आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Cryoablation for Liver Cancer: जानिए लिवर कैंसर के इलाज के लिए क्रायोब्लेशन से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी!

    Cryoablation for Liver Cancer: जानिए लिवर कैंसर के इलाज के लिए क्रायोब्लेशन से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी!

    वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (World Health Organisation) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार साल 2020 में 30,369 लिवर कैंसर पेशेंट की मौत हुई थी। हालांकि ऐसा नहीं है कि लिवर कैंसर से बचा नहीं जा सकता। आजकल एडवांस होती मेडिकल टेक्निक लिवर कैंसर के इलाज के लिए क्रायोब्लेशन (Cryoablation for Liver Cancer) प्रोसेस भी अपनाने लगी है। वैसे लिवर कैंसर अगर एडवांस स्टेज (Advance stage) में हो तो इलाज करना कठिन होता है और यह भी जरूरी नहीं होता है कि कैंसर से पेशेंट को पूरी तरह से बचाया जा सके। दरअसल कैंसर अगर एडवांस स्टेज में पहुंच जाए तो इसके लक्षणों को कम किया जा सकता है, जिससे मरीज ज्यादा दिनों तक जीवित रह सकें। तो चलिए लिवर कैंसर के इलाज के लिए क्रायोब्लेशन (Cryoablation for Liver Cancer) के बारे में आगे समझते हैं।

    और पढ़ें : Trachelectomy: जानिए ट्रेक्लेक्टोमी सर्जरी की जरूरत कैंसर के किस स्टेज में पड़ सकती है!

    • क्रायोब्लेशन क्या है?
    • क्रायोब्लेशन किन-किन कैंसरों में इलाज के लिए अपनाई जाने वाली प्रक्रिया है?
    • लिवर कैंसर के लिए क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट के दौरान क्या होता है?
    • लिवर कैंसर के इलाज के लिए क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट की जरूरत कब पड़ सकती है?
    • लिवर कैंसर के लिए क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट के फायदे क्या हैं?
    • लिवर कैंसर के लिए क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट के नुकसान क्या हैं?
    • लिवर कैंसर के लिए क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट के रिस्क फैक्टर क्या हो सकते हैं?

    चलिए अब लिवर कैंसर के इलाज के लिए क्रायोब्लेशन (Cryoablation for Liver Cancer) से जुड़े इन सवालों का जवाब जानते हैं। इन सवालों के जवाब से क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट को समझने में मदद मिल सकती है।

    और पढ़ें: Endometrial Cancer: एंडोमेट्रियल कैंसर क्या है? जानिए एंडोमेट्रियल कैंसर के लक्षण, कारण और इलाज

    क्रायोब्लेशन (Cryoablation) क्या है?

    क्रायोब्लेशन (Cryoablation

    क्रायोब्लेशन कैंसर ट्रीटमेंट का तरीका है, जिसमें कैंसर सेल्स को नष्ट करने के लिए अत्यधिक ठंड दी जाती है। क्रायोब्लेशन को क्रायोसर्जरी (Cryosurgery) या क्रायोथेरिपी (Cryotherapy) भी कहा जाता है। दरअसल लिवर कैंसर के इलाज के लिए क्रायोब्लेशन (Cryoablation for Liver Cancer) प्रक्रिया जब अपनाई जाती है, तो एक सुई की मदद एक ऐसी दवा दी जाती है जो सीधे कैंसर सेल्स पर इंजेक्ट किया जाता है। यह दवा एक तरह की गैस लिक्विड नाइट्रोजन (Liquid Nitrogen) होता है, जो अत्यधिक ठंडा होता है। क्रायोब्लेशन प्रक्रिया के दौरान कैंसर सेल्स (Cancer cells) को जमा दिया जाता है और फिर टिशू पिघलना शुरू करता है। क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट (Cryoablation treatment) के दौरान टिशू कई बार जमते हैं और पिघलते हैं। क्रायोब्लेशन सिर्फ लिवर कैंसर के लिए ही नहीं, बल्कि अन्य कैंसर के इलाज (Other cancer treatment) में सहायक मानी गई है।

    और पढ़ें : Laparoscopic surgery for colorectal cancer: जानिए कोलोरेक्टल कैंसर के लिए लैप्रोस्कोपिक सर्जरी से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी!

