गर्भावस्था में खाएं सूरजमुखी के बीज और पाएं ढेरों लाभ

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट अगस्त 14, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

सूरजमुखी के बीज को सुपरफूड माना जाता है। क्योंकि, इनमें कई जरूरी न्यूट्रिएन्ट्स होते हैं। यह बात भी साबित हो चुकी है कि सूरजमुखी के बीज खाने से स्वास्थ्य को कई लाभ होते हैं। अपने इन्हीं फायदों और गुणों के कारण पूरे संसार में इन बीजों की भारी मांग है। लेकिन, लोग ऐसा भी मानते हैं कि गर्भावस्था के दौरान इन बीजों को खाना गर्भवती माँ और शिशु दोनों के लिए हानिकारक होता है। अगर आप भी इस बात को लेकर दुविधा में हैं कि इस दौरान इन बीजों का सेवन करना चाहिए या नहीं, तो आज हम आपकी इस परेशानी को थोड़ा कम कर सकते हैं। जानिए, क्या गर्भावस्था सूरजमुखी के बीज खाना लाभदायक है या नहीं?

गर्भावस्था में सूरजमुखी के बीज खाने चाहिए या नहीं? 

सूरजमुखी के बीज न केवल पूरी तरह से सुरक्षित हैं। बल्कि, गर्भावस्था में इन्हें खाना बेहद आवश्यक भी है। यह फोलिक एसिड का अच्छा स्रोत होते हैं, जो शिशु के विकास के लिए जरूरी है। इसके साथ ही इसके अन्य कई लाभ भी हैं। तो इस दौरान सही मात्रा में इन बीजों को अपने आहार में शामिल करें। ताकि आपको इनका पूरा पोषण प्राप्त हो सके। प्रेग्नेंसी में आप इन बीजों के इस्तेमाल से कई बेहतरीन और स्वादिष्ट डिशेस बना सकते हैं ताकि आपको सही पोषण के साथ पूरा स्वाद भी प्राप्त हो।

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की कोई भी मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर इससे जुड़ा आपका कोई सवाल है, तो अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

और पढ़ें: गर्भावस्था में आप अखरोट खा सकती हैं या नहीं ?

गर्भावस्था में सूरजमुखी के बीज के लाभ

फोलिक एसिड का अच्छा स्रोत

इन बीजों का सबसे बड़ा फायदा तो यही है कि इसमें फोलिक एसिड की अच्छी मात्रा होती है। फोलिक एसिड रेड ब्लड सेल्स के निर्माण के लिए आवश्यक है। जो फेफड़ों से ऑक्सीजन को अन्य अंगों तक ले कर जाते हैं। स्वस्थ रेड ब्लड सेल्स के निर्माण के लिए फोलिक एसिड से भरपूर आहार का सेवन आवश्यक है। इन खाद्य पदार्थों में सूरजमुखी के बीज भी शामिल हैं। फोलिक एसिड की कमी के कारण होने वाली मां को कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हो सकती हैं, जैसे गर्भाशय में प्लेसेंटा की विकृति। इसके साथ ही गर्भ में शिशु को जन्म संबंधी विकार भी हो सकते हैं। इसलिए गर्भावस्था में इन बीजों को लेना जरूरी है।

और पढ़ें: गर्भावस्था के दौरान बच्चे के वजन को बढ़ाने में कौन-से खाद्य पदार्थ हैं फायदेमंद?

शिशु के विकास के लिए आवश्यक

सूरजमुखी के बीजों में सभी जरूरी विटामिन और मिनरल होते हैं जैसे मैग्नीशियम, कॉपर आदि। जो शिशु के विकास के लिए जरूरी और मां की फिटनेस के लिए भी आवश्यक हैं। इन बीजों में विटामिन ई और अन्य एंटीऑक्सीडेंटस होते हैं। जो डीएनए को फ्री रैडिकल्स से होने वाले नुकसान से बचाते हैं। मैग्नीशियम की अधिक मात्रा के कारण सूरजमुखी के बीज हड्डियों को मजबूत बनाने में मददगार है। इसके साथ ही यह हड्डियों को सही आकार देने में भी यह सहायक हैं।

पाचन क्रिया में सुधार

सूरजमुखी के बीज में फाइबर भी भरपूर होता है। जिससे पाचन क्रिया सुधरती है और प्रेग्नेंसी में पेट संबंधी कई समस्याएं दूर होती है जैसे कब्ज, हार्टबर्न, गैस आदि। गर्भावस्था में सूरजमुखी के बीज खाने से आपकी कब्ज की समस्या प्राकृतिक और सुरक्षित रूप से हल हो सकती है। लेकिन, कब्ज की समस्या को दूर करने के लिए अधिक मात्रा में पानी और अन्य तरल पदार्थों का सेवन करना न भूलें।

और पढ़ें: क्या हैं आंवला के फायदे? गर्भावस्था में इसका सेवन करना कितना सुरक्षित है?

