home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

मिलावटी मिठाई को इस दिवाली ऐसे पहचानें, हो सकती है सेहत के लिए हानिकारक

मिलावटी मिठाई को इस दिवाली ऐसे पहचानें, हो सकती है सेहत के लिए हानिकारक

दिवाली एक ऐसा त्यौहार है जिसकी तैयारियां कई महीनों पहले से शुरु हो जाती हैं। वहीं दीवाली के कई दिन बाद तक गिफ्ट्स और मिठाई के ढेर घर में लगे रहते हैं। दिवाली की मिठाईयों की खुशबू हमें हमारी डायट को भूलने पर मजबूर कर देती है। लेकिन क्या हम ये सोचते हैं कि ये मिठाईयां खाने के लिहाज से सुरक्षित हैं भी या नहीं ? क्या इनमें मिलवट तो नहीं की गई है? दिवाली की मिठाईयों को देखकर मुंह में जो पानी आता है उसे रोकना मुश्किल होता है, लेकिन यह भी सच है कि खाद्य पदार्थों में मिलावट की जाती है। खासकर त्योहारों के समय जब इनकी डिमांड अधिक होती है, तो मिलावट और भी बढ़ जाती है। दिवाली से पहले लगभग हर साल खाद्य सुरक्षा विभाग को अलग-अलग शहरों और कस्बों से मिलावटी मिठाई से लोगों के बीमार होने की शिकायतें मिलती हैं। इस दिवाली आप अपने घर में ही कुछ सरल उपायों से मिलावटी मिठाई की जांच कर सकते हैं।

और पढ़ें : A टू Z फूड का जायका, जो आपका भी पसंदीदा होगा

मिलावटी मिठाई पहचानने के लिए करें दूध में पानी का टेस्ट

मिलावटी मिठाई-Adulterated sweets

भारत में दूध में मिलावट बहुत बड़े पैमाने पर होती है, जिसकी कीमत हमारा स्वास्थ्य चुकाता है। दूध में मिलाई जाने वाली चीजों में पानी और एडिटिव्स जैसे चॉक, यूरिया, डिटर्जेंट और केमिकल व्हाइटनर शामिल हैं।

ऐसे करें टेस्ट

– एक चमकीली सतह पर दूध की एक बूंद डालें
– शुद्ध दूध या तो रुकता है या धीरे-धीरे सफेद निशान छोड़ता है
– अगर दूध बिना निशान छोड़े तुरंत बर्तन से गिर जाता है तो मिलावटी है

दूध में डिटरजेंट का टेस्ट

-दूध और पानी की समान मात्रा लें
-दोनों को मिलाकर अच्छी तरह से हिलाएं
-अगर दूध में मिलावट है तो झाग दिखेगा

मिलावटी मिठाई पहचानने के लिए करें खोए का टेस्ट

खोआ या मावा मिठाईयों को स्वादिष्ट बनाता है। इस टेस्ट से खोये में स्टार्च की मिलावट का पता लगाया जाता है:

-5 मिली लीटर पानी में खोये के 2-3 मिलीग्राम सैंपल को उबालें।

-इस मिश्रण को ठंडा करें और इसमें आयोडीन की 2-3 बूंदें डालें।

-अगर मिश्रण नीले रंग में बदल जाए, तो इसका मतलब इसमें स्टार्च है। इसके अलावा मेडिकल स्टोर में खोआ परीक्षण किट भी मिलती है, जिससे खोये का टेस्ट किया जा सकता है।

घी की शुद्धता की जांच करके पहचानें मिलावटी मिठाई

मिलावटी मिठाई-Adulterated sweets

टेस्ट 1

– अपने हाथ पर एक चम्मच घी डालें,

-अगर वह खुद ही पिघलना शुरू कर दे, तो शुद्ध है।

-आमतौर पर शुद्ध घी आपके शरीर के तापमान के कारण पिघल जाता है।

टेस्ट 2

  • एक चम्मच घी लें और इसे गर्म करें।
  • अगर यह जल्दी पिघलता है और गहरे भूरे रंग का दिखाई देता है, तो इसका मतलब है कि यह शुद्ध घी है।
  • शुद्ध घी को पिघलने में कुछ सेकंड लगते हैं। अगर इसे पिघलने में अधिक समय लगता है और रंग में हल्का पीला दिखाई देता है, तो यह शुद्ध घी नहीं है।

और पढ़ें : त्योहारों पर क्यों बनाए जाते हैं विशेष व्यंजन और कितने हेल्दी हैं वो, यहां जानें