    क्रायोब्लेशन किन-किन कैंसरों में इलाज के लिए अपनाई जाने वाली प्रक्रिया है? (Cryoablation for other Cancer treatment)

    लिवर कैंसर के अलावा निम्नलिखित कैंसर के इलाज में भी क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट (Cryoablation treatment) मददगार मानी गई है। जैसे:

    इन ऊपर बताये कैंसर के इलाज में भी क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट (Cryoablation treatment) की मदद ली जा सकती है।

    और पढ़ें : Bile Duct Cancer: बाइल डक्ट कैंसर क्या है? जानिए बाइल डक्ट कैंसर के लक्षण, कारण और इलाज!

    लिवर कैंसर के लिए क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट के दौरान क्या होता है? (Process of Cryoablation for Liver Cancer)

    लिवर कैंसर के लिए क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट के दौरान ट्यूमर में एक सुई जैसी एक इंस्ट्रूमेंट डाली जाती है। इस दौरान डॉक्टर इमेजिंग टेक्नोलॉजी जैसे अल्ट्रासाउंड (Ultrasound) या एमआरआई (MRI) की सहायता से ट्यूमर पर लिक्विड नाइट्रोजन (Liquid Nitrogen) डालते हैं। कैंसर की गंभीरता को ध्यान में रखकर एक से ज्यादा बार भी इस प्रक्रिया को अपनाई जा सकती है।

    लिवर कैंसर के इलाज के लिए क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट की जरूरत कब पड़ सकती है? (When Cryoablation for Liver Cancer is required)

    लिवर कैंसर के इलाज के लिए क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट निम्नलिखित स्थितियों में लाभकारी हो सकती है। जैसे:

    • ट्यूमर प्राइमरी स्टेज में हो या मेटास्टैटिक लिवर ट्यूमर (Metastatic liver tumor) हो।
    • लिवर कैंसर (Liver cancer) के लिए की जा रही इलाज प्रभावी ना हो।
    • कुछ केसेस में लिवर कैंसर सर्जरी (Liver cancer surgery) का विकल्प नहीं अपनाया जा सकता है अगर मरीज में कोई विशेष हेल्थ कंडिशन (Health condition) हो।

    इन स्थितियों में लिवर कैंसर के इलाज के लिए क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट का विकल्प चुना जा सकता है।

    और पढ़ें : ALK positive lung cancer: एएलके पॉसिटिव लंग कैंसर क्या है? जानिए इसके लक्षण और इलाज!

    लिवर कैंसर के लिए क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट के फायदे क्या हैं? (Benefits of Cryoablation for Liver Cancer)

    लिवर कैंसर के लिए क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट के फायदे इस प्रकार हैं। जैसे:

    • लिवर कैंसर के ट्रेडिशनल सर्जरी से बिलकुल अलग है, क्योंकि सर्जिकल प्रक्रिया वैसी नहीं होती जैसे सर्जरी के दौरान होती है।
    • क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट (Cryoablation treatment) के जोखिम कम होते हैं।
    • मरीज को अस्पताल में ज्यादा दिनों तक रुकने की जरूरत नहीं होती है।
    • मरीज जल्द ठीक हो सकते हैं।
    • क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट के दौरान कुछ केसेस में लोकल एनेस्थीसिया (Anesthesia) की जरूरत पड़ सकती है।
    • हेल्दी टिशू को नुकसान कम पहुंच सकता है।
    • क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट की आवश्यकता अनुसार मदद या रिपीट की जा सकती है।
    • लिवर कैंसर के इलाज में अन्य विकल्पों के साथ क्रायोब्लेशन प्रक्रिया भी अपनाई जा सकती है।

    ये हैं अलग-अलग लिवर कैंसर के लिए क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट के फायदे, लेकिन लिवर कैंसर के लिए क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट के नुकसान भी हो सकते हैं।

    और पढ़ें : Stomach cancer radiation therapy: जानिए पेट के कैंसर के लिए रेडिएशन थेरिपी से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी!