ब्लड शुगर नियंत्रित करे

सूरजमुखी के बीज खाने से ब्लड शुगर नियंत्रित रहती है। जब आप इन बीजों को भोजन के बाद खाते हैं तो इन्हें खाने से ब्लडस्ट्रीम में शुगर का स्तर अधिक नहीं बढ़ता। इनमें मैग्नीशियम पर्याप्त मात्रा में होता है, जो ब्लड शुगर को स्थिर बनाए रखने में प्रभावी होता है। 

वजन नहीं बढ़ता 

सूरजमुखी के बीजों को खाने से न केवल पूरा न्यूट्रिशन मिलता है, बल्कि इसे खाने के बाद जल्दी भूख नहीं लगती। यानी इसे खाने के बाद पेट भरा हुआ लगता है, जिससे आप अनहेल्दी स्नैक्स खाने से बच जाते हैं। इन बीजों से आप स्वादिष्ट स्नैक्स बना सकते हैं और इन्हें खाने से आपका वजन भी नहीं बढ़ेगा

डिप्रेशन से लड़ने में मददगार

सूरजमुखी के बीज दिमाग के लिए भी लाभदायक है। इन्हें खाने से चिंता, तनाव या डिप्रेशन आदि से राहत मिलती है। इन बीजों में मैग्नीशियम होता है, जो मूड संबंधी विकारों को सही करता है और साथ ही डिप्रेशन को कम करने में भी यह मददगार है। 

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

त्वचा के लिए लाभदायक

सूरजमुखी के बीजों में स्वस्थ अनसैचुरेटेड फैट होते हैं। जो मां और शिशु दोनों की स्वस्थ त्वचा और बालों के लिए आवश्यक है। इसके साथ ही इनमें विटामिन ई होता है जो एक अच्छा एंटीऑक्सीडेंट है। जो हमारी त्वचा को स्वस्थ बनाये रखने में लाभदायक है। इससे त्वचा को सूरज की हानिकारक किरणों से भी नुकसान नहीं होता। इसके साथ ही त्वचा स्वस्थ, ग्लोइंग और स्वस्थ बनी रहती है

इम्युनिटी को बढाए

सूरजमुखी के बीजों में मौजूद फाइटोकेमिकल्स इम्युनिटी बढ़ाने में मददगार हैं, जो अक्सर गर्भावस्था के दौरान कमजोर हो जाती है। इम्युनिटी के बढ़ने के कारण मां और शिशु दोनों कई समस्याओं से बच जाते हैं। इसके साथ ही यह बीज हार्मोन्स के संतुलित बनाए रखने में भी मदद करते हैं। अच्छी नींद लाने में भी यह बीज फायदेमंद हो सकते हैं।

और पढ़ें:गर्भावस्था के दौरान खांसी की दवा का उपयोग करना कितना सही है और कितना गलत

ऊर्जा का अच्छा स्रोत

गर्भावस्था में ऊर्जा कम हो जाती है, जिससे होने वाली मां अधिक थकावट और कमजोरी महसूस करती है। ऐसे में, सूरजमुखी के बीजों का सेवन करना, उनके लिए लाभदायक है। इनमें मौजूद पोषक तत्वों के कारण यह ऊर्जा का अच्छा स्रोत है। सूरजमुखी के बीजों को आप किसी भी तरीके से खा सकते हैं।

  • सूरजमुखी के बीजों को छील कर कच्चा खाएं।
  • इसके अंदर के भाग को भून कर और उसमें नमक आदि मिला कर खाएं।
  • छिलके के साथ इन्हें खाना आपको क्रंची स्वाद दे सकता है।
  • सलाद, सैंडविच या किसी भी डिश में आप इन्हें डाल कर खा सकते हैं।

