home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

घर पर इस तरह बनाएं वेज कोल्हापुरी

घर पर इस तरह बनाएं वेज कोल्हापुरी

अगर आप तीखा खाने के शौकीन हैं, तो आज हम आपको एक ऐसी वेज रेसिपी के बारे में बताने जा रहे हैं जो पूरे महाराष्ट्र में फेसम है। हम बात कर रहे हैं वेज कोल्हापुरी की। ये डिश महाराष्ट्र की पुरानी और परंपरागत मिक्स वेज सब्जी है। वेज कोल्हापुरी को तीखी और मसालेदार नारियल आधारित ग्रेवी में पकाया जाता है। यह महाराष्ट्र में ही नहीं पूरे उत्तर भारत में बहुत प्रसिद्ध है। इसे आप रोटी, परांठा, पूरी, नान या कुल्चा किसी के भी साथ परोस सकते हैं। स्पाइसी और तीखे मसाले से बनी सब्जी को आप अपने घर पर बना सकते हैं हमारे इस लेख की मदद से।

सर्विंग
4 सदस्यों के लिए

बनाने में समय
45 मिनट

वेज कोल्हापुरी बनाने के लिए आवश्यक सामग्री

अदरक
मटर – ¼ कप
आधा कप क्रीम
गाजर
आलू
शिमला मिर्च
फूल गोभी
टमाटर
सूखा नारियल बारीक किया हुआ
तेल
हरा धनिया
हींग – 1 पिंच
जीरा -½ छोटी चम्मच
हल्दी पाउडर – ¼ छोटी चम्मच
धनिया पाउडर – 1 छोटी चम्मच
गरम मसाला – ¼ छोटी चम्मच
लाल मिर्च साबुत – 2
तिल – 1 टेबल स्पून
नमक – 1 छोटी चम्मच या स्वादानुसार
लाल मिर्च पाउडर – ½ छोटी चम्मच

यह भी पढ़ें : ब्रोकली की हेल्दी रेसिपी जो घर में कुछ मिनटों में हो जाएंगी तैयार

वेज कोल्हापुरी बनाने की विधि

  • सब्जियों को धोकर, छोटे टुकड़ों में चॉप कर लीजिए। टमाटर, हरी मिर्च और अदरक को मिक्सी में पीसकर पेस्ट बना लीजिए।
  • कढ़ाई में तेल डालकर गरम कीजिए। गरम तेल में कटे हुए आलू डालिए।
  • हल्की आंच पर आलू को ब्राउन होने के बाद निकाल लीजिए।
  • गोभी, गाजर और शिमला मिर्च बारी-बारी से हल्की ब्राउन होने तक तल लीजिए और एक प्याले में निकालते जाइए।
  • धीमी आंच पर, एक दूसरी कढ़ाई में तिल और जीरा डालकर हल्का सा भूनें, नारियल भी डाल दीजिए और हल्का सा कलर चेंज होने तक भून लीजिए।
  • मसाला भून जाने पर गैस बंद कर दीजिए और मसाले को बर्तन में निकाल लीजिए,मसाले के ठंडा होने के बाद इसे पीस लीजिए।
  • कढ़ाई में तेल डालकर गरम कीजिए, गरम तेल में हींग, हल्दी पाउडर, धनियां पाउडर डाल कर मसाले को हल्का सा भून लीजिए। अब इसमें टमाटर और अदरक का पेस्ट डाल दीजिए।
  • लाल मिर्च पाउडर और साबुत लाल मिर्च डालकर तब तक भूनिए जब तक, मसाला तेल न छोड़ने लगे, मसाला भून जाने पर इसमें तिल, जीरा और नारियल का पाउडर डाल दीजिए। हल्का सा भूनिए, अब क्रीम डालकर मसाले को लगातार चलाते हुए 2-3 मिनिट और भूनिए।
  • मसाले से तेल अलग होने पर इसमें मटर के दाने डाल दीजिए व थोडा सा 2-3 मिनिट, मटर के नरम होने तक, भून लीजिए। इसमें आधा या पौनकप पानी डाल दीजिए, नमक और गरम मसाला डालकर मिक्स कर लीजिए।
  • ग्रेवी में उबाल आने पर तली हुई सब्जियों को इसमें डाल दीजिए और मिक्स करके सब्जी को ढंककर 3 मिनिट के लिए पकने दीजिए। 3 मिनट के बाद सब्जी को चैक करें, सब्जी बनकर तैयार है, इसमें हरा धनिया डालकर मिला दीजिए।
  • सब्जी को सर्विंग बाउल में निकालिए। हरा धनिए से गार्निशिंग और मिल्क क्रीम से पेल्टींग कीजिए। गरमा गरम कोल्हापुरी स्वाद का लुत्फ लीजिए।

यह भी पढ़ें : ड्यूकन डायट: जानें क्यों वेट कम करने के लिए जानी जाती है ये डायट

सुझाव:

अगर आप सब्जी में प्याज और लहसुन डालना चाहते हैं, तब प्याज और लहसुन काटकर गरम तेल में हल्का गुलाबी होने तक भून लीजिए इसके बाद सारी चीजें दी हुई विधि अनुसार डालते हुए सब्जी बना लीजिए। ग्रेवी के लिए आप अपनी पसंद के अनुसार काजू का पेस्ट, खरबूजे के बीच का पेस्ट, खसखस का पेस्ट या मावा या जो आपको पसंद हो उसकी ग्रेवी बना सकते हैं।

यह भी पढ़ें : सिंपल सी दिखने वाली इस सब्जी ‘जुकिनी’ के फायदे जानकर हैरान हो जाएंगे आप