    लिवर कैंसर के लिए क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट के नुकसान क्या हैं? (Side effects of Cryoablation for Liver Cancer)

    लिवर कैंसर के लिए क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट (Cryoablation treatment for Liver Cancer) नई है और इस ट्रीटमेंट के दौरान यह संभावना बनी रहती है कि कहीं कैंसर सेल्स का छोटा से छोटा हिस्सा छूट ना जाए और फिर से डेवलप हो सकते हैं। यही इस ट्रीटमेंट में सबसे बड़ा डर बना रहता है।

    लिवर कैंसर के लिए क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट के रिस्क फैक्टर क्या हो सकते हैं? (Risk factor of Cryoablation for Liver Cancer)

    लिवर कैंसर के लिए क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट के रिस्क फैक्टर निम्नलिखित हो सकते हैं। जैसे:

    • पेट दर्द (Abdominal pain) की समस्या होना।
    • लिवर में इंफेक्शन (Infection in the liver) की समस्या होना।
    • चेस्ट कैविटी में ब्लीडिंग (Bleeding in the chest cavity) की समस्या होना।
    • एब्डॉमेन (Abdomen) में ब्लीडिंग की समस्या होना।

    क्रायोब्लेशन ट्रीटमेंट (Cryoablation treatment) से मरीज को ऊपर बताई गई परेशानियां हो सकती हैं। वैसे ऑन्कोलॉजिस्ट पेशेंट की हेल्थ को मॉनिटर करते रहते हैं जिससे ऐसी परेशानियों को दूर किया जाता है।

    और पढ़ें : Segmental resection of Lung Cancer: जानिए लंग कैंसर का सेग्मेंटल रिसेक्शन से जुड़ी पूरी जानकारी!

    अगर आप लिवर कैंसर (Liver Cancer) या लिवर कैंसर के इलाज के लिए क्रायोब्लेशन (Cryoablation for Liver Cancer) से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं, तो आप हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर पूछ सकते हैं। हमारे हेल्थ एक्सपर्ट आपके सवालों के जवाब देने की कोशिश करेंगे। हालांकि अगर आप लिवर कैंसर (Liver Cancer) से पीड़ित है, तो डॉक्टर से कंसल्टेशन करें, क्योंकि ऐसी स्थिति में डॉक्टर आपके हेल्थ कंडिशन को ध्यान में रखकर इलाज शुरू करेंगे।

    स्वस्थ रहने के लिए अपने डेली रूटीन में योगासन शामिल करें। यहां हम आपके साथ योग महत्वपूर्ण जानकारी शेयर कर रहें हैं, जिसकी मदद से आप अपने दिनचर्या में योग को शामिल कर सकते हैं। नीचे दिए इस वीडियो लिंक पर क्लिक कर योगासन से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी जानिए।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    Liver cancer/https://www.who.int/news-room/fact-sheets/detail/cancer/Accessed on 30/06/2022

    cryoablation/https://www.cancer.gov/publications/dictionaries/cancer-terms/def/cryoablation/Accessed on 30/06/2022

    Cryosurgery to Treat Cancer/https://www.cancer.gov/about-cancer/treatment/types/surgery/cryosurgery/Accessed on 30/06/2022

    Percutaneous Cryoablation for Liver Cancer/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4521246/Accessed on 30/06/2022

    Liver cancer/https://medlineplus.gov/livercancer.html/Accessed on 30/06/2022

    Liver cancer/https://www.cdc.gov/cancer/liver/index.htm/Accessed on 30/06/2022

    लेखक की तस्वीर badge
    Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 01/07/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: