसाइज करने से पहले एक बार डॉक्टर से सलाह जरूर लें। इस स्थिति में वह हाई ब्लड प्रेशर के पीछे का कारण पता करेगा और सलाह देगा कि प्रेग्नेंसी में वजन उठाना आपके लिए सुरक्षित है या नहीं।

वजन पर आधारित एक्सरसाइज क्लासेज जिसमें म्यूजिक का इस्तेमाल होता है जैसे बॉडी पंप आपके लिए सुरक्षित रहेंगी। इन एक्सरसाइज को आपको कुछ बदलाव के साथ करना होगा लेकिन, यह आपके पुराने फिटनेस लेवल पर निर्भर करेगा।

कई शोध के अनुसार, प्रेग्नेंसी में लंबे समय तक खड़े रहना भी अच्छा नहीं होता। इसलिए यदि आप ऐसी जॉब करती हैं जिसमें दिनभर खड़ा रहना होता है तो उसे न करें। इससे गर्भ में पल रहे बच्चे के लिए परेशानी हो सकती है। इस स्थिति में लंबे समय तक खड़े रहने से हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत हो सकती है जिससे प्रीमैच्योर डिलिवरी होने की संभावना रहती है।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी में ड्राई स्किन की समस्या हैं परेशान तो ये 7 घरेलू उपाय आ सकते हैं काम

प्रेग्नेंसी में वजन उठाना क्यों नहीं होता सुरक्षित?

प्रेग्नेंसी के दौरान होने वाले हॉर्मोनल बदलाव महिला की मांसपेशियां और ज्वाइंट्स बेहद कमजोर होते हैं। ऐसे में आपके द्वारा की गई छोटी सी लापरवाही बड़ी मुसीबत बन सकती है। जब भी हम किसी भारी चीज को उठाते हैं तो सीधा हमारी कमर पर जोर पड़ता है। यही कारण है कि डॉक्टर भारी चीज को न उठाने की हिदायत देते हैं। इसके साथ ही प्रेग्नेंसी में शरीर बेडौल हो जाता है, जिसे संभालना पहले से ही बहुत मुश्किल होता है। इस स्थिति में फिसलने या धक्का लगने का खतरा रहता है। इससे बच्चा और आप दोनों की जान के लिए नुकसानदेह हो सकता है। इसलिए प्रेग्नेंसी में वजन उठाने से परहेज करना चाहिए।

यदि आप ऐसी जॉब करती हैं जिसमें भारी सामान को उठाना शामिल है तो ऐसे में या तो आप अपने काम से ब्रेक लें या फिर अपने काम में बदलाव के बारे में बात करें। प्रेग्नेंसी के शुरुआत के 12 हफ्तों में नियमित तौर से भारी सामान को उठाने से मिसकैरेज होने का खतरा बढ़ जाता है। जैसे जैसे प्रेग्नेंसी का वक्त बढ़ता है तो आपके गुरुत्व का केंद्र आगे की तरफ होता जाता है। ऐसे में किसी भी चीज को उठाना मुश्किल हो जाता है। क्योंकि आप जिस भी सामान को उठाएंगी आपका पेट बीच में आएगा। यदि आप सामान को बाजुओं को फैलाकर उठाएंगी तो इससे सीधा दबाव पीठ पर पड़ता है। इस स्थिति में सामान उठाते वक्त संतुलन खोने की संभावना रहती है।

और पढ़ें: सामान्य प्रेग्नेंसी से क्यों अलग है मल्टिपल प्रेग्नेंसी?

प्रेग्नेंसी में वजन उठाना कितना सुरक्षित?

इस पर दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल के एक डॉक्टर ने नाम ना जाहिर करने की शर्त पर कहा, ‘अध्ययनों में इस बात का पता चला है कि नियमित रूप से एक्सरसाइज करने वाली महिलाओं में प्रेग्नेंसी के दौरान डायबिटीज का खतरा कम होता है और औसतन रूप से डिलिवरी भी कम समय में होती है। उन्हें कब्ज और सूजन की समस्या भी बहुत कम होती है। प्रेग्नेंसी में वजन उठाना भी पड़ता है तो महिलाओं को कोशिश करनी चाहिए कि वे हैवी वजन ना उठाएं।’

हालांकि, सभी प्रेग्नेंट महिलाएं भले ही वो एक्सरसाइज करती हो या नहीं, उनमें मसक्युलोस्केलेटल इंजरी की संभावना बढ़ जाती है। यह सब प्लेसेंटा में प्रॉड्यूस होने वाले रेलेक्सिन हार्मोन की वजह से होता है। यह हार्मोन बॉडी के जोड़ों को रिलेक्स करता है। डिलिवरी के वक्त यह काफी अहम हो जाता है क्योंकि बढ़ते यूट्रस और भ्रूण के मद्देनजर पेल्विक को फैलने की जरूरत होती है। इससे निकलते हुए ही बच्चा बर्थ केनाल तक पहुंचता है।

और पढ़ें: प्रसव के बाद फिट रहने के लिए फॉलो करें ये 5 Tips

प्रेग्नेंसी में वजन उठाना कब खतरनाक होता है?

यदि आप प्रेग्नेंसी के शुरुआती 12 हफ्तों में भारी वजन उठाती हैं तो इससे गर्भपात का खतरा बढ़ सकता है। अगर आपको पहले से ही वजन उठाने की आदत है तो भी सावधानी बरतनी चाहिए। जैसे-जैसे गर्भावास्था आगे बढ़ती है वैसे-वैसे इसका खतरा और बढ़ जाता है।

पेट का आकार बढ़ने से सेंटर ऑफ ग्रेविटी भी आगे बढ़ जाती है। ऐसी स्थिति में यदि आप भारी वजन उठातीं हैं तो संतुलन बिगड़ने की संभावना रहती है। लगातार पेट का आकार बढ़ने से भी भारी वजन को उठाना या ओब्जेक्ट को अपने करीब लाना थोड़ा मुश्किल होता है क्योंकि पेट इसके बीच आता है।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी में न करें ये 9 एक्‍सरसाइज, गर्भवती और शिशु को पहुंचा सकती हैं नुकसान

प्रेग्नेंसी में भारी सामान उठाना नहीं होता है सुरक्षित, रहें सावधान

यदि आपके हाथों में वजन है और आप दोनों हाथों को पीछे की तरफ फैलाती हैं, तो लोअर बैक में चोट आ सकती है। यदि वास्तव में आपको प्रेग्नेंसी में वजन उठाना है तो इसे अपने करीब पकड़ें और घुटनों को मोड़ें। कमर को मोड़ने से बेहतर है कि आप घुटनों को मोड़ें। अपने सिर के ऊपर वजन ना उठाएं। वहीं, तीसरे ट्राइमेस्टर में फर्श से वजन उठाने से बचें।

वजन उठाते वक्त पेल्विक फ्लोर को सख्त रखें और बेली को आराम से ऊपर की तरफ उठाएं। इस दौरान आपको सामान्य तरीके से सांस लेनी है। यदि आप प्रेग्नेंसी में वजन उठाने तक अपनी सांस को रोके रखतीं है तो यह आपके लिए और ज्यादा हैवी हो जाएगा।

अब तो आप समझ ही गईं होंगीं कि आपको प्रेग्नेंसी में वजन उठाना है या नहीं और अगर उठाना है तो कैसे उठाना है। इन टिप्स को फॉलो करके आप किसी अनजान खतरे से बच सकती हैं। अगर आपको किसी प्रकार की कोई शंका है तो कृपया डॉक्टर से संपर्क करें।

इन बातों पर दें ध्यान

प्रेग्नेंसी के दौरान आपको कुछ बातों पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। आपको ऐसे समय में एक हाथ के सहारे किसी भी वस्तु को नहीं उठाना चाहिए। बेहतर होगा कि आप भारी सामान न उठाएं। कई बार भारी सामान उठाने से बैलेंस बिगड़ सकता है और आप गिर भी सकती हैं। ऐसे में होने वाले बच्चे को खतरा भी हो सकता है। ऐसी जगह में आप बिल्कुल भी बैठे, जहां आप शरीर का मूवमेंट न कर पाएं। साथ ही एक्सरसाइज के दौरान ऐसे फुटवियर बिल्कुल भी न पहनें, जो फिसलते या रपटते हो। किसी कारणवश अगर आपको भारी सामान उठाने की वजह से कमर में दर्द की समस्या उत्पन्न हो गई हो तो इस बारे में तुरंत डॉक्टर को जानकारी दें।

हम आशा करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। हैलो हेल्थ के इस आर्टिकल में प्रेग्नेंसी में वजन उठाना चाहिए या नहीं इससे जुड़ी हर जानकारी देने की कोशिश की गई है। यदि आर्टिकल को पढ़ते वक्त आपके मन में कोई सावाल है तो आप कमेंट सेक्शन में इसे पूछ सकते हैं। प्रेग्नेंसी एक ऐसी स्थिति है जो आपके और आपके बच्चे दोनों के लिए बहुत नाजुक समय होता है। इसलिए किसी तरह की लापरवाही न बरतें। प्रेग्नेंसी में भारी सामान उठाना या फिर अन्य प्रश्न को लेकर कोई कंफ्यूजन है तो अपने डॉक्टर से बात करें। आपको हमारा यह लेख कैसा लगा यह भी आप हमें कमेंट कर बता सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए हैलो स्वास्थ्य की वेबसाइट विजिट कर सकते हैं।

health-tool-icon

ड्यू डेट कैलक्युलेटर

अपनी नियत तारीख का पता लगाने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें। यह सिर्फ एक अनुमान है - इसकी गैरेंटी नहीं है! अधिकांश महिलाएं, लेकिन सभी नहीं, इस तिथि सीमा से पहले या बाद में एक सप्ताह के भीतर अपने शिशुओं को डिलीवर करेंगी।

सायकल लेंथ

28 दिन

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Lifting While Pregnant/https://americanpregnancy.org/is-it-safe/lifting-pregnancy/Accessed on 09/12/2019

REPRODUCTIVE HEALTH AND THE WORKPLACE/
https://www.cdc.gov/niosh/topics/repro/physicaldemands.html Accessed on 09/12/2019

Safety and Efficacy of Supervised Strength Training Adopted in Pregnancy/
https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4203346/Accessed on 04/08/2020

Pregnancy and exercise/
https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/healthyliving/pregnancy-and-exercise/Accessed on 04/08/2020

 

लेखक की तस्वीर
Sunil Kumar द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 23/11/2020 को
Mayank Khandelwal के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड
x