चांदी के वर्क को टेस्ट कर पहचाने मिलावटी मिठाई

मिठाई के ऊपर सिल्वर लीफ या चांदी का वर्क लगाया जाता है। वर्क लोगों की पसंदीदा मिठाई काजू कत्ली को भी आकर्षक बनाता है। हालांकि, यह चिंता का कारण भी हो सकता है। मिठाई में लगने वाले वर्क की मात्रा कम होती है इसलिए हम तुरंत स्वास्थ्य में गिरावट नहीं महसूस करते। वहीं अगर लंबे समय तक इसको खाया जाए, तो इससे हमारे शरीर को गंभीर बीमारियां हो सकती हैं।

एक साधारण टेस्ट से आप इसकें मिलावटी होने का पता लगा सकते हैंः

  • अपनी उंगलियों से मिठाई के ऊपर लगे वर्क को पोंछने की कोशिश करें अगर वर्क उंगली में चिपक जाता है, तो इसका मतलब है कि वर्क में एल्यूमीनियम की मिलावट है।
  • अगर यह नही चिपकता है, तो मिठाई खाने के लिए सुरक्षित है।

मिलावटी मिठाई के लिए टेस्ट

मिलावटी मिठाई-Adulterated sweets

मिठाईयों के दो अलग-अलग सैंपल लें और दोनों को अलग-अलग बाउल में गर्म पानी में डालें।

  • इसके बाद मिठाई के अलग-अलग सैंपल वाले बाउल में आयोडीन डालें। अगर गर्म पानी वाले बाउल में मिठाई आयोडिन में घुलकर रंग बदलती है, तो इसका मतलब यह मिलावटी मिठाई है और अगर रंग पहले जैसा ही रहता है तो मिठाई ठीक है।
  • दिवाली पर बाजार में मिलने वाली अलग-अलग रंग की मिठाईयों से बचना मुश्किल है। सबसे ज्यादा मिलावटी रंग का खतरा पिस्ते की मिठाईयों में होता है। बूंदी के लड्डू में केसरी रंग की मात्रा भी ज्यादा नहीं होनी चाहिए। कई बार बूंदी के लडडू में दूसरे कलर भी डाल दिए जाते हैं जो कि काफी नुकसादेह हैं। अगर बूंदी के लड्डू का रंग गहरा है, तो जान लिजिए कि यह एक मिलावटी मिठाई हो सकती है।

मिलावटी मिठाई के नुकसान

मिलावटी मिठाई खाने से कई तरह की दिकक्तें हो सकती हैं। मिलावटी मिठाई को खाने से लिवर तक डैमेज हो सकता है। नकली मिठाई को बनाने के लिए मिलावटी खोएं का इस्तेमाल किया जाता है। इस तरह के नकली खोए को बनाने के लिए रिफायंड ऑयल या नकली घी का उपयोग किया जाता है। इसके अलावा कई मामलों में देखा गया है कि नकली खोआ या दूध बनाने के लिए डिर्टजेंट पाउडर तक का इस्तेमाल किया जाता है। मानव शरीर इन सब चीजों को पचाने में सक्षम नहीं होता है और सीधा असर पाचन क्रिया पर पड़ता है। शरीर के अंदर ज्यादा मात्रा में डिर्टजेंट जाने में लिवर तक डैमेज हो सकता है। इसके अलावा मिलावटी मिठाई से लोगों को उल्टी की समस्या, दस्त और घबराहट भी हो सकती है। मिलावटी फूड आयटम्स खाने के कुछ मामले काफी गंभीर भी हो सकते हैं और यह जानलेवा तक साबित हो सकते हैें। हर साल मिलावटी मिठाई से देश भर से लोगों के बीमार होने की खबरें भी आती रहती हैं।

दिवाली पर आप अपनी क्रेविंग को रोके नहीं और इन सरल टेस्ट से घर में ही चेक करें कि मिठाई आपके खाने कि लिहाज से सुरक्षित हैं या नहीं। साथ ही ऊपर बताए गए टेस्ट का इस्तेमाल करके आप खुद को और परिवारीजनों को मिलावटी मिठाई या डेयरी प्रोडक्ट्स से बचा सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Simple Tests to check Adulterated Sweets – https://www.consumer-voice.org/food/simple-tests-to-check-adulterated-sweets/ – accessed on 02/01/2020

Diwali 2018: 5 Diwali Sweets that May be Adulterated – https://food.ndtv.com/food-drinks/diwali-2017-5-diwali-sweets-that-may-be-adulterated-1762668 – accessed on 02/01/2020

Top 10 Food Products Prone To Adulteration In India – https://www.scind.org/183/Health/top-10-food-products-prone-to-adulteration-in-india.html – accessed on 02/01/2020

Milk & Milk Products – https://fssai.gov.in/dart/ – accessed on 02/01/2020

Sugar & Confectionery – https://fssai.gov.in/dart/ – accessed on 02/01/2020

 

 

लेखक की तस्वीर
Dr. Pranali Patil के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Lucky Singh द्वारा लिखित
अपडेटेड 17/10/2019
x