टेस्टी भी है और हेल्दी भी है वेज कोल्हापुरी

  • वेज कोल्हापुरी में आलू डाला जाता है। आपको बता दें कि आलू विटामिन-सी, आयरन, राइबोफ्लेविन और कार्बोहाइड्रेट का एक अच्छा सोर्स है। यह कोलेस्ट्रॉल से मुक्त होता है इसलिए इसका सेवन हृदय को स्वस्थ रखने के लिए किया जा सकता है। एक रिपोर्ट के अनुसार शरीर में बढ़ता कोलेस्ट्रॉल का स्तर हृदय को बुरी तरह प्रभावित कर सकता है। इसके अलावा, आलू फाइबर से समृद्ध होता है, जो वजन को नियंत्रित करने का काम करता है। एक रिपोर्ट के अनुसार, बढ़ता वजन रक्तचाप को बढ़ाने का काम करता है और उच्च रक्तचाप स्ट्रोक का कारण बन सकता है।
  • फूल गोभी में फाइबर, विटामिन-बी, विटामिन-सी, फोलेट, विटामिन-के का अच्छा स्त्रोत है। इसमें मैग्नीशियम, कैल्शियम, फास्फोरस, पोटेशियम और मैंग्नीज जैसे खनिज भी उपलब्ध होते हैं। प्रोटीन से भरपूर फूल गोभी में वसा कम मात्रा में होती है। सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) के अनुसार पावर हाउस फलों और सब्जियों की लिस्ट में फूल गोभी 24वें स्थान पर है। फूल गोभी के सेवन से ब्लड सर्क्युलेशन में सुधार होता है। इसमें मौजूद ग्लूकोराफेनिन रक्त वाहिकाओं को बनाए रखने का काम करता है। ध्यान रखें इसके ज्यादा सेवन से एसिडिटी की परेशानी हो सकती है।
  • वेज कोल्हापुरी में मौजूद गाजर शरीर के लिए फायदेमंद होती है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं। गाजर आंखों, दांतों, मसूड़ों, मस्तिष्क, पाचन क्रिया, बालों और स्किन के लिए फायदेमंद होती है। इसके स्वास्थ्य लाभों को देखते हुए इसे ‘सुपरफूड’ भी कहा जाता है। गाजर कैरोटेनॉइड और डाइटरी फाइबर जैसे बायोएक्टिव कंपाउड से समृद्ध होती है, जो शरीर के लिए काफी फायदेमंद माने जाते हैं।
  • शिमला मिर्च कई विटामिन और एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर है विशेष रूप से विटामिन सी और अलग-अलग कैरोटीनोइड से भरपूर होती है। इस कारण से उनके कई स्वास्थ्य लाभ हो सकते हैं। शिमला मिर्च में एंटीइंफ्लेमेटरी तत्व एवं सल्फर, कैरोटीनॉइड लाइकोपीन की मात्रा भी भरपूर होती है। यह ब्लड में शुगर के लेवल को बनाए रखती है। साथ ही इसमें आयरन प्रचुर मात्रा में उपलब्ध है जो शरीर में खून की कमी नहीं होने देता है।
  • न्यूट्रिएंट्स से भरपूर टमाटर में अच्छी मात्रा में एंटी-ऑक्सिडेंट्स होते हैं, जो दिल संबंधित बीमारियाें और कैंसर की रोकथाम में मददगार है। इसमें विटामिन-सी, पोटैशियम, फोलेट और विटामिन-के भी पाया जाता है। टमाटर में लगभग 95% पानी की मात्रा होती है। इसके अलावा 5% कार्बोहाइड्रेट और फाइबर की मात्रा होती है। 100 ग्राम कच्चे टमाटर में 18 कैलोरी, 900 मिली ग्राम प्रोटीन, 3.9 ग्राम कार्ब्स, 2.6 ग्राम शुगर, 1.2 ग्राम फाइबर और 0.2 ग्राम फैट होता है।
  • सब्जियों के साथ वेज कोल्हापुरी में मौजूद मसाले भी सेहत के लिए लाभकारी होते हैं।

वेज कोल्हापुरी के लाजवाब फायदे हैं। एक तो कई सब्जियां मिली होने के कारण यह पौष्टिक होती है। जो सेहत के लिए बहुत अच्छी बात है। दूसरी ये कि इसे आप कभी भी किसी भी मौसम की सब्जियों के साथ बना सकते हैं। हां ये थोड़ा स्पाइसी जरूर होता है, लेकिन आप अपनी और फैमिली की सेहत और स्वाद को ध्यान में रखते हुए इसके तीखेपन को कम कर सकती हैं।

health-tool-icon

बीएमआर कैलक्युलेटर

अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Everything you need to know about tomatoes/https://www.medicalnewstoday.com/articles/273031.php/Accessed on 30 Sep 2019

Tomatoes 101: Nutrition Facts and Health Benefits/https://www.healthline.com/nutrition/foods/tomatoes/Accessed on 30 Sep 2019

Capsicum. https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/IngredientsProfiles/Capsicum/Accessed on 30 Sep 2019

Chemical composition, functional properties and processing of carrot—a review. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3550877/Accessed on 30 Sep 2019

Potatoes, flesh and skin, raw. https://fdc.nal.usda.gov/fdc-app.html#/food-details/170026/nutrients. /Accessed on 30 Sep 2019

Everything you need to know about cauliflower/https://www.medicalnewstoday.com/articles/282844.php/Accessed on 30 Sep 2019

Veg Kolhapuri Recipe/
https://recipes.timesofindia.com/recipes/veg-kolhapuri/rs54828271.cms/Accessed on 30 Sep 2019

Kolhapuri Vegetables Recipe/
https://food.ndtv.com/recipe-kolhapuri-vegetables-540300/Accessed on 30 Sep 2019

लेखक की तस्वीर badge
Smrit Singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 06/05/2020 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x