सूरजमुखी के बीज के नुकसान

सूरजमुखी के बीजों की तरह इसका तेल भी काफी प्रचलित और स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है। यही नहीं, सूरजमुखी के बीज भी कई प्रकार के होते हैं। इसमें कोई संदेह नहीं कि सूरजमुखी के बीज न्यूट्रिएन्ट्स से भरपूर होते हैं और इनके कई लाभ हैं। लेकिन अगर आप अधिक मात्रा में इनका सेवन करते हैं तो इनका सेहत पर बुरा असर भी हो सकता है। जैसे-

  • सूरजमुखी के बीजों का अधिक मात्रा में सेवन करने से फॉस्फोरस विषाक्तता हो सकती है। जिससे किडनी को नुकसान हो सकता है।
  • अधिक मात्रा में इन्हें खाने से आप सेलेनियम विषाक्तता से पीड़ित हो सकते हैं, जिससे थकावट या चिड़चिड़ापन हो सकता है।
  • बहुत अधिक सूरजमुखी के बीजों को खाने से त्वचा को नुकसान होता है और इससे बाल व नाखून भी नाजुक हो सकते हैं।
  • यह बीज एलर्जी की समस्या का कारण भी बन सकते हैं इसलिए इनका सेवन करते हुए ध्यान रखें।

गर्भावस्था मां और शिशु दोनों को सही न्यूट्रिशन की आवश्यकता होती है। ऐसे में सही न्यूट्रिशन लेना आवश्यक है जो आपको सूरजमुखी के बीजों से प्राप्त हो सकते हैं। लेकिन आपको गर्भावस्था के दौरान सूरजमुखी के बीज रोजाना खाने हैं या नहीं और इन्हें कितनी मात्रा में खाना चाहिए, इसके बारे में डॉक्टर की सलाह लेना आवश्यक है। डॉक्टर के पूछने के बाद ही आप इनका सेवन करें। इन्हे खाने के बाद आपको कोई समस्या होती है तो तुरंत डॉक्टर से मिले।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

गर्भावस्था के दौरान बच्चे के वजन को बढ़ाने में कौन-से खाद्य पदार्थ हैं फायदेमंद?

गर्भ के वजन को बढ़ाने के लिए खाद्य पदार्थ, गर्भ के वजन को कैसे बढ़ाएं, गर्भावस्था में खाद्य पदार्थ, Food To Increase Fetal Weight in hindi, Food in pregnancy

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Ruby Ezekiel
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
प्रेग्नेंसी प्लानिंग, प्रेग्नेंसी जुलाई 16, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Mifegest Kit : मिफेजेस्ट किट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

मिफेजेस्ट किट जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, मिफेजेस्ट किट का उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Mifegest Kit डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जुलाई 9, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

क्या आप जानते हैं गर्भावस्था के दौरान शहद का इस्तेमाल कितना लाभदायक है?

गर्भावस्था के दौरान शहद के फायदे, गर्भावस्था में शहद का प्रयोग, असली शहद को कैसे पहचाने, गर्भावस्था में शहद, benefits of honey during pregnancy,

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
प्रेग्नेंसी स्टेजेस, प्रेग्नेंसी जुलाई 6, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

False Unicorn Root: फाल्स यूनिकॉर्न रूट क्या है?

जानिए फाल्स यूनिकॉर्न रूट की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, फाल्स यूनिकॉर्न रूट का उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, False Unicorn Root डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
जड़ी-बूटी A-Z, ड्रग्स और हर्बल जून 24, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

गर्भावस्था के दौरान चीज खाना चाहिए या नहीं जानिए

क्या गर्भावस्था के दौरान चीज का सेवन करना सुरक्षित है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
प्रकाशित हुआ अगस्त 27, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
मैटरनिटी लीव क्विज - maternity leave quiz

मैटरनिटी लीव एक्ट के बारे में अगर जानते हैं आप तो खेलें क्विज

के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
प्रकाशित हुआ अगस्त 24, 2020 . 2 मिनट में पढ़ें
गर्भावस्था के दौरान अखरोट

गर्भावस्था में आप अखरोट खा सकती हैं या नहीं ?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
प्रकाशित हुआ अगस्त 11, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
महिलाओं के महिलाओं के सेक्स हार्मोन

महिलाओं में सेक्स हॉर्मोन्स कौन से हैं, यह मासिक धर्म, गर्भावस्था और अन्य कार्यों को कैसे प्रभावित करते हैं?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
प्रकाशित हुआ जुलाई 29, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें